• उल्हासनगर में गुंडाराज ! पुलिस ने एन सी दर्ज मामले की निपटाने की कोशिश ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उल्हासनगर में गुंडाराज ! पुलिस ने एन सी दर्ज मामले की निपटाने की कोशिश ? 


     एक ही दिन में दो लोगो दिन दहाड़े गुंडो ने बेरहमी से पीटा ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में पिछले तीन दिनों के भीतर गुंडा राज देखने को मिल रहा है, पुलिस का ढीले रवैये के चलते शहर में कानून ब्यवस्था कलई खुल गई है, तीन साल तक जेल काट चुके आरोपी जो 15 दिन पहले जामिन पर छुटा है दिन दहाड़े 27 तारीख को एक को लूटपाट करके बेरहमी से पीटा और एक चायनीज वाले को भी पीटने का मामला सामने आया पुलिस दोनों मामले में सिर्फ एन सी दर्ज करके हाथ पे हाथ धरे बैठे दिख रहे है ! 
    अभी तक इस मामले में किसी भी आरोपी को पुलिस नही पकड़ा है ! सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार साजन मनोहर लाल कांजन जो कि अपना परिवार चलाने के लिए गजानन मार्केट में नोकरी करते है 27 मार्च की सुबह वो हीरा मैरेज के पास साई लीला होटल के बगल से गुजर रहे तभी भरत सोनवणे, परी, व गुड्डू जेठानी ये तीन लोगों ने साजन को जबजस्ती रोककर उससे पैसे मांगने लगे उसके मना करने पर भरत ने बोला भाई को पैसे देने से मना करता है ऐसा बोलते हुए अपने हाथ में लोहे के पंच से साजन पर हमला करके इसकी आंख और नाक पर जोरदार प्रहार कर दिया और उसके पास रखे 1700 रुपये छीन कर भाग गए इस हमले में साजन की नाक की हड्डी और आँख के ऊपर की हड्डी फैक्चर हो गई है वह घायल अवस्था में एक नबंर पुलिस स्टेशन जहा पर पुलिस ने एन सी दर्ज किया और मेडिकल की पावती देकर चलता कऱ दिया घायल अवस्था में खून से लतफत सेंट्रल अस्पताल पहुँचे तो उनकी हालत देखकर साजन को सायन अस्पताल में भेज दिया जहाँ की रिपोर्ट में नाक और आंख के ऊपर फैक्चर होने की बात कही गई है,उसी दिन यही लोग हीरा मैरेज हाल के आगे एक चायनीज के दुकानदार को भी पीटा वो भी पुलिस स्टेशन गया उसकी भी पुलिस ने एन सी लिखकर उसे भी चलता कर दिया लेकिन अभी तक इन तीनो में से एक भी आरोपी को पकड़ने की कोशिश नही किया यही कारण है उल्हासनगर शहर में आये दिन गुंडे का राज देखने को मिल रहा है जबतक पुलिस ऐसे लोगो पर कानून का शिकंजा को कड़ाई से नही लगाएगी तबतक उल्हासनगर में कानून राज स्थापित होने थोड़ा कठिन होगा !बता दे कि भरत सोनवणे एक लड़की के ऊपर चाकू से हमले के आरोप तीन साल जेल में रह चुका है 15 दिन पहले ही ये जमीन पर छुटा है बाहर आते ही भाई बनने का सौख में एक बाद एक अपराध करने में जुटा है पुलिस को समय रहते ऐसे अपराधियों को उनके अंजाम तक पहुचाना पड़ेगा,परंतु पुलिस की इस मामले में हुई ढीली कार्यवाई पर भी सवाल उठता है , जिस मामले में रॉबरी, प्राण घातक हमला करने जैसी धाराओं में मामला दर्ज होना चाहिए था उसमें सिर्फ एन सी दर्ज है !
  • No Comment to " उल्हासनगर में गुंडाराज ! पुलिस ने एन सी दर्ज मामले की निपटाने की कोशिश ? "