• बच्चे पर पेट्रोल फेंककर जलाने का आरोप ! चार लोगो को पुलिस ने किया ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    बच्चे पर पेट्रोल फेंककर जलाने का आरोप ! 

    चार  लोगो को पुलिस ने किया  गिरफ्तार उनमें से एक है नाबालिग !

    मुंबई-मुंबई दिंडोसी पुलिस थाना क्षेत्र में 13 वर्षीय रमजान (बदला हुआ नाम) पर पेट्रोल फेंककर जलाने का जो प्रयास किया गया था, उस मामले में पुलिस ने एक नाबालिग समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के नाम अजमत शेख (22), सैफुल्ला शेख (21) और लाला (22) बताए जा रहे हैं, जिन पर आरोप है कि उन्होंने रमजान पर पेट्रोल फेंककर उसे जलाने की कोशिश की थी। 
    हालांकि, दिंडोशी पुलिस ने ऐसी किसी घटना से साफ इनकार किया है। नॉर्थ रीजन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रमजान के परिजन की ओर से दिंडोशी पुलिस पर लगाए गए आरोप बिल्कुल बेबुनियाद हैं। हकीकत यह है कि पीड़ित रमजान, उसकी मां या परिजन घटना वाले दिन से ही पुलिस को गुमराह करते आ रहे हैं। 28 दिसंबर की शाम को घटना की जानकारी होने के बाद पुलिस जब जांच करने रमजान के परिजन के पास गई, उस वक्त उन्होंने साफतौर पर किसी व्यक्ति पर रमजान को जलाने की कोशिश का आरोप नहीं लगाया था। साथ ही, खुद रमजान ने भी पुलिस को चारों लड़कों द्वारा पेट्रोल फेंकने की बाते नहीं बताई थीं। रमजान के पिता ने भी पुलिस को बताया कि उसका बेटा रमजान थिनर और पेट्रोल सूंघने का आदी है और शूटिंग देखकर घर लौटने के दौरान वह अपने दोस्त कलीम (बदला नाम) के साथ अजमत शेख और सैफुल्ला शेख, लाला एवं एक अन्य दोस्त के पास थिनर और पेट्रोल सूंघने के लिए चला गया था। उस दौरान किसी बात को लेकर उसकी आरोपियों से कहा-सुनी हुई। उसी दौरान रमजान की पैंट में खोंसी गई पेट्रोल की बोतल का ढक्कन खुल गया और पेट्रोल से उसका पैंट भीग गया। मौके पर सिगरेट पी रहे एक लड़के की सिगरेट की चिंगारी से रमजान के पैंट में आग लग गई और वह झुलसने लगा। इसे देखकर सभी लोग वहां से भाग गए। पुलिस ने उसी बयान के आधार पर आईपीसी की धारा 285 और 338 दर्ज कर जांच कर रही थी।दिंडोशी पुलिस का कहना है कि रमजान के परिजन और आरोपी पक्ष एक-दूसरे को अच्छे से जानते हैं। सभी संतोष नगर में ही आसपास रहते हैं। इस वजह से वे लोग पांच दिनों तक पुलिस द्वारा बुलाए जाने के बावजूद मामला दर्ज कराने के लिए पुलिस स्टेशन नहीं आए। दरअसल, दोनों पक्षों के बीच रमजान के इलाज पर होने वाले खर्च को लेकर चर्चा चल रही थी, जिस पर सहमति बनाई जा रही थी। जब दोनों पक्षों में सहमति नहीं बनी, तो वे लोग कुछ दिनों बाद आरोपी पक्ष के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने 6 जनवरी को पुलिस स्टेशन पहुंचे, जहां 28 दिसंबर को दिए गए बयान के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी।  हालांकि, 12 जनवरी को भी रमजान के नहीं, बल्कि उसकी मां के बयान के आधार पर दिंडोसी पुलिस ने सप्लिमेंट्री स्टेटमेंट लेकर अतिरिक्त धाराएं ( आईपीसी 307 एवं पॉक्सो ऐक्ट 7 व 8) लगा कर चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। अब इस नए बयान में शिकायतकर्ता ने रमजान द्वारा पेट्रोल सूंघने की आदत और गलत हरकत करने की कोशिश करने के बारे में पुलिस को जानकारी दी है। इससे पहले रमजान के परिजन द्वारा पुलिस पर आरोपियों को बचाने और मामला दर्ज नहीं करने का आरोप लगाया गया था।

    Subjects:

  • No Comment to " बच्चे पर पेट्रोल फेंककर जलाने का आरोप ! चार लोगो को पुलिस ने किया ? "