• फाइल चोर नगरसेवक की जल्द होगी भाजपा से हकालपट्टी -श्वेता शालिनी

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    फाइल चोर नगरसेवक की जल्द होगी भाजपा से हकालपट्टी -श्वेता शालिनी

    उल्हासनगर महानगर पालिका के मनोनीत नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी का सफेदपोश चेहरा तब शहर वाशियो के सामने आया जब सोसल मीडिया पर उनके द्वारा यूएमसी पीडब्ल्यूडी विभाग के कपाट से फाईल चुराने का वीडियो वायरल हुआ।सफेदपोश नकाब की आड़ में की गई इतनी बड़ी घिनौनी हरकत से भाजपा पार्टी की साफ सुधरी छबि को धूमिल करने का काम किया है वही जब इस मामले पर तेज तर्रार प्रवक्तता श्वेता शालिनी से मोबाईल पर बात किया गया तो उन्होंने बड़े साफ शब्दों कहा कि बीजेपी पार्टी कभी भी  किसी भी गलत बातों का समर्थन नही करती है रही बात मनोनीत नगरसेवक जो मामला सामने आया है तो पार्टी ऐसे चोर लोगो के खिलाफ शक्त से शक्त कार्यवाई करेगी!और जल्द ही कार्यवाई का ऐलान उल्हासनगर शहर के जिल्हा अध्यक्ष कुमार आयलानी के द्वारा होगा ऐसा श्वेता शालिनी कहा है !
     गौर तलब हो कि सोसल मीडिया पर जो वीडियो वायरल हुआ वह 10 मई की शाम 4 बजे के दरम्यान का है उस वीडियो में पहले उमनपा के ठेकेदार शेषांक मिश्रा और जूनियर इंजीनियर जीतू चोयथानी से प्रदीप रामचंदानी डिस्कसन करते हुए दिखाई दे रहे है।उसके बाद जब प्रदीप की जूनियर इंजीनियर ने एक नही सुनी और तीनों लोग कैबिन के बाहर चले गए तब प्रदीप कान में फोन लगाये हुए वापस कैबिन में आता है जब कि वह सिर्फ दिखावे के लिए फोन कान में लगाकर रखा हुआ रहता है ,कान में फोन लगाकर ही वह कपाट से फाईल ढूढ कर निकालता है और घबराए हुए हालात में जब वह कुर्सी पर बैठता है तो मोबाइल टेबल पर रखकर फाईल को शर्ट में छुपाता है।उसके बाद दिखावे के लिए वापस मोबाइल कान में लगाकर निकल जाता है।इस वीडियो ने उफान मचा दिया है परंतु उमनपा का विपक्षीय दल शिवसेना,राकांपा,आरपीआय,कांग्रेस के नेताओ ने अब तक सत्तापक्ष या उनके चोर नगरसेवक के खिलाफ कोई टिपण्णी नही की,ऐसा लग रहा है कि चोर-चोर मौसेरे भाई क्योंकि उमनपा की मलाई सत्ता-विपक्ष दोनो मिल बाटकर अब तक खाते आ रहे है यहां बता दे कि इस घटना के पहले ठेके को लेकर ही रामचंदानी और ठेकेदार सुनील पिम्पले में विवाद हुआ था जिससे नाराज पिम्पले और उनके दो अन्य साथियों ने स्थाई समिति आफिस में रामचंदानी की जमकर पिटाई की थी,जिसकी शिकायत रामचंदानी ने की थी,उसके 6 माह बाद पीडब्लुडी विभाग में ही शिवसेना नगरसेवक सुरेश जाधव ने जमकर पीटा जिसका वीडियो वायरल हुआ था वह मामला अभी शांत भी नही हुआ था कि फाइल चुराने का मामला प्रदीप रामचंदानी को भारी पड़ गया।प्रदीप रामचंदानी पर शिकायत दर्ज न हो इसलिए स्थाई समिति के सुपर सभापती ने राज्य मंत्री रविन्द्र चौहान के पीए मिश्रा को बारबार फोन कर चौहान साहेब का फोन आयुक्त को करवाने के लिए दबाव बना रहे थे।राज्य मंत्री चौहान का फोन आने के बावजूद आयुक्त गणेश पाटिल ने एक नही सुनी और शहर अभियंता शीतलानी को शिकायत दर्ज करवाने का आदेश दिया।उमनपा में दबाव फेल होता देख भाजपा के नेता सेंट्रल पुलिस को मैनेज करने की फिराक में जुट गए जिसकी भनक जैसे ही डीसीपी अंकित गोयल को लगी वैसे ही खुद डीसीपी सेंट्रल पुलिस स्टेशन पहुच गए और फौजदारी मुकदमा दर्ज होने और रामचंदानी की गिरफ्तारी तक वही बैठे रहे नतीजतन भाजपा के नेताओ का मंसूबा फेल हो गया।गिरफ्तार नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी को 16 मई तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश न्यायालय ने दिया है। वही इस मुद्दे पर जब भाजपा के उल्हासनगर शहर अध्यक्ष कुमार आयलानी बात किया तो वो स्पष्ट उत्तर देने की बजाय टाल मटोल करते दिखाई दिए इससे इतना तो समझ में आ रहा है कि कहि न कही नीचे लेवल के पदा अधिकारी इस चोर पर कार्यवाई के पक्षधर नही है ऐसा लगता है !
  • No Comment to " फाइल चोर नगरसेवक की जल्द होगी भाजपा से हकालपट्टी -श्वेता शालिनी "