• मेरा कार्यकाळ मर्यादित , मुझसे ज्यादा अपेक्षा न रखें -मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मेरा कार्यकाळ मर्यादित , मुझसे ज्यादा अपेक्षा न रखें -मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे

     उल्हासनगर - उल्हासनगर महानगरपालिका में मेरा मर्यादित समय के लिये नियुक्ति हुई है . इस लिए मै प्रशासन के कामकाज में हस्तक्षेप करके व्यवस्था को बिगाड़ना नहीं चाहता . परंतु जो नित्यनियमीत काम है वो मै करता रहूंगा ऐसी मेरी भूमिका है मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे इन्होंने कही है . सोमवार को आयुक्त सुधाकर शिंदे इन्होंने अपने आयुक्त कार्यालय में हुई पत्रकार परिषद में ये बात पत्रकारों से कही ,
    और शहर की पानी समस्या पर उन्हें कहा कि दूसरों शहर की अपेक्षा उल्हास महानगरपालिका को मिलने वाला पानी अधिक मिलता है ६ लाख की आबादी वाले इस शहर को १३० एमएलडी पानी मिलने का मतल प्रत्येक व्यक्ती को २०० लिटर पानी मिलना चाहिए परंतु शहर की पानी की लाइनो में लीकेज होने की वजह से ज्यादा पानी नालियों में बह जाता है जिसकी वजह से लोगों को पानी नहीं मिल पा रहा है . इस पर उल्हासनगर शहर में ३०० करोड रुपये खर्च होने के बायजूद पानी समस्या बरकरार है , इस समस्या के लिये कोणार्क कंपनी जबाबदार है ऐसा पत्रकारो के समक्ष कही . उसके बाद शहर की कचरा उठाने का भी ठेका कोणार्क कंपनी को दिया गया है वो भी काम भी व्यवस्थित होता नही पत्रकारानो आयुक्त को बताई परन्तु इसका जवाब देने में कन्नी काटते दिखे . और आयुक्त शिंदे ने कहा कि मेरी नियुक्ती केवळ १ महिने के लिये हुई है . इस लिये पानी वितरण व घनकचरा के विषय पर मै स्वतःका निर्णय प्रशासनावर लाद नहीं शकता हू . पहले के आयुक्त के लिये गये निर्णय व की गई व्यवस्था प्रणाली इसके विरुद्ध मै गया तो उसका परिणाम उल्टा भी हो सकता है, इस लिये मै किसी भी काम में रुकावट नही डालने वाला हूं नहीं . शहर में अबैध बांधकाम विरुद्ध कारवाई , पदपथ खुला करना , फेरीवालो के विरुद्ध कारवाई , मालमत्ता कर वसुली ऐसे कामो पर मैने अपना ज्यादा ध्यान केंद्रित रखा है . आयुक्त शिंदे के इस खुलासे से पत्रकार आश्चर्यचकित हुए कि १ महिने में बदली हो जाएगी ऐसा आत्मविश्वास या कॉन्फिडेंस आने का कारण क्या है यह एक बड़ा सवाल है ? क्या शासन ने उन्हें ऐसा लिखित आदेश दिया है क्या ? शिंदे की कुछ दिनों पहले ही पनवेल महानगरपालिका से उल्हासनगर में बदली हुई है . पनवेल महानगरपालिका का चुनाव कुछ दिनों में होने वाला है बता दे कि राज्य सरकार में मंत्री राम शिंदे ये रिस्ते में होने की वजह से ही अपने आपको चुनाव से दूर रखा ताकि को आरोप प्रत्यारोप की नोबत ही नही हो इसी लिये उल्हासनगर में बदली हुई ऐसा शिंदे ने पत्रकारों को पहले ही बता चुके है ,बहरहाल जो भी हो चुनाव बाद बदली होती है क्या इस पर दोनों मनपा वाशियो की नजर टिकी है .
  • No Comment to " मेरा कार्यकाळ मर्यादित , मुझसे ज्यादा अपेक्षा न रखें -मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे "