Browsing "Older Posts"

  • एलआईसी अधिकारी की सड़क दुर्घटना में हुई मौत !

    By fast headline india →
    एलआईसी अधिकारी की सड़क दुर्घटना में हुई मौत !

     कल्याण -कल्याण के नेवाली फाटा पर हुई एक सड़क दुर्घटना में गाड़ी पर से नियंत्रण हटने के चलते एक एलआईसी अधिकारी की नेवाली फाटा पर भीषड़ कार दुर्घटना में घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मरने वाले ब्यक्ति का नाम जिमी जेम्स नामक एलआईसी डेवेलपमेंट अधिकारी है !
    गौरतलब हो कि जेम्स दोपहर को बदलापुर के महामार्ग से अपनी स्विफ्ट कार से जा रहे थे, उसी समय अचानक उनका नियंत्रण गाड़ी से छूट गया और आगे जा रही ट्रक को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी।यह टक्कर इतनी भयानक थी कि स्विफ्ट कार के आगे का हिस्सा पूरी तरह से चकनाचूर हो गया।इस घटना में जिमी जेम्स के सिर और सीने में चोट लगने से जगह पर ही उनकी मृत्यु हो गई।दुर्घटना की जानकारी मिलने के तुरंत बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई।इस दुर्घटना के बाद ट्रैफिक जाम हो गया था, जिसे पुलिस ने पहुच कर दूर किया।वही पुलिस ने रोड़ एक्सीडेंट का मामला दर्ज कर लिया है और घटना की वजह की तलाश में जुट गई हैं,
  • ’लुटेरी ‘हसीनाओं’ के आतंक से परेशान मुंबई के युवा ! बार गर्ल्स के हुस्न के जाल में फंसे तो लुट जाएंगे ?

    By fast headline india →
    ’लुटेरी ‘हसीनाओं’ के आतंक से परेशान मुंबई के युवा !

    ’लुटेरी ‘हसीनाओं’ के खिलाफ मुंबई पुलिस दर्ज है कई मामले ! 

    बार गर्ल्स के हुस्न के जाल में फंसे तो लुट जाएंगे ?

     मुंबई-मुंबई देश की आर्थिक राजधानी मुंबई रात का शहर है। यहां रात में अच्छे-बुरे हर तरह के काम होते हैं। उन्हीं में से एक है हसीनाओं की लूट। जी हां, अगर आधी रात को भड़कीले कपड़ों में कोई ‘सुंदरी’ सड़क किनारे खड़ी होकर रोकती है, तो उससे दूरी बनाए रखें। ये ‘सुंदरियां’ लुटेरी हो सकती हैं। मौका मिलते ही आपको फंसाकर लूट लेंगी और आप शायद इनका कुछ कर भी न पाएं। डांस बार के कड़े कानून के बाद बढ़ी घटनाएं बार असोसिएशन से जुड़े केदार शेट्टी बताते हैं, ‘मुंबई में डांस बारों पर कड़े कानून लागू होने के बाद कई बार बालाएं, ट्रांसजेंडर और गे बेरोजगार हो गए। उनके पास जीवन-यापन का कोई साधन नहीं रहा। ऐसे में, इस प्रकार के लोगों ने कमाई के और भी रास्ते अपना लिए, जिनमें से एक रास्ता लूट भी है।
    इस गिरोह में शामिल महिलाएं, ट्रांसजेंडर, किन्नर, गे और कॉल गर्ल्स अपने जिस्म से मुंबई और आसपास की सड़कों पर खड़े होकर कमाई का जरिया खोजती हैं।पुलिस सूत्रों के अनुसार, जिस्मफरोशी से जुड़े ये लोग गिरोह में होते हैं। आधी रात के बाद सुनसान सड़कों या कम उजाले वाले रास्तों, फुटपाथों, झाड़ियों या गार्डन्स के आस-पास खड़ी होकर ये ग्राहकों का इंतजार करती हैं। उन्हें अपनी ओर आकर्षित करती हैं और जैसे ही कोई ग्राहक इनके हुस्न के जाल में फंसकर नजदीक पहुंचता है, उसे ये लोग झाड़ियों या मैंग्रोव्स के बीच ले जाते हैं। वहां ये अप्राकृतिक यौन संबंध बनाते हैं। इसके बाद, अक्सर ये ‘सुंदरियां’ ग्राहकों से तय रकम से ज्यादा की मांग करती हैं। पैसा नहीं देने पर उनके पास मौजूद रुपये-पैसे, महंगी घड़ियां और मोबाइल छीनकर भगा जाती हैं। बदनामी के डर से इनके खिलाफ कोई किसी थाने में शिकायत भी दर्ज नहीं कराता। लुटने वालों में ज्यादातर युवा होते हैं।’लुटेरी ‘हसीनाओं’ के खिलाफ मुंबई पुलिस और बीएमसी में शिकायत दर्ज कर इनके खिलाफ मुहिम छेड़कर सख्त कार्रवाई करने की मांग करने वाले समाजिक कार्यकर्ता मुश्ताक अंसारी ने बताया कि इस गिरोह के बदमाश अक्सर पॉश इलाके को अपराध का ठिकाना बनाते हैं। ये ‘सुंदरियां’ बांद्रा का कला नगर, बीकेसी का इलाका, अंधेरी का लोखंडवाला, शास्त्री नगर, पवई का हीरानंदानी इलाका, ठाणे का घोडबंदर रोड और ईस्टर्न एवं वेस्टर्न हाइवे किनारे सुनसान स्थानों पर खड़ी रहती हैं। जहां पुलिस या लोगों का आना-जाना कम होता है। यहां फैला है जाल बीकेसी, कलानगर, शास्त्री नगर, लोखंडवाला, घोडबंदर रोड, पवई का हीरानंदानी इलाका और हाइवे।जोन-8, जोन-9 और जोन-10 से मिली जानकारी के अनुसार, गिरोह में शामिल महिलाओं के पास जाने वाले लोग अक्सर मारपीट और लूट के शिकार होते हैं। बीकेसी, बांद्रा, वनराई, अंबोली, वर्सोवा और काशिमीरा पुलिस स्टेशनों में ऐसी ‘सुंदरियों’ के खिलाफ मारपीट, लूटपाट और बदसलूकी के दर्जनों मामले दर्ज हैं।मुंबई पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि लोगों को ऐसे गिरोहों से दूर रहना चाहिए। ऐसे गिरोह का शिकार अगर कोई पुलिस स्टेशनों में शिकायत दर्ज करवाता है, तो पुलिस उस पर अवश्य कार्रवाई करती है। वहीं सामाजिक कार्यकर्ता मुश्ताक अंसारी ने कहा कि प्रशासन को चाहिए कि संबंधित जगहों पर सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता करे, ताकि भविष्य में कोई आपराधिक घटनाएं न घट सकें।
  • रिक्सा चालक बना डकैत ! पुलिस वाले की पहले की पिटाई फिर लिया लूट !

    By fast headline india →
    रिक्सा चालक बना डकैत ! पुलिस वाले की पहले की पिटाई फिर लिया लूट ! 

    पुलिस ने मामला दर्ज दो को किया गिरफ्तार दो फरार आरोपियों की तलाश में जुटी ! 

    उल्हासनगर -उल्हासनगर में आये दिन बढ़ती ट्रैफिक समस्या से आम जनता परेशान रहती है ऐसे में इसी ट्रैफिक को लेकर हुए विवाद में रिक्सा चालक ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर एक पुलिस जवान को पिटाई किया और उसका मोबाईल फोन व कैश लेकर फरार होने का नायाब कारनामा सामने आया है लोगो में चर्चा है कि जब कानून के रक्षक ही अपराधियों के शिकार बन रहे थे तो आमजनता की रखवाली आखिरकार करेगा कौन !      पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार विठ्ठलवाडी पुलिस ठाणे में कार्यरत पुलिस.हवलदार.सुदाम चौधरी ये अपने दोस्त के साथ अपनी मोटरसाइकिल से कैम्प नं.४ से सेक्शन २६ परिसर के सतरामदास अस्पताल के पास से रात ९ बजे जा रहे थे. उस समय रोड़ पर ट्रैफिक जाम होने की वजह से पुलीस हवलदार चौधरी यह अपनी मोटरसाइकिल पर वही खड़े थे. तभी पीछे से आये रिक्सा चालक ने हॉर्न बजाना चालू किया और चौधरी को गाडी आगे लेने को कहने लगा . चौधरी ने उससे कहा आगे ट्रैफिक जाम है. एक मीनट रूको नही तो आगे जाओ ऐसा बोलते ही रिक्सा चालक ने अंदर बैठे दो अन्य लोगो को लेकर रिक्से उतरकर चौधरी को गाली गलौज करते हुए मरना चालू कर दिया एक ने मिट्टी से भरी कुंडी से उनके सर पर दे मारा जिससे पूरा सर लहूलुहान हो गया. रिक्सा चालक ने चौधरी के साथ वांले दोस्त को पकड़ कर रखा इतने में एक और ब्यक्ति पैदल आया और उसने चौधरी और उनके दोस्त से गाली गलौज करते हुए मारपीट किया और उनके पास से उनका मोबाईल फोन व कैश ऐसे कुल मिलाकर १२ हजार रूपये का माल लेकर चंपत हो. बाद में घायल चौधरी इन्होंने इस घटना की शिकायत विठ्ठलवाडी पुलिस स्टेशन में दिया पुलिस ने रिक्सा चालक व तीन और लोगो के विरुद्ध मामला दर्ज किया है,पुलिस ने इस मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और दो फरार आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है. इस मामले की आगे की जांच पुलिस उप.नि.साळूंखे कर रहे है . 
  • पांच वर्षीय मासूम बच्ची से रेप की कोशिश करने वाले नेपाली वाचमैन को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    पांच वर्षीय मासूम बच्ची से रेप की कोशिश करने वाले नेपाली वाचमैन को पुलिस ने किया गिरफ्तार ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में पांच नम्बर इलाके कैलास कॉलोनी परिसर में रहनी वाली एक पांच वर्षीय मासूम बच्ची से 64 वर्षीय वाचमैन ने उसके साथ बलात्कार करने की कोशिश करने की सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है ,माँ की शिकायत पर हिललाइन पुलिस ने नराधम वाचमैन को गिरफ्तार कर लिया है,
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उल्हासनगर के पांच नम्बर के कैलास कॉलोनी परिसर अपने परिवार के साथ रहने वाली एक महिला ने हिलाइन पुलिस में 27 सितम्बर को एक मामला दर्ज कराया है इस शिकायत में बताया गया उनके घर के पास ही उनकी बच्ची खेल रही थी वही पास में एक नया निर्माण बनाने का काम हो रहा है वहा पर एक नेपाली कुमार असमानु टीका नामक जो कि वाचमैन का काम करता है वह खेल रही बच्ची को अपने साइड पर ले जाकर बच्ची की रेप करने की कोशिश कर रहा था तभी बच्ची की रोने की आवाज माँ के कानों में वह अपने घर से निकल आई तो उन्होंने देखा कि वाचमैन बच्ची के साथ गलत कर रहा था जैसे उसने माँ को आते देखा तो बच्ची को छोड़कर भाग गया उसके बाद माँ अपनी बच्ची से पूछा तो बच्ची ने भी माँ को बताया कि दादा मेरे साथ गलत काम कर रहे थे उसके बाद माँ ने हिललाइन पुलिस स्टेशन जाकर वाचमैन के विरुद्ध मामला दर्ज कराया पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद कुछ समय बाद आरोपी नेपाली वाचमैन को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की आगे की जांच में जुट गई है !
  • भाजपा व टीओके की नगरसेविका पंचम कलानी निर्विरोध महापौर चुनी गई !

    By fast headline india →
    भाजपा व टीओके की नगरसेविका पंचम कलानी निर्विरोध महापौर चुनी गई ! 

    विपक्षी पार्टियों की फुट का मिला फायदा !  

    उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा के महापौर चुनाव में भाजपा की नगरसेविका पंचम कलानी को निर्विरोध महापौर चुना गया है , कुल तीन लोगों ने महापौर पद के लिए अपना नामांकन किया था जिसमें साई पार्टी ज्योती भटिजा व डिंपल ठाकुर ने अपना नाम वापस ले लिया जिसके बाद ठाणे जिल्हा के अधिकारी  राजेश नावेकर ने महापौर पद पर निर्विरोध चुनी गई पंचम कलानी के नाम की घोषणा किया है ,उसके बाद सभी लोगो ने पंचम कलानी पुष्प गुच्छा देकर स्वागत किया है, 
    गौरतलब हो कि यह कयास पहले से ही लगाया जा रहा था कि साई पार्टी के सात नगरसेवक इस महापौर चुनाव में पार्टी से बगावत करने वाले है,उसी का फायदा शिवसेना लेने के लिए जुटी है और साई पार्टी के बागी ज्योती भटिजा नगरसेविका को अपनी पार्टी की तरफ से महापौर पद के उम्मीदवार के रूप में उतारा है, शिवसेना की इस चाल से भाजपा साई पार्टी के गठबंधन को बड़ा झटका लगा है ,अब भाजपा से कोई फुटकर उधर न जाय इस लिए सभी नगरसेवकों एक साथ सबको पिकनिक के लिए बाहर भेज दिया गया है यह सब चुनाव के दिन यानी 28 सितम्बर को शहर में आएंगे तो वही शिवसेना ने भी अपने सभी नगरसेवकों व सहयोगियों को भी पिकनिक पर लेकर गई है ताकि उनमें से कोई खिसक न जाय इस लिए सभी पार्टियों अपने अपने नगरसेवकों पर नजर बनाए रखने का जुआड किया है, बहरहाल 28 सितम्बर का ताज किसके माथे पर सजता है यह देखने के लिए शहरवासियों को अभी इंतजार करना होगा और कौन बिकता है कौन खरीदता है यह सब भी उसी दिन सामने आएगा किस जुआड कामयाब हुआ और किसका जुआड हुआ फेल सब 28 को चुनाव के बाद साफ हो जाएगा ! राजनीती में "शह और मात" के इस खेल में कालानी को पटखनी देने के लिए राजनीतिक प्रयास किया जा रहा है बावजूद उनका तीर बार-बार फेल होता जा रहा है, साईपक्ष के 7 नगरसेवकों को जीवन सहित सत्तापक्ष के खिलाफ बगावत के मूड में आ गए है।आगामी 2019 में होने वाले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में शिवसेना-भाजपा का यदि गठबंधन नही हुआ तो कल्याण लोकसभा सीट पर शिवसेना सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे के सामने भाजपा के राज्य मंत्री रविन्द्र चौहान चुनावी अखाड़े में उतर सकते है,इसी बीच यदि उमपा में शिवसेना का महापौर बना तो इसका सीधा फायदा लोकसभा व विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा,देखा जाए तो वरिष्ठ नेताओं के लिए महापौर पद बहुत छोटा है परन्तु इसी महापौर पद पर दो बड़े चुनाव भी डिपेंड करते है इसलिए भाजपा-शिवसेना दोनो नेता उमपा के महापौर सीट पर परचम लहराने के लिए साम-दाम-दंड-भेद की नीतियां अपनाने में कोई-कोर कसर नही छोड़ना चाहते है।आखिरकार भाजपा के पालक मंत्री रविन्द्र चौहान ने अपनी काबलियत को लोहा मनवाते हुए पंचम कलानी के सिर पर महापौर का ताज पहना दिया है अब आगे की रणनीति पर आगे बढ़ गए है !
  • उल्हासनगर में गर्ददुल्लो का गुंडाराज ! कुछ दिन पहले भाजपा नेता को भी रात में बनाया था अपना शिकार !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में गर्ददुल्लो का गुंडाराज ! 

