• मनपा के टाऊन हॉलपर महापौर के परिवार की बपौती ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मनपा के टाऊन हॉलपर महापौर के परिवार की बपौती ? 

    मनपा के करार नामे की उठाई जा रही है खिल्ली !

    उल्हासनगर - उल्हासनगर शहर के सांस्कृतिक और सामाजिक कार्यक्रमों को बढ़ाने और स्थानिय कलाकारो को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से महानगरपालिका ने टाऊन हॉल का निर्माण किया था . परन्तु मूळ उद्देश्य को किनारे करते हुए टाऊन हॉल का पूरा व्यवसायिकरण हो गया है . जिस कंपनी को 30 सालो के करार पर मनपा ने दिया है उनमें वर्तमान की महापौर मीना आयलानी के परिवार का सदस्य भी एक हिस्सेदार है . यही कारण है कि आयलानी परिवार की बपौती अब टाऊन हॉलपर दिखाई देता है.  
    उल्हासनगर महानगरपालिका की सर्वसाधारण सभा में हुए ठराव के अनुसार 1 अगस्त 2005 को मनपा का टाऊन हॉल बनाकर , इस्तेमाल करने के बाद , मनपा को देंना है ( बी ओ टी ) पध्दति पर कुमार इन्फ्रास्ट्रक्चर इस कंपनी को 30 सालो के लिए भाडे पर दिया गया है .  31 जुलाई 2035 को ये करार समाप्त होगा. जिस कंपनी को यह ठेका टाऊन हॉल दिया है उसमें महापौर मीना आयलानी इनके पुत्र धीरज आयलानी एक हिस्सेदार है .      टाऊन हॉल के सभागृह को शहिद अरुण कुमार वैद्य ऐसा नाम दिया गया है . परंतु ऐसे महान लोगो के नाम देने के बायजूद टाऊन हॉल की उसी बिल्डिंग में बियर बार , जिम, इनडोअर क्रिकेट जिमखाना,मनोरंजन के और साहित्य , व्यावसायिक धन्दा सिर्फ मोटा मुनाफा कमाने के उद्देश्य से चलाया जा रहा है . इन धंधो के चलते शहिद अरुण कुमार वैद्य इनका भी अपमान हो रहा है . शहर के सांस्कृतिक , सामाजिक और शैक्षणिक कार्यक्रम करके नाटक संस्कृती को बढ़ावा देने के लिए इस टाऊन हॉल का उद्देश्य था . जिसकी वजह से स्थानिक उभरत कलाकारो को प्रोत्साहित करने के लिए मंच मिलने की अपेक्षा शहरवासीयो ने किया था .इतना ही नहीं गरीब और सर्वसामान्य नागरिको को सस्ते में विवाह के लिए हॉल उपलब्ध होगा ऐसा मनपा प्रशासना द्वारा कहा गया था . जब कि इसके लिए 180 दिनों की बुकिंग करने शर्तो के नियम पर दिया गया है .लेकिन इसी सर्त का फायदा ठेकेदार ने अपने स्वार्थ साधने काम कर रहे है , 180 दिनो की एडव्हान्स बुकिंग ये ठेकेदार कुछ बोगस संस्था के नाम करके रखने का आरोप इससे पहले हो चुका है . सर्व सामान्य नागरिको को सस्ते दर पर सभागृह उपलब्ध करके नही दिया जाता है इसके लिए इस विषय पर कई बार स्थायी समिती के द्वारा ऐसी मान्यता दी गई परंतु मनपा की किसी भी शर्तो का पालन नही किया जाता ऐसा आरोप महाराष्ट्र नवनिर्माण विद्यार्थी सेना के कल्याण जिल्हा उपाध्यक्ष बंडू देशमुख इन्होंने किया है ,     बता दे कि टाऊन हॉल को सजा कर रखना है , इसमें साउंड सिस्टम , नाटक के लिए पर्दे , बैठने की व्यवस्था, पंखे , एयर कंडिशन , लायटिंग की व्यवस्था, अन्य सुविधा उपलब्ध करके देने के नियमो की शर्तों पर ठेकेदार को दिया गया है . परंतु इन नियमो को ताख पर रखकर पूरी तरह से उलंघन हो रहा है . सभा गृह की कुर्सिया टूटी हुई है , साउंड सिस्टम पूरी तरह से खराब है, लायटिंग, पंखे , एसी जनरेटर बार बार कार्यक्रम के दौरान खराब हो जाता है . यहाँ पर यदि कोई संस्था कार्यक्रम करते है या नाटक खेलते है तो उन्हें खुद का साउंड सिस्टम लाना पड़ता है . इसकी वजह से अनेक दिग्गज कलाकार, व नाटक संस्थाओ ने नाराजी व्यक्त किया है , इसके लिए संस्थाओ के टाऊन हॉल क्रिया कलापो पर तीब्र निषेध ब्यक्त किया है . शहर के कायद्या ने वागा इस सामाजिक संस्था के अध्यक्ष राज असरोंडकर इन्होंने इस पर कई बार अपनी आवाज बुलंद की थी उन्होंने तो ये ठेका रद्द करने की भी मांग किया है .       महापौर मीना आयलानी , और उनके पती व पूर्व विधायक कुमार आयलानी के द्वारा ज्यादा से ज्यादा भारतीय जनता पार्टी के कार्यक्रम ही किये जाते है .यही आमजनता को जल्दी टाउन हॉल मिलता ही नही . कुमार आयलानी और उनके चमचो का पूरी तरह से टाऊन हॉल पर कब्जा किया हुआ है यही नही आयलानी परिवार टाउन हॉल पर अपनी बपौती बना रखा है, इसी लिए शहर की कई संस्थाओ ने ये मांग किया है कि ये ठेका रद्द करके आयलानी परिवार की हुकुम शाही से मुक्त हो . 
  • 1 comment to ''मनपा के टाऊन हॉलपर महापौर के परिवार की बपौती ? "

    ADD COMMENT