Latest News

महाराष्ट्र

मुंबई

ठाणे

देश-विदेश

प्रादेशिक खबर

खेल समाचार

व्यापार

लाइफस्टाइल

मनोरंजन

Recent Posts

  • एक पुलिस कर्मी ने अपने ही पुलिस कर्मी से 25 लाख वसूली करने किया रचा नायाब षणयंत्र !

    By first headlines india →

     एक पुलिस कर्मी ने अपने ही पुलिस कर्मी से 25 लाख वसूली करने किया रचा नायाब षणयंत्र !

    मामले के पर्दाफाश होने पर 420 का मामला हुआ दर्ज !

    पुलिस वाले को होटल में पार्टनर बनाने का लालच देकर करवाया यह नायाब कारनामा !



    राजस्थान- राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले के पदमपुर थाना प्रभारी अलका विश्नोई पर एनडीपीएस एक्ट के तहत लोगों रुपयों की रिश्वत लेने के आरोप में कार्यवाही करते हुए उन्हें पद से निलंंबित कर दिया गया था। बाद में इस केस में एक नया मोड़ आया जो सबको हैरान करने वाला था। जिस महावीर विश्नोई ने थाना प्रभारी के खिलाफ पैसे मांगने का आरोप लगाया था।

    बता दे कि इसी मामले में कुछ दिनों बाद उसी महावीर ने पुलिस अधिक्षक के सामने जा कर अपने बयान बदल दिये। उसने जो सच्चाई पुलिस अधिक्षक को बताई उसे सुनकर आप भी हैरान हो जाओगे कि किस तरह ईमानदार अलका विश्नोई को उन्हीं के साथ उन्हीं के थाने में लगे कांस्टेबल ईश्वर ने अपने साथी अपराधी नशीले पदार्थो की तस्करी करने वाले विजयपाल के साथ मिलकर फंसाया।

    बाद में परिवादी महावीर ने पदमपुर थाने के कांस्टेबल ईश्वर लाल और उसके साथी विजयपाल पर 420, 120बी के तहत मामला भी दर्ज करवाया।

    आरोपी महावीर ने पुलिस अधीक्षक को बताया की विजयपाल 2019 में उससे मिला था।दोनों में जान पहचान हुई बाद में विजयपाल ने उसे होटल कारोबार में पार्टनर बनाने का लालच दिया। बाद में विजयपाल ने कांस्टेबल ईश्वर लाल के साथ पदमपुर थाना प्रभारी अलका विश्नोई को फसाकर ब्लैकमेल कर के 25 लाख रूपये वसुलने का प्लान बनाया और महावीर से थाना प्रभारी के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज करवाया।
  • भिवंडी बनने वाला है महाराष्ट्र दूसरा भोपाल कांड ?

    By first headlines india →

    भिवंडी बनने वाला है महाराष्ट्र दूसरा भोपाल कांड ?


    343 खतरनाक केमिकल गोदाम  है भिवंडी ग्रामीण इलाकों में !

    जल्द स्थानीय प्रशासन नही जा गया तो वो दिन दूर नही की देश का दूसरा भोपाल कांड भिवंडी यह ग्रामीण इलाका हो सकता है?

    ठाणे-भिवंडी-वाडा रोड पर गणेशपुरी थाना क्षेत्र मेंअंबाड़ी-रेवाडी रोड पर एक रासायनिक गोदाम में भीषणआग लग गई। बुधवार को लगी आग के केमिकल गोदामो में 70 से 80 फीट की ऊँचाई पर जाकर केमिकल के ड्रमों का एक बड़ाविस्फोट हो रहा था। इस आग में लाखों रुपये के खतरनाकर केमिकल जल गए हैं।आग की सूचना मिलते ही दमकल की दो गाड़ियां और एक पानी का टैंकर मौकेपर पहुंचा। दमकलकर्मियों ने सुबह तक केमिकल के धमाके से जूझते रहे। हालांकि,इस ग्रामीण बेल्ट में की ऐसे केमिकल माफियाओं के गिरोह सक्रिय जिनके पास आज भी इससे भी खतरनाकज्वलनशील केमिकल के बड़े स्टॉक के कारण, आसपासके गांवों को एक बड़ा खतरा है। इससे क्षेत्र के नागरिकों मेंभय का माहौल पैदा हो गया है। वे इस घटना के बाद ऐसे अनधिकृत केमिकल का भंडार कैसे करते हैं? ऐसा सवाल उठने लगा है और इस मामले पर गणेशपुरीपुलिस क्या कर रही है? ग्रामीण वही सवाल यह भी सवाल पूछ रहे हैं।ग्रामीण भिवंडी में सैकड़ों गोदाम अवैध रूप से बड़ी मात्रामें केमिकल का बडे स्टॉक कर रहे हैं। सरकार ने दो महीने पहलेइन अवैध केमिकल स्टॉक के खिलाफ कानूनी कार्रवाईका आदेश दिया था। हालाँकि, भिवंडी तहसील विभाग ने इस आदेश कोपूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया है, इन अनधिकृत गोदामों मेंलगातार आग लग रही है। इससे क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों काजीवन खतरे में पड़ गया है। साल के दौरान भिवंडी के वेयरहाउसबेल्ट में केमिकल के स्टॉक और अन्य उपकरणों के लगभग 78 गोदामों मेंआग लग चुका है।जिससे ऐसा सवाल उठना लाजमी है कि कही भिवंडी भी भोपाल गैस कांड के रास्ते पर तो नहीं चल पड़ा है -भिवंडी तालुका के विभिन्न ग्राम पंचायतों में लगभग 4 लाख 35हजार गोदाम हैं, जिनमें से वैल, मनकोली, रहनाल,गुंडावली, कलहर, दापोडा, सरवली, कोपर, पूर्णा, कोंगाँव, वाडपे,सोनाले में लगभग 343 कैमिकल गोदाम हैं। ये गोदामअत्यधिक ज्वलनशील रसायनों का भंडार हैं। इन रासायनिकनिक्षेपों में बार-बार आग लगने का खतरा होता है। रहनालमें एक झोपड़ी में आग लगने से एक बुजुर्ग महिला की मौत होगई और तीन अन्य घायल हो गए। इसलिए, एक बार फिर अवैध केमिकल गोदाम का मामला सामने आया है और यह देखा गया है कि भिवंडी भी कही भोपाल कांड की पर तो नही चल रहा है यह देखना कानूनी रूप में अब जरूरी हो गया है समय रहते शासन नही जागता हर तो दूसरा भोपाल कांड भिवंडी में हो सकता है उससे इनकार नही किया जा सकता है।
  • उमपा में भ्रष्टाचार अव्वल नम्बर जल्द मिलेगा अवार्ड-मनसे अध्यक्ष देशमुख