     परिवार के साथ बाइक सवार को बीच रोड़ पर की पिटाई का वीडियो शोसल मीडिया में हुआ वायरल !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में कल रात हुए एक परिवार पर कुछ नशेड़ियों हमला बोल दिया ऐसा एक सीसीटीवी! वीडियो शोसल मीडिया पर वायर हुआ है जिसमें 26 सितम्बर की तारीख दिखाई दे रहा है रात के 11.15 मिनट का यह वीडियो भगत कवराम चौक की बताया जा रहा है वीडियो दिख रहा है कि एक ब्यक्ति अपने परिवार के साथ बाइक से जा रहे थे तभी पीछे से आ रहे एक बाइक पर तीन नशेड़ी सवार थे उन्होंने परिवार के साथ जा रहे ब्यक्ति की गाड़ी को टक्कर मारता है जब तक परिवार के लोग कुछ समझ पाते दिनों नशेड़ियों ने परिवार वालो पर हमला बोल दिया स्थानीय लोगो के बीचबचाव के बाद मामला शांत किया गया ऐसा सी सी टीवी वीडियो में दिखाई दे रहा है !

    शोसल मीडिया पर लिखी जानकारी के मुताबिक एक ब्यक्ति अपने परिवार के साथ अपनी बाइस से भगत कवराम चौक से उल्हासनगर स्टेशन जा रहे थे तभी तीन नशेडी एक बाइक पर सवार थे उन्होंने पीछे से आकर इनकी बाइक में टक्कर मारी फिर आकर परिवार के साथ जा रहे युवक को मारना शुरू कर दिया गनीमत यह रही कि स्थानीय लोगो के बीच बचाव के चलते परिवार के लोगो को बचाया जा सका था, उल्हासनगर में पिछले कुछ समय नशेड़ियों का आतंक देखने में आ रहा अभी कुछ दिनों पहले ही बारबालाओं रोड़ पर हुई आपस मारा मारी का वीडियो भी ऐसे ही सामने आया था आये दिन नशेड़ियों के कारनामें सामने आते रहते है दस दिन पहले रात में युवा भाजपा नेता के साथ भी ऐसे ही नशेड़ियों ने मारपीट किया था जिसका मामला एक नम्बर पुलिस स्टेशन में दर्ज भी हुआ था पुलिस ने उसमें तीन लोगों को पकड़ा था परंतु बाद में छोड़ दिया था दरअसल ऐसे लोगो पर ठोस कार्यवाई नही होने का फायदा ये नशेड़ी उठाते है इस लिए आये दिन इनकी वारदातों में बढ़ोतरी हो रही है,शहर में कई ठिकानों पर अवैध तरीको से खुलेआम नशे का सामान बेचा जाता है ये लोग वही से अपने नशे का सामान सस्ते में मिल जाता है और फिर नशे में आम लोगो को अपना शिकार बनाते है ,पुलिस को अवैध नशे के अड्डे और इन दोनों पर एक साथ कोई ठोस कार्यवाई करने पड़ेगी तभी जाकर ऐसी घटनाओं पर रोक लगेगी !
  • पति को अपनी पत्नी का अवैध संबंध रोकना पड़ा महँगा गुस्साई बीबी ने किया अपनी बेटी की हत्या !

    By fast headline india →
    पति को अपनी पत्नी का अवैध संबंध रोकना पड़ा महँगा गुस्साई बीबी ने किया अपनी बेटी की हत्या !

    कल्याण-कल्याण में पत्नी के अनैतिक संबंध का पति द्वारा विरोध करने पर पत्नी ने अपने पेट से जन्मे एक साल के मासूम बच्ची का गल दबाकर हत्या करने की घटना सामने आयी है निर्दयी माँ का दिल इतने में भी नही पसीजा उसने बच्चीे की हत्या की जानकारी छुपाने के लिए मूर्त देह को घर से दूर झाड़ियों में फेक दिया.इस मामले में मानपाडा पुलिस ने निर्दयी माँ पूजा प्रसाद के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आगे की जांच में जुट गई है।
    मिली जानकारी के अनुसार ननकण प्रसाद व पूजा प्रसाद उत्तर प्रदेश के रहनेवाले दंपति काफी समय से डोंबिवली पूर्वे के भोपर विठाबाई चॉल में रहते हैं. उनकी एक साल की बेटी भी है. पूजा का किसी के साथ अवैध सबंध होने की जानकारी ननकरण को मिली थी.जिसे लेकर दोनों के बीच अक्सर विवाद हुआ करता था.ननकरन द्वारा बार बार के विरोध से पूजा नाराज हो गयी थी.कल भी दोनों के बीच इसी बात को लेकर फिर विवाद हुआ. पति के बहार जाने के बाद पूजा ने दोपहर ढाई बजे के दरम्यान निर्दयता पूर्वक अपनी बेटी का गला दबाकर हत्या कर दी.हत्या की जानकारी छुपाने के लिए बच्ची के मूर्तदेह को घर से दूर झाड़ियों में फेंक दिया.बच्ची को घर से गायब पाकर पिता ननकण को शंका हुई. और मानपाडा पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई. मानपडा पुलिस ने पूजा के खिलाफ शिकायत दर्ज कर गिरफ्तर कर लिया है।
  • प्रभाग एक के सहायक आयुक्त को निलंबित करने की मांग को लेकर मनपा मुख्यालय के सामने शुरू हुआ आमरण उपोषण !

    By fast headline india →
    प्रभाग एक के सहायक आयुक्त को निलंबित करने की मांग को लेकर मनपा मुख्यालय के सामने शुरू हुआ आमरण उपोषण ! 

     पद का दुरुपयोग कर किया जा रहा भ्रष्ट्राचार,इनपर मामला दर्ज करके तुरंत करो निलंबित, अनशन कर्मियों ने किया मांग ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका प्रशासन के खिलाफ अब आम जनता भी रोड़ पर उतरने को मजबूर हो गए है क्यो की मनपा के अधिकारी रिश्वत लेकर खुली छूट देकर बन रहे अवैध निर्माण की शिकायतों पर कोई कार्यवाई नही होने की वजह से अब लोग इसके लिए अनशन करने तक कि नोबत आ गई है ऐसे ही एक मामले प्रभाग एक के वार्ड आफिसर नंदलाल समतानी को सस्पेंड करने की मांग को लेकर मनपा मख्यालय के सामने आमरण अनशन शुरू किया गया है ! इस अनशन के लिए स्थानीय युवाओं का मिल रहा जनसमर्थन !
    गौरतलब हो कि उपोषण करने बैठे लोगों में अजय सिंह,सचिन गांधी,महेश यादव इन्होंने आज दिए मनपा आयुक्त गणेश पाटिल को दिए पत्र लिखा है कि प्रभाग समिति एक के प्रभाग अधिकारी नंदलाल समतानी के विरुद्ध कई शिकायतें देने के बाद भी कोई कार्यवाही नही किया इसका नतीजा यह हुआ कि प्रभाग एक कि हद में समतानी व ठेकेदारों की मिलीभगत से अवैध निर्माणों को अंजाम दिया जा रहा वही एन, एच,222 रोड़ के विस्तारीकरण के नाम पर शहाड़ फाटक से लेकर धोबी घाट के बीच में कई हरे भरे पेड़ो को अवैध तरीके से काटा गया उस समय न तो वन विभाग लोग थे न ही फायर ब्रिगेड,न विधुत विभाग के लोग की बिना उपस्थिति में इन पेड़ों को काटा गया है और आज वहा भी बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण जोरो बनाया जा रहा है इसकी लिखित शिकायत कई बार समतानी को देने के बाद भी कोई कार्यवाई नही किया गया इस लिए जब तक ऐसे अधिकारी को निलंबित नही किया जाता और बन रहे अवैध निर्माणों पर कार्यवाई नही किया जाता है यही नही बिना परमिशन पेड़ काटने वाले दोषी लोगो के विरुद्ध 302 के तहत मामला दर्ज किया नही जाता है अतः प्रशासन जांच करके इन पर कार्यवाई नही करती है तब तक हम लोग आमरण उपोषण जारी रखेगे ऐसा मनपा आयुक्त के दिये पत्र में उपोषण कर्ताओ ने लिखा है, इससे पहले 10 सितम्बर को लिखित शिकायत वन विभाग अधिकारी कल्याण व मनपा आयुक्त गणेश पाटिल उल्हासनगर महानगरपालिका व प्रभाग एक अधिकारी नंदलाल समतानी व उल्हासनगर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक व जोन 4 के पुलिस सहायक आयुक्त व पर्यावरण मंत्रालय विभाग के मंत्री,व कोकण विभागीय आयुक्त,व ठाणे जिल्हा अधिकारी,व विशेष कार्य अधिकारी mmrda व मैनेजिंग डारेक्टर सेंचुरी कंपनी को भी लिखित शिकायत दिया गया जब किसी विभाग के द्वारा कोई कार्यवाई नही हुआ तो मजबूरन आमरण उपोषण करने के लिए बैठना पड़ा है अगर प्रशासन समय रहते कार्यवाई नही करेगा आगे और उग्र आंदोलन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा ऐसा उपोषण कर्ताओ ने बात करते समय मीडिया के लोगो से कही है ! पिछले कुछ समय से यह लग ही नही रहा है उल्हासनगर शहर में मनपा प्रशासन का राज है या ग्राम पंचायत क्यो की चारो प्रभागों में खुलेआम जिसको जो इच्छा है वह कर रहा सभी अधिकारी सिर्फ अपनी जेबें गरम करने में लगे है और किसी भी शिकायत पर कोई कार्यवाई नही किया जाता है मनपा प्रशासन पूरी तरह से भ्र्ष्टाचार का अड्डा बन चुका है ऐसा अब शहर की जनता भी कहने लगी है , महापौर चुनाव बाद आयुक्त हटाओ शहर बचावो की मुहिम जनता रोड़ पर उतरने की तैयारी करने की सोच रही है ऐसी चर्चा शहर में जोरो पर है !
  • यू एफ सी गणेश पंडाल पर महाराष्ट्र पदूषण विभाग व मनपा ने किया कार्यवाई !

    By fast headline india →
    यू एफ सी गणेश पंडाल पर महाराष्ट्र पदूषण विभाग व मनपा ने किया कार्यवाई ! 

    फस्ट हेडलाइन इंडिया की खबर का हुआ असर नींद से जागा प्रशासन ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में गणेश उत्सव के दौरान गणेश पंडाल को बनाने के लिए थर्माकोल का इस्तेमाल किये जाने का मामला सामने आने के बाद मनपा के स्वछता निरीक्षण विनोद केनी के द्वारा यू एफ सी ग्रुप के ऊपर 5 हजार रुपये की दंडात्मक कार्यवाई किया गया है वही महाराष्ट्र प्रदूषण विभाग की तरफ से उल्हासनगर के क्षेत्र अधिकारी प्रमोद लोने ने भी बुधवार को दोपहर पंडाल का मुवायना किया जिसमें थर्माकोल का इस्तेमाल बड़े पैमाने पर होने की बात सामने आया है उसके बाद लोने ने पंचनामा करके स्थानीय विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन में इस मामले में शिकायत दिया है, आखिरकार फस्ट हेडलाइन की खबर के बाद प्रशासन नींद से जाकर कार्यवाई शुरू किया है ! 
    बता दे कि प्रभाग तीन की हद में यू एफ सी ग्रुप के द्वारा अपना 25 वा साल मनाया जा रहा है उन्होंने इस बार पंडाल के सेट को तारक मेहता के उल्टा चश्मा के सेट जैसा बनाया उसको बनाने के लिए उन्होंने बड़ी तादात में महाराष्ट्र सरकार द्वारा बैन किये गए थर्माकोल से पूरे सेट को बनाया है यह सवाल यह है कि बैन होने के बादजूद इतनी बड़ी मात्रा में थर्माकोल शहर में पंडाल बनाने के लिए आया कहा से जब आ रहा था उस समय मनपा प्रशासन को इसकी भनक नही लगा क्या ? या तो थोड़े पैसे की लालच में आकर सभी ने अपनी आँखें बंद रखी जिसकी बदौलत इतनी बड़ी मात्रा में थर्माकोल आकर यह पंडाल बन गया और किसी को कानो कान खबर ही नही हुआ ! सोमवार को इस बारे मनपा आयुक्त गणेश पाटिल से बात किया गया तो उन्होंने ऐसी कोई जानकारी नही मिलने की बात कही है और कहा कि अगर ऐसा हुआ है तो निश्चित ही कार्यवाई किया जाएगा ,वही इस विषय में प्रभाग तीन के प्रभाग अधिकारी गणेश शिंम्पी से बात किया गया तो उन्होंने भी कहा कि मुझे ऐसी कोई जानकारी नही है लेकिन अभी जानकारी आपलोगो के द्वारा मिली है तो हम अपने स्टाफ को भेजकर चेक करते फिर उस पर कार्यवाई करेगे, इस बारे उमपा के मुख्यस्वछता निरीक्षक विनोद केनी से संपर्क किया गया फोन नेटवर्क की समस्या के चले बात नही हो पाया है, कुल मिलाकर मनपा प्रशासन की नाक के नीचे बैन हुए थर्माकोल इस शहर बेचे गए और उसका इस्तेमाल करके इतना बड़ा सेड बना किसी को इसकी जानकारी तक नही यह कैसे हो सकता है, हो भी सकता है क्यो की वार्ड आफिसर शिंपी के ऊपर पूरे शहर के अवैध निर्माण पर कार्यवाई जिम्मेदारी का प्रभारी चार्ज है इस लिए शहर में बन रहे अवैध निर्माणों से उनको फुर्सत मीले तबतो वो इन सब की तरफ ध्यान दे पाए यहा पर तो पेनाल्टी वसूली करना पड़ेगा वह मनपा की तिजोरी में जायेगा वहाँ अवैध निर्माण से कितनी आमदनी है यह तो पूरे शहर को पता है इस लिए उनका ध्यान सिर्फ अवैध निर्माण पर टिकी हुई कार्यवाई करने के लिए नही अपनी जेबें भरने के लिए आफ़िर बैठकर इस समय वही करने में जुटे है ! अब सवाल यह है कि आखिरकार क्या इस पंडाल निर्माता के ऊपर व थर्माकोल इतनी बड़ी मात्रा में खरीद कर जिस कंपनी से लाये उसपर कार्यवाई होगी क्या अगर हाँ तो करेगा कौन यह बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है ! इतनी बड़ी लापरवाही करने वाले मनपा के कर्मचारियों पर भी मनपा प्रशासन को कार्यवाई करने की जरूरत है तभी इस तरह के लोगो पर अंकुश लग पायेगा ! वही इस विषय में जब समाजसेविका व पर्यावरण प्रेमी सरिता खानचंदनी से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि मैने इस बारे मनपा व प्रदूषण विभाग से संपर्क किया था और आकर पंडाल का निरीक्षण करने की बात कही जिससे सच सामने आ जाता उसके बाद जो कार्यवाई करनी थी वह करते लेकिन किसी ने कुछ भी रिप्लाई नही दिया मेरा ऐसा मानना है इस बात की जानकारी सभी को है बस वो सब कार्यवाई करने की बात आती है तो कहते है हमे पता ही नही था यह सबका रटा रटाया जवाब रहता है ! बता दे कि महाराष्ट्र सरकार ने प्लास्टिक व थर्माकोल पर पूरी तरह से इस्तेमाल करने पर पाबंदी लगाई हुई है और इसका इस्तेमाल करने वालो पर शक्त कार्यवाई करने के लिए मनपा व प्रदूषण नियंत्रण विभाग को जिम्मेदारी दी गई है, उसके बादजूद भी इनकी नाक के नीचे ही यह कारोबार फलफूल रहा है जिसका एक उदाहरण सामने है !
  • किले बंदी के तहत उल्हासनगर के नगरसेवक गोवा और पालघर के रिसोर्ट में हुए नजरबंद !

