Browsing "Older Posts"

  • होटल रेलिडा में चल रहे तीन पत्ती के जुए के अड्डे पर पुलिस का छापा ! 3 लाख कैश के साथ 30 जुआड़ी को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    होटल रेलिडा में चल रहे तीन पत्ती के जुए के अड्डे पर पुलिस का छापा !

    पुलिस ने 30 जुआड़ी गिरफ्तार उनके पास से 3 लाख कैश ६९७ क्वाइन को किया जप्त !
     फाइल फोटो

    ठाणे-ठाणे शहर के क्राइम ब्रांच यूनिट दो के सहायक पुलिस आयुक्त एन. टी. कदम को गुप्त सूचना मिली थी कि ठाणे के ज्यूपिटर हॉस्पिटल के सामने, फ्लॉवर वैली के पास स्थित होटल लेरिडा में कुछ लोग भाड़े के रुम लेकर तीन पत्ती का जुआ खेलने व खिलाने का काम कर रहे हैं। इसी सूचना के आधार पर मालमत्ता अपराध शोध व क्राइम ब्रांच टीम के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक मंगेश सावंत व अनैतिक मानवी ट्रैफिक प्रतिबंध कक्ष, क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रविंद्र दौंडकर की संयुक्त टीम ने होटल लेरिडा में छापा मारकर रूम नं ६०३में ३०लोगों को तीन पत्ती जुआ खेलते हुए गिरफ्तार किया है। उनकी तलाशी लेने पर उनके पास से २,७८,५०० रुपए नगद और जुआ खेलने की सामग्री, विशेषतः जुआ खेलने के लिए लगने वाले प्लास्टिक के ६९७ कॉइन बरामद की गई हैं।
    गौरतलब हो कि इन सभी के खिलाफ राबोड़ी पुलिस स्टेशन में महाराष्ट्र जुगार प्रतिबंधक कानून की धारा ४,५,७के तहत मामला दर्ज किया गया है यह जुए का अड्डा मंगेश भोसले नामक व्यक्ति चलाता है,लेकिन वो फरार हो गया है, पुलिस उसकी तलाश कर रही हैं।आगे की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक प्रमोद सानप कर रहे हैं। बता दे कि यह अब जुआ खिलाने का नया तरीका ढूढ़ निकाला है किसी होटल में कमरा लो उसमें इस तरह की तीन पत्ती जुआ खिलाने का पुलिस की कार्यवाई के बाद हो रहे खुलासे यह एक नया कारनामा सामने आ रहा है अब पुलिस ऐसे लोगो के लगाम लगाने के लिए होटल वांले के खिलाफ क्या कार्यवाई करती है ताकि दोबारा कोई होटल के चालक अपने होटल में ऐसे लोगो रूम न दे यह देखने वाली बात होगी !
  • उल्हासनगर में शिवसेना का पानी की समस्या को लेकर निकाला मोर्चा !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में शिवसेना का पानी की समस्या को लेकर  निकाला मोर्चा ! 

    आयुक्त के आफिस में बैठकर किया प्रदर्शन, पुलिस भी का भारी बंदोबस्त था तैनात ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर को पानी पिलाने वांले डैम लगभग पूरी तरह से भर गए है और बारिस भी शुरू है फिर भी शहरवासियों को पानी के लिए तरसना पड़ रहा है इसी समस्या को लेकर शिवसेना ने गुरुवार की दोपहर दोपहर मोर्चा निकाल कर उल्हासनगर महानगरपालिका के गेट पर घोषणा बाजी किया.परंतु आयुक्त गणेश पाटील नही होने की वजह से शिवसेना के विधायक व नगरसेवकों ने आयुक्त के कार्यालय में बैठकर आंदोलन करने लगे जिसके बाद फोन करके आफिस को लोगो ने आयुक्त को मामले से अवगत कराया और थोड़ी देर में आयुक्त आये और उनके आश्वासन के बाद आंदोलन खत्म किया,मामले की गभीरता को देखते हुए सेंट्रल पुलिस स्टेशन के अधिकारी अपनी फौजफाटा तैनात किया था. 
    शिवसेना के पैनल क्रमांक 13,14,15 में पानी की आधी अधूरी सप्लाई होने से स्थानीय रहिवाशियो को काफी कठिनाईयो का सामना करना पड़ रहा है , पानी दिन में कभी भो छोड़ा जाता है जिसके चलते दिन या रात में लोगो पानी के लिए जागना पड़ता है इस सभी मुसीबतों से जनता परेशान है,इन्ही समस्याओं को ध्यान में रखकर गुरुवार की दोपहर में विधायक डॉ.बालाजी किणीकर,गटनेता रमेश चव्हाण,सुनील सुर्वे,नगरसेवक शेखर यादव,अरुण आशान,सुमित सोनकांबळे,सुरेंद्र सावंत,नगरसेविका लिलाबाई आशान,शितल बोडारे,वसुधा बोडारे,जोत्स्ना जाधव,विभागप्रमुख बापू सावंत,राजू माने,राकेश कांबळी,राजू धावारे,सुनील सानप इनके साथ सैकड़ो की संख्या स्थानीय नागरिकों की उपस्थिती में विशाल मोर्चा निकाला गया . पालिका आने पर आयुक्त गणेश पाटील यह अपने ऑफिस में नही थे जब इसकी सूचना विधायक डॉ.बालाजी किणीकर व इनके साथ आये नगरसेवकों को मालूम हुआ तो सबने मिलकर आयुक्त के ऑफिस के अंदर जाकर कुर्सी पर बैठकर आंदोलन शुरू कर दिया.इसकी सूचना मिलते ही सेंट्रल पुलिस स्टेशन वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विजय डोलस इन्होंने पुलिस व महिला पुलिस की टीम के साथ पालिका पर पहुँच गए कोई अनुचित घटना हो नही इसकी पूरी तैयारी करके बंदोबस्त तैनात कर दिया था .आखिरकार आयुक्त गणेश पाटील यह शाम को साडेचार बजे तक आये और पानी की हो रही समस्याओं को सुना और जल्द से जल्द इसका समाधान करने का आश्वासन दिया जिसके बाद सब लोगो ने आंदोलन को समाप्त किया सब ने मिलकर आयुक्त को एक निवेदन भी दिया उस समय उपजिल्हाप्रमुख चंद्रकांत बोडारे,विरोधी पक्षनेते धनंजय बोडारे इनकी भी उपस्थिती हो चुकी थी ,
  • भाजपा के दो पदाधिकारी पर दर्ज हुआ छेड़खानी का मामला !

    By fast headline india →
    भाजपा के दो पदाधिकारी पर दर्ज हुआ छेड़खानी का मामला ! 

    उल्हासनगर - उल्हासनगर भाजपा के दो पदाधिकारी समेत तीन लोगों के विरुद्ध  विठ्ठलवाडी पुलिस स्टेशन एक लड़की ने छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया है ,पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है .
     पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पिडित लड़की रक्षाबंधन के दिन अपने भाई के साथ जा रही थी तभी भाजपा के पदाधिकारी रवी व्हटकर इन्होंने उसके साथ छेड़खानी किया तो उसके दोस्त  प्रमोद निकम व योगेश व्हटकर इन्होंने लड़की की भाई की पिटाई करने का आरोप लगाया है .यही नही योगेश व्हटकर इन्होंने फिर्यादी लड़की को आपत्ति जनक तरीके से स्पर्श किया और धमकी दी किसी को बताएगी तो तेरे चेहरे पर एसिड फेंक दूँगा ऐसा पुलिस को दिए लड़की के शिकायत में लिखा गया है,विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने मामला दर्ज करके तीनो आरोपियों को गिरफ्तार किया है और मामले की आगे की जांच में जुट गई है ! वही इस मामले में रवीं व्हटकर से उनके मोबाइल पर संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि यह मेरे खिलाफ मेरे राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी लोगो की सोची समझी साजिश है छेड़छाड़ तो दूर की बात हमने आजतक लड़की को देखा ही नही है.यह वो लोग क्यू कर रहे है वह तो आने वाले समय पर सबके सामने आ जायेगा !
  • प्राचीन शिव मंदिर की हो रही दुर्दशा को रोकने मुख्यमंत्री से लगाई शिव भक्त पाटिल ने गुहार !

    By fast headline india →
    प्राचीन शिव मंदिर की हो रही दुर्दशा को रोकने मुख्यमंत्री से  लगाई शिव भक्त पाटिल ने गुहार !   

    शिवमंदिर फेस्टिव्हल के नाम पर होता करोड़ो खर्च लेकिन मंदिर बचाने नही है सुध !

    उल्हासनगर - उल्हासनगर और अंबरनाथ इन दोनों शहर के सीमा पर प्रसिद्ध प्राचीन शिवमंदिर है. यहा पर हर साल महाशिवरात्री व श्रावण महिने में बहुत ही बड़ी संख्या में शिवभक्त लोग घण्टो लाइन खड़े होकर दर्शन करते है. यह मंदिर देश के प्राचीन हिंदू मंदिर में से एक है कुछ लोग तो इसे पांडव कालीन होने की बात भी करते है. परंतु इस मंदिर को शासन व पुरातत्व विभाग ने ध्यान नही देने के वजह से मंदिर की कलाकृतियों खराब होकर टूटकर गिर रहे है यहा तक अभी ऐसी हालत है कि मंदिर गिरने की नोबत भी आ सकता है. शिवमंदिर का सरकार के द्वारा व संबंधीत विभाग के द्वारा पुनर निर्माण करके इसकी सुंदरता बरकार रखा जाय ऐसी मांग उल्हासनगर के शिवभक्त विजय चाहू पाटील इन्होंने किया है .


      गौरतलब हो की शिवमंदिर के शिलालेखम्भे से बने इस मंदिर का नीर श.क. ९८२ इ.स. २०६० में शिलहार राजा महामंडलेश्वर माम्वानी राजदेव इन्होंने इसको अनोखी कारीगरों से बनाने का उल्लेख किया गया है.यह शिवमंदिर महाराष्ट्र व कोकण विभाग मे साधारणतः १३०० साल पहले बनने वाले कलापूर्ण हिंदु मंदिरो में से एक सबसे पुराना है . मंदिर पर देवी-देवताओ के अप्रतिम शिल्पकारी व कलाकृतियों से पूरे मंदिर की खम्भे व दीवारों पर अंदर भी इसी तरह से बनाया गया है यही कारण है भक्तों के अलावा देश विदेश के शैलानी भी यहा आते है. बता दे कि पिछले चौदह सालों से     उल्हासनगर के प्रसिद्ध शिवभक्त विजय चाहु पाटील व उनके भाई रवी चाहू पाटील दोनो लोग हर साल श्रावण के पावन महिने में हिंदू संस्कृती संवर्धन महोत्सव यहा पर करते है. श्रावण महिने में एक महीना भर यह भजन, कीर्तन व महाप्रसाद का निरंतर भंडारा के आयोजन पाटील भाइयों के द्वारा किया जाता है . शिवभक्त की वेदना है कि मंदिर की कलाकृतियों से सजी मूर्तियों अब देखरेख के अभाव में गिरने लगी मंदिर में बारिस का पानी टपकता जिससे अंदर की सजावट भी खराब हो रहा है यही नही मंदिर पर खास व काई ने मंदिर की सुंदरता को खराब करके कमजोर कर रहे है यही नही मंदिर गिरे नही इस लिए मंदिर के अंदर लोहे के मोटे एंगल से सपोर्ट दिया गया है.बारिस के समय मंदिर की सजावट में बनी कलाकृतिया अपने आप टूट कर गिर रही है गनीमत इतना है अभीतक इसकी चपेट में कोई भक्त नही आये इस समय रहते मंदिर का जीर्णोद्धार किया जाय ताकि मंदिर की सुंदरता व क्षतिग्रस्त होने से बचाया जा सके.  मंदिर के नाम पर वांले शिव महोत्सव के रूप में हर साल लाखो व करोडो रुपये खर्च करके हर साल मंदिर के परिसर में शिवसेना के सांसद श्रीकांत शिंदे इनको द्वारा   शिवमंदिर फेस्टिव्हल किया जाता है. ऐसे में जिस मंदिर के निमित्त इतना बड़ा कार्यक्रम होता है उस मंदिर की दुर्दशा पर ध्यान क्यो नही दिया जा रहा यह एक बड़ा सवाल है .    शिवभक्त विजय पाटील इन्होंने मंदिर की बिगड़ती हालत पर चिंता व्यक्त किया है और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस व पुरातत्व विभाग से इस मंदिर का जीर्णोद्धार करने की अपील किया है इस विरासत को बचाने आगे भी जो बन पड़ेगा वह करने की बात कही है , यह एक शिवभक्त की वेदना ही है जो उनके द्वारा आज जनता के समक्ष रखा है अब सवाल यह है कि प्रशासन की नींद आखिर कब टूटेगी और मंदिर को बचाने की कार्य प्रगति पर होगा यह तो आने वाले समय मे दिखेगा बता दे कि 2019 में चुनाव ऐसे में स्थानीय विधायक व सांसद जो दोनो शिवसेना से है उनको इस पर गौर करना जरूरी है नही तो उनको इसका खामियाजा चुनाव में उठाना भी पड़ सकता इससे इनकार नही किया जा सकता है .



  • कपड़ा ब्यापारी की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया ! मुंबई से हत्यारे को किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    कपड़ा ब्यापारी की हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया ! 

