• नेता आशिक से मिलकर पत्नी ने अपने ही पति की कराई हत्या !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    नेता आशिक से मिलकर पत्नी ने अपने ही पति की कराई हत्या !

    नेता सहित चार को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    औरंगाबाद-औरंगाबाद में हुए बैंक मैनेजर ह्त्या के मामले में चौकाने वाला खुलासा हुआ है। बैंक मैनेजर की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उनकी पत्नी ने ही करवाई है।पत्नी ने ही बैंक मैनेजर के हत्या करने के लिए न सिर्फ 5 लाख की सुपारी दी थी बल्कि क़ातिलों के लिये आधी रात को खुद दरवाजा खोला था। लेकिन पुलिस ने इस क़त्ल की गुत्थी को परत दर परत खोल देने का दावा किया है। इस मामले में पुलिस ने आरोपी पत्नी के साथ एक शिवसेना नेता और क़त्ल को अंजाम देने वाले दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। 
    बैंक मैनेजर के हत्या की गुत्थी को औरंगाबाद पुलिस ने महज 24 घंटों के अंदर ही अंदर सुलझा लिया। पुलिस की मानें तो इस क़त्ल की गुत्थी को सुलझाना इतना आसान नहीं था। आरोपी पत्नी और क़ातिलों ने इस तरह से इसे अंजाम दिया था की कहीं भी कोई सुराग ना छूट पाए। लेकिन कहते हैं क़ातिल कितना भी शातिर क्यों ना हो गलती ज़रूर करता है। इस मामले में भी भाड़े पर बुलाए गए क़ातिलों ने गलती कर दी।जिस रात इन लोगों ने क़त्ल को अंजाम दिया था उस रात बैंक मैनेजर के घर तक पहुँचने के लिए दोनों क़ातिलों ने एक स्पोर्ट्स बाइक का इस्तेमाल किया था।वही बाइक इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे में क़ैद हो गई। जब जांच किया गया तो सामने आया की बाइक इलाके के शिवसेना नेता की है। जिसका पीड़ित बैंक मैनजेर की पत्नी से अच्छी खासी दोस्ती है। जब शिवसेना नेता को हिरासत में लेकर पुलिस ने सख्ती से पूछ ताछ की तो वो टूट गया और उसने सारी कहानी बयान कर दी। जांच में सामने आया कि, बैंक मैनेजर जीतेन्द्र होल्कर और भागयश्री होल्कर की 15 साल पहले ही शादी हुई थी. दोनों को एक बेटा और बेटी भी थी. भागयश्री हेल्थ डिपार्टमेंट में मैनेजर है। बैंक मैनेजर जीतेन्द्र होल्कर को अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह होने लगा था। जिसकों लेकर कुछ दिनों से दोनों के बीच में में विवाद होने लगा था। इतना ही नहीं बैंक मैनेजर जीतेन्द्र ने अपने बच्चों के ही सामने पत्नी पर कई बार हाथ उठाया था। जिसके बाद गुस्साए पत्नी ने पति को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने की ठान ली। इसके लिए पत्नी ने अपने दोस्त और शिवसेना नेता की मदद ली। शिवसेना नेता किरण गनोरे को पति के हत्या की 5 लाख रूपए में सुपारी भी दे दी. पत्नी भाग्यश्री ने पांच लाख रूपए में से 2 लाख रूपए एडवांस दिए और बाकी के तीन लाख रूपए काम होने की बात कही। दो लाख रूपए मिलने के बाद शिवसेना नेता ने वारदात को अंजाम देने के लिए तौसिफ शेख नाम के बेरोजगार युवक को पकड़ा। आरोपी पत्नी भाग्यश्री ने बताया कि, वारदात वाली रात तकरीबन डेढ़ बजे तौसीफ अपने एक साथी शेख के साथ उसके घर के बाहर पहुंचा था। उनके वहां आते ही उसने दरवाजा खोल दिया। इसके बाद दोनों आरोपी आराम से कमरे में घुसे और प्लानिंग के मुताबिक़ भाग्यश्री के हाँथ पैर बांधकर दूसरे कमरे में बंद कर दिया ताकि किसी को उसपर शक न हो। इसके बाद दोनों ने जीतेंद्र गला रेतकर हत्या कर दी।

    Subjects:

  • No Comment to " नेता आशिक से मिलकर पत्नी ने अपने ही पति की कराई हत्या ! "