    By fast headline india →
    किले बंदी के तहत उल्हासनगर के नगरसेवक गोवा और पालघर के रिसोर्ट में हुए नजरबंद !

     महापौर चुनाव के लिए रचा जा रहा है राजनीतिक जुआड का व्यूह योजना ?

    उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा के महापौर चुनाव के लिए भाजपा और उसके मित्र पक्षो के नगरसेवकों को गोवा के रिसोर्ट में तो शिवसेना व उसके मित्र पक्षों के नगरसेवकों को पालघर स्थित रिसोर्ट में नजरबंद करके रखा गया है। वही से महापौर का ताज अपने उम्मीदवार को पहनाने के राजनीतिक जुआड की ब्यूह योजनाओं को अंजाम देने में दोनों पार्टियां जुटी हुई है !
    २८सितंबर को होने वाले महापौर चुनाव में मुख्य लड़ाई भाजपा-टी ओ के-साई पक् के उम्मीदवार पंचम कालानी और साई पक्ष के बागी उम्मीदवार ज्योति भटिजा के बीच होने वाला है। इस चुनाव में राष्ट्रवादी कांग्रेस-४,रिपाई-२,कांग्रेस-१,भारिप-१,पी आर पी-१ का मत निर्णायक भूमिका निभाएंगे।इसके कारण बड़े पैमाने पर जोड़-तोड़ की राजनीति होने वाली है।उल्हासनगर मनपा में कुल ७८ नगरसेवक है,जिसमें महापौर पद के चुनाव के लिए ४०मतों की आवश्यकता होगी।भाजपा-टी ओ के के पास ३२ नगरसेवक है और उसके मित्र पक्ष साई पक्ष में फूट पड़ने के कारण १२ में से ५ मत गवांने की आशंका व्यक्त की जा रही है,अगर मत नहीं फूटे तो भी १ मत और मिलने से भाजपा को बहुमत मिल जायेगा।राष्ट्रवादी के ४मत भाजपा को मिल सकते है, ऐसी जानकारी राजकीय सूत्रों द्वारा मिली है।लेकिन सोशल मीडिया पर राष्ट्रवादी कांग्रेस के गट नेता द्वारा साई पक्ष के बागी उम्मीदवार ज्योति भटीजा को मतदान करने का व्हिप जारी करने के बाद यह मैसेज वायरल होने के बाद पंचम कालानी का सिरदर्द बढ़ गया है।अब उनका सारा ध्यान कांग्रेस, रिपाई व भारिप के नगरसेवकों पर है।दूसरी तरफ पालघर के रिसोर्ट से ही ज्योति भटीजा को विजयी करने के लिए शिवसेना रणनीति तैयार कर रही है।शिवसेना के पास २५ नगरसेवक है,साई पक्ष के ५ नगरसेवक को लिया तो इनकी संख्या ३० होगी,राष्ट्रवादी के ४मत जोड़ दे तो इनकी संख्या ३४ हो जाएगी।रिपाई के २मत है लेकिन उनकी भूमिका स्पष्ट नहीं है।इसी प्रकार भारिप, कांग्रेस व पी आर पी किसे मत देते है, यह उनपर अवलंबन है।महापौर पद के चुनाव के लिए भाजपा की तरफ से राज्यमंत्री व रायगढ़ के पालकमंत्री रविंद्र चव्हाण और शिवसेना की तरफ सेसार्वजनिक बांधकाम मंत्री एकनाथ शिंदे ने राजनीतिक मोर्चा संभाला है। अब इसमें कौन किसे मात देता है, यह २८सितंबर को स्पष्ट होगा।
  • वैन थर्माकोल से बना UFC गणेश पंडाल,मनपा को नही लगी इसकी भनक !

    By fast headline india →
    वैन थर्माकोल से बना UFC गणेश पंडाल,मनपा को नही लगी इसकी भनक ! 

    वार्ड आफिस अवैध बाँधकामो से वसूली में है मस्त ! 

    ऐसे में पर्यावरण को नुकसान पहुचाने वाली चीजो पर भला कौन रखे नजर ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में गणेश उत्सव के दौरान गणेश पंडाल को बनाने के लिए थर्माकोल का इस्तेमाल किये जाने का मामला सामने आया है ,प्रभाग तीन की हद में यू एफ सी ग्रुप के द्वारा अपना 25 वा साल मनाया जा रहा है उन्होंने इस बार पंडाल के सेट को तारक मेहता के उल्टा चश्मा के सेट जैसा बनाया उसको बनाने के लिए उन्होंने बड़ी तादात में महाराष्ट्र सरकार द्वारा बैन किये गए थर्माकोल से पूरे सेट को बनाया है यह सवाल यह है कि बैन होने के बादजूद इतनी बड़ी मात्रा में थर्माकोल शहर में पंडाल बनाने के लिए आया कहा से जब आ रहा था उस समय मनपा प्रशासन को इसकी भनक नही लगा क्या ? या तो थोड़े पैसे की लालच में आकर सभी ने अपनी आँखें बंद रखी जिसकी बदौलत इतनी बड़ी मात्रा में थर्माकोल आकर यह पंडाल बन गया और किसी को कानो कान खबर ही नही हुआ !
    सोमवार को इस बारे मनपा आयुक्त गणेश पाटिल से बात किया गया तो उन्होंने ऐसी कोई जानकारी नही मिलने की बात कही है और कहा कि अगर ऐसा हुआ है तो निश्चित ही कार्यवाई किया जाएगा ,वही इस विषय में प्रभाग तीन के प्रभाग अधिकारी गणेश शिंम्पी से बात किया गया तो उन्होंने भी कहा कि मुझे ऐसी कोई जानकारी नही है लेकिन अभी जानकारी आपलोगो के द्वारा मिली है तो हम अपने स्टाफ को भेजकर चेक करते फिर उस पर कार्यवाई करेगे, इस बारे उमपा के मुख्यस्वछता निरीक्षक विनोद केनी से संपर्क किया गया फोन नेटवर्क की समस्या के चले बात नही हो पाया है, कुल मिलाकर मनपा प्रशासन की नाक के नीचे बैन हुए थर्माकोल इस शहर बेचे गए और उसका इस्तेमाल करके इतना बड़ा सेड बना किसी को इसकी जानकारी तक नही यह कैसे हो सकता है, हो भी सकता है क्यो की वार्ड आफिसर शिंपी के ऊपर पूरे शहर के अवैध निर्माण पर कार्यवाई जिम्मेदारी का प्रभारी चार्ज है इस लिए शहर में बन रहे अवैध निर्माणों से उनको फुर्सत मीले तबतो वो इन सब की तरफ ध्यान दे पाए यहा पर तो पेनाल्टी वसूली करना पड़ेगा वह मनपा की तिजोरी में जायेगा वहाँ अवैध निर्माण से कितनी आमदनी है यह तो पूरे शहर को पता है इस लिए उनका ध्यान सिर्फ अवैध निर्माण पर टिकी हुई कार्यवाई करने के लिए नही अपनी जेबें भरने के लिए आफ़िर बैठकर इस समय वही करने में जुटे है ! अब सवाल यह है कि आखिरकार क्या इस पंडाल निर्माता के ऊपर व थर्माकोल इतनी बड़ी मात्रा में खरीद कर जिस कंपनी से लाये उसपर कार्यवाई होगी क्या अगर हाँ तो करेगा कौन यह बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है ! इतनी बड़ी लापरवाही करने वाले मनपा के कर्मचारियों पर भी मनपा प्रशासन को कार्यवाई करने की जरूरत है तभी इस तरह के लोगो पर अंकुश लग पायेगा !
    वही इस विषय में जब समाजसेविका व पर्यावरण प्रेमी सरिता खानचंदनी से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि मैने इस बारे मनपा व प्रदूषण विभाग से संपर्क किया था और आकर पंडाल का निरीक्षण करने की बात कही जिससे सच सामने आ जाता उसके बाद जो कार्यवाई करनी थी वह करते लेकिन किसी ने कुछ भी रिप्लाई नही दिया मेरा ऐसा मानना है इस बात की जानकारी सभी को है बस वो सब कार्यवाई करने की बात आती है तो कहते है हमे पता ही नही था यह सबका रटा रटाया जवाब रहता है !
    बता दे कि महाराष्ट्र सरकार ने प्लास्टिक व थर्माकोल पर पूरी तरह से इस्तेमाल करने पर पाबंदी लगाई हुई है और इसका इस्तेमाल करने वालो पर शक्त कार्यवाई करने के लिए मनपा व प्रदूषण नियंत्रण विभाग को जिम्मेदारी दी गई है, उसके बादजूद भी इनकी नाक के नीचे ही यह कारोबार फलफूल रहा है जिसका एक उदाहरण सामने है !
  • नशे में धुत दो लड़कियों ने कल्याण स्टेशन के बाहर किया कहर !

    By fast headline india →
    नशे में धुत दो लड़कियों ने कल्याण स्टेशन के बाहर किया कहर ! 

    फुटपाथ पर लगी पान की दुकान में किया तोड़फोड़ दुकान से किया गाली गलौच !

     पुलिस ने किया गिरफ्तार, नोटिस देकर माँ बाप के किया हवाले !

     कल्याण -कल्याण जहाँ पूरा महाराष्ट्र गणपति विसर्जन में जुटा था पुलिस प्रशासन इसे निर्विघ्न संपन्न कराने में पूरी तरह से जुटी थी ऐसे माहौल में कल्याण स्टेशन परिसर की एक घटना सुर्खियों में आ गई है, वीडियो में दिख रहा है कि रात में नशे में धुत दो लड़कियो ने स्टेशन परिसर में जमकर उत्पात मचाते हुए फुटपाथ पर सिगरेट पान की दुकान को अपना निशाना बनाया और जमकर  तोड़फोड़ किया और गाली गलौज किया वही पर खड़े किसी ब्यक्ति ने इस घटना का वीडियो बनाया शोसल साइड पर डाल दिया देखते देखते यह पूरी सोशल मीडिया की सुर्खिया बन गई है।
     सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  हंगामा करने वाली लड़किया किसी रसूखदार परिवारों की  बताई जा रही है। कल्याण स्टेशन परिसर रात में नशे में  धुत दो लड़की एक पान टपरी पर दुकानदार से बहस कर रही है। बहस के दौरान यह लड़की दुकानदार को भद्दी भद्दी गालियां दे रही है। थोड़ी देर बाद दुकानदार के बार-बार मना करने के बावजूद लड़की अपना आपा खो देती है। पान टपरी के दुकान पर रखे समान को नीचे गिरा देती है। यह दोनो लड़की दुकानदार से बीच सड़क पर सिर्फ बहस नही कर रही बल्कि उसे जमकर गालिया दे रही है। थोड़ी देर बाद घटना स्थल पर पुलिस पहुंची। दोनों लड़कियों को हिरासत में ले लिया गया। पुलिस के मुताबिक हंगामा करने वाली लड़की डोंबिवली शहर की बताई जा रही है।  माता पिता के पैसों के दम पर इस लड़की को थोड़ा भी एहसास नही है कि यह क्या कर रही है। बिना किसी कानून के डर के  नशे में धुत होकर रात के देर रात बीच सड़क पर यह लड़की दुकानदार के साथ मारपीट कर रही है । थोड़ी देर बाद घटना स्थल पर पहुची  पुलिस ने दोनों को नोटिस देकर उनके उनके मां-बाप के हवाले कर दिया है। बता दे की भिवंडी से कल्याण आते वक्त उसने  अपने सहेली के साथ जमकर शराब पी फिर उसे सिगरेट की तलब थी । एक सिगरेट की चाह में वह कल्याण स्टेशन पहुची और स्टेशन के सामने लगी पान टपरी वाले से सिगरेट मागा लेकिन दुकानदार ने सिगरेट देने में थोड़ा आना कानी क्या कर दी फिर तो उसकी सामत शुरू हो गई और शराब के नशे में धुत लड़की ने जमकर हंगामा करते हुए फुटपाथ पर लगी दुकान में जमकर तोड़फोड़ किया और दुकानदार को गाली गलौज किया है। इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आए जब नशे में धुत लड़कियों ने जमकर उत्पात मचा है !
  • साई पार्टी की बागी नगरसेविका को शिवसेना बनाया अपना महापौर पद का उम्मीदवार ! सत्ता धारियों की फुट का फायदा उठाने की जुगत में शिवसेना !

    By fast headline india →
    साई पार्टी की बागी नगरसेविका को शिवसेना बनाया अपना महापौर पद का उम्मीदवार ! 

     राज्य के दो मंत्रियों की प्रतिष्ठा लगी दांव पर ! 

