• राजनीतिक षड्यंत्र के तहत उमपा कर्मी ने लगाया आरोप -भदाने

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उमपा के जनसंपर्क अधिकारी पर अट्रारासिटी का मामला हुआ दर्ज ! 

     राजनीतिक षड्यंत्र के तहत उमपा कर्मी ने लगाया आरोप -भदाने

     उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगर पालिका के आयुक्त राजेन्द्र निम्बालकर के बाद उमपा के जनसंपर्क अधिकारी युवराज भदाने को राजनीतिक षड्यंत्र के कोप भाजन का शिकार बनना पड़ रहा है।आत्महत्या की कोशिश करने वाले कर निरीक्षक की शिकायत पर मध्यवर्ती पुलिस ने बीती रात युवराज भदाने पर अट्रारासिटी के तहत मामला दर्ज किया है,जिसकी तफ्तीश सहायक पुलिस आयुक्त विकास टोटवार कर रहे है। 
    गौर तलब हो कि टैक्स विभाग में कार्यरत कर निरीक्षक दयाराम ढोबले की दो दिन पहले मुख्यालय उपायुक्त संतोष देहरेकर ने विभागीय ट्रांसफर करते हुए उन्हें अतिक्रमण विभाग में भेज दिया था।उपायुक्त मुख्यालय द्वारा किये गए ट्रांसफर से दयाराम ढोबले को यह संदेह हुआ कि उसका ट्रांसफर युवराज भदाने के दबाव में किया गया और मानसिक रूप से त्रस्त ढोबले ने कल दोपहर 1 बजे उमनपा में सीढ़ी के नीचे फिनायल पीकर आत्महत्या का प्रयास किया,फिनायल पीते ही कर निरीक्षक ढोबले जमीन पर गिर गया यह देख सुरक्षा इंचार्ज बालू नेटके व अन्य सुरक्षा कर्मियों ने ढोबले को उपचार के लिए तुरन्त मध्यवर्ती हॉस्पिटल में एडमिट करवाया।बेहोसी की हालत में ढोबले के जेब से सुसाइड नोट भी पुलिस ने बरामद किया था।   कर निरीक्षक दयाराम ढोबले के आत्महत्या प्रयास के मामले बताया जा रहा है कि जब युवराज भदाने टैक्स विभाग में कर निर्धारक व संकलक के पद पर कार्यरत थे तब पारस नामक इमारत के मेजरमेंट में 27 लाख रुपये घपला उनके समक्ष आया था और उस समय भदाने ने ढोबले को नोटिस देते हुए उसके 2 वेतन वृद्धि पर रोक लगा दी थी।सूत्रों के मुताबिक भदाने से इसी बात का बदला लेने के लिए ढोबले ने 12 सितम्बर 2017 को भदाने पर आरोप लगाया था कि जब वह मुत्री घर मे गया था उसी दरम्यान भदाने भी वहां पहुचे और उसे जाती पर गालियां देकर उसका अपमान किया ऐसा शिकायती पत्र ढोबले ने पुलिस सहित उमनपा आयुक्त को दिया था।जिसकी जांच करने के बाद उमनपा आयुक्त ने भदाने को क्लीन चीट देते हुए एक पत्र डीसीपी व एसीपी सहित मध्यवर्ती पुलिस को भेजा था।  सोमवार दोपहर में आत्महत्या करने का जो प्रयास ढोबले ने किया उसके बाद आयुक्त निम्बाल्कर ने ठाणे पुलिस आयुक्त परमवीर सिंह,डीसीपी अंकित गोयल को एक पत्र लिखा और उसमें स्पस्ट लिखा है कि कुछ दिन पहले उन्होंने अवैध निर्माण को संरक्षण देने के आरोप में शिवसेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी के खिलाफ 10 (ड) के तहत कार्यवाही की थी इसके अलावा आरपीआय शहर अध्यक्ष भगवान भालेराव ने उनके ऊपर भी न्यायालय के जरिये अट्रारासिटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करवाया था।चौधरी पर 10 (ड) का मामला न्यायालय में विचारधीन है जिसकी देखरेख की जिम्मेदारी युवराज भदाने को सौपी गयी है इसलिए कर निरीक्षक दयाराम ढोबले के आत्महत्या प्रकरण का मामला कही न कही राजनीति से प्रेरित है इसलिए इस मामले की निष्पक्ष जांच की जाये।आयुक्त के इस पत्र के बाद राजनीतिक महकमे में भी हलचल मच गई है।
  • 1 comment to ''राजनीतिक षड्यंत्र के तहत उमपा कर्मी ने लगाया आरोप -भदाने"

    ADD COMMENT
    1. सुसाइड करना जुर्म है और उसकी सज़ा उसको मिलनी चाहिए है.

      ReplyDelete