    आरोपी को मुंबई से किया गिरफ्तार ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के चोपड़ा कोर्ट परिसर हरि ओम अपार्टमेंट के तीसरे महले के फ्लैट नम्बर 301 में एक 55 वर्षीय ब्यक्ति की कपड़ा धोने वांले पीटने से उसके बेड रूम में सर पर पीट पीट कर बड़ी ही क्रूरता हत्या कर दिया था!उसके बाद से ही पुलिस आरोपी की तलाश कर रही थी,पुलिस ने आखिरकार हत्या को अंजाम देने वाले आरोपी को मुंबई से पुलिस न गिरफ्तार किया था,आज शाम को पुलिस ने पत्रकार परिषद रखकर इसकी जानकारी दी है पुलिस के अनुसार हत्या को अंजाम देने वाला पेशे से पेंटर उसका नाम संजय प्रसादी शर्मा है यह मुंबई के खार पूर्व से निर्मलनगर पुलिस स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया गया है !पुलिस को पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह चोरी करने के उद्देश्य से घर में आया था उसने 9हजार रुपया और एक मोबाइल चुरा लिया था तभी ब्यापारी प्रकाश जाग गया पकड़े जाने के डर की वजह से इसने कपड़े धोने वांले पीटने आरोपी ने सर पर कई वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई और यह चोरी का सामान लेकर फरार हो गया था ! इस मामले की आगे की जांच क्राइम पुलिस निरक्षक कालदाते कर रहे है !
    बता दे कि  प्रकाश तोलाराम कछानी जो कि पेशे से एक कपड़ा ब्यवसाई थे इनकी अमन टाकीज के पास प्रकाश कलेक्शन नामक कपड़े का शो रूम है वह रहने के 17 सेक्सन बैरेक नम्बर 832 रूम 24 के उल्हासनगर तीन में रहते थे इन्ही की बीबी के नाम पर चोपड़ा कोर्ट के पास हरि ओम अपार्टमेंट बैरेक नम्बर 765,1-2 नियर ग्रीनपार्क में उल्हासनगर तीन के तीसरे महले पर 301 फ्लैट था परंतु यहा कोई रहता नही था यह पर कभी कभार घर के लोग आते थे , प्रकाश हर दिन की तरह बुधवार की रात 10,30 बजे अपनी दुकान बंद बच्चों को बोले कि चालिया मंदिर में माथा टेक कर घर पर आता हूं उसके बाद वो चले गए जब देर रात तक घर नही लौटे तो उनके घर वाले उनकी तलाश करने लगे सुबह उनको ढूढते हुए उनके बेटे राजा व पप्पन ये लोग सुबह 11 बजे के करीब हरि ओम अपार्टमेंट के अपने फ्लैट पर आये तो उन्होंने दरवाजा थोड़ा खुला दिखा तो वी लोग दरवाजे को खोलकर अंदर घुसे तो उन्होंने बेड़रूम में अपने पिता की खून से लतफ़त लाश देखा उसके बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दिया उसके बाद सेंट्रल पुलिस स्टेशन के सीनियर विजय डोलस एसीपी जगताप समेत बड़ी संख्या में पुलिस दल घटना स्थल पर पहुचकर जांच में जुट गए है लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी मे पुलिस जुटी हुई हत्या के पीछे की वजह में जुट हुई है !
  • मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रभाग क्र २० के रहिवासीयो ने किया मनपा गेट के सामने आंदोलन !

    By fast headline india →
    मूलभूत सुविधाओं के लिए प्रभाग क्र २० के रहिवासीयो ने किया मनपा गेट के सामने आंदोलन ! 

     उल्हासनगर- उल्हासनगर महानगरपालिका के प्रभाग क्र, 20 के खडी मशिन परिसर में कई सालों से पानी आ नही रहा है इसी नाराज महिलाओं ने मनपा मख्यालय के गेट के सामने आंदोलन करके अपना विरोध दर्शाया है.इन लोगो ने कहा कि जल्द हमारी समस्या का समाधान नही किया गया तो आने वाले समय और बड़ा आंदोलन करने की बात कही है !
     गौरतलब हो कि मूलभूत सुविधाओं से वंचित है यहाँ पर पानी की सबसे बड़ी समस्या है इसका समाधान महापालिका ने अभी नही कर पाई है यही कारण है कि प्रभाग क्र.२० खडी मशीन परिसर में पिछले तीन से चार सालों से पानी समस्या , गटर ,सार्वजनिक शौचालय भी नही होने की वजह महिलाओं को बहुत ही बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है.स्थानीय लोगो ने इस समस्याओं को लेकर कई बार मनपा प्रशासन व स्थानिक नगरसेवक आकाश पाटील ,कविता गायकवाड औरविकास पाटील इनसे शिकायत भी किया परंतु एक भी समस्या का समाधान नही हुआ इस लिए वहाँ के लोगों ने इस समस्या को लेकर मंगलवार को महापालिका गेट के सामने आंदोलन करके अपनी समस्याओं से अवगत कराया.इन सभी लोगो ने निर्णय लिया कि जबतक पानी व मूलभूत सुविधाए मिलता नही तब तक हम लोग उठने वाले नही है.उनका कहना है कि पानी की इतनी बिकट समस्या बारिश के मौसम में गर्मी के महीने क्या होगा,मनपा के आश्वासन के बाद महिलाओं आंदोलन खत्म किया गया है ,
  • चूहे की लेंडी मामले में अस्मिता महिला मंडल बचत गट पोषण आहार का ठेका मनपा ने किया रद्द !

    By fast headline india →
    उमपा स्कूल के पोषण आहार चूहे लेंडी का मामला में मनपा का बड़ा फैसला !

     अस्मिता महिला मंडल बचत गट पोषण आहार का ठेका मनपा ने किया रद्द ! 

     उल्हासनगर - उल्हासनगर मनपा के स्कूल क्रमांक 21 में पोषण आहार में मिले चूहे के लेंडी मामले को लेकर संतोष बाल्मीकी ने 27 अगस्त से मनपा मख्यालय के सामने अनशन पर बैठे थे उनकी मांग थी पहले खिचड़ी देने वाले महिला बचत गट का ठेका रद्द हो और उनके विरुद्ध मामला दर्ज किया जाय.मनपा ने 28 अगस्त को उनकी मांग को मानते हुए अस्मिता महिला मंडल का पोषण आहार का ठेका रद्द करने का आदेश दिया है उनको अपना उपोषण खत्म करने की विनती की है,मनपा के दिये आदेश के अनुसार मनपा शाला क्रमांक 21 व उल्हासनगर विद्यालय का ठेका रद्द करने का आदेश दिया है, इस आदेश के बाद संतोष बाल्मीकी ने उपोषण समाप्त कर दिया है ! 
    उल्हानगर -3 के हिराघाट परिसर के महानगरपालिका स्कूल क्रमांक 21 जो हिंदी माध्यम का स्कूल है . इस स्कूल में 5 वी , 6 वी , 7 वी के कुल 87 विद्यार्थी शिक्षण ले रहे है . हर दिन की तरह आज सुबह 9. 30 बजे बच्चों की छुट्टी हुई . इसके बाद स्कूल के सभी बच्चों को पोषण आहार के रूप में खिचडी दिया जाता है .सुबह जब बच्चों खाने के लिए पोषण आहार दिया गया तो 5 वी में पढ़ने वाली विद्यार्थी लक्ष्मी सचदेव इसके थाली के खिचड़ी में चूहे लेडी दिखाई दिया और खाने से बदबू भी आने लगा था . जिसके बाद बच्ची ने इसके बारे में स्कूल के शिक्षक और स्कूल के प्रधानाचार्य वर्षा खत्री इनको बताया .इसी बीज इस मामले की जानकारी महाराष्ट्र नवनिर्माण विद्यार्थी सेना के मनोज शेलार ,ऍड कल्पेश माने , मनपा के आरोग्य अधिकारी डॉ राजा राजा रिझवानी, मुख्य स्वच्छता निरीक्षक विनोद केणी , एकनाथ पवार ,शिक्षण मंडल के कर्मचारी हेमंत शेजवळ और अनिल जैस्वार इन्होंने घटना स्थल पर पहुचे और पूरे मामले की विस्तृत जानकारी लिया . इसी दरम्यान यह मामला सोशल मीडियावर पर आ गया उस पर लोगो ने अपनी नाराजगी ब्यक्त करते हुए पोषक आहार सप्लाई करने वाले बचत गट के विरुद्ध कठोर कारवाई करने की मांग लोगो के द्वारा किया है . इस स्कूल के पोषण आहार सप्लाई करने का ठेका अस्मिता महिला मंडल के बचत गट को दिया गया है .इस बचत गट की जांच अभी शुरू किया गया है .स्कूल की प्रधानाचार्य वर्षा खत्री इन्होंने मनपा के शिक्षण मंडल के पास इस विषय में लिखित शिकायत देकर कहा है कि यह जो पोषण आहार बच्चे को दिया जा रहा था वह खटिया अस्तर का था इस लिए इसकी जांच करके कड़ी कार्यवाई करने को कहा है. बच्चे की खिचड़ी का सैम्पल लेकर फूड एंड ड्रग्स विभाग को भेजा जा रहा है वहा से जो रिपोर्ट आएगी उसके अनुसार आगे की कार्यवाई किए जाने की बात शिक्षण मंडल के कर्मचारी ने कही है ! वही अस्मिता महिला गट अध्यक्षा ज्योत्स्ना मालवणकर के पति दिलीप मालवणकर ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि पिछले 16 सालों से हम स्कूल के पोषण आहार देने का काम कर रहे है,ऐसा कभी नही हुआ अब मेरे साथ इसलिए हो रहा है क्योंकि हम शहर से भ्र्ष्टाचार मुक्त करने की लड़ाई लड़ रहे है इस लिए हमें बदनाम करने के लिए यह सब किया जा रहा है ऐसा उन्होंने कहा है ! बता दे इससे पहले भी उमपा के दूसरे स्कूलों में दिए जा रहे पोषण आहार में कीड़े भी मिल चुके है पहले कार्यवाई की बात कही जाती है बाद में ले देकर मामले को रफा दफा कर दिया जाता है जब प्रशासन के द्वारा ऐसे लोगो के विरुद्ध कार्यवाई नही किया जाएगा तब तक ये लोग सुधरने वाले नही है और बच्चों को पोषण आहार के नाम पर खटिया सामग्री खिलाती जाती रहेगी इस समय रहते प्रशासन के द्वारा कार्यवाई की जानी चाहिए नही तो बिहार के जैसे यहाँ भी कभी बड़ा हादसा होने के अंदेशे से नाकारा नही जा सकता है ,
  • पेशाब करने को लेकर हुए विवाद में युवक पर धारदार हथियार से हमला करके हुई हत्या !

    By fast headline india →
     पेशाब करने को लेकर हुए विवाद में युवक पर धारदार हथियार से हमला करके हुई हत्या ! 

     पुलिस ने किया एक आरोपी को गिरफ्तार दो अभी भी फरार ! 

     उल्हासनगर- उल्हासनगर के खेमानी परिसर में पेशाब करने को लेकर हुए विवाद में युवक कुछ लोगो ने धारदार हथियार से हमला करके हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है,पुलिस ने इसमें शामिल एक युवक को गिरफ्तार किया है जबकी दो आरोपी अभी भी फरार है !
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उल्हासनगर कॅम्प नंबर दो के ,खेमानी परिसर के एस व्ही एस हायस्कूल के पास चंद्रकांत मोरे यह अपने परिवार के साथ रहते थे बीती रात में वह चायनिज खाने के लिए घर से बाहर गये थे तभी उनका पेशाब करने को लेकर कुछ अज्ञात लोगों से वादविवाद हो गया इसी विवाद से गुस्साए लोगों तीन लोगों ने चंद्रकांत मोरे इस युवक पर धारदार हथियार से हमला करके फरार हो गए . खून से लथपथ पड़े चंद्रकांत को स्थानीय लोगो के द्वारा इलाज के सेंट्रल अस्पताल ले गए लेकिन उसकी हालत देखकर डॉक्टरों ने जवाब दिया इसे मुंबई के अस्पताल ले जाओ इसी दरम्यान ईलाज करते समय ही उसकी मौत हो गई ! इस मामले में उल्हासनगर पुलिस हत्या का मामला दर्ज किया और मामले की जांच शुरू किया इसमें पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगा हत्या के मामले में शामिल एक आरोपी रबी जैसवाल को गिरफ्तार कर लिया है दो आरोपी अभी भी फरार पुलिस उनकी भी तलाश में जुटी है ,इस मामले की आगे की जांच क्राइम ब्रांच के पुलिस निरीक्षक अहिरे कर रहे है !
  • उमपा प्रशासन का नायाब कारनामा रिश्वतखोर व अपात्र अधिकारी के हाथ में सौंपी मनपा की कमान !

    By fast headline india →
    उमपा प्रशासन का नायाब कारनामा रिश्वतखोर व अपात्र अधिकारी के हाथ में सौंपी मनपा की कमान !

     सरकार की जीआर के नियमो को ताख पर दिया मलाईदार पोस्ट !

    प्रमोशन यादि में अपने आप को क्लीनचिट बनाने की कोशिश का हुआ पर्दाफाश !

