• प्रद्युम्न हत्याकांड का हुआ पर्दाफाश !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    प्रद्युम्न हत्याकांड पर्दाफाश !

    आरोपी छात्र स्कूल में देखता था पॉर्न फिल्में, बैग में लाता था चाकू !


       गुरुग्राम - रायन इंटरनैशनल स्कूल में हुए प्रद्युम्न हत्याकांड अब एक नया मोड़ ले चुका है। सीबीआई ने मंगलवार को एक 11वीं के छात्र को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान उसने  प्रद्युम्न की हत्या की बात कबूली है। 
    छात्र ने बताया कि एग्जाम और पीटीएम टालने के लिए उसने प्रद्युम्न की हत्या की।  सीबीआई जांच में पता चला है कि आरोपी कई दिनों से इसके लिए कोई तरीका खोजने में जुटा था और आखिरकार उसे हत्या के अलावा कोई और रास्ता नहीं सूझा। उसे लगता था कि 'कुछ बड़ा' होने पर ही स्कूल को बंद किए किया जाएगा। पूछताछ के दौरान आरोपी स्टूडेंट ने सीबीआई को बताया, 'मुझे कुछ समझ नहीं आया। मैं पूरा तरह ब्लैंक हो गया था और बस मैंने उसे मार डाला।' सीबीआई अधिकारी ने बताया कि आरोपी 11वीं के छात्र ने प्रद्युम्न को किसी बात का लालच देकर बाथरूम के अंदर बुलाया और अंदर ही उसका गला रेत दिया। सीबीआई ने बताया कि अशोक को आरोपी बताते हुए हरियाणा पुलिस ने जिस चाकू को 'हत्या के हथियार' के तौर पर पेश किया था, आरोपी स्टूडेंट ने उसी का इस्तेमाल किया था। इस चाकू को हरियाणा पुलिस ने टॉइलट के कमोड से बरामद किया था। सीबीआई के मुताबिक, क्राइम स्पॉट का कई बार निरीक्षण, सीसीटीवी फुटेज की गहन जांच, कॉल रेकॉड्र्स खंगालने और टीचर्स, स्टूडेंट्स सहित कई लोगों से पूछताछ के बाद वह आरोपी तक पहुंच पाई।    आरोपी छात्र स्कूल में देखता था पॉर्न फिल्में आरोपी छात्र के सहपाठियों का कहना है कि वह हमेशा मारपीट पर उतारू रहता है और बुहत ही बदमाश छात्र है। बताया जा रहा है कि आरोपी छात्र स्कूल बैग में चाकू लेकर आता था। साथ ही वह पोर्न एडिक्ट भी बताया जाता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार वह स्कूल में पोर्न फिल्म देखता था। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वह छोटी-छोटी बात पर अपने सहपाठियों और दूसरे छात्रों पर हाथ उठाने को तैयार रहता था।   केंद्रीय जांच एजेंसी ने हरियाणा पुलिस द्वारा मुख्य आरोपी बनाए गए कंडक्टर अशोक कुमार को एक तरह से क्लीन चिट दे दी है। हरियाणा पुलिस ने दावा किया था कि प्रद्युम्न का यौन उत्पीडऩ करने की कोशिश के दौरान अशोक ने उसे मार डाला था, लेकिन सीबीआई को अपनी जांच में उसके खिलाफ कुछ नहीं मिला।  
  • No Comment to " प्रद्युम्न हत्याकांड का हुआ पर्दाफाश ! "