• प्रधानमंत्री के प्रयासों की पोस्ट ऑफिस विभाग के कर्मचारियों के द्वारा उड़ाई जा रही धज्जियां ! रांकपा नगरसेवक गंगोत्री ने किया मामले को उजागर !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    प्रधानमंत्री के प्रयासों की पोस्ट ऑफिस विभाग के कर्मचारियों के द्वारा उड़ाई जा रही धज्जियां !

    स्थानीय दलालों को फायदा पहुचाने के चक्कर में पोस्ट आफिस के लोग जनता मिलने वाली सुविधाओं रखा है बंद-भरत गंगोत्री

     उल्हासनगर पांच नम्बर पोस्ट ऑफिस में आधार मशीन बंद पड़ी है,रांकपा नगरसेवक ने मामले को उजागर !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में पांच नम्बर के पोस्ट आफिस के कर्मचारियों द्वारा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वप्न पोस्ट ऑफिस को पुनरजीवन देने की कोशिशो पर पानी फेरा जाने का मामला सामने लाने का काम रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री ने किया है !
    बता दे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश भर के पोस्ट ऑफिस की चरमराती हालत को सुधारने के लिए इस विभाग के जरिये जनता को जोड़ने के लिए कई नई योजनाएं लाकर पुनरजीवन करने का कार्य कर रहे है इसी में एक महत्वपूर्ण काम है आम आदमी के आधार कार्ड में हुई गलती को सुधारने का काम है उसके लिए सरकार के द्वारा सभी पोस्ट आफिस पर वह सिस्टम दिया गया है परंतु उल्हासनगर नम्बर पांच के पोस्ट ऑफिस पर यह मशीन स्थानीय दलालों को फायदा पहुचाने के लिए बंद करके रखा गया था जब इसकी जानकारी स्थानीय रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री को पता चला तो उन्होंने तुरंत पोस्ट आफिस जाकर पूरे मामले का जायजा लिया वह मशीन बंद थी जब इस विषय मे से संपर्क किया तो पोस्ट मास्टर ने कर्मचारिय न होने की वजह से मशीन बंद होने की बाद गंगोत्री बताई उसके गंगोत्री ने इसकी शिकायत पोस्ट आफिस विभाग के वरिष्ठ अधीक्षक भारतीय टपाल सेवा ठाणे किया उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत आधार की मशीन चालू करने कहा था परंतु कल भरत गंगोत्री अपने सहयोगियों के साथ पोस्ट ऑफिस पर जायजा लेने पहुचे तो उन्होंने देखा आधार की मशीन बंद थी पोस्ट मास्टर मेडिकल लिव पर थी एक दूसरी महिला कर्मचारी थी उनसे जब पूछा तो उन्होंने कहा मशीन चालू है हप्ते के शनिवार को इसे चालू रखा जाता है उन्होंने कर्मचारियों के काम का बोझ का हवाला देकर बात खुमाने का प्रयास करती दिखी बाद में पोस्टमार्टम को फोन किया तो उन्होंने कहा कि हमने हप्ते में मशीन चालू किया है कुछ लोगो के काम भी किये लेकिन जब उनसे पूछा गया यह तो रोज चालू रखना है क्यो की कोई आम आदमी अपने गलत हुई चीजो को सही करा सके उन्होंने भी कर्मचारियों पर काम का बोझा ज्यादा होने का हवाला दिया है ! अब सवाल यह है कि अगर सरकारी नोकरी करने वाले सरकार के प्रयासों की धज्जियां उड़ाने जूटे है तो ऐसे में प्रधानमंत्री के स्वपनों को साकार कौन करेगा यह बड़ा सवाल है, वही इस विषय पर भरत गंगोत्री का कहना जल्द ही हमारी शिकायत को गंभीरता नही लिया गया और जनता को उसका हक नही दिया गया तो मजबूरन पोस्ट ऑफिस के सामने ही धरना प्रदर्शन करना पड़ेगा !
  • No Comment to " प्रधानमंत्री के प्रयासों की पोस्ट ऑफिस विभाग के कर्मचारियों के द्वारा उड़ाई जा रही धज्जियां ! रांकपा नगरसेवक गंगोत्री ने किया मामले को उजागर ! "