• संविधान दिवस के निमित्त कार्यक्रम में राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण मुख्य अतिथि बनाये जाने से दलीत समाज के लोगो में आक्रोश ! 

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
     संविधान दिवस के निमित्त कार्यक्रम में राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण मुख्य अतिथि बनाये जाने से दलीत समाज के लोगो में आक्रोश ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर स्थित महामहिन्द धम्मदूत सोसाइटी के द्वारा २६ नवंबर को संविधान दिवस मनाया जा रहा है, जिसमें दलित समाज को डुक्कर की उपमा देनेवाले राज्य के मंत्री रविंद्र चव्हाण इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहने वाले हैं।
    इस पर सुभाष टेकड़ी परिसर आंबेडकराइट एक्शन कमिटी के पदाधिकारियों ने चव्हाण के कार्यक्रम में न आने देने की भूमिका लिया है और ऐसा एक पत्र इस सोसाइटी के उपाध्यक्ष को दिया गया है, ऐसाकमिटी के पदाधिकारी एडवोकेट जय गायकवाड़ ने बताया है। २६ नवंबर को संविधान दिवस का कार्यक्रम सुभाष टेकड़ी परिसर में महामहिन्द धम्मदूत सोसाइटी द्वारा तक्षशिला महाविद्यालय के प्रांगण में मनाया जाने वाला है।इस अवसर पर इस कार्यक्रम के आयोजकों ने राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित किया है।इन्हीं रविंद्र चव्हाण ने दलितों को डुक्कर का उपमा देकर संपूर्ण दलित समाज का अपमान किया था, तब राज्य भर में रविंद्र चव्हाण का निषेध करके उनका पुतला भी जलाया था।इतने पर भी जातीयवादी रविंद्र चव्हाण को संविधान दिवस के अवसर पर कार्यक्रम में बुलाने का यहां के आंबेडकराइट एक्शन कमिटी ने आक्षेप लिया है।इस कार्यक्रम में चव्हाण को प्रवेश न देने की भूमिका कमिटी ने ली है ।शहर के आंबेडकरी समाज में रविंद्र चव्हाण को मुख्य अतिथि बनाने पर आक्रोश फैल रहा है।आंबेडकराइटएक्शन कमिटी ने सोसाइटी के उपाध्यक्ष तायडे को निवेदन पत्र देकर चव्हाण को सुभाष टेकड़ी परिसर में प्रवेश नही करने देने की चेतावनी भी दी हैं।
  • No Comment to " संविधान दिवस के निमित्त कार्यक्रम में राज्यमंत्री रविंद्र चव्हाण मुख्य अतिथि बनाये जाने से दलीत समाज के लोगो में आक्रोश !  "