• सीओ आफिस में सुलह समझौते को पहुंचे प्रधानपति को पीटा, भूमि विवाद व चुनावी रंजिश का आरोप

    Reporter: first headlines india
    Published:
    A- A+
    दर्ज हुआ मुकदमा, पर सी.ओ. को नहीं जानकारी।
    मारपीट का असली कारण "चुनावी रंजिश - (प्रधानपति-सुबहान)
    कानून के अनुसार होगी कार्यवाही -कोतवाल
     आज़मगढ़। समाधान के लिए, सी.ओ. सगड़ी  सोहराब आलम के बुलावे पर, उन्ही के कार्यालय में आए प्रधान पति को विपक्षियों ने मारपीट कर घायल कर दिया। 
    जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के अंजान शहीद गांव के फकरे आलम व मौलाना फुरकान के बीच, एक जमीन को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा था। उसी के चलते विगत14 मार्च को फकरे आलम को विपक्षियो के कुछ लोगो ने मारपीट कर घायल कर दिया था। उस सम्बंध में फकरे आलम ने जीयनपुर कोतवाली में एक तहरीर दी थी । विवाद के निस्तारण हेतु, वृहस्पति बार को सी.ओ. सगड़ी- सोहराब आलम ने गांव के प्रधान- श्रीमती सना खान के पति शुबहान s/o एहसान अहमद के मध्यस्थता में दोनों पक्षो को 17 मार्च को अपने कार्यालय में बुलाया, ताकि दोनों पक्षो को सुनने के बाद कोई समाधान निकल सकें। इसी निमित्व आज प्रधान पति शुबहान ने वादी फकरे आलम s/o यासीन के साथ सायं तीन बजे से सी.ओ. सगड़ी के कार्यालय में इंतजार करते रहे थे। लगभग सायं तीन बज कर बीस मिनट पर विपक्षी अपने समर्थकों के साथ सी.ओ. के कार्यालय मे पहुंचे और प्रधानपति सुबहान के साथ हाथा-पाई करने लगे। हाथा पाई-  मार-पीट में बदल गयी । जिस से प्रधान पति सुबहान व उन के साथियो को काफी चोटे आयी। यह देख कर- दफ्तर के पुलिसकर्मी पहले तो भाग खड़े हुए, बाद में आ कर किसी तरह बीच बचाव कर मामले को शांत कराया।
    मार-पीट के बाद दबंग भाग गए। और प्रधानपति काफी देर तक सीओ दफ्तर में बैठे रहे। लगभग सायं चार बज कर तीस मिनट पर- जीयनपुर कोतवाल संजय वर्मा घटना स्थल पर पहुंचे और प्रधानपति व उन के घायल साथियो को थाने पर ले गए। इस संदर्भ में प्रधानपति सुबहान ने आमिर उर्फ़ गुड्डू पुत्र अब्दुलहई, फुरकान पुत्र बदरुद्दीन, नवाजिश पुत्र आरिफ, अशरफ पुत्र इस्लाक,  नदीम पुत्र शमीम, इस्माइल पुत्र सुलेमान, नौशाद पुत्र सज्जाद, तालीब पुत्र इसरार के खिलाफ मारपीट करने और धमकी देने की तहरीर दिया । इस संदर्भ में पूछे जाने पर- प्रधानपति सुबहान ने कहा कि-- गांव के विपक्षी लोग चुनावी रंजिश को लेकर, हमारे साथ मारपीट किये हैं। सी.ओ. सगड़ी- सोहराब आलम से फोन पर संपर्क करने पर कहा कि- उनको घटना की जानकारी नहीं है। जीयनपुर कोतवाल संजय वर्मा ने कहा कि-- तहरीर मिल गई है, और दबंगों के विरुद्ध कानून के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। तहरीर के मुताविक, धारा- 147,148/ 308/ 395/ 504/506 आई.पी.सी. के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया हैं ।
  • No Comment to " सीओ आफिस में सुलह समझौते को पहुंचे प्रधानपति को पीटा, भूमि विवाद व चुनावी रंजिश का आरोप "