    आयुक्त ने उपायुक्त मख्यालय को दिए मामले की जांच करने का आदेश !
     फाइल फोटो

    उल्हासनगर -उल्हासनगर मनपा में पिछले कुछ समय से एक बाद एक अनोखे कारनामो का खुलासा सामने आ रहा है ऐसी ही कड़ी में हाल ही में भाई के नाम फर्जी वाड़ा लगभग 15 साल से नोकरी करने वाले का मामले पर्दाफाश हुआ फिर उसे जेल की हवा खाना पड़ा है . इसी कड़ी एक दूसरा मामले में एक अवैध बांधकाम ठेकेदार से एक अवैध निर्माण के मामले में रिश्वत लेते रंगेहात पकडे गए अधिकारी को अनधिकृत बांधकाम विरोधी पथक का प्रमुख पद देने का अनोखा कारनामा सामने आया है , ऐसे अपात्र कर्मचारी को अधिकारी पद देने वाले विवादित निर्णय से मनपा प्रशासन पर भी सवालिया निशान उठ खड़ा हुआ है. आने वाले समय में इसका जवाब प्रशासन को देना होगा !  
      बता दे दी कि उल्हानगर महानगरपालिका के मागासवर्गीय भरती घोटाला जैसे अनेक मामले का खुलासा हुआ था. कुछ दिनों पहले राजेंद्र अढांगले इस सफाई कर्मचारी ने अपने भाई के नाम 15 सालों से नोकरी करने का मामले का पर्दाफाश हुआ . इस मामले में अढांगले इनके विरुद्ध मामला दर्ज कराया गया और उसे जेल जाना पड़ा है. इस मामले में तत्कालीन मनपा के कुछ अधिकारियों की मिली भगत होने का भी मामला प्रकाश में आया है उन वरीष्ठ अधिकारी और कर्मचारियो जांच होना अभी बाकी है.ऐसे में मनपा के विवादित अधिकारी गणेश शिंपी को सहाय्यक आयुक्त और अनधिकृत बांधकाम निष्कासन प्रमुख की जबाबदारी देने से मनपा प्रशासन की कार्य प्रणाली पर भी सवालिया निशान लगने लगा .  शिंपी का मूल पद यह स्टेनोग्राफर आहे . ये 8 / 5 / 2013 में मनपा के तत्कालीन आयुक्त बालाजी खतगावकर के पीए (स्वीय सचिव) पद पर काम करते समय ठाणे एंटीकरप्शन विभाग ठाणे ने इन पर कार्यवाई करते हुए 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहात गिरफ्तार किया था इनके साथ बिट मुकादम रिजवान शेमले इनको भी जाल बिछाकर 50 हजार की रिश्वत लेते पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इस दरम्यान शिंपी को कुछ समय के लिए निलंबित किया गया था उसके कुछ समय बाद तत्कालिन मनपा आयुक्त मनोहर हिरे इनके कार्यकाल में गणेश शिंपी इनकी सहाय्यक आयुक्त पद पर बहाली किया गया इस दरम्यान इनके कार्यकाल के दरम्यान बड़े पैमाने इनके प्रभाग में हुए है ,अभी शिंपी के पास सहाय्यक आयुक्त और अवैध बांधकाम निष्कासन प्रमुख पद भी दिया गया है. इनको पद संभालने के बाद पूरे शहर में अवैध निर्माण बनाने में बड़े पैमाने पर तेजी आई है. यहा देखने वाली बात यह है कि महाराष्ट्र शासन निर्णय क्र निप्रआ -1111/प्र क्र 86 / 11 -अ  प्रमाण के अनुसार जिस भी शासकीय अधिकारी / कर्मचारी विरुद्ध बेहिसाब संपत्ती प्रॉपर्टी, नैतिक अधःपतन, रिश्वतखोरी ,हत्या,या हत्या का प्रयास , बलात्कार ऐसे गंभीर मामले किसी पर भी फौजदारी मामले दर्ज हुए है और उन्हों इसकी वजह से निलंबित किया गया है और खटला / अपील / विभागीय चौकशी प्रलंबित होने के दरम्यान उसको पुनस्थापित करने निर्णय हुआ है तो ऐसे में ऐसे मामले के अधिकारी / कर्मचारी को ऐसा पद दिया जाय जहाँ पर अधिकारी का पब्लिक से जनसंपर्क या रिश्वत लेने की संभावना न बने ऐसे पदपर नियुक्ती दी जाय ऐसा महाराष्ट्र के जीआर में स्पष्ट लिखा है. ऐसे में मनपा के द्वारा ऐसे अधिकारी को मलाईदार पोस्ट देकर क्या साबित करना चाहती या इसके पीछे की मंशा भ्र्ष्टाचार को बढ़ावा देने का तो नही है क्यो       गणेश शिंपी जिनकी मनपा में स्टेनोग्राफर इस पदपर नियुक्ती किया गया था यह पद एकांकी था इस पद पर काम करने वाले ब्यक्ति को दूसरा कोई पद कानून के हिसाब से नही दिया जा सकता है, ऐसे में अपने पद का इस्तेमाल कर रिश्वत लेते हुए रंगेहात पकड़ा गया है उसे शासन के जीआर के नियमो को ताख पर रखकर ऐसा मलाईदार पद देने की पीछे के कारण क्या है ! इनके प्रभाग अधिकारी पद पर बैठने के बाद से अवैध निर्माण का बड़े पैमाने से इतना स्पष्ट है कि रिश्वत का खेल कैसे हुआ है क्यो किसी काम पर कार्यवाई हुई भी तो फिर दूसरे दिन बनकर खड़े हो गए है . शिंपी का मामला न्यायलय में चल रहा है फिर कर्मचारियों की प्रमोशन यादि में इसका उल्लेख ही नही किया गया यह दर्शाता है कही क्लीन चिट देने का षणयंत्र नही किया गया है .      जब इस मामले में मनपा आयुक्त गणेश पाटील से पत्रकारो ने सवाल किया तो उन्होंने इस विषय मे पत्रकारों के सामने मुख्यालय उपायुक्त संतोष देहरकर और  सामान्य प्रशासन के वरीष्ठ लिपिक अच्युत सासे इनको पूछा ये कैसे हुआ ये दोनों ने इसका उत्तर में बताया कि प्रिंटिंग मिस्टेक की वजह ऐसा बताकर मामले को टालमटोल करने की कोशिश करते दिखे .इसके बाद आयुक्त ने पूरे मामले की जांच करके रिपोर्ट देनी बात देयरकर को कही है. अब सवाल यह है कि क्या ऐसे ब्यक्ति को मलाईदार पोस्ट पर बैठाने के पीछे मनपा के किसी बड़े अधिकारी की मिली भगत तो नही क्यो इस पद के जरिये पूरे शहर के अवैध बांधकाम से मोटी आमदनी होती है यह भी सत्य है क्यो इससे पहले मनपा की महासभा इस पद को लेकर भ्र्ष्टाचार को लेकर बड़ा हंगामा हो चुका है !
  • कांग्रेस की पूर्व महापौर ने शहर की जनता बढ़ती समस्याओं को लेकर निकाला मोर्चा !

    By fast headline india →
    कांग्रेस की पूर्व महापौर ने शहर की जनता बढ़ती समस्याओं को लेकर निकाला मोर्चा ! 
    उल्हासनगर-उल्हासनगर में अनियमित जल आपूर्ति,शौचालय की दुर्व्यस्था,नालों की खस्ता हालत इन नागरी समस्याओं को दूर कराने के लिए शुक्रवार को उल्हासनगर मनपा पर मोर्चा निकालकर पालिका अधिकारी और सत्ताधारी पक्ष के खिलाफ नारेबाजी की और मनपा प्रशासन से अपनी मांगों को अवगत कराया।

    उल्हासनगर के कैंप नं.२ हनुमान नगर से निकले इस मोर्चे का नेतृत्व कांग्रेस कमिटी के सेंट्रल ब्लॉक अध्यक्ष राधाचरण करोतिया,पूर्व महापौर मालती करोतिया ने किया।नार्थ कांग्रेस की उपाध्यक्षा विजया शिंदे,जिला महासचिव राजकुमारी नारा, योगेश शिंदे,प्रमोद सिंग, राजू मोहिनानी, सुनील करोतिया,अत्तर खान,अहमद खान, कंचन वर्मा, प्रतीक्षा उबाले आदि सैंकड़ों कार्यकर्ता इस मोर्चे में शामिल हुए थे।१९९७ से२००१ तक कांग्रेस की सत्ता पालिका में थी, तब मालमत्ता कर व पानी कर कम दर पर लिया जाता था लेकिन अब इसमें हजारों की बढ़त करने से गरीबों की कमर टूट गई है, ऐसा आरोप राधाचरण करोतिया ने लगाया है।आयुक्त गणेश पाटिल ने उन्हें आश्वासन दिया कि उनके सभी समस्याओं का निराकरण किया जायेगा।
  • बड़ा पाव का ठेला बना अग्नि ठेला पास खड़ी बाइक भी हुई स्वाहा ! लोगो ने समय पर भागकर बचाई अपनी जान !

    By fast headline india →
    बड़ा पाव का ठेला बना अग्नि ठेला पास खड़ी बाइक भी हुई स्वाहा ! 

    गैस खत्म होने की वजह अपने आप बुझी आग ! 

    भिवंडी-भिवंडी शहर में एक बड़ा पाव बेचने वाले के ठेले पर अचानक गैस लीकेज की वजह से भयंकर आग लग गई आग इतनी भयंकर थी आस पास में खड़ी गाड़ियों को भी अपनी चपेट में ले लिया गनीमत इतना ही था कि सिलेंडर फटा नही क्यो की गैस कम था थोड़े ही समय में पूरा गैस जल गया और आग शांत हो गया इस आग में किसी की जीवित हानी नही हुआ है !
    बता दे कि भिवंडी के टेमघर क्षेत्र में दोपहर के समय जय अंबे वडापाव सेंटर पर बड़ा पाव बनाने के समय गैस सिलेंडर लीक होने से आग लगने के कारण वड़ा पाव की गाड़ी तथा उसके पास खड़ी एक मोटरसाइकिल जलकर खाक हो गई। गैस सिलेंडर में आग निकलते देखकर आसपास के नागरिक वहां से दूर भाग कर अपनी जान बचाई प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार यदि सिलेंडर में आग लगने के बाद विस्फोट हो गया होता तो, बड़ी दुर्घटना हो सकती थी लेकिन संयोग से सिलेंडर की गैस खत्म होने के कारण आग अपने आप शांत हो गई, भिवंडी- कल्याण रोड की सड़क पर बारिस के मौसम की वजह से बेशुमार खड्डे होने के कारण लम्बा ट्रैफिक जाम की वजह से फायर ब्रिगेड की गाड़ियां समय से नहीं पहुंच पाई इस बीच कई नागरिक आग बुझाने की कोशिश करते रहे लेकिन वो अपने प्रयासों में असफल ही रहे। फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंचती उसके पहले ही संयोगवश सिलेंडर में गैस खत्म होने के कारण धीरे-धीरे  आग अपने आप बुझ गई और एक बड़ा हादसा होने से टल गया। लेकिन यहाँ पर सवाल यह है कि बिना फूड लायसन्स के बिंदास रोडो के फुटपाथों पर ऐसे अवैध धंधे चल रहे प्रशासन अपनी आँखें बंद रखता है जब ऐसे कोई बड़ा हादसा होता तब इनकी नीद टुटती है अगर समय रहते इस तरह के धंधों पर रोक नही लगी तो कभी इन्ही ठेलो की वजह से बड़ा हादसा होगा जिसके लिए स्थानीय प्रशासन इस किये पूरी तरह से जिम्मेदार होगा यह भी तय है !
  • छात्रा के साथ किया कुकर्म फिर कर दी हत्या ! आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
     छात्रा के साथ किया कुकर्म फिर कर दी हत्या ! 

    पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कोर्ट ने 29 अगस्त तक पुलिस कस्टडी में भेजा !


     भिवंडी - भिवंडी तहसिल के ग्रामीण इलाके में  मानकोली नाका के समीप रहने वाली अर्चना विट्ठल मिरस नामक 13 वर्षीय नाबालिक छात्रा के साथ पड़ोस में रहने वाले युवक ने घर में अकेली होने का लाभ उठाकर उसके साथ कूर्म करने के बाद गला दबाकर निर्मम हत्या कर दिया । उक्त दर्दनाक घटना के बाद पूरे क्षेत्र में भय और सनसनी फैली हुई है। घटना की जानकारी मिलने के बाद नारपोली पुलिस तुरंत घटनास्थल पर पहुंची और पड़ोस में रहने वाले युवक राहुल नंद कुमार दुधावले 24 को बलात्कार व हत्याकांड के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। 
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मानकोली नाका के पास रहने वाली 13 वर्षीय अर्चना विट्ठल अंजुर के विद्या मंदिर हाई स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रही थी। वह सुबह के सत्र में स्कूल जाकर दोपहर को साढ़े बारह बजे घर आई थी। उसके बाद उसकी बड़ी बहन जो कक्षा दसवीं में पढ़ती है वह दोपहर के सत्र में स्कूल गई थी। सूत्रों के अनुसार इस दरम्यान लड़की के माता-पिता दोनों नौकरी पर गए हुए थे। इस बीच अर्चना अकेले घर में थी। लड़की को घर में अकेले होने की जानकारी रखने वाला पीछे की बिल्डिंग में रहने वाला राहुल दुधावले नराधम युवक उसके घर में घुसा और उसका गला दबाकर जान से मारने की धमकी देकर जबरन उसके साथ बलात्कार किया। जिसके कारण लड़की को जबरदस्त रक्तस्राव हुआ, सूत्रों के अनुसार लड़की की गर्भाशय थैली शरीर के बाहर निकल आई थी। जिसे देख कर आरोपी घबरा गया । उसके घिनौने कारनामे का भंडाफोड़ होने के भय से आरोपी ने लड़की का गला दबाकर उसकी निर्मम हत्या कर दी और लड़की के शव को बाथरूम में फेंक कर फरार हो गया। शाम के समय जब मृतक अर्चना की बहन वापस घर आई तो उसने घर में छोटी बहन का शव देखकर अपने माता-पिता को सूचित किया। इस दुखद घटना की जानकारी मिलने के बाद मृतका के माता-पिता घबराकर भागे घर आए। उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस पाटिल और सरपंच को दी। जिसके द्वारा इस घटना की जानकारी नारपोली पुलिस तक पहुंची, घटना की जानकारी मिलते ही भिवंडी डीसीपी अंकित गोयल व नारपोली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सुरेश जाधव ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर जांच शुरू की । उसके बाद पड़ोस में रहने वाले राहुल और चंदन नामक दो युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर जांच शुरू की । पुलिस की गहन पूछताछ के बाद राहुल नंदकुमार दुधावले 24 नामक युवक ने हत्या की बात कबूल कर ली। जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर शुक्रवार को ठाणे जिला सत्र न्यायालय में पेश किया जिसे मा न्यायालय ने 29 अगस्त तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है।उक्त मामले की विस्तृत जांच नारपोली पुलिस कर रही है।
  • अ‍मब्रोशीया होटल के रूम में चल रहे तीन पत्ती जुगार के अड्डे पर पुलिस का छापा ! 2 लाख कैश के साथ 10 लोगो को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    अ‍मब्रोशीया होटल के रूम में चल रहे तीन पत्ती जुगार के अड्डे पर पुलिस का छापा !

     10 जुआरियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार 2 लाख से ज्यादा के कैश भी हुआ बरामद !  

