• गणेश उत्सव के दरम्यान होने वाले यातायात समस्याओ से निपटेंगे किन्नर!

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    गणेश उत्सव के दरम्यान होने वाले यातायात समस्याओ से निपटेंगे किन्नर!

     किन्नरों सहित एनसीसी और एनएसएस के 60 विद्यार्थी विसर्जन घाट सहित यातायात सुव्यस्था के लिए किए जाएंगे तैनात! 

    गरीब और लाचार पढ़ी लिखी महिलाओ के जरिये वसूल किया जायेगा प्रोपर्टी टैक्स!

     उल्हासनगर-गणेश उत्सव को लेकर उल्हासनगर महानगर पालिका ने पूरी तैयारी कर ली है,उमनपा आयुक्त ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि गणेश उत्सव के दरम्यान शहर में यातायात बाधित न हो इसलिए ट्रैफिक पुलिस के साथ 25 किन्नर और एनसीसी व एनएसएस के विद्यार्थी यातायात सुव्यस्था कायम रखने के लिए पुलिस और माहापालिका क मदद करेंगे।शहर में कुल 334 सार्वजनिक गणेश मंडलो को परमिशन दिया गया जब कि अंतिम दिन समय सीमा खत्म होने की वजह से करीब 10 मंडलो का परमिशन रिजेक्ट कर दिया गया। 
    उमनपा स्थाई समिति सभागृह हाल में आयुक्त राजेन्द्र निम्बलाकर ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि प्रसासन की तरफ से गणेश उत्सव की तैयारी पूरी हो चुकी है,शहर के कुल 334 गणेश मंडलो को परमिशन दी गयी है,उक्त सभी मंडलो को जो उमनपा तथा पुलिस ने मान्यता दी है वह सशर्त है और उन सभी शर्त और नियमो का सख्ती से पालन करने का निर्देश देते हुए सभी नियमो को डिस्प्ले पर दिखाने के लिए कहा गया है,यदि सार्वजनिक मंडलो ने डिस्प्ले के जरिये ऐसा नही किया तो उमनपा अधिकारी व पुलिस के अचानक दौरे में दोषी पाए जाने पर संबंधित मंडलो पर कार्यवाही की जायेगी।आयुक्त ने कहा कि इस बार गणेश उत्सव में कोणार्क कंपनी और नगरसेविका रेखा ठाकुर भी प्रशाशन को पूरी मदद कर रही है। पत्रकार परिषद में उपस्थित कोणार्क कंपनी के प्रतिनिधि व टीओके नगरसेवक राजेश वदारिया ने बताया कि गोलमैदान परिसर में टीओके से जुड़ी यूएफए ग्रुप सर्कल ने इको फ्रैंडली गणपति विसर्जन के लिए मिड टाउन मैदान में कृतिम तलाब बनाया गया है जिससे अब 5 विसर्जन घाटों के साथ साथ गोलमैदान के मिड टाउन ग्राउंड में गणपति विसर्जन किया जा सकता है।टीओके नगरसेविका रेखा ठाकुर ठाकुर ने कहा कि किन्नरों की गिनती कमजोर और दुर्बल घटकों में की जाती है और शहर वाशियो की नजरे इनके प्रति हमेशा नकारात्मक रहती है और इन्हें घ्रणित दृष्टि से देखा जाता है,इसलिए आयुक्त की मान्यता के बाद किन्नर समाज के घटकों को सक्षम व आत्मनिर्भर बनाने तथा इनका मनोबल बढ़ाने के लिए किन्नरों को ट्रैफिक पुलिस के साथ ड्रेस कोड देकर यातायात बाधित मुख्य चौराहों में तैनात किया जाएगा इसी के साथ एनसीसी और एनएसएस के विद्यार्थियों के साथ इनकी ट्यूटी विसर्जन घाटों पर भी लगाई जायेगी इसमें सिंधु एजुकेसन सोसायटी अपने 60 विद्यार्थियों को भेजकर उमनपा को निस्वार्थ मदद कर रही है इस मदद के उपलक्ष्य में इन विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट देकर उनका मनोबल बढ़ाया जायेगा।आयुक्त ने कहा कि समाज मे दुर्बल और 10 वी तक पढ़ी-लिखी बचत गट की महिलाओं को भी उमनपा प्राधान्यता देने जा रही है,बचत गट की करीब 200 महिलाओ के जरिये उमनपा टैक्स वसूली करेगी और प्रति घंटे 100 रूपये से उन्हें मानधन दिया जायेगा जिससे उन लाचार महिला और उनके बच्चो का उदर निर्वाह हो सकेगा।
  • No Comment to " गणेश उत्सव के दरम्यान होने वाले यातायात समस्याओ से निपटेंगे किन्नर! "