     काटे की टक्कर होने की उम्मीद !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में महापौर पद चुनाव में शिवसेना ने साई पार्टी की ज्योति भटिजा को अपना उम्मीदवार बनाकर सत्ताधारी के गठबंधन में सेंध लगाकर सबको हैरान कर दिया है इसको देखते हुए यह महापौर चुनाव काफी हंगामेदार होना तय माना जा रहा है ! वही भाजपा की तरफ से ओमी कलानी व डिम्पल ठाकुर ने अपना नामांकन भरा है ! 
    गौरतलब हो कि यह कयास पहले से ही लगाया जा रहा था कि साई पार्टी के सात नगरसेवक इस महापौर चुनाव में पार्टी से बगावत करने वाले है,उसी का फायदा शिवसेना लेने के लिए जुटी है और साई पार्टी के बागी ज्योती भटिजा नगरसेविका को अपनी पार्टी की तरफ से महापौर पद के उम्मीदवार के रूप में उतारा है, शिवसेना की इस चाल से भाजपा साई पार्टी के गठबंधन को बड़ा झटका लगा है ,अब भाजपा से कोई फुटकर उधर न जाय इस लिए सभी नगरसेवकों एक साथ सबको पिकनिक के लिए बाहर भेज दिया गया है यह सब चुनाव के दिन यानी 28 सितम्बर को शहर में आएंगे तो वही शिवसेना ने भी अपने सभी नगरसेवकों व सहयोगियों को भी पिकनिक पर लेकर गई है ताकि उनमें से कोई खिसक न जाय इस लिए सभी पार्टियों अपने अपने नगरसेवकों पर नजर बनाए रखने का जुआड किया है, बहरहाल 28 सितम्बर का ताज किसके माथे पर सजता है यह देखने के लिए शहरवासियों को अभी इंतजार करना होगा और कौन बिकता है कौन खरीदता है यह सब भी उसी दिन सामने आएगा किस जुआड कामयाब हुआ और किसका जुआड हुआ फेल सब 28 को चुनाव के बाद साफ हो जाएगा ! राजनीती में "शह और मात" के इस खेल में कालानी को पटखनी देने के लिए राजनीतिक प्रयास किया जा रहा है बावजूद उनका तीर बार-बार फेल होता जा रहा है, साईपक्ष के 7 नगरसेवकों को जीवन सहित सत्तापक्ष के खिलाफ बगावत के मूड में आ गए है।आगामी 2019 में होने वाले लोकसभा व विधानसभा चुनाव में शिवसेना-भाजपा का यदि गठबंधन नही हुआ तो कल्याण लोकसभा सीट पर शिवसेना सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे के सामने भाजपा के राज्य मंत्री रविन्द्र चौहान चुनावी अखाड़े में उतर सकते है,इसी बीच यदि उमपा में शिवसेना का महापौर बना तो इसका सीधा फायदा लोकसभा व विधानसभा चुनाव में देखने को मिलेगा,देखा जाए तो वरिष्ठ नेताओं के लिए महापौर पद बहुत छोटा है परन्तु इसी महापौर पद पर दो बड़े चुनाव भी डिपेंड करते है इसलिए भाजपा-शिवसेना दोनो नेता उमपा के महापौर सीट पर परचम लहराने के लिए साम-दाम-दंड-भेद की नीतियां अपनाने में कोई-कोर कसर नही छोड़ना चाहते है।
  • उमपा का अधिकारी कर रहा अवैध बाधकांमो में पार्टनशिप ? उमपा आयुक्त की कार्य प्रणाली शक के दायरे में !

    By fast headline india →
     उमपा का अधिकारी कर रहा अवैध बाधकांमो में पार्टनशिप ? 

     अवैध आरसीसी निर्माण में लगा रहा अपनी काली कमाई का पैसा ! 

     शहर में बन रहे बिंदास अवैध निर्माण !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक अनोखी सांठगांठ देखने में सामने आ रहा है जिसका नतीजा शहर में खुलेआम अवैध आर सी सी निर्माण बनाये जा रहे है ऐसे ही कुछ मामलों में चौकाने वाला मामला सामने आया कि ज्यादातर अवैध निर्माणों में मनपा के अधिकारी की पार्टनर शिप है यही कारण है कि शहर में बिना रोक टोक के अवैध आरसीसी निर्माण खुलेआम बन रहे है ! ऐसा ही एक निर्माण लालचक्की चौक पर भवानी स्वीट के पीछे बन रहे दो महले का आरसीसी अवैध निर्माण है जिसमें उसी अधिकारी का पैसा लगा है ऐसा विश्वसनीय सूत्रों से जानकारी मिली है,इस पर अभी तक मनपा प्रभाग के चार नम्बर  के द्वारा किसी तरह की कोई कार्यवाई नही होने के पीछे यही एक कारण है ! 
    जब से मनपा के आयुक्त गणेश पाटील इन्होंने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए गणेश शिंपी को प्रभारी चार्ज देते हुए अवैध बांधकाम विरोधी पथक के प्रमुख पद दिया है तभी से शिंपी के इस पद पर आते ही शहर में कई जगहों पर अवैध निर्माण जोरो पर शुरू है उसमें उल्हासनगर -1 के चेलाराम मार्केट,में आर,सी,सी,अवैध निर्माण तो दूसरा बॅरेक नं 335 में दो महले का अवैध कमर्शियल बांधकाम सुरू है , उल्हासनगर - 2 के टेलिफोन एक्सचेंज के पास की रोड़ पर उपमहापौर के निवास स्थान के पास एक अवैध आर सी सी अवैध बांधकाम सुरू है .  उल्हासनगर -2 के गोलमैदान के सामने के एफसी फूड के बगल में अवैध आर,सी,सी व्यावसायिक बिल्डिंग का निर्माण शुरू हुआ है. उल्हासनगर -3 के पवई चौक के पास  एक जिम सेंटर के बगल में , उल्हासनगर -4  के सतराम दास हॉस्पिटल के बगल , उल्हासनगर -4 के लाल चक्की चौक, भवानी स्वीट के पीछे, उल्हासनगर -5 में वजन माप कार्यालय के पास , उल्हानगरात - 5 के कैलास कॉलनी चौक में इन जगहों पर खुलेआम आम अवैध निर्माण को अंजाम दिया जा रहा है . मनपा आयुक्त की भूमिका भी अब संदेह के घेरे में आ गई है,आखिरकार कौन वह अधिकारी है जो अवैध निर्माण को न सिर्फ संरक्षण दे रहा है बल्कि अवैध बाँधकामो में अपना पैसा लगाकर उसे बनवा भी रही है अब सवाल यह है कि जब कार्यवाई करने वाले अधिकारी ही अवैध बाँधकामो में पार्टनर शिप करने लगे है ऐसे में मनपा प्रशासन पर उंगलिया उठना स्वाभाविक है !
  • गाय के मालिक के विरुद्ध शिकायत नही करवाने पर साले ने किया अपने जीजा की हत्या !

    By fast headline india →
    गाय के मालिक के विरुद्ध शिकायत नही करवाने पर साले ने किया अपने जीजा की हत्या !

    गाय के धक्का देने से जुड़ा है पूरा मामला !

    अंबरनाथ -अंबरनाथ में एक गाय ने एक ब्यक्ति को धक्का मार दिया था इस पर उसकी शिकायत नही करने की रंजिश को मन में रखते हुए जेम्स फ्रान्सिस इन्होंने अपने जीजा का खून करने का मामला सामने आया है यह पूरा मामला अबरनाथ के जावसई इलाके में हुआ है .        पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अंबरनाथ ( प ) के जावसई के वाघवाडी परिसर में फिलोमीना राजेश शर्मा ( 34 ) यह अपने पती राजेश शर्मा इनके साथ रहती थी ,इसी परिसर में फिलोमीना के भाई और राजेश का साला जेम्स मॅथ्यूज फ्रान्सिस( 38 ) यह अपनी पत्नी के साथ रहते है . 21 सितम्बर को रात में जब जेम्स अपनी पत्नी के साथ रोड़ से घर की तरफ जा रहा था तभी एक गाय ने उसे धक्का मार दिया था . इस घटना के समय राजेश शर्मा भी उस जगह पर उपस्थित थे, तब साले ने गाय के मालिक के विरुद्ध दर्ज कराने के लिए अपने जीजा राजेश को बोला कि पुलिस में जाकर शिकायत दर्ज कराए परंतु गाय के मालीक राजू के विरुध्द राजेश ने पुलिस में शिकायत दर्ज नही कराया . इसी बात की रंजिश को मन में रखते हुए रात में 9 बजे जेम्स और अपने 3 दोस्तों के साथ मिलकर राजेश शर्मा के घर मे घुस कर लड़की के दंडो और लादी के टुकड़ों से उसके सर पर हमला करके बुरी तरह से पिटाई किया इस हमले में गंभीर रूप से घायल राजेश का ईलाज करने के लिए अस्पताल लेकर आये वहाँ पर ईलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई है. इस मामले में अंबरनाथ पुलिस हत्या का मामला दर्ज किया है. और आरोपियों की तलाश में जुट गई है! एक गाय की टक्कर मारने के चलते अपने जीजा का मर्डर करने का अनोखा मामला सामने आने से लोग भी सदमे में है !
  • टीवी अभिनेत्री की हुई फेसबुक पर दोस्ती फिर हुआ रेप !

    By fast headline india →
    टीवी अभिनेत्री की हुई फेसबुक पर दोस्ती फिर हुआ रेप ! 

    मुंबई में दर्ज कराई अभिनेत्री ने शिकायत ! 

     मुंबई-मुंबई की फेमस टीवी एक्टर के साथ राजस्थान के अलवर के होटल में रेप होने का सनसनीखेज मामला सामने आया है, इस मामले में 22 वर्षीय टीवी अभिनेत्री ने एक शख्स के खिलाफ बलात्कार करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया है. अभिनेत्री की माने तो आरोपी उसे घुमाने के बहाने नीमराणा लाया था. इस दौरान उसके साथ रेप किया गया. मामला सामने आने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है. पीड़ित अभिनेत्री के मुताबिक आरोपी से उसकी दोस्ती फेसबुक पर हुई थी. जिसके बाद उसकी दोस्ती धीरे-धीरे बढ़ने लगी. युवती के मुताबिक दोस्ती के बाद युवक ने शादी का झांसा देकर वह व्यक्ति उसे घुमाने के बहाने नीमराणा लाया और उसके साथ रेप किया. घटना के बाद अभिनेभी ने इस संबंध में मामला थाने में दर्ज कराया है. मामला सामने आने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है. पुलिस नोटिस देकर बयान दर्ज करवाने के लिए पीड़िता को बुलाएगी. मुंबई के अंधेरी स्थित ओसीवीरा पुलिस थाना से जीरो एफआईआर कट कर डाक से नीमराणा थाने पर आई है. पुलिस ने आईपीसी की धारा 376 और 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. एफआईआर में पीड़िता ने खुद के बारे में बताया है कि वह टीवी सीरियल और विज्ञापनों में काम करती है. पीड़िता ने जिक्र किया है कि पिछले आठ महीने से वह मुंबई में किराए पर रह रही है. वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के लखनऊ की रहने वाली है. FIR में बताया गया कि वह 2014 में पढ़ाई के लिए मुंबई आई थी !
  • नाबालिग बच्ची से छेड़खानी के मामले में पुलिस ने किन्नर को गिरफ्तार ! दो किन्नर भागे दो को पब्लिक ने की धुनाई !

    By fast headline india →
    नाबालिग बच्ची से छेड़खानी के मामले में पुलिस ने किन्नर को गिरफ्तार !

     दो किन्नर भागे दो को पब्लिक ने की धुनाई !

     घर मे घूंस कर नाबालिग से छेडछाड का है मामला ! 

     मुंबई -मुंबई से अपने आप में एक चौकाने वाला मामला सामने आया है मुंबई के वेस्टन रेलवे के कांदिवली पश्चिम के एकतानगर की आनंदीबाई केनी चाल में अकेली नाबालिग बच्ची के साथ चार किन्नरों ने उसके घर मे घूस कर छेड़खानी व अश्लीलता करने की कोशिश कर रहे थे, तभी बच्ची के चिल्लाने की आवाज सुनकर आस-पास के लोगों ने जब बच्ची को बचाने पहुचे वो भौचक्के रह गए चार किन्नर बच्ची के साथ यह कारनामा किया जा रहा था उसके बाद मदद के लिए पहुचे लोगो ने उनके पकड़े की कोशिश किया तो दो भाग गए जब कि दो को लोगो ने पकड़ा पहले की धुनाई फिर किया पुलिस के हवाले !  गौरतलब हो कि कांदिवली के आनंदीबाई केनी चाल की झोपडपट्टी में गुरुवार को चार किन्नर भीख मांग रहे थे. ऐसे में इन किन्नरों की नजर एक घर पर पड़ी, उस घर में एक नाबालिग छोटी बच्ची अकेली खेल रही थी, अकेली बच्ची को देखकर ये लोग जबरदस्ती उसके घर में घूस गए और अंदर से दरवाजा बंदकर बच्ची के साथ छेडखानी करने लगे, ऐसे में बच्ची के चिल्लाने पर आस-पड़ोस के लोग इकट्टा हो गए, भीड़ को आते देख चार किन्नरों में से दो भागने मे कामयाब हो गए और दो किन्नरों को स्थानीय लोगो ने पकड़ लिया पहले पब्लिक ने जमकर धुलाई किया फिर इन्हें चारकोप पुलिस के हवाले कर दिया ! फिलहाल चारकोप पुलिस दोनों किन्नरों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज करके फरार हुए दोनो किन्नरों की तलाश में जुट गई है ! वैसे यह अपने आप में पहला अनोखा मामला देखने में आया है जहाँ पर ऐसे आरोप में किन्नरों का भी समावेश हो रहा है !
  • बारबालाओं को रोड़ पर हुआ संग्राम ! श्रीराम चौक पर आए दिन होता है लफड़ा !

    By fast headline india →
    बारबालाओं को रोड़ पर हुआ संग्राम ! 

    पुलिस ने क्रॉस कम्प्लेन दर्ज कर, पेनाल्टी भरकर सभी बारबालाओं छोड़ा !

    अवैध डांस बार की वजह से श्रीराम चौक पर आए दिन होता है लफड़ा !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के श्रीराम चौक परिसर में कई आर्केस्ट्रा बार की आड़ में डांस बार चलाया जा रहा है यही कारण है इस चौक पर आए दिन कुछ कारणों को लेकर मारामारी होने की घटनाएं आती रहती है इसी कड़ी में दो दिन पहले इसी चौक के एंजल आर्केस्ट्रा बार में ग्राहकों को लेकर दो बारबालाओं में होटल अन्दर ही मारपीट हुआ था उसी में से एक बारबाला ने यह बात अपनी बड़ी बहन को बताई तो उसकी बड़ी बहन ने अपनी पांच से छः दोस्त बारबालाओं को बीती रात को दस बजे के करीब जैसे ही वो लोग एंजल बार से बाहर बारबालाएं बाहर आई तो इन लोगो ने उनपर रोड़ पर हमला बोल दिया यह देखकर बड़ी मात्रा में भीड़ भी जमा हो गई थी जैसे इस मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को मिली तो घटना स्थल पर पहुँचकर बीच बचाव करके सभी को हिरासत में लेकर पुलिस स्टेशन ले आई पुलिस ने दोनों के विरुद्ध क्रॉस कम्पलेन किया और बाद में पेनाल्टी भरकर सब को छोड़ दिया ! 
    बता दे कि श्रीराम चौक परिसर में पांच से छः आर्केस्ट्रा बार के लायसन्स की आड़ में डांस बार चलाया जा रहा कई बार पुलिस के कार्यवाई में यह खुलासा भी हुआ है कि ग्राहकों को लुभाने के नाम पर बार में अश्लील डांस किया जाता है ताकि बार को अच्छी आमदनी हो लेकिन बार में पैसे लुटाने के चक्कर में बारबालाओं के बीच रोड़ पर मारा हो रही है कल हुए मामले ने यह साबित कर दिया है, अभी कुछ दिन पहले ही एप्पल बार मे तीन बारबालाओं ने होटल के मालिक रत्नेश अन्ना व मैनेजर धीरज पर हमला किया था होटल के मालिक की शिकायत पर पुलिस ने तीनों बारबालाओं के खिलाफ 324 के तहत मामला दर्ज करके गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था,आये दिन इस चौक पर एक न एक मामला सामने आ रहा है, पुलिस को इन बारो पर कड़ी कार्यवाई करने की जरूरत है नही वो दिन दूर नही है जब ऐसे ही झगड़ो के चलते खूनखराबा हो और किसी को अपनी जान से हाथ धोने की नोबत आये उससे पहले कानून को इन सबको सबक देंते हुए इस तरह के मामले को रोकना होगा !उल्हासनगर में चाँदनी बार,आँचल पैलेस, श्री राम चौक परिसर में 90 डेज,100 डेज,गोल्डन बार एंजल बार एप्पल बार और कई बार है जहाँ पर हर दिन रात में खुले आम बार बालाओं के द्वारा ग्राहकों को रिझाने के लिए इस तरह से कानून की धज्जियां उठाकर अश्लील डांस होता है,कभी कभार स्थानीय पुलिस कार्यवाई भी करती है फिर भी यह कारोबार बिंदास फलफूल रहा है !
  • विधवा महिला के पड़ोसी ने पहले उसका किया अपहरण फिर दोस्तो के साथ किया बलात्कार !

