• सरकारी भूखंड को बेचने के आरोप में शिवसेना नगर सेवक सहित चार गिरफ्तार !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    सरकारी भूखंड को बेचने के आरोप में शिवसेना नगर सेवक सहित चार गिरफ्तार !

     जालसाज आरोपियों को एक दिन की पुलिस हिरासत!

     उल्हासनगर - महाराष्ट्र सरकार के भूखंड को हड़पकर उसका बोगस कागजात तैयार कर उक्त भूखंड एक बिल्डर को बेचने के आरोप में हिल लाइन पुलिस ने शिबसेना नगर सेवक शेखर यादव,नगर सेविका मिताली चांदपूरे के पति सोनू चाँदपूरे सहित दो अन्य लोगो को गिरफ्तार कर लिया।बोगस डॉक्यूमेंट के जरिये भूखंड हड़पने वाले शिबसेना नगरसेवकों की गिरफ्तारी से हड़कंप मच गया है।
     प्राप्त जानकारी के अनुसार कैम्प क्रमांक पाँच में महाराष्ट्र शासन का भूखंड 26637 प्लाट नंबर 57 है।जिसका बोगस डॉक्यूमेंट बनाकर राजेन्द्र उर्फ सोनू चाँदपूरे और चंद्रकांत चाँदपूरे ने हड़प किया था।और इस भूखंड को इन्होंने शहर के संभ्रांत बिल्डर राजा गेमनानी और संजय पंजवानी को बेचा था,जब पता चला कि महाराष्ट्र सरकार के आरक्षित भूखंड को हड़पा जा रहा है तो तत्कालीन शिबसेना गटनेता सुभाष मांसुलकर ने इसकी शिकायत तहसीलदार,भूमि अधिग्रहण विभाग तथा एसडीओ विभाग में की तब हरकत में आये तहसीलदार कार्यालय के अधिकारियो ने प्लाट नंबर 57 भूखंड क्रमांक 26637 पर महाराष्ट्र शाशन भूखंड का बोर्ड लगा दिया। भूखंड पर तहसीलदार का बोर्ड लगने के बाद बिल्डर राजा गेमनानी को आभास हुआ कि उन्हें बोगस डॉक्यूमेंट दिखाकर उनसे धोखा किया गया।भूखंड के खरीदार राजा गेमनानी और संजय पंजवानी ने सोनू चाँदपूरे से अपना पैसा वापस मांगा।तब चाँदपूरे ने कहा कि उमनपा इलेक्शन के बाद देखते है,इसी बीच सोनू चाँदपूरे,चंद्र शेखर चाँदपूरे इनका ड्राइवर अमोल सावंत और शिबसेना नगर सेवक शेखर यादव ने ने तहसीलदार का बोर्ड उखाड़ कर फेंक दिया और वापस वहां पर राजा गेमनानी और संजय पंजवानी के नाम का बोर्ड लगा दिया।शाशन का बोर्ड निकालने के बाद भूमि अधिग्रहण विभाग में कार्यरत लिपिक मीना पांढरे की शिकायत पर हिल लाइन पुलिस ने भूखंड खरीदने वाले राजा गेमनानी,संजय पंजवानी,सोनू चाँदपूरे और चंद्रशेखर चाँदपूरे पर जाल साजी का मामला दर्ज किया था।राजा गेमनानी और संजय पंजवानी ने अग्रिम जमानत ले ली थी।इसी बीच भूमि अधिग्रहण की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने तहसीलदार कार्यालय द्वारा लगाये गए बोर्ड को उखाड़ने वालो की सीसीटीवी फुटेज के जरिये तलाश में जुट गई।सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बोर्ड उखाड़ने वाले शिबसेना नगर सेवक शेखर यादव,शिबसेना नगरसेविका मिताली चाँदपूरे के पति सोनू चाँदपूरे,चंद्र शेखर चाँदपूरे,ड्राइवर आमोल सावंत को कल देर रात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।गिरफ्तार चारो आरोपियों को आज न्यायालय में हाजिर किया गया जहाँ चारो आरोपियो को 1 दिन की पुलिस हिरासत में रखने का आदेश न्यायालय ने दिया है।शिबसेना नगर सेवक और नगरसेविका के पति की गिरफ्तारी से हड़कंप मचा हुआ है,वही शिबसेना इसे राजनीतिक स्टंट बता रही है।
  • No Comment to " सरकारी भूखंड को बेचने के आरोप में शिवसेना नगर सेवक सहित चार गिरफ्तार ! "