• साईपार्टी की कांचन लुंड बनी स्थाईसमिति सभापती !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
      साईपक्ष-टीओके और भाजपा की संयुक्त उम्मीदवार कांचन लुंड सभापती बनी !

     सभापती चुनाव का शिवसेना,रांकपा ने किया बायकॉट !

    स्थाई समिति के सभापति पद पर जीवन का जलवा बरकरार।

    उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा की तिजोरी माना जाने वाला स्थाई समिति सभापती पद को लेकर आज हुए चुनाव में साईपक्ष प्रमुख जीवन का जलवा बरकरार रहा।पराभव के डर से शिबसेना और राकांपा ने यह कहकर चुनाव का बायकॉट किया कि चुनाव निर्धारित तिथि पर नही कराया गया।जिसके चलते साईपक्ष, टीओके और भाजपा की संयुक्त उम्मीदवार कांचन अमर लुंड 10 मतों से विजयी घोषित कर दी गयी।
    10 वर्षो बाद तीनों महत्वपूर्ण पदों पर सिंधी नगरसेवकों के काबिज होने से उमनपा में सिंधी सत्ता का स्वप्नन साकार साबित हो गया। गौर तलब हो कि स्थाई समिति सभापती का नामंकन 19 मई को भरा गया था,जिसमे साइपक्ष की नगर सेविका कांचन अमर लुंड ने साईपक्ष, टीम ओमी कालानी और भाजपा की तरफ से संयुक्त उम्मीदवार के रूप में नामंकन भरा था।जब कि विपक्षीय दल शिबसेना,राकांपा,पीआरपी,आरपीआय,कांग्रेस की तरफ से राकांपा के भरत राजवानी (गंगोत्री) ने सभापती पद के लिए नामंकन भरा था।सभापती का चुनाव 23 मई को निर्धारित किया गया था परंतु ठाणे जिला कलेक्टर महेंद्र कल्याणकर को अपराह्न कारणों से तिथि बदलनी पड़ी और 26 मई निर्धारित किया गया।सभापती चुनाव की प्रक्रिया ठीक 3.30 बजे जैसे ही ठाणे जिला कलेक्टर ने उमनपा आयुक्त,सचिव सहित स्थाई समिति के 16 सदस्यों की मौजूदगी में शुरू की वैसे ही शिबसेना शहर प्रमुख व स्थाई समिति सदस्य राजेन्द्र चौधरी,सदस्य धनंजय बोडारे,कुलवंत सिंह सोहटा ने आरोप लगाया कि सभापती की तिथि 23 मई निर्धारित की गई थी । परंतु सत्तापक्ष के कुछ लोग परिवार के साथ छुट्टियां मनाने बाहर गए हुए थे जो निर्धारित तारीख पर उपस्थित नही हो सकते थे इसलिए सत्तापक्ष के दबाव में कलेक्टर महेंद्र कल्याणकर ने बीमारी का नाटक कर निर्धारित तारीख में बदलाव कर दिया।चौधरी ने कहा कि तारीख में बदलाव की वजह से सभापती चुनाव का विपक्ष ने बायकॉट किया।चुनावी प्रक्रिया में सत्तापक्ष की कांचन लुंड को 10 मत और विपक्ष के भरत राजवानी (गंगोत्री) को 0 मत प्राप्त हुए।कलेक्टर महेंद्र कल्याणकर में कांचन लुंड को स्थाई समिति का सभापती घोषित किया।सत्तापक्ष का सभापती बनते ही महापौर मीना आयलानी,उपमहापौर जीवन इदनानी,टीओके प्रमुख ओमी कालानी,पूर्व विधायक कुमार आयलानी ने नवनियुक्त सभापती कांचन लुंड को पुष्प गुच्छ देकर सत्कार किया।
  • No Comment to " साईपार्टी की कांचन लुंड बनी स्थाईसमिति सभापती ! "