    By fast headline india →
    विधवा महिला के पड़ोसी ने पहले उसका किया अपहरण फिर दोस्तो के साथ किया बलात्कार !

     पड़ोसी को पुलिस किया गिरफ्तार !

     कल्याण- कल्याण इलाके में 30 वर्षीय विधवा महिला का अपहरण कर उसके साथ चार लोगों द्वारा कथित बलात्कार का मामला सामने आया है। मालवाणी पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि घटना बीते शुक्रवार की है। ये लोग पीड़िता का अपहरण करने के बाद उसे एक आरोपी के कल्याण-गोवा नाका इलाके में स्थित घर ले गए, जहां उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया।
    आरोपियों में से दो की पहचान राजकुमार चौधरी व नागौरी चौधरी के रूप में हुई है। दो अन्य आरोपियों की पहचान होना अभी बाकी है। पीड़िता ने राजकुमार के भाई गुड्डू कुमार के खिलाफ शादी का झांसा देकर दैहिक शोषण करने की शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बारे में बात करने के लिए राजकुमार ने शुक्रवार रात उसे मालवाणी उपनगरीय इलाके में बुलाया। इसके लिए गुड्डूकुमार को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। पुलिस के मुताबिक जैसे ही पीड़िता वहां पहुंची, राजकुमार ने उसे पहले से इंतजार कर रही टैक्सी में बैठने को मजबूर कर दिया। इसके बाद उसे नागौरी के घर ले जाया गया। वहां आरोपियों ने पीड़िता से गुड्डूकुमार के खिलाफ दर्ज शिकायत वापस लेने का दबाव डाला और ऐसा न करने पर घातक नतीजे भुगतने की धमकी दी। जब महिला ने शिकायत वापस लेने से मना किया, तो चारों आरोपियों ने उसकी पिटाई करने के बाद दुष्कर्म किया। पीड़िता कुछ दिन तो चुप रही, लेकिन मंगलवार को हिम्मत जुटाकर मालवाणी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है व जांच जारी है।
  • एक साल बाद ऑपरेशन किये गए जगह से सात मीटर बैंडेज पट्टी निकले से डॉक्टरों में मचा हड़कंप ! मरीज ने डॉक्टर ऊपर लगाया गंभीर आरोप !

    By fast headline india →
     मरीज ने डॉक्टर ऊपर लगाया गंभीर आरोप ! 

     एक साल बाद ऑपरेशन किये गए जगह से सात मीटर बैंडेज पट्टी निकले से डॉक्टरों में मचा हड़कंप ! 

     डॉक्टर कि गलती से ऑपरेशन करते समय छोड़ी गई पाव मे कॉटन की पट्टी परिवार के लोगों ने किया आरोप ! 

     डॉक्टर गवाले कहा झूठा है सभी आरोप, झूठे आरोप कर रहे मरीज के विरुद्ध करूंगा मानहानी का केश ! 

     उल्हासनगर-  उल्हासनगर के एक डॉक्टर पर आरोप लगा है कि मरीज का ऑपरेशन तो कर दिया,लेकिन कॉटन कि पट्टी पाव से निकलना भूल गए, वह भी पूरे मामले का खुलासा एक साल बाद हुआ है,डॉक्टर द्वारा कि गई इस भूल से मरीज का चलना मुश्किल हो गया था , जिससे मरीज को दुबारा ऑपरेशन गुजरात के अहमदाबाद मे जाकर करवाना पड़ा है । फिर से जब ऑपरेशन किया गया तो पाव के अंदर से सात मीटर कॉटन की पट्टी निकली है , मरीज ने यह पट्टी एक साल पहले हुए डॉक्टर ने छोड़ी है ऐसा आरोप किया है। वही इस मामले में फोनिक्स हॉस्पिटल के डॉक्टर गवाले से बात किया गया तो उन्होंने सारे आरोप को सिरे से इनकार किया और कहा है वह खुद पट्टी की लैब टेस्ट करने की मांग करते ताकि सच सबके सामने आ सके और उन्होंने मरीज के खिलाफ मानहानि केश दर्ज करने की बात कही है !
     बता दे कि उल्हासनगर कैम्प 1 पोस्ट आफिस के पास रहने वाले अरुण रूपचंद धनवार अपने परिवार के साथ रहते है । एक वर्ष पहले उनके पैर मे काफी दर्द हो रहा था । इसका उपचार कराने के लिए उल्हासनगर कैम्प 4 के फोनिक्स हॉस्पिटल गए , क्यो की उसी हॉस्पिटल के लैब में उनकी लड़की काम करती थी इस लिए उन्हें लगा कि यहाँ पर हमारा ईलाज अच्छे से हो जाएगा फिर वहाँ पर डॉक्टर गवाले  ने अरुण के पाव का ऑपरेशन करने के लिए कहा गवाले के कहने पर अरुण ने दिवाली के पहले पाव का ऑपरेशन करवा लिया । 15 दिन तक अरुण अस्पताल में अपना ईलाज के लिए भर्ती थे । अरुण ने बताया कि उस समय अरुण के पाव मे डॉक्टर द्वारा कॉटन कि पट्टी बाती बनाकर डाली गई , जिससे रोज अंदर में बनने वाली मवाज को खींचकर बाहर निकाल दिया जाए । जब अरुण का ऑपरेशन किया गया उस समय तीन डॉक्टर थे और गवाले के साथ मिलकर सभी ने ऑपरेशन किया था । फिर दीवाली के एक दिन पहले अरुण को घर भेज दिया गया और फोनिक्स हॉस्पिटल से लगातार चार महीने तक पट्टी बदलने के लिए आदमी आते रहते थे और बीच मे अरुण खुद जाकर डॉक्टर को दिखाकर दवा लेकर घर आ जाते थे ,लेकिन फिर भी दर्द कम नही हुआ और पाव बल्कि भारी हो गया, फिर जख्म भी भर गया,परंतु दर्द कम नही हुआ । और यह सब में धीरे धीरे एक साल बीत गया एक महीना पहले अरुण अहमदाबाद के नाडियाड शहर में पी डी पटेल हॉस्पिटल मे दिखाने गए ,यह एक आयुर्वेदिक हॉस्पिटल है डॉक्टर ने 15 दिन दवा और मलहम देकर वापस भेज दिया और जाओ यह ठीक हो जाएगा,एक बार वापस दिखाने के लिए आ जाना । जब वापस वहा पर अरुण वापस गए तो डॉक्टर ने कहाँ कि लाओ पैर अब देखता हूँ , लेकिन पूरी तरह से सूजन कम नही हुआ था इस डॉक्टर हैरान थे , उसी जगह पर तत्काल ऑपरेशन कर दिया ,यह ऑपरेशन लगभग ढाई घंटा चला और ऑपरेशन आन कैमरा किया गया चीरा मारने के बाद डॉक्टर हैरान हो गए उसके अंदर कॉटन की साथ मीटर पट्टी निकली और दूसरे दिन ही अरुण अपने घर वापस आ गए । अरुण कि लड़की हर्षा धनवार जब उल्हासनगर के डॉक्टर गवाले को जाकर यह बात बताई की आप से गलती हो गयी है और ऑपरेशन करते समय आप लोग कॉटन की साथ मीटर पट्टी भूल गए थे जिसके कारण आज तक मेरे पिताजी का पाव ठीक नही हुआ था इस डॉक्टर गवाले ने साफ कह दिया कि तुम्हरे पिता जी ने मेरे यहाँ से कोई ऑपरेशन नहीँ करवाया तुम झूठ बोल रही हो इस पर अरुण की लड़की अचंभित रह गई कि डॉक्टर के झूठ  बोल रहा है जबकि अरुण के पास फोनिक्स हॉस्पिटल के सारे कागजात इलाज के रखे हुए है और अरुण पर सारा मामला न्यायलय मे दाखिल करने वाले है । वही पूरे मामले स्थानीय पत्रकारों ने फोनिक्स हॉस्पिटल के डॉक्टर गवाले से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि हमने उनके पैर का ऑपरेश किया था एक साल पहले उसके बाद डिस्चार्ज लेने के बाद पेशेंट एक भी बार अस्पताल में आकर मुझसे नही मिले इस दरम्यान उन्होंने किससे बाहर इलाज करवाया होगा तो उसकी मुझे जानकारी नही है,रही बात की बैंडेज पट्टी की तो एक साल तक किसी के बाड़ी में पट्टी रहती है तो उसके इन्फेक्शन से अब तक मरीज की मौत हो सकती थी या उसका पैर काटने की नोबत आ जाती है वीडियो जिस तरह से पट्टी खिंची जा रही है वह पट्टी ज्यादा से ज्यादा सात आठ तीन पुरानी दिखती है क्यो यह कॉटन की पट्टी तीन महीनों बाड़ी में डिस्ट्रॉय होना स्वाभाविक है और उसका इंफेक्शन सामने आ जाना चाहिए, ऐसा गवाले कहा है उन्हें यह भी कहा कि पट्टी की सरकारी लैब में टेस्ट कराया जाना चाहिए ताकि सच बाहर आ सके जो भी दोशी हो उसपर कार्यवाई हो रही मेरे ऊपर किये झूठे आरोप का तो उसके किये हम मरीज के ऊपर मानहानी का केश करने वाले है ! वही इसमें एक कड़ी सामने और आया है हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के बाद आलम नामक ब्यक्ति घर पर आकर पट्टी करता था और अनिल करके डॉक्टर है इन्होंने भी घर पर अरुण का ईलाज किये जाने की जानकारी सामने आई है ऐसे में क्या वह पट्टी इनलोगो के इलाज के दौरान तो नही छोड़ी गई है ऐसा एक बड़ा सवाल है क्यो की अरुण जिस आलम से घर पर अपना पट्टी बदलवाते थे उसके पास इस काम को करने का कोई इस्पीरियन्स नही है न उसको इस काम की कोई कोर्स नही किया है ऐसा खुद पत्रकारों आलम ने ही बताया है, डॉक्टर अनिल जो अब कही दूसरी जगह काम कर रहे है इस लिए उनसे मुलाकात नही हो पाया है,ऐसे इस कड़ी का किरदार क्या था वह तो आने वाले समय पर सामने आएगा जब यह जांच कानूनी प्रक्रिया के द्वारा किया जाएगा !बहरहाल इस मामले का सच का पूरे शहरवासियों को इंतजार रहेगा क्यो की दोनो पक्ष एक दूसरे पर आरोप कर रहे है,मामले का सच क्या है यह एक बड़ा सवाल है ?
  • भावी महापौर पंचम कलानी के विरुद्ध दाखिल हुई जनहित याचिका हुई रद्द ! भाजपा उपाध्यक्ष ने पार्टी के अनुसाशन उड़ाई धज्जियां !

    By fast headline india →
    भावी महापौर पंचम कलानी के विरुद्ध दाखिल हुई जनहित याचिका हुई रद्द ! 

    भाजपा उपाध्यक्ष ने पार्टी के अनुसाशन उड़ाई धज्जियां !

    अपनी ही पार्टी के भावी महापौर के विरुद्ध दाखिल की  थी याचिका !

     उल्हासनगर - उल्हासनगर की भावी महापौर पंचम कलानी के विरुद्ध भाजपा के पदाधिकारी के दाखिल की गई जनहित याचिका को उच्च न्यायालय ने रद्द कर दिया है .भावी महापौर पंचम कलानी इनकी शादी से जुड़े मुद्दे को उपस्थित करते हुए उनको महापौर पद दिया नही जाए ऐसी शिकायत याचिकाकर्ता के द्वारा उपस्थित किया था .     
    पूर्व महापौर मीना आयलानी इनके राजीनामा देने के बाद रिक्त हुए पद पर सत्ताधारी भाजपा- टी ओ के -और साई पक्षा की तरफ से टी ओ के की तरफ से पंचम कलानी को महापौर पद का दावेदार बनाया गया है , परन्तु शहर के भाजपा उपाध्यक्ष कमल भाटिजा इन्होंने पंचम कलानी के विरोध में जनहित याचिका दाखिल किया था , इस याचिका में पंचम कलानी व ओमी कलानी की दुसरी पत्नी है और ओमी कलानी इन्होंने अभी भी पहली पत्नी को तलाक नही दिया है इस लिए दूसरी शादी गैरकानूनी है ऐसा मुद्दा कमल भटिजा इन्होंने उपस्थित करते हुए यह जनहित याचिका दाख़िल किया था .परंतु उच्च न्यायालय ने यह याचिका को आज रद्द कर दिया है .       कमल भटिजा यह भाजपा में होते हुएभी उन्होंने अपने मित्र पक्ष पार्टी महापौर पद की उम्मीदवार के विरुद्ध याचिका दाखिल करने के चलते शहर में उलट सुलट चर्चा शुरू है . पूर्व महापौर मीना आयलानी जिन्होंने सवा साल के कार्यकाल के टर्म मित्र पक्ष की पार्टियों से समझौता के अनुसार महापौर पद दिया गया था . उनका कार्यकाल समाप्त होने के बाद भी वह राजीनामा देने में आनाकानी कर रही थी .परंतु भाजपा हाई कमान के आदेश मिलने के बाद दो हप्ते पहले ही राजीनामा देना पड़ा है . भटिजा यह मीना आयलानी के भाई है और कलानी के कट्टर राजकीय विरोधक है इस लिए कलानी परिवार को महापौर पद न मिले इस लिए इस तरह से उन्होंने तैयारी करके इस तरह की राजनीति दांव खेलने की एक कोशिश थी ऐसी शहर में चर्चा शुरू है .       मित्र पक्ष की पार्टी महापौर पद के विरुद्ध भाजपा के पदाधिकारी न्यायालय में जाते है पार्टी में अनुसाशन नामक चीज है क्या ऐसा सवाल भी उपस्थित हो रहा है ? जब इस विषय में पत्रकारों ने भाजपा शहराध्यक्ष कुमार आयलानी से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि यह बात हमें पता नही है अभी आप लोगो के जरिये यह हमें मालूम पड़ा है इस बारे में मै अपने पार्टी के वरिष्ठों को बताता हूं वह जो कार्यवाई करने का आदेश देगे उस तरह की कार्यवाई किया जाएगा !
  • आज मचेगी चालिहा मंदिर में धूम,भक्तों को अपना आशीर्वाद देने आज पधारेंगी ममतामयी राधे माँ !

    By fast headline india →
    आज मचेगी चालिहा मंदिर में धूम,भक्तों को अपना आशीर्वाद देने आज पधारेंगी ममतामयी राधे माँ ! 

    शाम 7 बजे होगा आगमन !


