• बहुत कठिन है डगर उमपा की महापौर पद की ?शर्तो के अनुसार महापौर नही बनी हू-महापौर आयलानी

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    महापौर पद को लेकर आयलानी, कलानी परिवार आमने सामने 
    शर्तो के अनुसार महापौर नही बनी हू-महापौर आयलानी

    मुख्यमंत्री केे आदेश का करूंगी पालन-मीना आयलानी

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में मनपा के महापौर पद को लेकर सत्ता में शामिल टीम ओमी कालांनी जहा पद पाने के लिए उत्सुक दिख रही है, वही दूसरी तरफ शहर में महापौर पद को लेकर राजनीति गर्मा गई है, वही गुरुवार को भाजपा की मनपा महापौर मीना आयलानी ने महापौर कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत के दौरान चौकाने वाला बयान देकर टीम ओमी कालांनी के महापौर पद को लेकर सवा वर्ष के दावे को खोखला बताकर राजनीति गर्मा दी है, साथ ही मनपा महापौर पद को लेकर गठबंधन की सत्ता में चल रही लड़ाई तेज होने के संकेत मिलने लगे है,
    बता दे की गुरुवार को मनपा मुख्यालय के महापौर कार्यालय में मनपा महापौर मीना आयलानी ने कहा पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा की वो किसी शर्त के तहत महापौर नही बनी है, उन्होंने बताया की महापौर बनने से पहले मुख्यमंत्री से हुई मुलाकात में उन्हें शर्तो के आधार पर महापौर बनने की कोई जानकारी मुख्यमंत्री व पार्टी के वरिष्ठों द्वारा नही दी गई है, हलाकि मुख्यमंत्री के आदेश के आगे हम नही है, उन्होंने कहा की टीम ओमी कालांनी मनपा चुनाव में भाजपा के साथ मनपा के किसी पद के शर्त को रखकर चुनाव नही लड़ी थी नही सत्ता बनाई थी, जबकी टीम ओमी कालानी के प्रमुख ओमी पप्पू कालांनी ने विधायक पद से भी अपनी माँ को इस्तीफा दिलाने की बात मुख्यमंत्री से कही थी, जो अभी तक नही दिला सके है, उनकी भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के लिए मुख्यमंत्री से सिर्फ दो शर्त थी जो पूरा शहर जानता है, वही भाजपा के पूर्व शहर अध्यक्ष मनपा सभागृह नेता जमनु पुरुषवानी ने पत्रकारों को बयांन देकर बताया की मनपा सत्ता में शामिल टीम ओमी कालांनी व साई पार्टी के साथ भाजपा के वरिष्ठ नेता मंत्री रविन्द्र चव्हाण व मुख्यमंत्री ने पदों के शर्त पर समझौता कर मनपा में भाजपा के महापौर पद पर मीना आयलानी को बैठाया है, शर्त अनुसार 4 जुलाई को सवा वर्ष पूरा होने जारहा है, इस बीच मीना आयलानी महापौर पद से इस्तीफा देंगी, जिसके बाद टीम ओमी कालांनी की उनकी चुनी गई महिला सवा वर्ष महापौर बनेंगी, साथ ही उन्होंने कहां की उप महापौर ढाई वर्ष साई पार्टी को शर्त अनुसार दिया गया है, और स्थाई समिति सभापति पद प्रथम वर्ष साई पार्टी दूसरा वर्ष भाजपा को दिया गया है, जो कायम चल रहा है, और अगले हप्ते भाजपा कोर कमेटी की बैठक में राज्यमंत्री रविन्द्र चव्हाण मौजूद रहेंगे जिस बैठक में महापौर पद को लेकर मंत्री द्वारा निर्णय लिया जायेगा, बता दे की उल्हासनगर मनपा महापौर पद की गर्माती राजनीति के बीच भाजपा गुटों में बटती नजर आने लगी है, जिससे पार्टी के अंदर ही माहौल गरमाए हुए है , वही मनपा महापौर मीना आयलानी ने सवा वर्ष महापौर पद के शर्त को इंकार कर महापौर पद पर बने रहने के अपने मंसूबे को साफ करके उल्हासनगर में महापौर की चल रही लड़ाई को हवा दे दी है, जानकारी अनुसार टीम ओमी कालांनी व भाजपा एक साथ गठबंधन करके भाजपा के सेम्बल पर सभी उम्मीदवार चुनाव लड़े थे, और 33 नगरसेवक चुनकर आये थे, जानकारी अनुसार चुने गये नगरसेवकों में 22 नगरसेवक टीम ओमी कालांनी से चुने गये है, जबकी भाजपा का महापौर बनाने के लिए 78 नगरसेवकों में आंकड़े कम होने के कारण साई पार्टी को सत्ता में शामिल किया गया था, साई पार्टी के 11 नगरसेवक चुने गए है,

    Subjects:

  • No Comment to " बहुत कठिन है डगर उमपा की महापौर पद की ?शर्तो के अनुसार महापौर नही बनी हू-महापौर आयलानी "