• सुको के आदेश का महाराष्ट्र में उड़ाई जा रही है धज्जिया !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    सुको के आदेश का महाराष्ट्र में  उड़ाई जा रही है धज्जिया ! 

    राष्ट्रीय महामार्ग, राज्य महामार्ग पर बियरबार चलाने का सरकारी जुआड़ ! 

    उल्हासनगर में इस्टेट हाइवे पर खुले बार ! 

    मुंबई- देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश निकाला देश के राष्ट्रीय महामार्ग, राज्य महामार्ग पर और पाच सौ मीटर के अंदर तक कोई भी बियर बार, व वाइन शॉप नही होना चाहिये ऐसा आदेश कोर्ट के जरिये दिया गया और एक अप्रैल से इसे पूरे देश में लागू करने का निर्देश दिया जिस पर लगभग सारे देश में यह आदेश का पालन करते हुए इस्टेट, सेंट्रल हाइवे के सभी बार व वाइन शॉप पर ताले लग गये परन्तु महाराष्ट्र सरकार ने आदेश की अवहेलना करते हुऐ एक जुआड़ के जरिए हाईवे के बन्द पड़े बियर बार व वाइन शॉप चालू करने का नया कारनामा किया है 
    स्टेट हाइवे को मनपा की हद में मनपा की सिटी रोड बताकर यह कारनामा सामने आया जिला ठाणे के उल्हासनगर में शासकीय सार्वजनिक बांधकाम विभाग (PWD) के उप अभियंता आर,आर,सूर्यवंसी ने एक्साईज विभाग को लिखित पत्र दिया  जिसमें कहा गया है कि रोड़ तो स्टेट महामार्ग है परंतु मनपा की हद में आ जाने की वजह से वो रोड सिटी रोड समझा जाना चाहिए उसके बाद सुको के आदेश इस रोड़ पर लागू नहीं होता है इस लिए उल्हासनगर के एक्साइज विभाग के अधिकारी सोनवने ने स्टेट महामार्ग कल्याण अंबरनाथ पर आने वाले सभी बियर बार और वाईनशॉप को चालू करवा दिया जब इस पर सोनवने से पूछा गया तो उन्होंने पी,डब्लू,डी, के पत्र का हवाला बताकर अपने को बचाने का नायाब तरीका निकाला परंतु दोनों विभागों ने मिलकर बियर बार चालको से मोटी लेनदेन करके सुको के आदेश की धज्जियां उड़ाने में लगे है? वही दूसरी तरफ महाराष्ट्र सरकार ने भी सुको के आदेश से मुंबई समेत महाराष्ट्र के हाइवे के बियरबार को बचाने के लिये सरकार ने एक जीआर निकाला जिसके अनुसार शहर के हाइवे जिसका विकाश एम एम आर डीए कर रहा है वो रोड एम एम आर डीए का है इस वजह से स्टेट महामार्ग पर दिए सुको के आदेश इन पर लागू नहीं होंगे कुल मिलाकर देखा जाय तो महाराष्ट्र सरकार व सार्वजनिक बांधकाम विभाग और एक्साइज विभाग के जरिये सुको के आदेश की धज्जियां उड़ाने में जुटे है क्या सुप्रीम कोर्ट ऐसी सरकार के विरुद्ध कोर्ट ऑफ कन्टेम करके आदेश उलंघन करने वालो को सबक सिखाएगी ?
  • No Comment to " सुको के आदेश का महाराष्ट्र में उड़ाई जा रही है धज्जिया ! "