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के एक हायप्रोफाईल होटल के एक रूम में तीन पत्ती जुगार चालू है ऐसी गुप्त जानकारी सेंट्रल पुलिस को मिली उसी जानकारी के आधार पुलिस ने होटल पर छापा मारकर जुआ खेल रहे 10 लोगो को गिरफ्तार किया और उनके पास से 2 लाख 28 हजार 490 रूपये कैस भी जप्त किया है.
    सूत्रों से मिली जानकारी के उल्हासनगर कॅम्प नं. 3 में हायप्रोफाईल होटल के रूप सुप्रसिद्ध अ‍ॅब्रोशीया लॉजिंग अ‍ॅण्ड बोर्डींग के दूसरे महले के रूम नं. 204 में तीन पत्ती जुगार बड़े पैमाने खेला जा रहा है ऐसी गुप्त सूचना पुलिस को मिली जिसके बाद सेंट्रल पुलिस की टीम ने होटल के उस कमरे पर छापा मारा वहा तीन पत्ती जुगार खेलते रंगेहाथ लोग मिले सात तास के कई और बंडल भी मिले जुए में लगी रकम 2 लाख 28 हजार 490 रुपये नगद पुलिस ने जप्त किया इसके साथ ही जुआ खेल रहे 10 लोगो को गिरफ्तार किया है .इस मामले में पुलिस हवलदार शरद सालेकर इनकी शिकायत पर सेंट्रल पुलिस स्टेशन में रूपेश ठाकूर, विकास, हनुमान निलेश, शेखर, सचिन, शैलेश, बल्लाळ, चंद्रास व राजेश इन सभी के विरुद्ध मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है. इस मामले की आगे की जांच सहाय्याक पुलिस निरीक्षक भिसे कर रहे है. बता दे कि एक दिन पहले विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने एक लॉजिंग बोर्डिंग पर चल रहे जिस्म फ़रोसी के मामले का पर्दाफाश किया ऐसे यह दूसरा मामला सामने आने से यह बात स्पष्ट हो गया है कि उल्हासनगर शहर भर में चल रहे सभी लॉजिंग बोर्डिंग के नाम पर होटलों में नाजायज धंधे खुलेआम चल रहे है इसकी पुष्टि पुलिस की हुई इन रेट की कार्यवाई से बता चल रहा है इस लिए जरूरी है कि शहर भर चल रहे सभी होटलों की जांच हो और जो भी इस तरह के नाजायज धंधों में लिप्त हो उनपर कड़ी कार्यवाई हो ताकि दोबारा ऐसा कदम उठाने से पहले दस बार सोचे पुलिस को समय रहते इनकी नकलेल खिंचने की जरूरत है !
  • कब्रस्तान के विरोध में सिद्धार्थ नगर रहिवासियो का उमपा पर विशाल मोर्चा ! डीपीप्लान किया गया होलिका दहन !

    By fast headline india →
    कब्रस्तान के विरोध में सिद्धार्थ नगर रहिवासियो का उमपा पर विशाल मोर्चा ! 

     डीपीप्लान किया गया होलिका दहन ! 

    उल्हासनगर- उल्हासनगर कैम्प पांच के सैकड़ों की संख्या में लोग रहने सिद्धार्थ नगर पर बुलडोझर उनके घरों पर चलाकर वहाँ पर कब्रस्तान बनाने का निर्णय उल्हासनगर महानगरपालिका ने लिया इस निर्णय से इससे संतप्त हुए स्थानीय नागरिको ने पाच किलोमीटर पैदल चलकर मनपा पर विशाल मोर्चा लाकर अपना विरोध प्रदर्शन किया है.इस मोर्चे में मुस्लिम लोगो का समावेश था क्यो की वहाँ पर उनके भी घर टूटने वांले है.मनपा के गेट के सामने प्रदर्शन करते समय इन लोगो ने डीपी प्लान की होलीका दहन भी किया और नारेबाजी भी की.इस मोर्चे में शिवसेना समेत सभी पार्टियों ने अपना समर्थन दिया था . 
    बता दे कि मुस्लिम समाज पिछले 30-40 सालों कब्रस्तान पाने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ रहे है .राज्य सरकार ने उन्हें म्हारळ गाव के पास एक भूखंड दिया था. उस जमीन पर दो जनाजे को दफन भी किया गया है.परंतु नए डीपी प्लान में यह भूखंड की जगह का आरक्षण बदली कर उनको दूसरी चार जगह दिया गया है इसी में से एक जगह कैम्प नंबर 5 के सिद्धार्थ नगर पर कब्रस्तान का आरक्षण डाल दिया गया है.यहा पर बड़े पैमाने पर कई सालों से लोग रहते है इसमें एक बड़ी आबादी मुस्लिम समाज के लोगो की भी है अब इन सबके ऊपर बेघर होने की तलवार लड़की हुई है. जब इस मामले की जानकारी स्थानीय विधायक डॉ.बालाजी किणीकर इनको मिली तो उन्होंने यह पूरा मामला पालकमंत्री एकनाथ शिंदे समक्ष रखी तो शिंदे इन्होंने यह सुझाव दिया कि बस्ती हटाने के बजाय उसके बगल में खाली पडे भूखंड पर कब्रस्तान मनपा बनाकर दे ऐसा उन्होंने कही है . वही आज नगरसेविका अंजली सालवे,काँग्रेस के सरचिटणीस रोहित सालवे,ऍड.कल्पेश माने,ऍड.सत्येन पिल्ले,मनोज ठाकूर इनके नेतृत्व में मनपा पर मोर्चा निकाला गया.शिवसेना शहरप्रमुख राजेंद्र चौधरी इन्होंने कहा कि सभी पक्षों का इस बस्ती पर होने वाली कार्यवाई का विरोध है लोगो को हटाकर उस जगह पर कब्रस्तान देने विरोध है.अगर प्रशासन समय पर नही जागा तो उसके लिए न्यायालय तक जाने की तैयारी है ऐसा आश्वासन मोर्चे में आये लोगो दिया है .कल्याण जिला उपसंपर्क प्रमुख चंद्रकांत बोडरे,उपशहरप्रमुख राजेंद्र साहू,संघटक संदीप गायकवाड,विभागप्रमुख राजू माने,उपविभाग प्रमुख अनिल मराठे,माजी युवासेना अधिकारी कमलेश मेघानी,मनसे के सचिन कदम,सचिन बेंडके,छावा संघटना के निखिल गोले इत्यादि लोग उपस्थित थे .
  • महाराष्ट्र की पहली ऐतिहासिक सरकारी नोकरी घोटाले का हुआ उमपा में पर्दाफाश ! दूसरे भाई,तत्कालीन आयुक्त समेत इस घोटाले में लिप्त सभी कर्मचारियों की हुई गिरफ्तारी की मांग !

    By fast headline india →
    महाराष्ट्र की पहली ऐतिहासिक सरकारी नोकरी घोटाले का हुआ उमपा में पर्दाफाश !

    एक ही परिवार के दो सगे भाई,नाम एक दो अलग -अलग सरकारी नोकरी पर कर रहे काम !

    तत्कालीन उमपा आयुक्त,उपायुक्त मुख्यालय, आरोग्य उपायुक्त, आरोग्य मुख्यस्वछता निरीक्षक की गिरफ्तारी उठी मांग !

    उल्हासनगर- महाराष्ट्र में पहली ऐतिहासिक सरकारी नोकरी घोटाले का पर्दाफाश उल्हासनगर महानगर पालिका में हुआ इस मामले में एक सफाई कर्मी को पुलिस ने गिरफ्तार करके सलाखों के पीछे पहुँचाया है ! मनपा के जरिये मीले माहितीअधिकार के द्वारा दस्तावेज में से यह स्पष्ट हो रहा इस घोटाले में तत्कालीन मनपा आयुक्त,उपायुक्त मुख्यालय, आरोग्य उपायुक्त, आरोग्य मुख्यस्वछता निरीक्षक की मिलीभगत से यह सारे घोटाले को अंजाम दिया गया है, बहरहाल मामला न्यायालय में है पुलिस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कर रही है,इस मामले को उजागर करने वाले रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री ने इस मामले में दोषी दूसरे भाई की गिरफ्तारी व उस समय के मनपा के सभी अधिकारियों जिनकी मिलीभगत से यह घोटाला हुआ उन सभी की गिरफ्तारी की मांग किया है , 
    गौरतलब हो कि पूरे महाराष्ट्र में यह इकलौता मामला है जिसमें एक ही नाम पर दो सरकारी नोकरी पर अलग अलग जगह पर दो सगे भाई नोकरी कर रहे थे,यह एक मामला प्रकाश में आया है उल्हासनगर के मनपा में सफाई कामगार विभाग में कार्यरत एक सफाई कर्मचारी द्वारा महाराष्ट्र शासन के गजट में नाम बदलकर वर्षो से काम कर मनपा प्रशासन व सरकार के साथ धोखाधड़ी करने का मामला प्रकाश में आया है। कल्याण तालुका अंतर्गत महारल गाव निवासी अच्चुत बुधाजी सासे की शिकायत पर उल्हासनगर सेंट्रल पुलिस ने उल्हासनगर मनपा सफाई कर्मचारी राजेन्द्र भानुदास अडांगले के खिलाफ 420 के तहत मामला दर्ज किया है। मामले की जांच पुलिस उप निरीक्षक जीडी वाघ कर रहे है। पुलिस की जानकारी अनुसार म्हारल गाव निवासी अच्चुत् बुधाजी सासे ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराया है की मुलगाव पो,पिम्परखेड़ तालुका धनीरा बीड जिला निवासी रमेश भानुदास अडांगले 2 नवम्बर 1996 से उल्हासनगर मनपा में सफाई कर्मचारी पद पर कार्यरत है। 2 जनवरी 2001 को रमेश ने महाराष्ट्र शासन के राजपत्र गजट में अपना नाम बदलकर राजेन्द्र भानुदास अडांगले रख लिया है। और बदले नाम राजेन्द्र के नाम से उल्हासनगर मनपा में सफाई कामगार विभाग में सफाई  कर्मचारी पद पर काम कर रहा है। और मनपा प्रशासन व महाराष्ट्र शासन को झांसा देकर धोखाधड़ी किया है। सेंट्रल पुलिस मनपा सफाई कर्मचारी राजेन्द्र भानुदास अडांगले के खिलाफ मामला दर्ज करके उसे सलाखों के पीछे पहुचा दिया है परंतु इस मामले की प्रमुख कड़ी रमेश भानुदास अडांगले है जिसको पुलिस ने अब तक गिरफ्तार नही वही इस मामले में तत्कालीन मनपा आयुक्त रामनाथ सोनवाने उपायुक्त मुख्यालय उत्तम लोनारे आरोग्य उपायुक्त आरोडे मुख्यस्वछता निरीक्षक के,एम म्हात्रे पर इस मामले में मिलीभगत से इस घोटाले को अंजाम दिया गया ऐसा मनपा से मिली महितीअधिकार के दस्तावेज से सामने आ रहा है वही इस मामले को उजागर करने वाले रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री ने इस मामले में लिप्त बाकी लोगो की भी गिरफ्तार की मांग किया है !
  • म्हारल गाव को उल्हासनगर पुलिस ठाणे हद में समावेश करने की आस्था फाऊंडेशन ने किया मुख्यमंत्री से मांग !

    By fast headline india →
    म्हारल गाव को उल्हासनगर पुलिस ठाणे हद में समावेश करने की आस्था फाऊंडेशन ने किया मुख्यमंत्री से मांग ! 
    फाइल फोटो

     उल्हासनगर- उल्हासनगर शहर से लगे म्हारल गाव है इस गांव को लोकसंख्या बड़े पैमाने पर बढ़ रही जिसके चलते गांव का शहरीकरण हुआ है परंतु इस गाव से बारा किलो मीटर दूर टिटवाळा पुलिस ठाणे की हद होने की वजह से अगर कोई वारदात गांव में होती है तो पुलिस तुरन्त घटना स्थल पर पहुँच नही पाती है,इस लिए म्हारल गांव की आस्था फाऊंडेशन ने टिटवाळा पुलिस ठाणे की हद से निकालकर उल्हासनगर पुलिस स्टेशन की हद में समावेश करने की मांग महाराष्ट्र राज्य के मुख्यमंन्त्री को एक निवेदन देकर मांग किया है .    
    गौरतलब हो कि  म्हारल गाव की आबादी पिछले कुछ समय में बढ़ी तेजी से बढ़ी है जिसके चलते गांव का शहरीकरण हो चुका है. इसके चलते म्हारल गांव की सुरक्षा का प्रश्न निर्माण हुआ है . म्हारल गांव से दूर १२ किलोमीटर पर कल्याण तहसील के टिटवाला पुलिस स्टेशन में कुछ भी होता है तो उसके लिए न्याय मिलने के लिए इतनी लंबी दूरी तयकर जाना पड़ता है.यही नही कोई बड़ी वारदात गांव में होती है तो समय पर पुलिस नही पहुँच पाती है. बता दे कि गांव में एक पुलिस चौकी है जिसमें दो पुलिस कर्मी तैनात है.म्हारल गांव का बड़ा क्षेत्रफल पर दो पुलिस कर्मियों द्वारा नजर रख पाना संभव नही है यही कारण है इस एरिया में गुंडा गर्दी व चोरी चकारी के मामलों में बेतहाशा बढोत्तरी बड़े पैमाने पर हो रहा है .इस लिए ऐसे कार्यो पर लगाम लगाने के लिए जरूरी है कि उल्हासनगर पुलिस स्टेशन थाणे जो पास में है उसमें समावेश किया जाय ताकि कोई भी घटना हो तो पुलिस तुरंत घटना स्थल पर पहुचकर अपराधियों पर लगाम लगा सके इस लिए जरूरी है कि म्हारळ गाव के लोगो को न्याय देते हुए बिना समय गवाए उल्हासनगर पुलिस स्टेशन ठाणे की हद में समावेश किये जाने की मांग आस्था फाऊंडेशन के अध्यक्ष श्यामबहादुर रामराज गुप्ता, संदिप निकम,संजुलाल जाधव इन्होंने एक निवेदन देकर राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से ग्रामवासियों को न्याय देने की मांग किया है . 
  • गणेश उत्सव पर स्कूलों की पांच दिनों की छुट्टी देने की हुई मांग !

    By fast headline india →
    गणेश उत्सव पर स्कूलों की पांच दिनों की छुट्टी देने की हुई मांग ! 

     महाराष्ट्र नवनिर्माण विद्यार्थी सेना ने पत्र देकर किया मांग ! 
     फाइल फोटो

     उल्हासनगर -उल्हासनगर महाराष्ट्र के सबसे बड़े उत्सव के रूप में मनाया जानेवाले गणेश उत्सव के समय पर स्कूल में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को कम से कम पांच दिनों की छुट्टी दी जाय ऐसी मांग महाराष्ट्र नवनिर्माण विद्यार्थी सेना के अध्यक्ष मनोज शेलार इन्होंने किया है .    
      बता दे कि  पूरे महाराष्ट्र सार्वजनिक गणेश उत्सव मंडल और घरघर में गणपती को लेकर लोग पूजा करते है . यही नही लोग हर साल कोकण और दूसरी ठिकानों पर जाकर गणेश उत्सव मनाने वाले भी भरपूर है ऐसे में इन सभी को ध्यान में रखते हुए . ऐसे समय पर प्राथमिक और माध्यमिक स्कूलों में छुट्टी नही मिलने की वजह से परिवार वाले गणेश उत्सव मनाने अपने गांव नही जा पाते है इस लिए इन सभी की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए. गणेश उत्सव के दरम्यान कम से कम पांच दिनों की छुट्टी दे ऐसी मांग मनविसे के अध्यक्ष मनोज शेलार इन्होंने किया है . इस विषय में शेलार, मनसे के शहर अध्यक्ष बंडू देशमुख, मनविसे जिल्हा अध्यक्ष कौस्तुभ देसाई इन्होंने एक लिखित पत्र देकर उल्हासनगर मनपा के शिक्षण विभाग को देकर यह मांग किया है, 
  • 250 करोड़ का पानी बिल बकाऐ पर बीएमसी हुई रेलवे पर मेहरबान !

