• महापौर ने दिया पाँच महीने के विकास कार्यो का लेखाजोख !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    महापौर ने दिया पाँच महीने के विकास कार्यो का लेखाजोख !

    शहर के 8 प्रमुख सड़को का जल्द होगा भूमिपूजन  !


     उल्हासनगर -उल्हासनगर मनपा के माध्यम से शहर विकास से संबंधित अनेक योजनाओं पर काम चल रहा है इसी क्रम में शनिवार को मनपा क्षेत्र में 8 सड़कों को कंक्रीट से बनाने के काम का भूमिपूजन होने जा रहा है, इसके अलावा जल्द ही अन्य 4 सड़कों का भी काम शुरू होगा, इस काम की टेंडर प्रक्रिया भी हो चुकी है यह जानकारी मनपा की महापौर मीना आयलानी ने दिया है। गुरुवार की शाम को मनपा मुख्यालय स्थित अपने कक्ष में महापौर मीना आयलानी ने अपने 5 महीने के कार्यकाल में शहर विकास के लिए किए गए कार्यो की जानकारी देने के लिए पत्रकार परिषद का आयोजन किया था, इस मौके पर मनपा आयुक्त राजेंद्र निंबालकर, उप महापौर जीवन इदनानी, सभागृह नेता जमनु पुरस्वानी, पूर्व विधायक कुमार आयलानी, नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी आदि भी उपस्थित थें। महापौर आयलानी के अनुसार शांतिनगर शमसान भूमि से विठ्ठलवाड़ी वाया काजल पेट्रोल पंप, वीटीसी से आशेला गांव, उल्हासनगर स्टेशन वीर सावरकर चौक से जीजा माता गार्डन, कानसई पुल से बाबासाहेब आंबेडकर चौक, कैलाश कॉलोनी वाया गायकवाड़ पाड़ा पालेगांव, आशा कोल्ड्रिंक्स से पुलिस चौकी, पलायउन फैक्टरी से गैस गोदाम तथा आनंद दिघे प्रवेश द्वार से श्रीराम चौक इस तरह इन 8 सड़कों को सिमेंट कंक्रीट से बनाया जाएगा. मनोनीत नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी ने पत्रकारो को बताया कि इसके अलावा कटकेश्वर मंदिर से महारल गांव, बस स्टैंड से कटकेश्वर मंदिर, उडानपुल से वीनस टाकीज तथा पालेगांव से गायकवाड़ के बीच कंक्रीट की सड़कें बनाई जाने वाली है, इन सड़कों पर एमएमआरडीए 51 करोड खर्च कर रहीं है रामचंदानी के अनुसार इस कार्य के लिए निविदा प्रक्रिया भी हो चुकी है। इसी प्रकार मनपा संचालित स्कूलों को अच्छा बनाने, बगीचों का उचित रखरखाव, शहर स्वच्छता को लेकर जनजागरण, नुक्कड़ नाटक, रैली, अच्छे अंको से पास होने वाले स्कूली बच्चों को सम्मानित करने की जानकारी भी महापौर ने दी, आयलानी ने बताया कि उल्हासनगर रेलवे स्टेशन परिसर को सुशोभित करने की भी योजना बनाई गई है, निधी मिलते ही वह काम भी शुरू किया जायेगा।
  • No Comment to " महापौर ने दिया पाँच महीने के विकास कार्यो का लेखाजोख ! "