• पुलिस की नाक के नीचे चल रहा हुक्का पार्लरों ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+

    शहर के युवा हो नशे से बर्बाद ! 

    मध्यवर्ती पुलिस क्षेत्र में सबसे अधिक हुक्का पार्लर !

     केबी रोड के बियर बारो में शराब के साथ हुक्का परोसा जा रहा!

    उल्हासनगर- उल्हासनगर शहर अवैध कार्यों के लिए हमेशा से ही चर्चा में रहता है इसका जिम्मेदार पुलिस व प्रशासन है जो अवैध कार्यों को रोकने में असफल साबित होते हैं। पुलिस उपायुक्त परिमंडल-4 में अपराधिक घटनाओं में इसलिए वृद्धि हो रही है क्योंकि अवैध अड्डे बंद नहीं हो पा रहे हैं। एक तरफ जहां जुआ मटके के अड्डे, गांवठी शराब, डांस बार के साथ-साथ अब युवाओं के भविष्य के खिलवाड़ करने वाले हुक्का पार्लरों की भरमार लगी हुई है। खबर है कि मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन क्षेत्र में सबसे अधिक हुक्का पार्लर हैं।
     ज्ञात हो कि 2011 में हुक्का पार्लरों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया था। लेकिन इसके बावजूद उल्हासनगर व अन्य शहरों में धड़ल्ले से इन पार्लरों में यह गोरख धंधा चलाया जा रहा था। उल्हासनगर के कई नामचीन होटलों के अलावा पुल व सुनकर खेलने वाले स्थानों सहित चोरी छिपे हुक्का पार्लर चलाए जा रहे हैं। हुक्का पीने वालों में ज्यादातर 17 से 25 साल के नवयुवाओं का समावेश है। जिसमें लड़कियों की संख्या अधिक है। हुक्का पार्लर में इस्तेमाल किया जाने वाला फेल्वर विदेशों से लाया जाता है जिसमें दुबई व सऊदी अरब का समावेश है। उल्हासनगर कैम्प 3 शांतिनगर श्मशान भूमि के पास छोटू नामक गुंडा करीब 4 हुक्का पार्लर चला रहा है। इसके अलावा शहर के कुछ नामचीन होटलों में भी हुक्का पार्लर इन्हीं के गुर्गों द्वारा चलाया जाता है। यह हुक्का पार्लर तडक़े सुबह 4 बजे तक खुले रहते हैं। इन्हें पुलिस का आर्शिवाद प्राप्त है। इतना ही नहीं दारूबंदी के बाद युवा व शराबी अब इन्हीं स्थानों पर शराब के साथ-साथ हुक्का का भी मजा उठा रहे हैं। केबी रोड पर ही यह हुक्का पार्लर हैं। पार्लर मालिक ड्राय डे पर शराब पर ग्राहकों को मुहैया कराकर देता है। ऐसी जानकारी सूत्रों ने दी है। ठाणे पुलिस आयुक्त से इन हुक्का पार्लरों पर कार्रवाई की मांग की गई है।
  • No Comment to " पुलिस की नाक के नीचे चल रहा हुक्का पार्लरों ? "