• यह चुनाव सपा-बसपा-कांग्रेस से मुक्ति का अवसरः मोदी

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को सातवें चरण के लिए अभियान की शुरुआत करते हुए कहा कि यह चुनाव सपा-बसपा-कांग्रेस से मुक्ति का अवसर है। उत्तर प्रदेश हिन्दुस्तान का इतना बड़ा राज्य है कि अलग देश होता तो जनसंख्या के हिसाब से दुनिया का पांचवां देश होता। अगर यहां से बेरोजगारी खत्म हो जाए तो हिन्दुस्तान अपने आप आगे बढ़ जाएगा।
    मिर्ज़ापुर, सोनभद्र और भदोही के 12 विधानसभा क्षेत्रों के प्रत्याशियों के लिए शहर से सटे चंदईपुर में रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव इस बात पर लड़ा जा रहा है कि उत्तर प्रदेश के युवाओं का भविष्य कौन सुनिश्चित करेगा। यहां की बेटियों को सुरक्षा कौन देगा। वादा बहुत हुए, जात-पात के भेद बहुत हुए। उत्तर प्रदेश को बदलना है तो हम सब एक हैं के वादे के साथ बदल सकते हैं। सबका साथ सबका विकास से ही यूपी को बदल सकते हैं।
    पीएम मोदी ने मुलायम द्वारा शुरू की गई अधूरी योजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि जो बेटा अपने पिता के वादों को पूरा नहीं कर सकता, वह काम कैसे करेगा। उन्होंने कहा कि 13 साल पहले मुलायम सिंह ने गंगा पर पुल का वादा किया लेकिन अभी तक उसे पूरा नहीं करा सके। अखिलेश-राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि जो लोग केवल काम का ढोल पीटते रहते हैं, मुझे काम बता रहे हैं। कहते हैं कि बिजली के तार पकड़कर देखो, बिजली आती है या नहीं आती। लेकिन उनके यार जो 27 साल यूपी बेहाल कहते थे, आज साथ-साथ हैं। चले थे खाट सभा करने लेकिन जनता खाट उठा-उठाकर ले गई। पीएम ने कहा कि सितंबर में जिस खाट सभा को करने राहुल यहां पहुंचे थे, उसी सभा में बिजली के तार देखकर कहा था कि तार तो हैं लेकिन बिजली नहीं आएगी। अब समय खटिया खड़ी करने का है।
    पीएम मोदी ने बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि मिर्जापुर के पत्थर से उन्होंने अपनी मूर्तियां बनवाईं। जब जांच शुरू हुई तो बताया कि पत्थर राजस्थान से लाए हैं। उनकी हिम्मत नहीं हुई कि बता सकें कि पत्थऱ मिर्जापुर से लाए हैं। जिन्हें मिर्जापुर के पत्थरों से नफरत हो, उन्हें मिर्जापुर वालों को वोट नहीं देना चाहिए। जिन पत्थरों से पुल बनाना चाहिए था, उनसे मूर्तियां बना ली गईं।
    पीएम मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने वादा पूरा नहीं किया उनसे चुन-चुनकर साफ कीजिये। यहां से एक भी लखनऊ नहीं जाना चाहिए। पूर्वांचल का अपमान करने वालों को सजा दीजिये। यहां के पीतल उद्योगों को पिछली सरकारों ने बर्बाद कर दिया है। अगर यह बर्बाद नहीं होते तो किसी नौजवान को गुजरात-महाराष्ट्र नौकरी के लिए नहीं जाना होता। पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में हर चीज का रेट तय है। भ्रष्टाचार, रिश्वतखोरी के कारण हर कोई परेशान है। अशोक चक्रधर की कविता का उदाहरण देते हुए भ्रष्टाचार के चार प्रकार बताए और कहा कि अब इससे मुक्ति के लिए सपा-बसपा अौर कांग्रेस को हराना है।
  • No Comment to " यह चुनाव सपा-बसपा-कांग्रेस से मुक्ति का अवसरः मोदी "