    By fast headline india →
    250 करोड़ का पानी बिल बकाऐ पर बीएमसी हुई रेलवे पर मेहरबान ! 

    बीएमसी और रेलवे अधिकारियों की साठगांठ ! 

    दोषी अधिकारियों से दंड की रकम वसूल करने की हुई मांग नागरिकों के पैसे रेलवे पर लुटाने पर उठे सवाल ! 

     मुंबई-मुंबई देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली पहचान सिर्फ ऊंची इमारतें, खूबसूरत समुद्री तट, नाइट लाइफ और मायानगरी ही नहीं हैं। मुंबई की एक पहचान यहां की लाइफलाइन कही जाने वाली लोकल ट्रेनों से भी होती है। प्रति-दिन इन लोकल से करोड़ों की संख्या में यात्री सफर करते हैं। इन यात्रियों को मनपा की तरफ से कई सुविधाएं भी दी जाती हैं। इसके बावजदू रेलवे के ऊपर बीएमसी का ढाई सौ करोड़ रुपए पानी बिल बकाया है। बावजदू इसके मुंबई मनपा द्वारा आंख बंद कर रेलवे ब्रिज या फुट ओवर ब्रिज की मरम्मत के लिए हर साल करोड़ों रुपए लुटाए जाने का खुलासा आरटीआई के तहत समीर झवेरी द्वारा मांगी गई जानकारी से हुआ है।
     अभी हाल ही में अंधेरी में रेलवे ब्रिज गिरने से कई लोगों की मौत हो गई थी, तो कई लोग जख्मी हो गए थे। इस घटना के बाद रेलवे और मनपा के बीच ब्रिज की मरम्मत को लेकर विवाद छिड़ गया। इसके साथ ही मुंबई लोकल के ऊपर से गुजरने वाले दर्जनों ब्रिज की मरम्मत को लेकर भी सवाल खड़े हो गए हैं। इसमें सवाल भी उठाए गए कि इन ब्रिजों की मरम्मत रेलवे करे, तो वहीं रेलवे ने इन ब्रिज का काम मनपा की तरफ ढकेल दिया था। इस बीच आरटीआई एक्टिविस्ट समीर झवेरी द्वारा मुंबई मनपा से मंगाई जानकारी में बेहद चौंकाने वाले खुलासे हुए। इसमें बताया गया है कि मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे के ऊपर पिछले कई वर्षों से ढाई सौ करोड़ रुपए पानी बिल बकाया है। इसके बावजूद मनपा प्रति वर्ष रेलवे के ऊपर करोड़ों रुपए लुटा रही है। मुंबई मनपा द्वारा दी गई जानकारी में बताया गया है कि मुंबई मनपा की तरफ से पश्चिम रेलवे और मध्य रेलवे को जलापूर्ति की जाती है। इसके बदले रेलवे द्वारा पैसा दिया जाता है, लेकिन पिछले कुछ वर्षों से मध्य और पश्चिम रेलवे ने पानी बिल नहीं भरा है। इसमे मध्य रेलवे का 100 करोड़ 84 लाख 38 हजार 873 रुपए है। इसके अलावा प्रति महीना दो प्रतिशत लेट पेमेंट है। वहीं पश्चिम रेलवे पर 136 करोड़ 95 लाख 78 हजार रुपए पानी बिल बकाया है। इसके साथ ही 2 प्रतिशत लेट पेमेंट प्रति महीना अलग से है। यह बिल वसूल करने के लिए मनपा की तरफ से कई बार लेटर भी भेजे गए हैं। इसके बावजदू रेलवे की तरफ से इस पर कोई कदम नहीं उठाया गया। रेलवे पर ढाई सौ करोड़ पानी बिल बाकी होने के बावजदू मनपा रेलवे पर प्रति महीना करोड़ों रुपए लुटाए जा रही है। रेलवे में मुंबई मनपा द्वारा नागरिकों की सुविधा के लिए कई जगहों पर रेलवे ब्रिज बनाए गए हैं और कुछ जगहों पर बनाए जा रहे हैं। इसके लिए रेलवे मनपा से भी इन ब्रिजों के निर्माण के लिए पैसे लेती है। रेलवे द्वारा मांग किए जाने पर प्रति वर्ष मनपा की तरफ से लाखों रुपए दिए गए हैं। पैसा देने के बाद वापस देखा नहीं जाता कि काम हुआ भी है या नहीं। वहीं इसे लेकर नागरिकों द्वारा नाराजगी व्यक्त की जा रही है। उनका कहना है कि अगर रेलवे पर बीएमसी के ढाई सौ करोड़ रुपए बाकी हैं, तो उसी पैसे से ही रेलवे क्यों नहीं काम करती है? मनपा की तिजोरी से क्यों पैसे लुटाए जा रहे हैं? मुंबई मनपा का रेलवे के ऊपर ढाई सौ करोड़ रुपए पानी बिल बाकी है। इसमें मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे दोनों का समावेश है। इसके बावजदू रेलवे द्वारा डिमांड किए जाने पर मुंबई मनपा प्रति वर्ष लाखों रुपऐ मध्य रेलवे और पश्चिम रेलवे को पब्लिक ब्रिज बनाने और मरम्मत करने के लिए दे रही है। अगर रेलवे को जरूरत है तो मुंबई मनपा के उनके ऊपर बकाए पैसे से ही काम करना चाहिए। इसके साथ ही रेलवे के जिन लापरवाह अधिकारियों के कारण यह पैसा नहीं भरा गया, उनके वेतन से यह पैसा वसूल करना चाहिए। समीर झवेरी, रेलवे एक्टिविस्ट मुंबई मनपा को हम टैक्स देते हैं, जिससे कि शहर का विकास हो सके। शहरभर में सड़क पर गड्ढों का अंबार है। इन सड़कों की मरम्मत तो नहीं हो पा रहा है, लेकिन रेलवे पर मेहरबान होकर उन पर पैसे लुटाए जा रहे हैं। रेलवे द्वारा पानी का बिल नहीं भरा गया है, तो उनके पानी कनेक्शन काट देनी चाहिए। मुंबई मनपा के अधिकारी रेलवे पर इतना क्यों मेहरबान हैं, इसकी अब सीबीआई जांच होनी चाहिए। - एड दिलीप इनकर, सामाजिक कार्यकर्ता
  • आरोपी पकड़ने गए उल्हासनगर क्राइम ब्रांच की टीम ईरानी बस्ती वालो ने किया पत्थर से हमला दो पुलिस के जवान हुए घायल ! एक आरोपी हुआ फरार !

    By fast headline india →
     आरोपी पकड़ने गए उल्हासनगर क्राइम ब्रांच की टीम ईरानी बस्ती वालो ने किया पत्थर से हमला दो पुलिस के जवान हुए घायल ! एक आरोपी हुआ फरार ! 

    कल्याण व उल्हासनगर पुलिस ने फिर से शुरु किया आरोपियों की धड़पकड़ दो किया गिरफ्तार ! 

    पुलिस की कार्यवाई अभी है जारी ! 


     उल्हासनगर-उल्हासनगर की क्राइम ब्रांच की टीम शुक्रवार को कल्याण के अम्बिवली ईरानी बस्ती रेट करके कुछ चैनस्नैचरो पकड़ने गई थी इस दौरान पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया उसे लेकर जैसे बस्ती के बाहर आये तभी आरोपी ने एक लाइट पोल को पकड़ कर लटक गया उसे पुलिस वाले छुड़ाने में जुटे तभी एक झुंड ने पुलिस पर पत्थरो से हमला बोल दिया इसका फायदा लेते आरोपी फरार हो गया इसमें कुछ पुलिस वाले घायल भी हो गये यही नही कुछ महिलाओं ने तो केरोसिन का कैन लेकर खुद के ऊपर डाल आग लगाने की कोशिश करके पुलिस वालों की डराने की कोशिश भी किया !  इस हमले में घायल पुलिस जवानों का इलाज उल्हासनगर के सेन्ट्रल अस्पताल में किया जा रहा है।
     पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को दिन में अम्बिवली ईरानी बस्ती में कुछ आरोपियों को पकड़ने के लिये उल्हासनगर क्राइम ब्रांच पुलिस ने छापा मारा इसमें पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ने में कामयाब भी हो गई उसको लेकर पुलिस की टीम बस्ती के बाहर आई तभी आरोपी ने अपने हाथों से एक लाइट के खम्भे को पकड़ लिया पुलिस वालों जब आरोपी का हाथ खम्भे से छुड़ा रहे तभी अचानक पुलिस पर दर्जनों की संख्या में महिला पुरुष मिलकर पत्थरो से हमला बोल दिया सूत्रों की माने तो कुछ लोगो के हाथों में केरोसिन का कैन ले रखा था उसे अपने ऊपर डाल कर आग लगाने की पुलिस को धमकी दे रहे थे इस दरम्यान हुए पत्थर बाजी पुलिस के जवान घायल हो गए और इसका फायदा उठाते हुए आरोपी वहाँ से भागने में कामयाब हो गया जैसे इस मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को मिला तो वो भी अपने दल के समेत घटना स्थल पर पहुँच गए,बता दे कि इस मामले में अब खड़कपाड़ा पुलिस , उल्हासनगर  पुलिस व  कल्याण एसीपी , डीसीपी अन्य अधिकारी की मौजूदगी में एक बार फिर अम्बिवली में आरोपियों की खोज बीन शुरू कर दिया है और देररात तक पुलिस ने दो आरोपीयो को पकड़ने में कामयाब हो गए है और पुलिस पर पथराव करने वालो की तलाश में जुटी हुई है इस घटना को अंजाम देने वाले सभी लोगो को जब तक सलाखों के पीछे नही पहुचा देते तबतक कार्यवाई जारी रहेगी ऐसी पुलिस सूत्रों से जानकारी सामने आई है । इससे पहले भी अम्बिवली के इस ईरानी पाड़ा में पुलिस ने कई कोम्बिंग आपरेसन किया उस दरम्यान भी पुलिस की टीम इन्होंने हमला किया था उस समय पुलिस ने बड़े पैमाने पर गिरफ्तारी की थी और कई बड़े चोरी के मामलों का खुलासा भी किया गया था !
  • स्व,अटल बिहारी बाजपेयी की श्रद्धांजली प्रस्ताव का विरोध करने वाले MIM नगरसेवक को हुई जमकर धुलाई !

    By fast headline india →
    स्व,अटल बिहारी बाजपेयी की श्रद्धांजली प्रस्ताव का विरोध करने वाले MIM नगरसेवक को हुई जमकर धुलाई ! 

    औरंगाबाद - औरंगाबाद में पूर्व प्रधानमंत्री स्व, अटलबिहारी वाजपेयी की श्रद्धांजली प्रस्ताव का विरोध करने वाले एमआयएम नगरसेवक सय्यद मतीन को भाजपा नगरसेवको ने शुक्रवार को बहुत ही बुरी तरह से पिटाई किया है सुरक्षा रक्षको की वजह से किसी तरह उन्हें बचाया गया है .  
    बता दे कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का गुरुवार की शाम को निधन हो गया था.जिसके बाद शुक्रवार को औरंगाबाद की  महानगरपालिका की सर्वसाधारण सभा थी जिसमें श्रद्धांजली सभा का प्रस्ताव सादर किया गया . वाजपेयी की इस श्रद्धांजली प्रस्ताव को एमआयएम नगरसेवक सय्यद मतीन इन्होंने विरोध किया. उनके विरोध करते ही नगरसेवक राज वानखेडे, दिलीप थोरात, प्रमोद राठोड, माधुरी अदवंत, रामेश्वर भादवे, उपमहापौर विजय औताडे इन्होंने मतीन को सदन में ही पकड़ कर जोरदार पीटना चालू किया. गनीमत यह रही कि समय पर सुरक्षा रक्षको के बीचबचाव की वजह से उन्हें बचाया गया और सभागृह से बाहर ले गए .इसके बाद भाजपा के सभी नगरसेवकों ने सय्यद मतीन इनका कायमस्वरूप की निलंबित करने की मांग किया है . यह देश में पहली एक ऐसा घटना सामने आई है लोग राजनीति करने में इस स्तर तर गिर सकते इसका उदाहरण एमआयएम नगरसेवक सय्यद मतीन ने अपने विरोध के जरिये दर्शआने का काम किया है, इस लिए ऐसे लोगो पर कड़ी कार्यवाई होना जरूरी है ताकि भविष्य में ऐसी हिमाकत कोई न कर सके ऐसे स्थानीय लोगो की मांग है !
  • सेंट्रल पुलिस स्टेशन के उपनिरीक्षक हर्षद काले को राष्ट्रपति शौर्य पदक से नवाजा जाएगा !

    By fast headline india →
    सेंट्रल पुलिस स्टेशन के उपनिरीक्षक हर्षद काले को राष्ट्रपति शौर्य पदक से नवाजा जाएगा !

     परिमंडल-४ के पुलिस उपायुक्त शेवाले व वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक डोलस ने राष्ट्रपति शौर्य पदक की घोषणा होने के बाद काले को सम्मान चिन्ह देकर किया सत्कार !

