• सिख समुदाय के दो गुटों में खूनी संघर्ष !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    सिख समुदाय के दो गुटों में  खूनी संघर्ष !

     दोनों गुटों के दर्जनों लोग घायल एक की हालत नाजुक !

     ईलाज के दरम्यान दोनों गुटों के फिर भिडे झगड़ा छुड़ाने वाले पुलिस कर्मी की पिटाई !

     कैम्प पाँच का मच्छी मार्केट परिसर पुलिस छावनी में तब्दील!

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के कैम्प क्रमांक पाँच में रहने वाले सिख समुदाय के दो गुटों में पुरानी रंजिश के चलते बीती देर रात मच्छी मार्केट परिसर में जमकर तलवारे चली।फिल्मी स्टाइल में मन्नुसिंह लबाना नामक युवक ने अपनी स्कार्पियो कार से ठोकर मार पाँच लोगो को रौंद दिया।जिससे माहौल और भी खराब हो गया,दो गुटों में चली तलवार बाजी में दोनों गुटों के करीब आधा दर्जन लोग लहूलुहान हो गए।दोनों गुटों के लहूलुहान लोगो को उपचार के लिए मध्यबर्ती अस्पताल लाया गया,एडमिट करने के बाद दोनों गुटों के समर्थक अस्पताल में भी भीड़ गए इस झगड़े में बीचबचाव कर रहे पोलिस हवलदार सहित सरदारों ने डाक्टरो को भी अपनी आक्रोश का शिकार बना डाला।
    हिल लाइन पुलिस ने दोनों गुटों पर प्राणघातक हमले का परस्पर मामला डारन किया है।इसके अलावा अस्पताल में हुई मारपीट में घायल पुलिस हवलदार की शिकायत पर मध्यवर्ती पुलिस ने 14 नामजद और 10 से 15 अन्य लोगो पर मामला दर्ज कर मामले की तफ्तीश में जुट गई है।कैम्प पाँच का माहौल वापस खराब न हो इसलिए पूरे परिसर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। इस विषय मे प्राप्त जानकारी के अनुसार मन्नू सिंह लबाना का मच्छी मार्केट में चायनीज की दुकान है,जहा खुलेआम दादागिरी के दम पर चायनीज की आड़ में ग्राहकों को शराब भी परोषा जाता है।मन्नू सिंह लबाना और रणजीत सिंह लबाना परिवार के बीच वर्षो से आपसी मतभेद चल रहा है।इसी के चलते राकांपा पर चुनाव मैदान में उतरी कुमारी पूजा कौर लबाना को हरवाने के लिए मन्नू सिंह लबाना ने कोई कोर कसर नही छोड़ा था बावजूद पूजा उमनपा चुनाव जीत गयी थी।इसके अलावा भी दादागिरी के दम पर देर रात मन्नू सिंग लबाना द्वारा चलाये जाने वाले चायनीज कॉर्नर की शिकायत भी रणजीत सिंह लबाना ने स्थानीय पुलिस से की थी। पुरानी रंजिश को देख कल रात जब श्याम सिंह,संतोष सिंह लबाना और दिलीप सिंह लबाना मच्छी मार्केट परिसर से पैदल ही अपने घर जा रहे थे तभी मन्नुसिंह की नजर जैसे ही तीनो पर पड़ी वैसे ही मन्नू सिंह ने फिल्मी स्टाइल में तीनों को स्कार्पियो कार से जोरदार रौंदने का प्रयास किया,स्कार्पियो की ठोकर में तीनों लहूलुहान हो गए इसकी सूचना मिलते ही रणजीत सिंह के परिवार के युवक तलवार,चापर, डंडा जैसे हथियार लेकर मच्छी मार्केट आ धमके वही मन्नू सिंह लबाना ने भी अपने गुट के सरदार युवकों को हथियारों के साथ बुला लिया था,दोनों गुट जैसे ही आमने सामने हुआ दोनों गुटों में जमकर तलवार बाजी हुई।मच्छी मार्केट में जब तक पुलिस पहुचे तब तक मन्नू लबाना गुट के मन्नू सहित विक्रम सिंह लबाना,रौनक सिंह लबाना,सुनील सिंह लबाना,परकीम सिंह लबाना तथा अमित सिंह लबाना उर्फ भोली जख्मी हो चुके थे,जब कि रणजीत सिंह लबाना गुट के रणजीत सिंह लबाना सहित,श्याम सिंह,संतोक सिंह और दिलीप सिंह इस तलवार बाजी में गंभीर जख्मी हो गए थे। इस भीषण तलवार बाजी में दोनो गुटो के दर्जनों घायलों को उपचार के लिए मध्यवर्ती अस्पताल ले जाया गया,जहा घायलों को एडमिट करने के बाद दोनों गुटों के समर्थकों के बीच अस्पताल में भी मारपीट और तलवार बाजी शुरू हो गयी,मारपीट देख अस्पताल में ड्यूटी पर तैनात पुलिस हवलदार अरुण भाऊराव केदार सहित अस्पताल के डाक्टर दोनों गुटों में बीचबचाव करने गया तो उन्हें भी आक्रोशित सरदारों ने अपने आक्रोश का शिकार बना डाला।तब मदयवर्ती अस्पताल को भी पुलिस छावनी बना दी गयी,पुलिस हवलदार की शिकायत पर मध्यवर्ती पुलिस ने अमृत सिंह लबाना,विक्रम सिंह लबाना,अजीत लबाना,मानसिंह लबाना, रणवत सिंह लबाना,महेंद्र सिंह,बंटी सिंह,दिलवर सिंह,विक्की सिंह,अमन सिंह,श्याम सिंह,संतोक सिंह,मोहन सिंह,विशाल सिंह सहित 10 से 15 लोगो पर पुलिस ने मामला दर्ज कर मामले की तफ्तीश में जुट गई है।सिख समुदाय के दो गुटों के बीच हुए भीषण द्वंदद युद्ध के चलते शहर में तहसत का माहौल बना हुआ है।
  • No Comment to " सिख समुदाय के दो गुटों में खूनी संघर्ष ! "