• उल्हासनगर की विधायिका ज्योती कालानी ने अनाथ बच्चे के साथ हो रहे अन्याय के मामले सदन में उठाई आवाज ! उल्हासनगर पुलिस विभाग में मचा हड़कंप !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उल्हासनगर की विधायिका ज्योती कालानी ने अनाथ बच्चे के साथ हो रहे अन्याय के मामले सदन में उठाई आवाज ! 

    उल्हासनगर पुलिस विभाग में मचा हड़कंप ! 

    बच्चे की शिकायत नही लेने वाले अधिकारियों पर गिरेगी गाज ! 

    फस्ट हेडलाइन इंडिया की खबर का असर !

    उल्हासनगर- आज मानसून सत्र के नागपुर अधिवेशन में शहर की तेजतर्रार महिला विधायिका ज्योती पप्पू कालानी ने उल्हासनगर में बिगड़ते "ला अंड आर्डर को लेकर जोरदार बहस की जिससे पूरा विधानसभा गूंज उठा। उल्हासनगर में हत्या,हत्या का प्रयास,घरफोडी,रॉबरी,दिन-दहाड़े चैन स्नेचिंग की बढ़ती घटनाओं ने उल्हासनगर के पुलिस सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़ा कर दिया इसके अलावा उन्होंने एक 11 वर्षीय अश्लेष गणेश भट यह अनाथ बच्चा जिसका मकान एक जुआ-मटके के अड्डे चलाने वाले गुंडे संजय दास द्वारा पुलिस के दम पर असहाय,बेसहारा लोगो का जबरन जमीन व मकान हड़पने में जुटे है और ऐसे गरीब असहाय लोगो की पुलिस स्टेशन में कोई सुनवाई नही हो रही है !विधायिका ज्योती कालानी मैडम का मुद्दा गंभीरता से लेते हुए मा.विधानसभा अध्यक्ष ने विधायिका कलानी के सभी सवालों का जवाब गृहमंत्रालय को जल्द से जल्द देने का आदेश दिया। इससे यह अंदेशा है कि गरीब बच्चों को जल्द इंसाफ मिलने की उम्मीद जग गई है ! 
     बता दे कि  उल्हासनगर - 5 के कुर्ला कैम्प के गणेशनगर परीसर 11 वर्षीय अश्लेष गणेश भट यह अनाथ बच्चा रहता है . अश्लेष के पिता गणेश गोपाळ भट इनकी दो साल पहले 36 साल की उम्र में निधन हो गया था इससे पहले पांच साल पहले इस बच्चे की सीमा गणेश भट इसका भी निधन हो गया था . गणेश भट की मालिकी दो रूम है, इसमें एक रूम संजय दास नामक ब्यक्ति को भाडे दिया था. गणेश की मौत के बाद से ही संजय दास ने भाडा देना बंद कर दिया था और लोगो को इस रूम मालिक होने की बात स्थानीय लोगो कहने लगा. गणेश भट की बीमारी के समय एक छोटी बेटी जिसका नाम निधी ( अश्लेष की छोटी बहन ) इसको संजय दास को देखरेख करने के लिए दिया था . अभी वह बच्ची को भी गायब कर दिया है .       अभी अश्लेष का पालन-पोषण प्रेमा जयसिंग थापा ( 56) यह महिला कर रही है . प्रेमा की आर्थिक परिस्थित बहुत ही कमजोर होने की वजह से अपना जीवन यापन करने के लिए जीन्स कारखाने में काम करके अपना भरण पोषण करती है, यही नही इस अनाथ बच्चे अश्लेष का पढ़ाई का खर्च और पालन - पोषण भी प्रेमा ही कर रही है . अश्लेष के पिता के रूम में रहने वाले संजय दास के पास से रूम का भाड़ा मिलेगा तो अश्लेष की पढ़ाई व खाने पीने का इंतजाम अच्छे से हो जाएगा इसी उद्देश से अश्लेष एक दिन अपने भाडोत्तरी संजय दास के पास जाकर रूम का भाड़ा मांगा तभी उस बच्चे को भाडोत्तरी के द्वारा धमका कर भगा दिया जिस पर पास में रहने वाली महिला इस बच्चे की मदत के लिए आगे आई तो उसे भी भाडोत्तरी ने धमकी दी ऐसा आरोप तरन्नुम यह रूप की पास रहने वाली महिला ने किया यही पुलिस वाले से भी उस महिला को धमकाया जा रहा है ऐसा भी आरोप महिला के द्वारा किया गया है . कुछ दिनों पहले ही संजय दास ने अश्लेष को स्कूल जाते समय रास्ते में रोक कर धमकी दिया कि मेरे बारे में किसी को कुछ बताया तो तुम्हे जान से मार दूँगा .     बता दे कि जब यह मामला उसी परिसर की समाजसेविका मीरा सपकाळे और रमा कांबळे के सामने आया तो उन्होंने अश्लेष को न्याय दिलाने के लिए स्थानीय पुलिस के पास गई और संजय दास के विरुद्ध मामला दर्ज करने मांग हिल लाईन पुलिस स्टेशन में किया. परन्तु मामले में पुलिस को जिस प्रकार से कार्यवाई करनी थी वह न करके इस मामले एक एनसी दर्ज करके मामले को रफादफा करने की कोशिश करते नजर आए पुलिस वाले इसके पीछे का जो कारण सामने आया वह चौकाने वाला दर असल मे संजय दास छोटा मोटा जुआ खिलाने वाला काम करता है इस लिये इसका स्थानीय पुलिस से सेटिंग है यही वजह है पुलिस इस मामले को सीरियसली नही ले रही है. अब सवाल यह है अगर कल बच्चे के साथ अनहोनी होती है तब उसका जवाब दार कौन होगा ? ऐसा सवाल समाजसेविकाओ न उपस्थित किया है . इसी परिसर दो दिन पहले भाडोत्तरी हर्ष गणेश आल्हाट इस 11 वर्षीय बच्चे की अज्ञात लोगो के द्वारा गला काटकर उसकी निर्मम हत्या कर दिया गया है ऐसे पुलिस को ऐसे मामले में सावधान रहना चाहिए न कि संजय दास जैसे गुंड प्रवृत्ती के लोगो को पुलिस प्रोत्साहन दे रही है ऐसा दिख रहा है ऐसा आरोप अश्लेष के पड़ोसियों के द्वारा किया गया है. 
  • No Comment to " उल्हासनगर की विधायिका ज्योती कालानी ने अनाथ बच्चे के साथ हो रहे अन्याय के मामले सदन में उठाई आवाज ! उल्हासनगर पुलिस विभाग में मचा हड़कंप ! "