    उल्हासनगर -  उल्हासनगर परिमंडल-४ स्थित सेंट्रल पुलिस स्टेशन में कार्यरत पुलिस उपनिरीक्षक हर्षद बबन काले को उनके साहसी, कर्तव्यनिष्ठ व मिलनसार स्वभाव के कारण १५ अगस्त स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में सेंट्रल पुलिस स्टेशन में ठाणे पुलिस आयुक्त विवेक फणसालकर के द्वारा उल्हासनगर परिमंडल-४ के पुलिस उपायुक्त पी.वी. शेवाले व वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विजय डोलस के समक्ष राष्ट्रपति शौर्य पदक की घोषणा होने के बाद हर्षद काले को सम्मान चिन्ह देकर उनका सत्कार किया गया! 
      राष्ट्रपति शौर्य पदक की घोषणा होने के बाद सभी स्तरों पर उन पर शुभकामनाओं की वर्षा हो रही है,समाज भूषण हर्षद बबन काले ने २००६ में पुलिस विभाग में अपनी सेवा की शुरुआत की २००८ में शहीद हेमंत करकरे द्वारा उनका चयन ATS मुंबई में हुआ  २६/११ की आतंकवादी हमले में उन्होंने ३ दिन तक आतंकवादियों से लोहा लिया २०११ में एमपीएससी की परीक्षा मेरिट में पास होने के बाद उनकी नियुक्ति psi  के पद पर हुई २०१३ में उन्होंने नासिक में अपनी ट्रेनिंग पूर्ण की २०१४-१७ में उनकी पहली पोस्टिंग गढ़चिरोली में हुई, जहां उन्होंने 3,5 साल तक टक्कर ली और ४ एनकाउंटर किए इसमें से एक नक्सल कमांडर था, जिस पर केंद्र सरकार ने २५ लाख  का ईनाम रखा था उस समय स्वयं मुख्यमंत्री, वित्तमंत्री व आदिवासी विकास मंत्री ने इनका सत्कार किया था और मानचिन्ह देकर राष्ट्रपति शौर्य पदक के लिए इनके नाम की घोषणा की थी इसके अलावा इनको इसी प्रकार केन्द्रीय मंत्री, पुलिस महासंचालक ऐसे अनेक वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा इनका सम्मान किया गया !
  • रोड़ के फुटपाथ पर अवैध तरीके से पार्क गाड़ियों पर ट्रैफिक पुलिस ने किया कार्यवाई !

    By fast headline india →
    रोड़ के फुटपाथ पर अवैध तरीके से पार्क गाड़ियों पर ट्रैफिक पुलिस ने किया कार्यवाई ! 

    गैरेज, गाड़ियों के शोरूम वालो पर गिरी गांज !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में सार्वजनिक रोड और फुटपाथ पर कब्जा करके यातायात में अड़चन पैदा करने वाले गैरेज व वाहनों के शोरूम पर उल्हासनगर ट्रैफिक पुलिस ने कार्रवाई शुरू किया है।अभी तक सैंकड़ों दुकानदारों पर दंडात्मक कार्रवाई की गई है और आगे वाहनों को जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी,ऐसी जानकारी ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कल्याणजी घेटे ने दी है।
    कल्याण-कर्जत इस राज्यमार्ग का विस्तारीकरण किया गया लेकिन अभी भी अनेक कारणों से इस राज्यमार्ग पर बड़े पैमाने पर ट्रैफिक जाम की समस्या बनी हुई है।इसका मुख्य कारण रास्ते से लगे हुए गैरेज, पुराने वाहनों की विक्री करने वाले शोरूम, वाहनों का डेकोरेशन करने का शोरूमों ने रोड व फुटपाथ पर कब्जा कर रखा है।इसके कारण बार-बार ट्रैफिक की समस्या उत्पन्न होती रहती है और इसके कारण दुर्घटनाएं भी होती रहती है।ट्रैफिक विभाग के पुलिस उपायुक्त अमित काले,सहायक पुलिस उपायुक्त गोसावी के मार्गदर्शन में वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कल्याणजी घेटे व उनकीपुलिस टीम ने कल्याण-कर्जत राज्यमार्ग पर उल्हासनगर की सीमा में शांतिनगर से फालवर लाइन के परिसर में अड़चन निर्माण करने वाले १००से१२५गैरेज, शोरूम व दुकानों पर पिछले तीन दिनों से ट्रैफिक पुलिस नियम व मुंबई पुलिस के कानून के तहत दंडात्मक कार्रवाई की गई हैं।ट्रैफिक में अड़चन न निर्माण करें और कानून का पालन करें ,ऐसी सूचना बार-बार दुकानदारों को दी जा चुकी है।अगर अब वे नियमों का पालन नहीं करेंगे तो कानून के अनुसार जब्ती की कार्रवाई की जाएगी।केवल इसी रोड पर नहीं, बल्कि उल्हासनगर शहर के अनेक रास्तों और फुटपाथों पर दुकानदारों ने कब्जा जमा रखा है।अनेक स्थानों पर बड़े भंगार वहां कई वर्षों से सड़क पर पड़ी है, इनके उपर भी कार्रवाई की जाएगी, ऐसी जानकारी वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक कल्याणजी घेटे ने दी है।उन्होंने मनपा से भी इस मुहिम में सहकार्य करने का आवाहन किया है।
  • उल्हासनगर में बजरंग दल के द्वारा निकाली साढ़े तीन कि. मी. लंबी ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में बजरंग दल के द्वारा निकाली साढ़े तीन कि.मी. लंबी ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा !

     "एक देश एक तीरंगा एक सपना अखंड भारत हो अपना" 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में 72वे स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य पर बजरंग दल के द्वारा ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा निकाला गया इसमें साढ़े तीन किलोमीटर लंबे तिरंगा झंडे को लेकर यात्रा की सुरूआत किया गया है यह एक ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा थी ! 
    बता दे कि उल्हासनगर के बजरंग दल की तरफ से इस तिरंगा यात्रा का आयोजन किया गया था इस यात्रा की शुरूआत उल्हासनगर के कमला नेहरू नगर, धोबीघाट परीसर से होते हुए सी ब्लॉक रोड, वहाँ से चोपड़ा कोर्ट होते हुए ये ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा निकाली गई थी इस यात्रा का प्रमुख उद्देश्य है "एक देश एक तीरंगा एक सपना अखंड भारत हो अपना" इसी को पहुचाने के लिए इस तिरंगा यात्रा के जरिये अपना मैसेज लोगो तक पहुचाने का था ऐसी जानकारी कार्यक्रम के आयोजक बजरंग दल सदस्यों ने बताया इस कार्यक्रम को सफल बनाने में अनिकेत सिंह , रविशंकर मिश्रा , रायसाहब यादव,राहुल सूर्यवंशी ,इनके अलावा महाराष्ट्र मित्र मंडल स्कूल के सभी छात्र और शिक्षक और उनके लज़्ज़िम पथक और आर,के,टी कॉलेज के एन सी सी के पैरेड स्कॉट व साई गर्जना पुनेरी पथक इन सभी ने इस तिरंगा यात्रा में अपना भरपूर सहयोग देकर इस ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा को सफल बनाया है . इस कार्यक्रम में प्रमुख अतिथि के रूप में उल्हासनगर महानगरपालिका की महापौर मीना आयलानी ,उपमहापौर जीवन ईदनानी व पूर्व भाजपा विधायक कुमार आयलानी इनके अलावा टीओके की टीम व शिवसेना के पदाधिकारी व साई पार्टी के लोगो की मौजूदगी प्रमुख थी ! इसमें विशेष सहयोग उल्हासनगर के सभी गणेश व दुर्गा माता मित्र मंडल और सभी उल्हासनगर शहर की जनता ने सहयोग दिया, इन सभी लोगो की वजह से यह ऐतिहासिक तिरंगा यात्रा का आयोजन सफलता पूर्व संपन्न हुआ। बता दे कि ठाणे जिला में अब तक होने वाली इतनी लंबी तिरंगा यात्रा का पहली बार आयोजन हुआ है इसे देखने के लिए लोग रोड़ के किनारों पर बड़ी संख्या भाग लिया ! बजरंग दल ने सभी शहर वाशियों के मिले सहयोग के लिए सभी को धन्यवाद है !
  • By fast headline india →
    वन्दे मातरम
  • टीओके की कूटनीति हुई कामयाब पंचम कलानी के महापौर बनने की राह हुई आशान !

    By fast headline india →
    टीओके की कूटनीति हुई कामयाब पंचम कलानी के महापौर बनने की राह हुई आशान ! 

     सभापती चुनाव में सत्ताधारी भाजपा - टीओके - साई पक्ष दिखी एकता ! 

     सभी समिती पर सत्ताधारीयो ने किया कब्जा ! 
     फाइल फोटो

     उल्हासनगर- उल्हासनगर महानगरपालिका के नौ विशेष समिती के सभापती चुनाव में आखिरकार सत्ता पक्ष की एक जुटता खुलकर दिखाई दिया और सारी अटकलों को विराम लगाते हुए सत्ताधारी भाजपा- टीओके और साई पक्ष के सभी उम्मीदवार आख़िरकार चुनकर आ गए,इसके पीछे की राजनीति व कूटनीति में इस बार टीओके ने सबको मात देते हुए अपनी मांग मंगवाने में बड़ी सफलता हासिल करते हुए अपना महापौर पद पर कब्जा जमाने में बड़ी कामयाबी की तरफ कदम बढ़ा चुकी और जल्द ही पंचम कलानी की ताजपोशी हो सकती ऐसा मनपा के गलियारों चर्चा हैं, वही इस पर साफ संकेत भाजपा के सभागृह नेता जमनु पुरस्वानी ने पत्रकारो के सवालों के जबाब देते समय स्पष्ट किया है, सत्ताधारी पक्ष के नौ में से सात सभापती बिनविरोध चुने गए है.      
     बता दे कि सार्वजनिक बांधकाम सभापती चुनाव साई पक्ष की कविता पंजाबी इन्होंने शिवसेना उम्मीदवार स्वप्नील बागुल को हराया तो गलिच्छ वस्ती निर्मुलन सभापती चुनाव में साई पक्ष के गजानन शेळके इन्होंने पी आर पी के प्रमोद टाले को हराया .  पाणीपुरवठा व जलनिस्सारण समिती सभापती पद पर भाजपा- टी ओ के की  सरोजिनी मुरलीधर टेकचंदानी इन्हें निरबिरोध चुना गया . यही नही दूसरी समिती के चुनाव में भी विरोधी उम्मीदवार ने अपना नामांकन वापस ले लिया  नियोजन बांधकाम व विकास समिती सभापती पद पर भाजपा की मीना सोंडे , आरोग्य परीक्षण व वैद्यकीय सहायक समिती सभापती पद पर साई पक्ष की  इंदिरा उदासी , माध्यमिक शिक्षण व पूर्व प्राथमिक शिक्षण समिती सभापती पद पर भाजप -टीओके के रवी जग्यासी, क्रीडा समाजकल्याण सांस्कृतिक कार्यक्रम समिती सभापतीपदी भाजपा की  गीता साधवानी , महिला -बालकल्याण समिती सभापती पद भाजपा - टी ओ के की छाया चक्रवर्ती महसूल समिती सभापती पद साई पक्ष की दीप्ती दुधानी ये सभी चुनकर आये है .      मंगलवार के हुए चुनाव में सत्ताधारी भाजपा - टी ओ के - साई पक्ष की एकजूटता दिखाई दिया है . विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लम्बी खींचतान के बाद महापौर पद को लेकर भाजपा और टी ओ के बीच सहमती बन चुकी है और विद्यमान महापौर मीना आयलानी ( भाजपा ) इन्होंने अपना राजीनामा दे दिया है और अगली महापौर पंचम कलानी का बनना तय माना जा रहा है . क्यो नौ समिती के चुनाव से इतना स्पष्ट हो गया है कि सत्ता में आई दरार भरी जा चुकी हैं यही कारण है कि चुनाव में कोई भी क्रॉस ओटिंग नही हुआ है यह इस बात का संकेत अब सब ठीक हो गया है वही इस विषय मे साई पक्ष ने भी इसमें खुलकर कुछ भी कहने से बचते दिखाई दिए है. जबतक महापौर पद पर पंचम कलानी बैठ नही जाती तब तक राजनीति की गहमा गहमी आगे भी देखने को मिल सकता है !
  • ठाणे पुलिस का मटके के अड्डे पर छापा, 28 लोगो को गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    ठाणे पुलिस का मटके के अड्डे पर छापा, 28 लोगो को गिरफ्तार ! 

     मेन बाजार खुला ठाणे के घोड़बंदर इलाके में ! 

     गेस्ट हाऊस में छापामारी की पुलिस ने काशीमीरा पुलिस को पता ही नहीं चला छापे का वरिष्ठ अधिकारी ने गोपनीयता से मारा छापा !