    उल्हासनगर-उल्हासनगर में सिंधी समाज के इष्टदेवता श्री झूलेलाल भगवान के चालिहा महाब्रत के समापन होगा। लाखों श्रदालू मटकी उठाकर मंदिर में धूम मचाएंगे। चालिहा महाब्रत की समाप्ति पर शहर के कई गणमान्य लोग, राजनेता, संत और महात्मा आकार भगवन झूलेलाल जी का दर्शन करते है ।  इस बार चालिहा महाब्रत के समापन समारोह मेंं संघर्ष सामाजिक संस्था के अध्यक्ष पंजू बजाज के विनती पर धर्म गुरु ममतामयी राधे माँ चालिया मंदिर में माथा टेकने आएंगी और अपने भक्तों को आशीर्वाद देंगी । 
    आप सभी भक्तों से निवेदन है कि जिनको भी माता के दर्शन करने है टाइम अनुसार मंदिर में पहुँच जाए। अन्य जानकारी के लिए संपर्क करे:
     हितेश भगतानी: 8655881139
     विजय पाटिल :   9322594990
     दिनेश करमचंदानी: 9370122192
     अंसारी :                9156756564
     रॉकी शर्मा :           9028677818
  • चैतन्य अस्पताल में ईलाज के दौरान आठ साल की बच्चे की हुई मौत ! पिता ने लगाया गलत ईलाज करने का आरोप !

    By fast headline india →
    चैतन्य अस्पताल में ईलाज के दौरान आठ साल की बच्चे की हुई मौत ! 

    डॉक्टरों के गलत ईलाज की वजह से हुई बच्चे की मौत,लड़के पिता ने लगाया अस्पताल पर लगाये गंभीर आरोप ! 

    डोंबिवली-डोंबिवली के एक प्राइवेट अस्पताल में आठ वर्षीय बच्चे की ईलाज के दौरान मौत होने का मामला सामने आया है ,लड़के परिवार वालो अस्पताल के डॉक्टरों पर लापरवाही व गलत ईलाज करने की वजह से बच्चे की मौत होने का आरोप किया है !
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार डोंबिवली में रहने वाले रबी पाटिल अपने बच्चे संदेश पाटिल को तिलकनगर के चैतन्य हॉस्पिटल में दिखाने गए उस समय बच्चे को अपेंडिस की शिकायत होने की बात सामने आई अस्पताल के डॉ, एस खाडिलकर ने परिवार को पहले सिटी स्कैन कराने को कहा उसके बाद बच्चे की सिटी स्कैन की रिपोर्ट आई उससे अपेंडिस है यह सामने आने के बाद बच्चे को अस्पताल में भर्ती किया गया रविवार की सुबह 11 बजे बच्चे के अपेंडिस का ऑपरेशन डॉ, खाडिलकर व उनके भाई प्रभाकर खाडिलकर के द्वारा किया गया डॉक्टर ऑपरेशन सक्सेज फूल होने की बात परिवार के लोगो को बताई फिर 10,से 15 मिनट बाद डॉ, प्रभाकर खाडिलकर आकर बच्चे के परिवार वालो को कहा कि बच्चे की हार्ट बिट बंद हो गया है और बच्चे की मौत हो गई है,बच्चे के परिवार वालो यह समझ नही आ रहा था आखिरकार 10 मिनटों में ऐसा क्या हो गया कि बच्चे की डेथ हो गई जरूर बच्चे के ऑपरेशन करने में डॉक्टरों कोई बड़ी लापरवाही की है जिसकी वजह से बच्चे की मौत हुई है ऐसा आरोप संदेश के पिता रवीं पाटिल ने किया है, जो बच्चा कल तक हस खेल रहा उसका एक नार्मल अपेंडिस के ऑपरेशन की वजह से मौत कैसे हो सकता है, लड़के पिता ने डोंबिवली के रामनगर पुलिस स्टेशन में चैतन्य हॉस्पिटल व डॉक्टर एस खाडिलकर के शिकायत दर्ज करा कर बच्चे की आन कैमरा पोस्टमार्टम करने का मांग किया है ताकि बच्चे की मौत की सही वजह सामने आए और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाई हो ऐसा लड़के पिता ने कही है ! पुलिस ने एडीआर दाखल करके मामले की पीएम रिपोर्ट आने के बाद कार्यवाई करने की बात कह रही है ! इस पूरे मामले चैतन्य हॉस्पिटल के डॉक्टर एस खाडिलकर से फोन पर बात करने की कोशिश किया गया परंतु वह फोन पर बात करने के लिए सामने नही है इस अस्पताल का पक्ष सामने नही आ सका है !
  • टीओके अध्यक्ष ने अनाथ आश्रम को दो महीने का राशन किया दान !

    By fast headline india →
    टीओके  अध्यक्ष  ने अनाथ आश्रम को दो महीने का राशन किया दान ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर गणपति उत्सव की चारो तरफ धूम है,उल्हासनगर के गणपति के दर्शन करने हेतु नासिक के त्रयम्बकेश्वर आधार तीर्थ अनाथ आश्रम के अध्यक्ष अपने बच्चों के साथ यहाँ आये है, यह अनाथ आश्रम बिना सरकारी अनुदान के चलाया जा रहा है इसमें महाराष्ट्र के किसान जो आत्महत्या कर लेते है ज्यादा तर उनके बच्चे है जिन्हें संस्था के द्वारा पढ़ाने व रहने खाने की मुफ्त सेवा प्रदान किया जाता है,टीओके के अध्यक्ष ओमी कलानी व उनके परिवार के द्वारा इस अनाथ आश्रम को पूरे दो महीनों का राशन दान स्वरूप में भेंट किया है ! इससे पहले केरल के बाढ़ ग्रस्त लोगों की मदत के लिए बड़ी धन राशी व खाने पीने की सामग्री का दान कर चुके है !
    अनाथ आश्रम के अध्यक्ष ने कलानी परिवार आभार ब्यक्त किया इस कार्यक्रम के दौरान आश्रम के सभी बच्चों के अलावा विशेष रुप से उपस्थित रही रांकपा विधायिका ज्योती पप्पू कालानी, युथ आइकॉन ओमी कालानी, पंचम ओमी कालानी, सीमा कालानी, पितु राजवानी, संतोष पांडे, कमलेश निकम, सूंदर मुदलियार, सनी तेलकर, महेश आमेसर, हरदीप सिंग, सिंटू राय, सोनू शेख, कमल यादव, नरेश सालवे एवं टीओके सभी पदाधिकारी उपस्थित थे !
  • राज्य सरकार के आदेश को उमपा के सभी नगगरसेवको ने दिखाया ठेंगा ! स्वच्छ भारत अभियान की प्रतिज्ञा लेने से किया इनकार !

    By fast headline india →
    राज्य सरकार के आदेश को उमपा के सभी नगगरसेवको ने दिखाया ठेंगा !

     स्वच्छ भारत अभियान की प्रतिज्ञा लेने से नगरसेवको किया इनकार !  

      प्रशासन की लापरवाही की वजह से शहर हुआ गंदा ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर की महासभा में स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत स्वच्छता के विषय मे प्रतिज्ञा लेने के लिए प्रशासन ने नगरसेवक से विनती किया था परंतु नगरसेवकों ने महासभा में शपथ लेने से सीधा मना कर दिया उनका आरोप है कि शहर के गटर,  शौचालय ,कचरो की साफ सफाई की समस्यो का अंबार होते हुए हम लोग यह प्रतिज्ञा कैसे ले सकते है ऐसा स्पष्ट कहा है.      बता दे कि  15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक यानी महात्मा गांधी जयंती तक स्वच्छ भारत अभियान को गति देने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इनके द्वारा पिछले 4 सालों से प्रयास किया जा रहा है ,इसी मिशन को आगे बढ़ाते हुए देश के एक भाग के रूप स्थानीय लोक प्रतिनिधी को स्वच्छता करवाने की जिम्मेदारी की प्रतिज्ञा लेने का आदेश राज्यशासन के द्वारा दिया गया है . शनिवार की मनपा की महासभा में मुख्य स्वच्छता निरीक्षक विनोद केणे इन्होंने स्वच्छता की बचन बद्धता पर प्रतिज्ञा मेरे साथ ली जिये ऐसे विनती किया तभी सभी पार्टियों के नगरसेवको ने यह प्रतिज्ञा लेने का विरोध किया उसमें भाजपा नगरसेवक भी शामील थे.    सब ने कहा कि हमारे प्रभाग के शौचालय की अवस्था बहुत ही खराब है , शौचालय में दरवाजे नही है जिसके चलते महिलाओ को दरवाजा की जगह पर ओढ़नी नही तो दूसरे कपड़े टांगना पड़ता है, यही नही शौचालयो में पानी की भी ब्यवस्था नही है, लोगो को अपने घरों से पानी लाना पड़ता है लोगो की अनेक शिकायतें मिलने के बाद भी प्रशासन उस पर ध्यान नही देता है .ऐसे में सिर्फ प्रतिज्ञा लेकर उसका क्या फायदा ,प्रशासन स्वतः ही बेजबाबदार है और हमें प्रतिज्ञा लेने को कहती है ? ऐसा सवाल शिवसेना नगरसेवक अरुण आशान इन्होंने  उपस्थित किया था .       महानगरपालिका के मुख्यालय में बने मुतारी शौचालये की स्थिती कितनी दयनीय है कितनी बदबूदार है ,यही नही सभ अधिकारी और कर्मचारियो के कार्यालय में खुलेआम प्लास्टिक बोतलों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसको देखकर यह लगता है कि प्रशासन खुद ही स्वच्छ भारत अभियान की धज्जियां उड़ा था है ऐसा आरोप शिवसेना नगरसेवक राजेंद्र चौधरी इन्होंने किया है .हम लोगो ने शुरुआत से ही स्वच्छ भारत अभियान में प्रत्यक्ष शामील होने के बाद भी प्रशासन की सक्रियता कही दिखाई नही देता है ऐसा आरोप भाजपा नगरसेवक जमनु पुरुसवाणी इन्होंने किया है . विठ्ठलवाडी पुलिस स्टेशन के पास एन सी टी विद्यालय के पास ही हमेशा एक ड्रेनेज का चेंबर है जो आये दिन भर कर उसका गंदा पानी पूरे रोड़ पर बहता जिसके चलते बदबूदार माहौल बन जाता है , विद्यालय के विद्यार्थी और उनके परिवार के लोगो को मजबूरी में उसी गन्दे पानी से जाने को मजबूर है इसके लिए जिम्मेदार कौन है ऐसा सवाल पूछते हुए प्रशासन पर आरोप शिवसेना नगरसेविका वसुधा बोडारे के द्वारा किया गया था .  भाजपा के नगरसेवक विजू पाटील इन्होंने भी आरोप किया पिछले तीन सालों से नगरसेवको नगरसेवक निधी मिलता नही जिसके चलते मूलभूत सुविधाओं जैसे शौचालय , गटर के काम नही हो रहे है . किशोर वनवारी, डॉ प्रकाश नाथानी इन सभी भाजपा के नगरसेवको ने भी प्रशासन को खरी खोटी सुनाई और साथ आरोप किया कि प्रशासन की लापरवाही का नतीजा है हम सबको इस प्रतिज्ञा का विरोध करना पड़ रहा है.       शहर को स्वच्छ रखने की जिम्मेदारी सिर्फ प्रशासन का ही नही है इसके लिए लोक प्रतिनिधी, सर्वसामान्य नागरिक इनकी भी जिम्मेदारी होती है . नगरसेवको के किये आरोप को में पूरी तरह से इनकार भी नही कर रहा हूं परंतु सभी मिलकर प्रयाश करेगे तो शहर स्वच्छ हो सकता है ऐसा महासभा में सभी आवाहन आयुक्त गणेश पाटील इन्होंने किया था . बहरहाल इस मुद्दे में शासन के द्वारा आये निर्देश को सभी ने ठेंगा दिखाने का काम किया है !
  • चाँदनी बार में चल रहे अश्लील डांस पर पुलिस ने किया कार्यवाई,होटल के मैनेजर सहित पांच को किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    चाँदनी बार में चल रहे अश्लील डांस पर पुलिस ने किया कार्यवाई,होटल के मैनेजर सहित पांच को किया गिरफ्तार ! 

    अश्लील डांस दिखाने वाली बारबालाओं को समन देकर पुलिस ने छोड़ा !

     पवई,श्रीराम चौक परिसर के सभी बारो बिंदास चल रहे डांसबार !

     उल्हासनगर - उल्हासनगर में एक बाद एक बार की असलियत सामने आ रही है किस तरह से ग्राहकों लुभाने के लिए बारो में खुलेआम नंगा नाच होता है ऐसे ही एक मामले में विवादों में हमेशा से सुर्खियों में रहने वाले चांदनी बार में नाम मात्र के कपड़े पहन कर बारबालाए और ग्राहक ‘शिला की जवानी’ इस गाने पर अश्लील नृत्य कर रहे थे. उसी समय सेंट्रल पुलिस ने बार पर छापा मारा जिसमें होटल के मैनेजर, वेटर व तीन ग्राहकों गिरफ्तार किया है. वही अश्लील डांस करने वाली बारबालाओ को समन देकर छोड़ दिया है . यह घटना उल्हासनगर में हर दिन होती कभी कभार पुलिस प्रसाशन की इस प्रकार की कार्यवाई से होटलों में चल रहे इस गोरख धंधों का पर्दाफाश होता है,उल्हासनगर में चाँदनी बार,आँचल पैलेस, श्री राम चौक परिसर में 90 डेज,100 डेज,गोल्डन बार और कई बार है जहाँ पर हर दिन रात में खुले आम बार बालाओं के द्वारा ग्राहकों को रिझाने के लिए इस तरह से कानून की धज्जियां उठाकर अश्लील डांस होता है,कभी कभार स्थानीय पुलिस कार्यवाई भी करती है फिर भी यह कारोबार बिंदास फलफूल रहा है !
     फाइल फोटो

    उल्हासनगर शहर के कैम्प नं. तीन के १७ सेक्शन परिसर में चांदणी बार है. इस बार में फिल्मी गानों पर अश्लील डांस व अश्लील का घिनोना खेल चालू है इस जानकारी सेंट्रल पुलिस स्टेशन वरिष्ठ निरीक्षक विजय डोलय इनको मिली थी . उसी सूचना के आधार पर रात बारह उन्होंने अपने पुलिस दल के साथी स.पु.नि.अनिल भिसे, पु.उप.नि. योगेश गायकर, ए.एस.आय. तडवी इनके द्वारा पुलिस ने बार पर छापा मारा तो उस समय बार में बारबालाए व गायक ‘शिला की जवानी’ इस गाने पर छोटे कपड़े पहनकर बार में बैठे ग्राहकों के टेबल के पास जाकर अश्लील डांस कर रही थी और उनसे पैसे ले रही थी ऐसा पुलिस की कार्यवाई के दौरान देखने मे आया. जिसके बाद पुलिस ने कार्यवाई करते हुए ४ हजार ८६० रूपये नगद जप्त किया है. पुलिस के ए.एस.आय.सलिम तडवी इनकी दी गई शिकायत पर सेंट्रल पुलिस स्टेशन ने मामला दर्ज करके होटल के मैनेजर गौतम चनियाल (३३), वेटर दिलीप (२६) व ३ ग्राहक विलास, चंद्रकांत, देवेंद्र कुल पांच लोगों को गिरफ्तार किया है . वही पुलिस ने बारबालाओ को हिरासत में लेकर उन्हें समन देकर छोड़ दिया है ऐसा जानकारी पुलिस ने दी है. इस मामले की आगे की जांच पु.उप.नि. योगेश गायकर के द्वारा किया जा रहा है. यहा सवाल यह है कि क्या इस तरह की कार्यवाई से ऐसे होटल चलाने वालों पर कोई असर होता है क्या ? क्यो की कार्यवाई दूसरे दिन बाद से फिर से होटलों में वही सब बिंदास चालू रहता है क्यो की उनको पता है जो कार्यवाई होती उसमें दूसरे दिन बेल मिल जाता है जब तक कोई कड़ी कार्यवाई नही होगी जैसे कुछ साल पहले ठाणे के पूर्व पुलिस कमिश्नर यादव के समय कार्यवाई हुई थी वैसे तबतक इन धंधों पर लगाम लगा पाना पुलिस के संभव नही है जरूरत है उस पुरानी कार्यवाई के जैसे कार्यवाई की तभी ये सब पूरी तरह से बंद हो पायेगा !
  • नान सिंधीयो को शहर से निकालने की हो रही राजनीति-संजय सिंह

    By fast headline india →
    नान सिंधीयो को शहर से निकालने की हो रही राजनीति-संजय सिंह

    सेंच्युरी कंपनी के प्रस्तावित रोड़ के साथ रिंग रोड को भी किया जाय रद्द - भाजप महासचिव व टीओके कार्याध्यक्ष ने किया मांग !  