    By first headlines india →

     उमपा में भ्रष्टाचार अव्वल नम्बर जल्द मिलेगा अवार्ड-मनसे अध्यक्ष देशमुख


    अनुभव हीन संस्था से करवाया कोरोना लैब का काम ?

    किसको फायदा पहुचाने के लिए नियमों को ताखपर रख हुआ काम कब होगी जांच कौन करेगा दोषियों पर कार्यवाई !

    देखिये पूरी खबर को मनसे अध्यक्ष बंडू देशमुख ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,,,,


  • सेंट्रल पुलिस ने दो बाइक चोरों किया गिरफ्तार 7 लाख कीमत की चोरी के मुद्देमाल को किया जप्त !

    By first headlines india →

     सेंट्रल पुलिस ने दो बाइक चोरों किया गिरफ्तार 7 लाख कीमत की चोरी के मुद्देमाल को किया जप्त !


     चोरो के पास चोरी की 10 मोटरसाइकिल को किया बरामद ! 

    देखिये पूरी खबर को जोन 4 के डीसीपी प्रशांत मोहिते ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर में बाइक चोरी के बढ़ते मामले के बीच सेंट्रल पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। मोटरसाइकिल चोरी करने वाले दो शातिर चोरो को सेंट्रल पुलिस ने गिरफ्तार किया तो एक चोर अभी भी फरार है। गिरफ्तार किये गए चोरो से पुलिस ने 10 मोटरसाइकिल को बरामद किया है।


    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सेंट्रल पुलिस थाने के हद से 7 जनवरी 2020 को होंडा कंपनी की यूनिकॉर्न मोटर साइकिल चोरी होने का मामला दर्ज किया गया था।इस मामले में एक गुप्त सूचना सहायक पुलिस निरीक्षक खतीब को खबर मिली कि चोरी हुई मोटर साइकिल को चोरों द्वारा पुणे के जुन्नर में बेची हुई है।उसी मामले की जाँच कर रहे पुलिस अधिकारी ने इस मामले में आरोपी महादु चंद्रकांत आढारी उम्र 32 को जुन्नर से हिरासत में लेकर जाँच करने पर दूसरे आरोपी धीरज संजय शिंदे उम्र 28 को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए दोनों आरोपियों से पूछताछ करने पर  दोनों ने सेंट्रल,विठ्ठलवाड़ी,हिललाइन,कोलसेवाड़ी, शिवाजीनगर पुलिस थाने के हद से मोटर साइकिल चोरी करने  की बात कबूल किया है। पुलिस ने चोरी हुई 7 लाख 50 हजार रुपए किमती की 10 मोटरसाइकिल बरामद कर दोनो चोरो को गिरफ्तार कर लिया है। मगर अभी भी एक आरोपी फरार है।पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश करने पर आरोपी को 14 दिसंबर तक पुलिस रिमांड पर रखने की अनुमति दी है।आगे की जांच पुलिस सहायक निरीक्षक खतीब कर रहे हैं।इस मामले में अपर पुलिस आयुक्त दत्तात्रय कराले,पुलिस उपआयुक्त प्रशांत मोहिते,सहायक पुलिस आयुक्त डी. डी टेले, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुधाकर सुरडकर, पुलिस निरीक्षक राजेंद्र कोते इनके मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरीक्षक अस्लम खतीब,पु हवा कैलास सांगले, पु. ना दत्तु जाधव, व्ही.एम कामडी,किरण चौधरी, दीपक बरफ, संदीप शिरसाठ ने बड़ी मेहनत करके यह मुद्दे माल समेत दोनों आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुचाने काम किया है !