    ठाणे- देश के सबसे बड़े और कुख्यात मटका जुआ मेन बाजार के ठाणे मुख्यालय पर पुलिस ने बड़ी गोपनीयता के साथ 13 अगस्त की रात साढ़े 11 बजे छापा मारा। रात छापामारी के कारण इस रात भी मटका आंकड़ा नहीं खुल पाया। आज भी सुबह के आंकड़े नहीं खुले। इस छापे में ठाणे पुलिस के एसएसपी का विशेष दस्ता ही जुटा हुआ था। यहां तक कि काशीमीरा पुलिस थाने को इस छापामारी की भनक सुबह तक नहीं पड़ी थी । ठाणे पुलिस ने मेन बाजार मटका गिरोह के सरगना पप्पू सावला के 28 सहयोगियों को गिरफ्तार किया है।  इस छापे के बाद प्रकाश उर्फ पप्पू सावला भूमिगत हो गया है। तमाम मटका गिरोहबाजों में भी दहशत तारी हो गई है। पिछले कुछ दिनों से गोवा छापामारी के चलते मेन बाजार मटका के आंकड़े नहीं खुल रहे थे। पिछली देर रात लगभग डेढ़ बजे इस मामले की सूचना देते हुए अहमदाबाद के अपराध संवाददाता महेश दवे ने बताया कि गोवा के बाद पप्पू सावला के मटका गिरोह पर पुलिस की छापामारी सफल रही है। पुलिस दस्ते ने गिरोह के कुल 28 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनसे पुलिस को मोबाईल फोन, लैपटॉप, नकदी के अलावा और भी काफी सारा सामान मिला है। इस छापामारी के दौरान पप्पू सावला का मैनेजर और खासमखास सिपहसालार पीयूष भी पुलिस की गिरफ्त में आया है। महेश दवे के मुताबिक पीयूष से यदि ठीक तरह से पूछताछ हुई तो ये तय है कि पप्पू सावला और उसके गिरोह के बारे में काफी जानकारी मिल सकेगी। एक तरफ यह कहा जा रहा है कि गोवा में छापामारी के बाद पप्पू सावला ने अपना कारोबार एक बार फिर ठाणे जिले के घोड़बंदर रोड पर कुछ दूर कच्ची सड़क पर बने एक गेस्ट हाऊस में अड्डा बनाया था। यहीं से कारोबार फिर से शुरू किया था। यह गेस्ट हाऊस चाईना ब्रिज के करीब बना हुआ है। दूसरी तरफ एक सूत्र का कहना है कि यह अड्डा खुद पप्पू सावला का नहीं है। वह किसी बड़े बुकी का अड्डा हो सकता है। इस सूत्र का कहना है कि गोवा में छापामारी के बाद उस रात और अगले दिन ही मटके के आंकड़े नहीं खुले थे। इस मामले की अधिक जानकारी देने से पुलिस भी बच रही है। पप्पू सावला की तलाश जारी है।   एक सूत्र का कहना है कि पप्पू सावला के मेन बाजार मटका गिरोह के जिन 29 सदस्यों को गोवा पुलिस ने गिरफ्तार किया था, उन सभी को सोमवार की सुबह अदालत से जमानत भी मिल गई है। वे तो वापस मुंबई लौट गए हैं लेकिन नए सदस्यो के साथ मिल कर मटके के आंकड़े खोलना जारी है।   इस सूत्र के मुताबिक पप्पू सावला खुद मटके के आंकड़े नहीं खोल रहा है। यह काम उसके लिए जयेश शाह करता है। जयेश शाह असल में पप्पू सावला का भाई है। वह भी इन दिनों गोवा में ही है। पता चला है कि जिस दिन छापामारी हुई थी, जयेश शाह ने ही ओपन के आंकड़े खोले थे। अमूमन जयेश शाह बोरीवली के अपने गोपनीय अड्डे से आंकड़े खोलता है।   मेन बाजार मटका का संचालन जबसे प्रकाश सावला उर्फ पप्पू सावला के हाथों में आया है, तबसे सुबह साढ़े 9 बजे ओपन और रात 12.05 बजे खुलता है। शनिवार और रविवार को मेन बाजार मटका बंद रहता है।  सोमवार को मेन बाजार के आंकड़े खुले थे। पुलिस का यह दावा गलत साबित हुआ है कि गोवा में छापामारी से मेन बाजार मटका पूरी तरह से बंद रहा है। सोमवार को ओपन के आंकड़े 247 से 3 और क्लोज का आंकड़े 245 से 2 खुले थे।   मटका कारोबार की अंदरूनी जानकारी रखने वाले एक मुखबिर का कहना है कि मेन बाजार मटका में अब पूरी तरह सच्चा कारोबार नहीं होता है। अब चूंकी कंप्यूटर आ गया है इसलिए हर पंटर की रकम और आंकड़े की जानकारी कुछ लोग एक जगह पर बैठ कर कंप्यूटर में डालते जाते हैं। उनके पास इसके लिए एक कास सॉफ्टवेयर है। इससे तुरंत पता चल जाता है कि किस आंकड़े पर सबसे कम रकम के दांव लगे हैं। वही आंकड़े जयेश शाह द्वारा खोले जाते हैं। इस मुखबिर ने बताया कि सुबह ठीक 9.25 पर जयेश शाह की तरफ से अपने कर्मचारियों को निर्देश मिलता है, “लास्ट करो।” इसका मतलब होता है कि अब उन्हें फोन उठाने और आंकड़े लिखने बंद कर देने हैं। यही काम क्लोज में रात को भी होता है। यह स्थिति 12 बजे रात को होती है। इसके बाद जयेश शाह सारे आंकड़ों में से वे आंकड़े खोजता है, जिसके खोलने से सबसे कम रकम खेलियों और पंटरों के खाते में जाएगी। इस तरह पंटरों को काफी समय से मेन बाजार मटका में धोखाधड़ी की जा रही है। एक सूत्र का कहना है कि पप्पू सावला ने मटका के आंकड़े खोलने के लिए एक नई रणनीति अपनानी शुरू की है। मेन बाजार के सोमवार वाले आंकड़े मुरली मऊ नामक एक बुकी द्वारा खोले जाने की जानकारी मिल रही है। यही नहीं आज रात का मटका आंकड़ा मनोज यवतमाल नामक एक बुकी को खोलने की जिम्मेदारी दी है। यह बात और है कि इसके बारे में पुख्ता जानकारी हासिल नहीं हो पा रही है। एक और सूचना मिल रही है कि पप्पू सावला का बेटा विरल सावला भी मेन बाजार मटका कारोबार की कमान संभाल रहा है। वह भी इस कारोबार में अपने चाचा जयेश शाह का साथ दे रहा है।
  • महापौर पद की खींचतान का असर पड़ेगा नौ समिती के चुनाव पर ! महापौर पद में रोड़ा बनी पार्टी की चाल का जवाब देगी टीओके ?

    By fast headline india →
    महापौर पद की खींचतान का असर पड़ेगा नौ समिती के चुनाव पर !

    महापौर पद में रोड़ा बनी पार्टी की चाल का जवाब देगी टीओके ?

    हंगामेदार  महासभा होने के आसार !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका के महापौर पद को लेकर टीओके व भाजपा में लंबे समय से उठापटक की राजनीति शुरू है अभी उमपा की महापौर मीना आयलानी द्वारा अब तक इस्तीफा नही देने की वजह से सत्ताधारियों में मतभेद बढ़ता जा रहा है।मीना आयलानी महापौर पद से इस्तीफा नही दे इसके लिए साईपक्ष प्रमुख जीवन इदनानी अपनी चाल पहले ही चल दिया है, ऐसे में उनको इसका खामियाजा नौ विशेष समितियों के चुनाव में सत्तापक्ष को उठाना पड़ सकता है,समितियों को लेकर अब तक सस्पेंस बरकरार है,टीओके प्रमुख ओमी कालानी अपने नगरसेवकों से साईपक्ष के उम्मीदवारों को वोट करवाते है या नही इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई है। वही हालात को देखते हुए साई पार्टी व सत्तापक्ष के सभाग्रह नेता जमनु पुरस्वनी ने अपने अपने नगरसेवकों "व्हिप" जारी कर दिया है।      
     गौर तलब हो कि महापौर का सवा वर्षीय कार्यकाल पूर्ण हो चुका है बावजूद मीना आयलानी साईपक्ष प्रमुख जीवन इदनानी के कहने पर इस्तीफा देने में आनाकानी कर रही है।जब कि कुछ दिनों पहले सभाग्रह नेता जमनु पुरस्वनी,प्रकाश माखीजा,डॉ. प्रकाश नाथानी,अर्चना कर्णकाले ने एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाकर स्पस्ट किया था कि नैतिकता के आधार पर सशर्त अनुशार मीना आयलानी को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए परन्तु सूत्र बताते है कि उप महापौर जीवन इदनानी पंचम कालानी के महापौर बनने में सबसे बड़ा रोडा बन रहे है,इदनानी नही चाहते कि पंचम कालानी महापौर बने इसलिए वह राज्य मंत्री से मिलकर चाल पर चाल चल रहे है।             साईपक्ष प्रमुख के इसी चाल के चलते अब टीओके प्रमुख ओमी कालानी सत्तापक्ष के लोगो को टशन देना शुरू कर दिए है।चार दिन पहले मैन्युफैक्चर एसोसियेसन के अध्यक्ष पित्तु राजवानी के बर्थडे प्रोग्राम में शिवसेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी व रिपाई शहर अध्यक्ष भगवान भालेराव की मौजूदगी सत्ता धारियों के लिए कही न कही नींद हराम कर दिया है ।सूत्र बताते है कि ओमी कालानी के नगरसेवक साईपक्ष के चारो उम्मीदवारों के विपरीत मतदान करने पूरी तैयारी करके साई पार्टी को सबक देने के मुंड में दिख रहे है। बहरहाल दोनो पार्टियों ने इसी बगावत को ध्यान में रखते हुए व्हिप जारी करके बगावत की चिंगारी को दबाने की कोशिश कर रहे है, अब सवाल यह है टीओके के लोग जो कमल के फूल पर चुनाव जीत कर आये है वो व्हिप को मानते है या ओमी कलानी के कहे अनुसार चलते है यह तो कल होने वाले नव समितियों के चुनाव होने के बाद ही पता चलेगा कुल मिलाकर यह चुनाव रोचक व हंगामे दार होने वाला है इतना पक्का है !
  • PWD विभाग के इंजीनियरों के नायाब कारनामो का हुआ पर्दाफाश !

    By fast headline india →
    PWD विभाग के इंजीनियरों के नायाब कारनामो का हुआ पर्दाफाश ! 

     ऑफिस में बैठकर बनाए गए डेवलपमेन्ट प्लान के कारण प्रशासकीय इमारत का कार्य अधर में लटका ! 

    सार्वजनिक बांधकाम विभाग का गैरजिम्मेदाराना कारनामा हुआ उजागर !

     प्लान के बीच से गुजरती बिजली के तार की वजह से कभी हो सकता है बड़ा हादसा ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में प्रशासकीय इमारत के निर्माण कार्य मे बिजली का खंभा और बिजली का तार आने से अड़चन आने के कारण यह बांधकाम कुछ महीनों से रुका हुआ है।सार्वजनिक बांधकाम विभाग ने जब यह प्लान तैयार किया तो उन्होंने बिजली के खंभे और विद्युत वाहिनी के बारे में विचार नहीं किया।बांधकाम जब आगे बढ़ने लगा तब यह बात उनके ध्यान में आया।इसका सीधा मतलब है कि PWD के विभाग के द्वारा प्लान ऑफिस में बैठकर बनाया गया है अब सवाल यह है कि जिनकी गलती की वजह से यह कार्य अधर में लड़का उनके ऊपर क्या कार्यवाही होती है कि नही यह देखने वाली बात है !


    उल्हासनगर में अनेक शासकीय कार्यालय है,पर वे सभी कार्यालय अनेक स्थानों पर बिखरे हुए हैं।अलग-अलग कार्यालयों में जाकर नागरिकों की फजीहत होती है।सभी कार्यालयों को एक स्थान पर लाया जाए, इसके लिए विधायक डॉ. बालाजी किणीकर ने महाराष्ट्र सरकार से पहल की थी।शासन ने प्रशासकिय इमारतों को बनाने के लिए मंजूरी दी और दो स्थानों पर प्रशासकीय इमारत बनाने के काम का सार्वजनिक बांधकाम विभाग को दिया।उल्हासनगर -४स्थित तहसील कार्यालय परिसर में सहायक दुय्यम निबंधक कार्यालय, बांध मापन कार्यालय, नागरी संरक्षण दल कार्यालय, दुय्यम निबंधक कार्यालय, राज्य उत्पादन शुल्क,शिधावाटप कार्यालय,और उल्हासनगर-३स्थित पवई परिसर में तहसील कार्यालय, तलाठी कार्यालय, सर्कल कार्यालय, सेतु कार्यालय,एसीपी कार्यालय, उपविभागीय कार्यालय, उप विभागीय कार्यालय, उप कोषागार कार्यालय जैसे अनेक कार्यालयों का समावेश रहेगा।इस कार्य के लिए १०करोड़ की निधि शासन ने मंजूर किया हैऔर साई समर्थ इंटरप्राइजेज नामक निजी कंपनी को यह काम दिया गया।लेकिन इस कार्य में आई अड़चन के लिए सार्वजनिक बांधकाम विभाग और निर्माण कार्य करने वाली कंपनी दोनो जवाबदार है।इस संदर्भ में उल्हासनगर के सार्वजनिक बांधकाम विभाग के उप कार्यकारी अभियंता श्रीकांत ढिलपे से पूछा गया तो उन्होने बताया कि यह प्लान पहले ही मंजूर हो गया था, और इसमें कुछ तकनीकी खामियाँ होने की बात उन्होंने मानी।बिजली के के खंभों और तारों को हटाने के लिए ३०से ४०लाख खर्च होंगे।यह निधि मंजूर होते ही कार्य शीघ्र ही शुरू की जाएगी।
  • मटका किंग पप्पू सावला के अड्डे पुलिस का पड़ा छापा ! किंग समेत 29 चेलो के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    मटका किंग पप्पू सावला के अड्डे पुलिस का पड़ा छापा ! 

    मटका के मेन बाजार के किंग समेत 29 लोगो को पुलिस ने किया गिरफ्तार ! 

     मुंबई-मेन बाजार के रूप में देश भर में प्रसिद्ध सबसे कुख्यात मटका जुआ बाजार के गोवा मख्यालय पर गोवा पुलिस ने रात छापामारी की। इस छापे के दौरान पुलिस ने मेन बाजार मटका गिरोह के सरगना पप्पू सावला के 29 सहयोगियों को गिरफ्तार किया हैं।   
    इस छापे के कारण रात को मेन बाजार मटका के आंकडे नहीं खुले। जितने लोगों ने कल रात इस जुए पर रकम लगाई थी, पूरी डूब गई है। चंदन के मुताबिक उन्हें काफी शिकायतें इस मटके के बारे में मिल रही थीं। जब इस बारे में हमने अपने संपर्कों और मुखबिरों के जरिए जानकारियां हासिल कीं तो पता चला कि शिकायतें सही हैं। हमने सही स्थान का पता किया कि मटके के आंकड़े कहां से खोले जा रहे हैं, और वहां छापामारी की। चंदन ने छापामारी की सूचना अंतिम समय तक बाहर नहीं निकलने दी। छापा मारने गए दल के किसी सदस्य को यह नहीं बताया कि कहां और क्यों छापामारी करनी है। मौके पर पहुंच कर ही छापामारी दस्ते के पुलिस अधिकारियों को पता चला कि मटका अड्डे के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इससे मटका किंग तक सूचना नहीं पहुंच पाई और उसके गोपनीय अड्डे का भंडाफोड़ हो गया।   उन्होंने दावा किया कि इस मटका से गोवा और देश के अन्य राज्यों के काफी लोगों के संबंध हैं। इन मटका संचालकों की गिरफ्तारी से हम उनके सरगना तक भी पहुंच सकेंगे। सूत्रों के मुताबिक यह गोवा के इतिहास में आज तक की सबसे बड़ी मटका जुआ छापामारी है। इस छापामारी की सदारत उत्तरी गोवा एसपी श्रीमती चंदन चौधरी ने की। पुलिस ने उत्तरी गोवा के मोजरिम इलाके में एक बंगले पर छापा मारा।  बंगले का मालिक रेजीनाल्डो डीकोस्टा है। पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार किया है।   पुलिस ने मौके से 59 लाख रुपए नकद भी बरामद किए हैं, यह खबर जरूर आई है लेकिन इसकी पुष्टि पुलिस अधिकारियों ने नहीं की है।   इसके अलावा 54 सेलफोन, नोट गिनने की एक मशीन, लैपटॉप और केलकुलेटर भी बरामद हुए हैं। पुलिस का दावा है कि बंगले का मालिक भी इस मटका जुआ के कारोबार में शामिल है। अपराध शाखा के एसपी कार्तिक कश्यप के मुताबिक गोवा पुलिस के इतिहास में पहली दफा इतना बड़ा छापा किसी मटका अड्डे पर पड़ा है। इससे मेन बाजार मटका का पूरा कारोबार बंद हो गया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इन आरोपियों के खिलाफ गेंबलिंग एक्ट, आईटी एक्ट और आईपीसी की कई धाराओं में मामला दर्ज हुआ है।   ओरडावाड़ा, कंडोलिम के इस छापे के बाद गोवा पुलिस और अपराध शाखा तमाम मटका अड्डे के मालिकों की जानकारी भी हासिल करने में जुट गई है।     गिरफ्तार मटका वाले जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उनके नाम हैं रेजीनाल्डो डीकोस्टा, अंकुश परब, लक्ष्मीकांत गावड़े, गजानन मोर्जे, प्रवीण पार्सेरकर, एंजेल फर्नांडिज, लक्ष्मीकांत माहमाल, प्रताप सालगांवकर, एंथनी डीसूजा, विट्ठल गोलटेकर, दामोदर गोवेकर, जयेश शाह, छोटूलाल लालन।   पुलिस अधिकारियों का दावा है कि गोवा का यह अड्डा जयेश शाह और छोटूलाल लालन गिरोह के सरगना प्रकाश सावला उर्फ पप्पू सावला के इशारे पर चला रहे थे।   पप्पू के खिलाफ देश भर में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। ये दोनों मुंबई निवासी हैं। अहमदाबाद के अपराध संवाददाता महेश दवे कहते हैं कि हिंदुस्तान का सबसे बडा मटका किंग पप्पू सावला हर दिन लगभग 25 करोड का मुनाफा इस काले खेल से कमाता है।   मेन बाजार मटका रतन खत्री ने शुरू किया था, जिसे पप्पू सावला ने अरुण गवली गिरोह के जरिए धमकियां देकर छीन लिया था।   मेन बाजार मटका का गिरोहबाज बोरीवली निवासी पप्पू सावला गोवा के छापे में नहीं मिला है। गोवा पुलिस ने उसकी सघन तलाश शुरू कर दी है।
  • नव समितियों के चुनाव को लेकर उमपा की सत्ताधारियों के मोहरे से चुनाव जीतने के लिए विपक्ष ने निकाला जुआड ?