    उल्हासनगर- उल्हासनगर नियोजित विकास आराखाडा के अनुसार  सेंच्युरी कंपनी के बीच से गुजरने वाले 24 मीटर रोड़ को रद्द करने का प्रस्ताव पर कल होने वाली महासभा इस पर चर्चा करके सर्व सम्मति से पास करके शासन को भेजना है , वही इस रोड़ के साथ शहर की गोरगरीब जनता के घरों को उजाड़ने वांले रिंग रोड को रद्द किए जाने की मांग भाजपा महासचिव संजय सिंग व टीओके कार्याध्यक्ष ने संतोष पांडेय इन्होंने किया है. उन्होंने तो यहाँ तक आरोप किया कि यह नान सिंधीयो को शहर से उजाड़ने की एक सोची समझी रणनीति के तहत सब किया जा रहा है इस लिए सिर्फ सेंचुरी कंपनी के विषय को ही लाया गया रिंग रोड़ का विषय नही लाया गया है ! ऐसा सीधा आरोप संजय सिंह ने किया है
     उल्हासनगर शहर के सुधारित विकास आराखाडा 21 / 4 / 2017 को मंजूर किया गया उसी नए डीपी प्लान में सेंच्युरी कंपनी के बीचों बीच से एक 24 मीटर का रोड़ बनाने का प्रस्ताव पास किया गया है , इस रोड़ की वजह से सेंच्युरी रेयॉन कंपनी की सल्फ्यूरीक ऍसिड एफ्लुएन्ट ट्रीटमेंट प्लांट और सल्फाईड प्लांट पूरी तरह से समाप्त हो जायेगे यही नही रोड़ को सार्वजनिक आवाजाही के लिए इस्तेमाल करने पर बड़ी जीवित व वित्तीय नुकसान होने की संभावनाओ से नकारा नही जा सकता है ऐसा कंपनी ने लिखीत पत्र के जरिये कहि है . इस प्लांट हटाना संभव नही है इस लिए प्रस्तावित रोड़ को रद्द किया जाय ऐसा नही होने से  कंपनी को बंद करना पड़ सकता है इससे 25 हजार कामगार व उनके परिवार को खाने के लाले पड़ने की नोबत आ सकती है . महाराष्ट्र प्रादेशिक व नगररचना अधिनियम 1966 के कलम 37 ( 1 ) के विकास आराखाड़ा में बदल करके इस रोड़ को हटाने की मांग वर्तमान में रही महापौर मीना आयलानी इन्होंने महाराष्ट्र सरकार से विनती किया था. उसके बाद राज्य सरकार ने इस विषय को मनपा की महासभा में सर्व सम्मति से पास करके अपनी राय शासन को भेजने को कहा है ,       कल की महासभा में सेंच्युरी कंपनी के अंदर से गुजरने वाले प्रस्तावित रोड़ को रद्द करने के प्रस्ताव पर चर्चा करके उसे पास या फेल करना है, वही इससे भी गभीर विषय है जो इसी विकास आराखाड़ा के अनुसार जो प्रस्तावित रिंग रोड है इससे भी बहुत सारे लोग बेघर होंगे उसे भी इसी के साथ रद्द करने की मांग भाजपा के महासचिव संजय सिंह इन्होंने करके कल की महासभा की राजनीति को गरम कर दिया है . प्रस्तावित रिंग रोड से धोबी घाट , आझादनगर सम्राट अशोक नगर ,सुभाष टेकडी के साथ शहर के अधिकांश झोपड़पट्टी परिसर इसकी चपेट में आने की वजह से शहर में रहने वाली नान सिंधी लोग बड़े पैमाने पर बेघर हो जायेगे. इसके चलते लाखो गोरगरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के आशियाने उजड़ जायेगे और वो रोड़ पर आ जायेंगे.इस लिए इस परिसर के नगरसेवक चाहे वो किसी भी पार्टी के हो वो सब सेंच्युरी रोड़ के साथ रिंग रोड को भी रद्द करो नही तो सब लोग इसका विरोध करेंगे ऐसी जानकारी संजय सिंह ने दिया है. आगे सिंह ने यह भी कहा कि उल्हासनगर शहर से नान सिंधी लोगो को बाहर निकालने की एक सोची समझी राजनीति है इस लिए सेंचुरी कंपनी के रोड़ की रद्द करने की मांग किया गया तो रिंग रोड़ को रद्द करने का विषय को दर किनारा किया गया है , क्यो रिंग रोड़ में बाधित होने वालों में मराठी,उत्तर भारतीय,सिख समुदाय, बोध समाज के लोग,मुस्लिम लोग व इतर बहुभाषिक लोग है इस लिए इस मुद्दे को किनारे रखा गया है क्यो की एक बार कंपनी का मुद्दा हो गया तो रिंग रोड़ बनना तय है फिर गरीबो को बेघर होने से कोई नही बचा पायेगा , इसलिये जरूरी है कि दोनों रोडो को एक साध रद्द करके राज्य सरकार के पास भेजा जाना चाहिय, बहरहाल कल की महासभा में क्या होता सबकी नजर उस पर होगी !
  • मन्नत के देवता के रूप प्रसिद्ध लालबाग के राजा के भक्तों की भावनाओ से किया जा रहा खिलवाड़ ! आमजनता की इंट्री गेट चिकन सेंटर की दुकान के अंदर से !

    By fast headline india →
    मन्नत के देवता के रूप प्रसिद्ध लालबाग के राजा के भक्तों की भावनाओ से किया जा रहा खिलवाड़ !

     आम जनता की लाइन की बप्पा के दर्शन के इंट्री गेट करवाई जा रही गुना चिकन सेंटर की दुकान के अंदर से !

     सच्चे भक्तों ने ब्यक्त की अपनी नाराजगी !

    मुंबई-मुंबई समेत गुरुवार से गणपति भगवान की पूजा का शुभारंभ पूरे देश बड़े ही धूमधाम से शुरू हुआ है, हर जगह भक्त लोग भगवान के दर्शन करने लिए आज से ही पंडालों विराजे बप्पा के दर्शन करने पहुँच रहे है,पूरी दुनिया में मन्नत के देवता के रूप में प्रसिद्ध मुंबई के लालबाग के राजा का पंडाल है यहाँ पर लाखों की संख्या हर साल भक्तगण आकर दर्शन करते यही नही करोड़ो का दान भी करते है,लेकिन इस बार इस मंडल के जरिये एक बड़ी कमी सामने आई है दर असल मामला है आमजनता की लाइन की मंडप में घुसने से पहले एक इंट्री गेट है उस पर बोर्ड लगा है गुना चिकन होलसेल की दुकान इससे जो भक्त की नजर उस बोर्ड पर पड़ता है उसकी भावना को आहत करने काम कर रही है वह दुकान के अंदर से ही इंट्री करने का मार्ग बनाया गया है, हम दर्शन शुद्धता कर रहे है या अशुद्धता से इस वजह से सच्चे भक्तों की यह पीड़ा सामने आई है ! 
    बता दे कि पिछले लंबे समय से पूरी दुनिया प्रसिद्ध मुंबई का यह पंडाल सबसे ज्यादा चढ़ावे व लोगो की हर मनोकामनाओ को पूरा करने वाला इकलौता पंडाल है जहाँ विराजते है लालबाग के राजा इनकी एक झलक पाने के लिए लोग कई घण्टो की लाइन के बाद दर्शन मिलता है, यहां देखने वाली बात यह है कि जो भी भक्त दर्शन करने के लिए घर से आते है वह स्नान करके व नए वस्त्र पहन कर दर्शन करने आते पूरी शुद्धता से यहाँ आकर दर्शन करते है,ऐसे में ऐसे भक्तों को एक ऐसी दुकान से प्रवेश करने की जगह चुना गया जहाँ साल भर मुर्गियों को काट कर बेचा जाता है,जो लोग पूरी तरह से अपने तनमन वस्त्र से शुद्ध होकर दर्शन करने आये है उनका उस बोर्ड पर नजर जाते ही उसकी मनोदशा क्या होगी इडकी पीड़ा सिर्फ एक सच्चा भक्त ही बयान कर सकता है,यहा सवाल यह है कि संस्था के लोगो ने अगर इंट्री गेट चुने तो इन्हें बोर्ड को ढक देना चाहिये ताकि वहा से गुजरने वाले भक्त को यह बता ही नही चलता वह सच्चे मन से बप्पा का दर्शन करता और चला जाता अपने घर परंतु जिन भी भक्त की नजर उस बोर्ड पर पड़ रही है वह अपनी शुद्धता पर मन ही मन सवाल करने को बेबस हो जाता है और उसकी सच्ची भक्ति वहा विस्मित हो रही है सिर्फ एक बोर्ड की वजह से देखा जाय तो कुछ लोगो को यह एक मजाक लगेगा लेकिन जो लोग सच्चे भक्त होते है यह उनके ह्रदय की वेदना है समय रहते इससे मंडल ने सुधार नही इसका परिणाम बप्पा के जरिये उनको कभी किसी रूप में मिल सकता है ऐसा सच्चे भक्तों की भावना ब्यक्त किया है,बहरहाल इस पर मंडल के लोग अपनी गलती को सुधारते है क्या? जिससे सच्चे भक्तों की भावना आहत न हो यह तो आने वाले दिनों में दिखेगा !  हिन्दू त्यौहार का आयोजन करने वालो को ऐसी छोटी चीजो को भी ध्यान में रखना चाहिए क्यो की उनको भी पता होगा जो लोग मंदिर में या भगवान के दर्शन करने आते है वह लोग शुद्धता को लेकर कितने जागरूक रहते है इस लिए ऐसी गलतियों को सामने लाना जरूरी था ! बाकी सबकी अपनी सोच है अपनी समझ है जिसको जो ठीक लगे यह सच्चे भक्तों की वेदना आज देखने में आई इस लिए यह सामने लाने का एक छोड़ा सा प्रयास किया गया है,
  • प्रधानमंत्री के प्रयासों की पोस्ट ऑफिस विभाग के कर्मचारियों के द्वारा उड़ाई जा रही धज्जियां ! रांकपा नगरसेवक गंगोत्री ने किया मामले को उजागर !

    By fast headline india →
    प्रधानमंत्री के प्रयासों की पोस्ट ऑफिस विभाग के कर्मचारियों के द्वारा उड़ाई जा रही धज्जियां !

    स्थानीय दलालों को फायदा पहुचाने के चक्कर में पोस्ट आफिस के लोग जनता मिलने वाली सुविधाओं रखा है बंद-भरत गंगोत्री

     उल्हासनगर पांच नम्बर पोस्ट ऑफिस में आधार मशीन बंद पड़ी है,रांकपा नगरसेवक ने मामले को उजागर !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में पांच नम्बर के पोस्ट आफिस के कर्मचारियों द्वारा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वप्न पोस्ट ऑफिस को पुनरजीवन देने की कोशिशो पर पानी फेरा जाने का मामला सामने लाने का काम रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री ने किया है !
    बता दे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश भर के पोस्ट ऑफिस की चरमराती हालत को सुधारने के लिए इस विभाग के जरिये जनता को जोड़ने के लिए कई नई योजनाएं लाकर पुनरजीवन करने का कार्य कर रहे है इसी में एक महत्वपूर्ण काम है आम आदमी के आधार कार्ड में हुई गलती को सुधारने का काम है उसके लिए सरकार के द्वारा सभी पोस्ट आफिस पर वह सिस्टम दिया गया है परंतु उल्हासनगर नम्बर पांच के पोस्ट ऑफिस पर यह मशीन स्थानीय दलालों को फायदा पहुचाने के लिए बंद करके रखा गया था जब इसकी जानकारी स्थानीय रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री को पता चला तो उन्होंने तुरंत पोस्ट आफिस जाकर पूरे मामले का जायजा लिया वह मशीन बंद थी जब इस विषय मे से संपर्क किया तो पोस्ट मास्टर ने कर्मचारिय न होने की वजह से मशीन बंद होने की बाद गंगोत्री बताई उसके गंगोत्री ने इसकी शिकायत पोस्ट आफिस विभाग के वरिष्ठ अधीक्षक भारतीय टपाल सेवा ठाणे किया उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत आधार की मशीन चालू करने कहा था परंतु कल भरत गंगोत्री अपने सहयोगियों के साथ पोस्ट ऑफिस पर जायजा लेने पहुचे तो उन्होंने देखा आधार की मशीन बंद थी पोस्ट मास्टर मेडिकल लिव पर थी एक दूसरी महिला कर्मचारी थी उनसे जब पूछा तो उन्होंने कहा मशीन चालू है हप्ते के शनिवार को इसे चालू रखा जाता है उन्होंने कर्मचारियों के काम का बोझ का हवाला देकर बात खुमाने का प्रयास करती दिखी बाद में पोस्टमार्टम को फोन किया तो उन्होंने कहा कि हमने हप्ते में मशीन चालू किया है कुछ लोगो के काम भी किये लेकिन जब उनसे पूछा गया यह तो रोज चालू रखना है क्यो की कोई आम आदमी अपने गलत हुई चीजो को सही करा सके उन्होंने भी कर्मचारियों पर काम का बोझा ज्यादा होने का हवाला दिया है ! अब सवाल यह है कि अगर सरकारी नोकरी करने वाले सरकार के प्रयासों की धज्जियां उड़ाने जूटे है तो ऐसे में प्रधानमंत्री के स्वपनों को साकार कौन करेगा यह बड़ा सवाल है, वही इस विषय पर भरत गंगोत्री का कहना जल्द ही हमारी शिकायत को गंभीरता नही लिया गया और जनता को उसका हक नही दिया गया तो मजबूरन पोस्ट ऑफिस के सामने ही धरना प्रदर्शन करना पड़ेगा !
  • रिक्साचालको ने अपने ही दोस्त का अपहरण करके किया हत्या ! तीन दोस्तो को पुलिस को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    रिक्साचालको ने अपने ही दोस्त का अपहरण करके किया हत्या ! 

