• स्वच्छता मुहिम में अव्वल आने के लिए मनपा ने ली बाबाओं की शरण !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    ध्वनि प्रदूषण करने वाले बाबा को मनपा ने बनाया ब्रांड एंबेसडर ! 


     उल्हासनगर-उल्हासनगर में जिस बाबा के ट्रस्ट के खिलाफ ध्वनि प्रदूषण का मामला दर्ज किया गया है, उसी ट्रस्ट के बाबा को मनपा आयुक्त राजेंद्र निंबालकर द्वारा ब्रांड एंबेसडर नियुक्त करने के कारण निंबालकर विवादों के घेरे में आ गए हैं।शासन की स्वच्छ भारत अभियान योजना उल्हासनगर मनपा द्वारा शुरू किया गया है।इस योजना को अधिक गति देने के लिए मनपा आयुक्त राजेंद्र निंबालकर ने दो ब्रांड एंबेसडर की नियुक्ति की है।ये दोनों ही शहर के धार्मिक प्रवचनकार व बाबा हैं।साईं कालीराम व रिंकू महाराज इन दोनों बाबा का नाम है।अभी कुछ दिनों पहले रिंकू महाराज के ट्रस्ट अमृतवेला के कुछ व्यक्तियों के खिलाफ ध्वनि प्रदूषण का मामला दर्ज हुआ था।इतना होने पर भी निंबालकर ने स्वयं ही रिंकू महाराज को नियुक्ति पत्र दिया।आपका सामाजिक व धार्मिक क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान रहा है और उल्हासनगर के नागरिकों पर आपका अच्छा प्रभाव होने के कारण आप स्वच्छता का जनजागृति करेंगे, ऎसी आप से अपेक्षा है,ऐसा इस नियुक्ति पत्र में लिखा है।इस घटना की तीव्र प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर हो रही हैं।
    मनपा आयुक्त का यह निर्णय गलत है, शहर में ऐसी कई सामाजिक संस्था, स्वयंसेवी संस्था व व्यक्ति है,जिन्होंने इस क्षेत्र में अच्छा कार्य किया है।इसमें से अगर किसी की नियुक्ति हुई होती तो उचित होता, ऐसी प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर आ रही है।इस संदर्भ में जब मनपा आयुक्त से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ब्रांड एंबेसडर के तौर पर हमने सामाजिक व धार्मिक क्षेत्र में अच्छा कार्य करने वाले दो लोगों को चुना है और यह नियुक्ति उचित है।ध्वनि प्रदूषण के मामले में रिंकू महाराज के खिलाफ प्रत्यक्ष रूप से कोई मामला दर्ज नहीं है, वह मामला उनके ट्रस्ट पर हुआ है, ऐसा कहकर उन्होंने रिंकू महाराज का बचाव किया है।
  • No Comment to " स्वच्छता मुहिम में अव्वल आने के लिए मनपा ने ली बाबाओं की शरण ! "