    By fast headline india →
    नव समितियों के चुनाव को लेकर उमपा की सत्ताधारियों के मोहरे से चुनाव जीतने के लिए विपक्ष ने निकाला जुआड ? 

     टीम ओमी कलानी के ऊपर टिकी सब की नजर ! 

     14 अगस्त होगा चुनाव ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका नव समिती सभापती पद के लिए शुक्रवार को नामांकन भरा गया है . इसमें से आठ समिती के लिए शिवसेना-राष्ट्रवादी-काँग्रेस-पीआरपी-भारिप युती ने अपना नामांकन दाखिल करने से मामले को पेचीदा बना दिया है आने वाली 14 तारीख को होने वाले चुनाव के लिए सत्ता पक्ष की आपसी फूट का फायदा उठाने की कोशिश में विपक्षीय दल पूरी तरह से जुआड में जुटा है .जब कि वही पानी पुरवठा सभापती पद पर टीम ओमी कलानी गट की सरोजिनी टेकचंदानी बिनविरोध चुनी गई है.ऐसे में टीम ओमी कलानी इन समिती के चुनाव में किसके साथ खड़ी रहती इस पर सबकी नजरें टिकी हुई है,
    बता दे कि सार्वजनिक बांधकाम समिती सभापती पद के लिए भाजपा से कविता पंजाबी,शिवसेना कि तरफ से स्वप्निल बागुल,शहर नियोजन विकास समिती सभापती पद के लिए मीना सोंडे,राष्ट्रवादी की तरफ से सुमन सचदेव,  आरोग्य परीक्षण व वैद्यकीय समिती के लिए इंदिरा उदासी, शिवसेना कि तरफ से शुभांगी बेहनवाल, माध्यमिक शिक्षण पूर्व प्राथमिक शिक्षण समिती के लिए टीम ओमी कलानी गट से रवी जग्यासी,शिवसेना से मिताली चानपूर, गलिच्छ वस्ती निर्मूलन समिति के सभापतीपद के लिए साई पार्टी से गजानन शेळके, पी आर पी से प्रमोद टाले, क्रीडा समाजकल्याण व सांस्कृतिक कार्यक्रम समिती सभापती पद के लिए गीता साधवानी,भारिप से कविता बागूल, महिला व बालकल्याण समिती के एक बार फिर से टीम ओमी कलानी गट से छाया चक्रवर्ती,शिवसेना संगीता सपकाले, महसूल समिती सभापती पद के लिए साई पार्टी ने दिप्ती दुधानी,काँग्रेस की तरफ से अंजली सावळे इन्होंने अपनी उम्मीदवारी का नामांकन महापालिका सचिव प्राजक्ता कुलकर्णी के पास भरा गया है .बता दे कि उमपा की महापौर पद को लेकर सत्ता में आसीन भाजपा,टीम ओमी कलानी,साई पार्टी में पहले से खींचतान चल रहा है सवा साल के कार्यकाल के बाद टीम ओमी कलानी ने अपना महापौर बनाने की जुगत में जुटे हुए है लेकिन अभी तक इसी को लेकर भाजपा पार्टी में खुलकर दी गुट निर्माण हो गया है उसके बाद यह नव समिति का चुनाव होने जा रहा है अब सवाल यह है कि क्या महापौर पद न मिलने से नाराज टीम ओमी कलानी गुट इस चुनाव में किसके साथ खड़ी होती उस पर पूरे शहर की निगाहें टिकी हुई है इस लिए इसी मौके का फायदा उठाने के लिए पूरा विपक्ष एक जुट होकर इन सभी समितियों पर अपने दावेदारो को उतारा है अब 14 अगस्त को होने वाले चुनाव को रोचक बना दिया है !
  • बीएमसी स्कूल में 197 बच्चों को दवाई का हुआ रिएक्सन, एक छात्र की मौत हुई मौत !

    By fast headline india →
     बीएमसी स्कूल में 197 बच्चों को दवाई का हुआ रिएक्सन, एक छात्र की मौत हुई मौत !

    मुंबई-मुंबई में शुक्रवार को गोवंडी के एक सरकारी स्कूल में छात्रों को दवाईयां देने से विषबाधा हो गई। दवाओं के रिएक्शन के कारण एक छात्र की मौत भी हो गई है। हालांकि, स्कूल के बाकी के छात्रों को प्राथमिक इलाज के बाद ठिक कर दिया गया है। छात्रों को इलाज के लिए राजवाड़ी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोवंडी के शिवाजीनगर के बीएमसी संजय नगर महापालिका उर्दू माध्यम के स्कूल में बच्चों को विषबाध की शिकायत मिली। बताया जा रहा है छात्रों को स्कूल में दी जानेवाली दवाईयों के कारण विषबाधा हुआ। इस घटना में चांदनी साहिल शेख नाम की छात्रा की मौत हो गई है।
    साथ ही 161 छात्रों को इलाज राजावाड़ी अस्पताल में तो 36 बच्चों को शताब्दी अस्पताल में दाखिल किया गया, जिनमे से इलाज के बाद 22 छात्रों को घर भेज दिया गया।
  • महासभा में अपना निलंबन रुकवाने सहायक आयुक्त लाड हुए सक्रिय !

    By fast headline india →
    महासभा में अपना निलंबन रुकवाने सहायक आयुक्त लाड हुए सक्रिय ! 

     मनपा पदाधिकारी,नगरसेवकों से मेलजोल सुरु !  

    पहले भी लाड सहित कई अधिकारी निलंबित होकर फिर आ गये  ड्यूटी पर !           

     कल्याण-कल्याण में दो कंपनियों के संचालक मंडल में होने के चलते तत्तकालीन आयुक्त द्वारा निलंबित किए गए मनपा के सहायक आयुक्त एवं करनिर्धारक अधिकारी अनिल लाड के  सक्रिय होकर  नगरसेवक, पदाधिकारियों से संपर्क कर मेलजोल बढ़ाने  और उनके आश्वासन से आज शुक्रवार  की महासभा में निलंबन रद्द हो जाएगा ऐसी चर्चा मनपा गलियारों में जोर-शोर से चल रही है, जिसके चलते  लाड के निलंबन को महासभा की मंजूरी मिलने पर आशंका व्यक्त की जारही है, इससे पहले भी अनिल लाड सहित कई  मनपा अधिकारी दो-दो  बार निलंबित हो कर फिर से ड्यूटी पर आगये है, जिससे मनपा में भ्रष्टाचार रुकने की बजाय और बढ़ता ही जारहा है,            
    गौरतलब है कि  कल्याण-डोंबिवली महानगर पालिका के सहायक आयुक्त तथा करनिर्धारक अनिल लाड को दो कंपनियों के संचालक मंडल में होने के चलते तत्कालीन आयुक्त ई रवीन्द्रन द्वारा निलंबित कर दिया  गया था, उनके निलंबन का प्रस्ताव हाल ही में लाखों की रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किए गए  अतिरिक्त आयुक्त  संजय घरत के निलंबन के प्रस्ताव के साथ ही पिछली महासभा में रखा गया था, मगर पिछली सभा स्थगित होने के कारण अब आज  शुक्रवार को होने वाली महासभा में महासभा की मंजूरी के लिए लाया जाने वाला है, जिसके चलते निलंबित अनिल लाड मनपा पदाधिकारी,नगरसेवकों से मिलभेंट कर अपने पक्ष में पटाने की कोशिश में लगे दिखाई दे रहे है,इस मामले में कई नगरसेवकों, पदाधिकारियों द्वारा अनिल लाड को वचन भी दिया गया बताया जा रहा है कि तुम्हारा निलंबन नही होने दिया जायेगा, ऐसा आश्वासन दिए जाने से अनिल लाड का निलंबन रद्द हो जायेगा ऐसी जोरदार चर्चा मनपा गलियारों में चल रही है,           बतादें कि इससे पहले कडोमपा के कार्यकारी अभियंता सुनील जोशी को भी रिश्वत  लेने के मामले में  दो बार गिरफ्तार किया गया था और  उनको फिर ड्यूटी पर लेने का प्रस्ताव महासभा के सामने आया था उस समय सुनील जोशी द्वारा बड़े पैमाने पर पैसे बांटे गए ऐसा कहा जाता है, अब सहायक आयुक्त द्वारा नगरसेवक, पदाधिकारियों से भेंट कर पैसे का वितरण किया जा सकता है ऐसी भी  चर्चा मनपा परिसर में  जोरों पर चल रही  है,  इससे पहले भी सहायक आयुक्त अनिल लाड, उपायुक्त सुरेश पवार, अतिरिक्त आयुक्त संजय घरत, सुनील जोशी सहित करीब 3 दर्जन मनपा के अधिकारी,कर्मचारी निलंबवित हो चुके है जिनमें कई    तो दो-दो बार निलंबित होकर फिर बहाल कर ड्यूटी पर लिए  जा चुके है जिससे मनपा में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगने की बजाय भ्रष्टाचार औऱ बढ़ता ही जा रहा है, अब इस बार महासभा मनपा में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने और कानून का राज चलाने के लिए अनिल लाड और संजय घरत  के निलंबन पर अपनी मुहर   लगाएगी या फिर भ्रष्टाचार और गैरकानूनी कार्यों को बढ़ावा देते हुए उनके निलंबन को रद्द कर लाड को फिर ड्यूटी पर बहाल कर देगी यह तो  आज शुक्रवार को होने वाली महासभा में ही स्पस्ट होगा जिसपर सभी नागरिकों की निगाह लगी हुई है,  
  • उल्हासनगर में कपड़ा ब्यापारी की उसी के फ्लैट में निर्मम हत्या !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में कपड़ा ब्यापारी की उसी के फ्लैट में निर्मम हत्या !

    पुलिस घटना स्थल पर पहुँचकर मामले की जांच में जुटी !
    उल्हासनगर-उल्हासनगर के चोपड़ा कोर्ट परिसर हरि ओम अपार्टमेंट के तीसरे महले के फ्लैट नम्बर 301 में एक 55 वर्षीय ब्यक्ति की धारधार हथियार से उसके बेड रूम में बड़ी ही क्रूरता हत्या करने का मामला सामने आया है इस मामले से स्थानीय लोग सदमे में है ! सेंट्रल पुलिस स्टेशन के लोग घटना स्थल पर पहुँच गए और मामले की जांच में जुट गए है !
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रकाश तोलाराम कछानी जो कि पेशे से एक कपड़ा ब्यवसाई थे इनकी अमन टाकीज के पास प्रकाश कलेक्शन नामक कपड़े का शो रूम है वह रहने के 17 सेक्सन बैरेक नम्बर 832 रूम 24 के उल्हासनगर तीन में रहते थे इन्ही की बीबी के नाम पर चोपड़ा कोर्ट के पास हरि ओम अपार्टमेंट बैरेक नम्बर 765,1-2 नियर ग्रीनपार्क में उल्हासनगर तीन के तीसरे महले पर 301 फ्लैट था परंतु यहा कोई रहता नही था यह पर कभी कभार घर के लोग आते थे , प्रकाश हर दिन की तरह बुधवार की रात 10,30 बजे अपनी दुकान बंद करके बच्चों को बोले कि चालिया मंदिर में माथा टेक कर घर पर आता हूं उसके बाद वो चले गए जब देर रात तक घर नही लौटे तो उनके घर वाले उनकी तलाश करने लगे सुबह उनको ढूढते हुए उनके बेटे राजा व पप्पन ये लोग सुबह 11 बजे के करीब हरि ओम अपार्टमेंट के अपने फ्लैट पर आये तो उन्होंने दरवाजा थोड़ा खुला दिखा तो वी लोग दरवाजे को खोलकर अंदर घुसे तो उन्होंने बेड़रूम में अपने पिता की खून से लतफ़त लाश देखा उसके बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दिया उसके बाद सेंट्रल पुलिस स्टेशन के सीनियर विजय डोलस एसीपी जगताप समेत बड़ी संख्या में पुलिस दल घटना स्थल पर पहुचकर जांच में जुट गए है लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की तैयारी मे पुलिस जुटी हुई हत्या के पीछे की वजह अभी तक स्पष्ट हो नही पाया है !