     सर पर पत्थर से किये कई वार ! 

     तीन रिक्साचालको को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

     उल्हासनगर- उल्हासनगर में कल शाम को हुए मामूली विवाद हुआ उसी विवाद के गुस्से में रिक्साचालको ने 20 वर्षीय रिक्साचालक दोस्त का अपहरण करके और फिर पत्थर से उसके को कूच करके क्रूरता से हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है इस मामले में उल्हासनगर हिललाईन पुलिस ने तीन रिक्सा चालको को गिरफ्तार किया है . 
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात में 9 बजे के पास जानकारी पुलिस को मिली एक ब्यक्ति की हत्या करके उसकी डेडबॉडी किसी ढाबे की रोड़ के किनारे पड़ी है जिसके बाद पुलिस मौके पहुँचकर डेडबॉडी को अपने कब्जे में लिया थोड़ी देर में पुलिस को मृतक ब्यक्ति नाम संतोष जुबेलू है ऐसी जानकारी मिल गई उसके बाद पुलिस ने अपनी जांच को आगे बढ़ाया तो पुलिस को पता चला कि इस क्रूर हत्या के पीछे संतोष के रिक्सा चालक दोस्त ही है इस जानकारी के मिलते ही सहाय्यक पुलिस आयुक्त सुनील पाटील इनके मार्गदर्शन मे वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक घनश्याम पलंगे,सहाय्यक पुलिस निरीक्षक विनोद पाटील,उपनिरीक्षक दिनेश पाटील,मुकेश गिरी,किसन जाधव,भारत सोनवणे,अजय अहिरे,चंद्रकांत पाटील,प्रवीण पाटील,अशोक थोरवे इन्होंने पूरी तरह से जाल बिछाकर रात में तीनों आरोपियों को जिनमें गणेश सुंखे,सनी सपकाळ,किरण मांडवकर इनको गिरफ्तार किया है . मृतक संतोष और तीनों आरोपी यह व्हीनस चौक परिसर के रहने वांले है.यह सब दोस्त ही है फिर भी इनका रिक्सा के भाड़े को लेकर विवाद होता रहता था इसी विषय पर बीती रात की शाम को किरण मांडवकर इनके भाई से विवाद हो गया था उसी विवाद के द्वेष में ये तीनो ने मिलकर संतोष का अपहरण करके उसका अश्विनी ढाबे के पास वसार गाव की हद में पत्थर से कूचकर हत्या कर दिया ऐसी जानकारी पुलिस की जांच में सामने आया है इसकी जानकारी पुलिस ने दिया है .
  • अवैध हुक्का पार्लर में वंदे मातरम के धुन पर गजेड़ी उडा रहे धुंआ ! दि बिस्टरो ढाबा के कारनामो का हुआ पर्दाफास !

    By fast headline india →
    अवैध हुक्का पार्लर में वंदे मातरम के धुन पर गजेड़ी उडा रहे धुंआ !

     दि बिस्टरो ढाबा के कारनामो का हुआ पर्दाफास ! 

    पुलिस व कानून को ठेंगा दिखा कर खुलेआम पूरी चलाया जा रहा है नशे का कारोबार ! 

     ठाणे- ठाणे शहर की कुछ ही दूरी पर मुंबई नाशिक हाइवे पर भिवंडी ट्रैफिक के लिए चर्चित भिवंडी बाईपास पर एक फार्म हाउस, दि बिस्टरो ढाबा की देर रात ली हुई यह तस्वीरें है । जिसमें यह देखा जा सकता है किस तरीके से पुलिस और कानून की आंख में धूल झोंक कर खुलेआम अवैध हुक्का पार्लर में चंद गजेड़ी वंदे मातरम गाने की धुन पर धुंआ उठाते दिख रहे है इनको न तो किसी कानून का डर है न किसी की फिक्र बस कस पे कस लगा रहे है ! इसी तरह से दिसंबर 2017 मुंबई लोअर परेल स्थित कमला मिल कंपाउंड इत्तिफ़ाक़ से मोजोस बिस्टरो पब था जिसमें भी अवैध हुक्का पार्लर चल रहा था उसी हुक्के की चिंगारी के चलते बड़ा अग्नि का तांडव मचा दिया था और 14 लोगों की जान भी गवानी पड़ी थी । अब सवाल यह है क्या जब तक यहाँ भी वैसे ही हादसा नही होगा तबतक पुलिस व प्रशासन के लोग कार्यवाई नही करेंगे क्या ?
    बता दे कि जहां पर एक तरफ कानून की धज्जियां उड़ाते है यह हुक्का पार्लर पब वही चौकाने वाली बात यह सामने आयी कि देश की राष्ट्रीय गान वंदे मातरम पर आधारित धरती माँ को हुक्के के धुवें द्वारा सलाम किया जा रहा था। दूसरी उल्लेखनिय बात यह इसी हाईवे पर कुछ ही अंतर पर भारतीय जनता पार्टी के  भिवंडी सांसद कपिल पाटिल का आलीशान बंगला है जहाँ से कुछ रोज पहले ही माननीय मुख्यमंत्री गुज़रे भी थे। ठाणे आयुक्त के परिमंडल दो में आनेवाले भिवंडी के कई मुख्य जगह पर हुक्का पार्लर राजनीतिक पार्टियों के संरक्षण में चल रहे जिसमे साईबाबा मंदिर रोड ,कल्याण रोड और नज़राना कंपाउंड के शिवाजी चौक पर खाड़ी पार रोड पर युवा पीढ़ी की अधिक भीड़ देखी जा रही है । इस नशे में युवा पीढ़ी बर्बाद हो रही है ठाणे के घोडबंदर रोड पर युवक और युवतियां दोपहर से लेकर देर रात 3-4 बजे हुक्का पार्लर पब में देखें जा रहे है जिसे स्थानीय कानून व्यवस्था पर सवाल उठना लाजमी है । हुक्का संशोधन को न्यायसंगत बनाने के बावजुद मुंबई, ठाणे,उल्हासनगर, कल्याण,अम्बरनाथ, नवी मुंबई और अन्य शहरों में हुक्का बार बिना किसी डर या खौफ से धूमधाम से चल रहे है और सार्वजनिक स्थानों के साथ-साथ रेस्तरां में भी चल रहे है। महाराष्ट्र में हुक्का पार्लर पर प्रतिबंध लगा  गया बजट सत्र 28फरवरी2018 के अंतिम दिन विधानसभा के दोनों सदनों में यह विधेयक पारित हुआ। मुंबई में दिसंबर 2017 में कमला मिल्स की आग के बाद हुक्का पार्लर के खिलाफ की दहशत का माहौल बन गया इस घटना में हुक्का के लिए इस्तेमाल होने वाले ज्वलनशील कोयले की चिंगारी से आग लग गई थी और उसमें14 लोगो की दर्दनाक मौतें हुई थी। वर्तमान भारतीय जनता पार्टी की अगुआई वाली सरकार ने राज्य में हुक्का पार्लर पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिसमें 28 मार्च 2018 को सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादों (विज्ञापन का निषेध और व्यापार और वाणिज्य, उत्पादन, आपूर्ति और वितरण विनियमन) अधिनियम, 2003 में संशोधन शुरू किया गया था। महाराष्ट्र के लिए विधेयक में कहा गया है, "किसी भी व्यक्ति को या तो किसी अन्य व्यक्ति की तरफ से, किसी भी स्थान पर किसी भी जगह में किसी भी हुक्का बार को खोल या चलाया नहीं जा सकता है।" प्रस्तावित कानून सहायक पुलिस निरीक्षक के पद के किसी भी पुलिस अधिकारी को अनुमति देता है या ऊपर "किसी विषय या आलेख को किसी विषय या हुक्का बार के साधन के रूप में उपयोग करते है तो जप्त किया जाय।" अधिनियम का उल्लंघन एक साल की न्यूनतम कारावास के साथ दंडनीय होगा और तीन साल तक बढ़ा सकता है। जुर्माना न्यूनतम 50,000 रुपये और अधिकतम एक लाख रुपये तक होगा। महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के अनुसार घ बिल को परिभाषित किया जाना है। इसका मतलब है कि किसी भी स्थान पर जहां जनता को भर्ती कराया जाता है, और जहां किसी भी व्यक्ति के पास किसी भी व्यक्ति के स्वामित्व या उपभोग करने के लिए परिसर में खपत के लिए किसी प्रकार का भोजन या पेय प्रदान किया जाता है, और इसमें आराम करने का कमरा, बोर्डिंग हाउस , कॉफी हाउस या एक दुकान जहां ऐसी दुकान में या उसके पास खपत के लिए जनता को किसी प्रकार का भोजन या पेय आपूर्ति की जाती है लेकिन इसमें "सार्वजनिक मनोरंजन का स्थान" शामिल नहीं है। विधेयक हुक्का सलाखों को प्रतिष्ठानों के रूप में परिभाषित करता है जहां लोग एक समुदाय हुक्का या तंबाकू धूम्रपान करने के लिए इकट्ठे होते हैं जो अलग-अलग प्रदान किए जाते हैं। सीओटीपीए में संशोधन के बाद, महाराष्ट्र पुलिस अधिनियम के अनुसार एक खाने के घर को परिभाषित करना होगा। इसका मतलब है कि एक जगह जहां सार्वजनिक रूप से भर्ती कराया जाता है, और जहां किसी भी व्यक्ति के परिसर में खपत के लिए किसी भी प्रकार के भोजन या पेय की आपूर्ति की जाती है या ऐसी जगह में रुचि या प्रबंधन होता है, और इसमें एक आराम का कमरा, बोर्डिंग हाउस, कॉफी हाउस या एक दुकान जहां ऐसी दुकान में या उसके पास खपत के लिए जनता को किसी प्रकार का भोजन या पेय आपूर्ति की जाती है लेकिन इसमें "सार्वजनिक मनोरंजन की जगह" शामिल नहीं है। वही गुजरात, दिल्ली, पंजाब और राजस्थान में हुक्का पार्लर पहले से ही प्रतिबंधित हैं। उसके बादजूद कानून को ठेंगा दिखाकर इस तरह से हुक्का पार्लर खुलेआम चलाये जा रहा है ऐसे सवाल यह उठता है कि आखिरकार स्थानीय पुलिस ऐसे लोगो पर कार्यवाई नही करने के पीछे का कारण क्या है क्या कोई राजनीतिक मंडली का संरक्षण की वजह से पुलिस कार्यवाई में टालमटोल कर रही है क्या यह एक बड़ा सवाल है ! इसका जवाब समय आने पर सामने आएगा !
  • अवैध बांधकाम ठेकेदारों को दे रहे रिश्वतखोर सहायक आयुक्त संरक्षण ? शहर में खुलेआम बन रहे अवैध निर्माण !

    By fast headline india →
    अवैध बांधकाम ठेकेदारों को दे रहे रिश्वतखोर सहायक आयुक्त संरक्षण ? 

    शहर में खुलेआम बन रहे अवैध निर्माण !

    मनपा आयुक्त को नही दिख रहा अवैध निर्माण !


    उल्हासनगर -उल्हासनगर एक अवैध बांधकाम व्यावसायिक से रिश्वत लेते रंगे हाथ गए गणेश शिंपी इस विवादित अधिकारी को मनपा आयुक्त गणेश पाटील इन्होंने अवैध बांधकाम विरोधी पथक प्रमुख की पद पर नियुक्त किया गया है. शिंपी की नियुक्ती होते ही शहर में बड़े पैमाने पर अवैध बांधकाम खुलेआम बनने सुरु हो गए है . इस मामले में एक समाज सेवक ने राज्यशासन से शिंपी के बारे में शिकायत भी किया है.    
    बता दे कि गणेश शिंपी जो कि कुछ सालों पहले रिश्वत लेते रंगेहात पकडे गए थे वह मामला अभी भी न्याय प्रविष्ट है इसके बादजूद मनपा के आयुक्त गणेश पाटील इन्होंने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए शिंपी को प्रभारी चार्ज देते हुए अवैध बांधकाम विरोधी पथक के प्रमुख पद दिया है इससे मनपा की कार्यप्रणाली भी संदेह घेरे में है. शिंपी के इस पद पर आते ही शहर में कई जगहों पर अवैध निर्माण जोरो पर शुरू है उसमें उल्हासनगर -1 के चेलाराम मार्केट,में आर,सी,सी,अवैध निर्माण तो दूसरा बॅरेक नं 335 में दो महले का अवैध कमर्शियल बांधकाम सुरू है , उल्हासनगर - 2 के टेलिफोन एक्सचेंज के पास की रोड़ पर उपमहापौर के निवास स्थान के पास एक अवैध आर सी सी अवैध बांधकाम सुरू है .  उल्हासनगर -2 के गोलमैदान के सामने के एफसी फूड के बगल में अवैध आर,सी,सी व्यावसायिक बिल्डिंग का निर्माण शुरू हुआ है. उल्हासनगर -3 के पवई चौक के पास  एक जिम सेंटर के बगल में , उल्हासनगर -4  के सतराम दास हॉस्पिटल के बगल , उल्हासनगर -4 के लाल चक्की चौक, भवानी स्वीट के पीछे, उल्हासनगर -5 में वजन माप कार्यालय के पास , उल्हानगरात - 5 के कैलास कॉलनी चौक में इन जगहों पर खुलेआम आम अवैध निर्माण को अंजाम दिया जा रहा है .इस विषय में एक समाज सेवक में राज्यशासन से गणेश शिंपी इनके बारे में लिखित शिकायत देकर कार्यवाई की मांग किया है कि इनका वार्ड ऑफिसर, अवैध बाधकांम विरोधी पथक विभाग प्रमुख से तुरंत हटाया जाय .       मनपा आयुक्त गणेश पाटील इन्होंने इस विषय में बात किया गया तो उन्होंने कहा कि मेरे से पहले वाले आयुक्त ने गणेश शिंपी को रिश्वत मामले के बाद उनको प्रभारी सहाय्यक आयुक्त पदभार दिया था, मैने तो केवल अवैध बांधकाम विभाग के प्रमुख का पदभार दिया है. वैसे शहर में किधर भी अवैध निर्माण हो रहा है ऐसा मुझे तो नही दिखा है ऐसा बोलते हुए उन्होंने गणेश शिंपी को क्लीन चिट दिया है . वही इस विषय मे अवैध बाधकांम विभाग प्रमुख ने कहा कि हमारी कार्यवाई अवैध निर्माण पर शुरू है अभी हाल ही में कुछ लोगो के विरुद्ध एमआरटीपी भी दर्ज किया गया है अभी गणेशोत्सव पंडाल की परमिशन के काम में बिजी है इससे फुर्सत मिलते ही अवैध बांधकामो पर कार्यवाई किया जाएगा ऐसी प्रतिक्रिया गणेश शिंपी इन्होंने दिया है,बता दे कि उल्हासनगर में प्रचलित 855 की एक पीआइल हाई कोर्ट में डाली गई थी उसी की सुनवाई करते समय 2005 में हाई कोर्ट ने आदेश दिया था इसके बाद उल्हासनगर में एक भी अवैध निर्माण नही होना चाहिए,परंतु उस आदेश को ठेंगा दिखाकर इस शहर में आज खुलेआम अवैध निर्माण को अंजाम दिया जा रहा यह देखा जा रहा है,