• नव समितियों के चुनाव को लेकर उमपा की सत्ताधारियों के मोहरे से चुनाव जीतने के लिए विपक्ष ने निकाला जुआड ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    नव समितियों के चुनाव को लेकर उमपा की सत्ताधारियों के मोहरे से चुनाव जीतने के लिए विपक्ष ने निकाला जुआड ? 

     टीम ओमी कलानी के ऊपर टिकी सब की नजर ! 

     14 अगस्त होगा चुनाव ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका नव समिती सभापती पद के लिए शुक्रवार को नामांकन भरा गया है . इसमें से आठ समिती के लिए शिवसेना-राष्ट्रवादी-काँग्रेस-पीआरपी-भारिप युती ने अपना नामांकन दाखिल करने से मामले को पेचीदा बना दिया है आने वाली 14 तारीख को होने वाले चुनाव के लिए सत्ता पक्ष की आपसी फूट का फायदा उठाने की कोशिश में विपक्षीय दल पूरी तरह से जुआड में जुटा है .जब कि वही पानी पुरवठा सभापती पद पर टीम ओमी कलानी गट की सरोजिनी टेकचंदानी बिनविरोध चुनी गई है.ऐसे में टीम ओमी कलानी इन समिती के चुनाव में किसके साथ खड़ी रहती इस पर सबकी नजरें टिकी हुई है,
    बता दे कि सार्वजनिक बांधकाम समिती सभापती पद के लिए भाजपा से कविता पंजाबी,शिवसेना कि तरफ से स्वप्निल बागुल,शहर नियोजन विकास समिती सभापती पद के लिए मीना सोंडे,राष्ट्रवादी की तरफ से सुमन सचदेव,  आरोग्य परीक्षण व वैद्यकीय समिती के लिए इंदिरा उदासी, शिवसेना कि तरफ से शुभांगी बेहनवाल, माध्यमिक शिक्षण पूर्व प्राथमिक शिक्षण समिती के लिए टीम ओमी कलानी गट से रवी जग्यासी,शिवसेना से मिताली चानपूर, गलिच्छ वस्ती निर्मूलन समिति के सभापतीपद के लिए साई पार्टी से गजानन शेळके, पी आर पी से प्रमोद टाले, क्रीडा समाजकल्याण व सांस्कृतिक कार्यक्रम समिती सभापती पद के लिए गीता साधवानी,भारिप से कविता बागूल, महिला व बालकल्याण समिती के एक बार फिर से टीम ओमी कलानी गट से छाया चक्रवर्ती,शिवसेना संगीता सपकाले, महसूल समिती सभापती पद के लिए साई पार्टी ने दिप्ती दुधानी,काँग्रेस की तरफ से अंजली सावळे इन्होंने अपनी उम्मीदवारी का नामांकन महापालिका सचिव प्राजक्ता कुलकर्णी के पास भरा गया है .बता दे कि उमपा की महापौर पद को लेकर सत्ता में आसीन भाजपा,टीम ओमी कलानी,साई पार्टी में पहले से खींचतान चल रहा है सवा साल के कार्यकाल के बाद टीम ओमी कलानी ने अपना महापौर बनाने की जुगत में जुटे हुए है लेकिन अभी तक इसी को लेकर भाजपा पार्टी में खुलकर दी गुट निर्माण हो गया है उसके बाद यह नव समिति का चुनाव होने जा रहा है अब सवाल यह है कि क्या महापौर पद न मिलने से नाराज टीम ओमी कलानी गुट इस चुनाव में किसके साथ खड़ी होती उस पर पूरे शहर की निगाहें टिकी हुई है इस लिए इसी मौके का फायदा उठाने के लिए पूरा विपक्ष एक जुट होकर इन सभी समितियों पर अपने दावेदारो को उतारा है अब 14 अगस्त को होने वाले चुनाव को रोचक बना दिया है !
  • No Comment to " नव समितियों के चुनाव को लेकर उमपा की सत्ताधारियों के मोहरे से चुनाव जीतने के लिए विपक्ष ने निकाला जुआड ? "