• 20 हजार की रिश्वत लेते मनपा के प्रभाग एक के सहायक आयुक्त हुए गिरफ्तार ! शिंपी के कारनामो का हर्जाना चुकाया समतानी को ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    20 हजार की रिश्वत लेते मनपा के प्रभाग एक के सहायक आयुक्त हुए गिरफ्तार !

     अवैध बांधकाम निष्काशन विभाग प्रमुख शिंपी के कारनामो का हर्जाना चुकाया समतानी को ? 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर प्रभाग एक के सहायक आयुक्त नंदलाल समतानी को एक रिपेरिंग काम के लिए 20 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ ठाणे एंटीकरप्शन विभाग ने गिरफ्तार किया है,इससे पहले भी मनपा के कई लोग एंटीकरप्शन के हत्थे चढ़ चुके है !कहा जाय तो यह अवैध बांधकाम निष्काशन विभाग प्रमुख शिंपी के कारनामो का हर्जाना चुकाया समतानी को ? 
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुछ महीने पहले नेहरू चौक के सामने धुरु होटल की मरम्मत का कार्य ठेकेदार धन्ना तलरेजा के द्वारा किया गया था उसी रिपेयरिंग काम का कई बार फोन कर प्रभाग एक के सहायक आयुक्त नंदलाल समतानी पैसे मांग रहे थे नही देने पर कार्यवाई करने की धमकी दे रहे थे इसी धमकी से परेशान होकर धन्ना ने उन्हें 20 हजार रुपये देने की बात किया था धन्ना इसकी सूचना ठाणे एंटीकरप्शन विभाग को दिया उसके बाद ठाणे एंटीकरप्शन विभाग ने आज शाम को साढ़े पांच बजे के करीब जाल बिछाकर धन्ना के जरिये 20हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है,इस कार्यवाई को अंजाम ठाणे एंटीकरप्शन अधिकारी सुदेश अजगांवकर की टीम के द्वारा दिया गया है,इससे पहले मनपा के विवादित अधिकारी गणेश शिंपी को सहाय्यक आयुक्त और अनधिकृत बांधकाम निष्कासन प्रमुख की जबाबदारी देने से मनपा प्रशासन की कार्य प्रणाली पर भी सवालिया निशान लग चुका है .  शिंपी का मूल पद यह स्टेनोग्राफर आहे . ये 8 / 5 / 2013 में मनपा के तत्कालीन आयुक्त बालाजी खतगावकर के पीए (स्वीय सचिव) पद पर काम करते समय ठाणे एंटीकरप्शन विभाग ठाणे ने इन पर कार्यवाई करते हुए 25 हजार की रिश्वत लेते रंगेहात गिरफ्तार किया था इनके साथ बिट मुकादम रिजवान शेमले इनको भी जाल बिछाकर 50 हजार की रिश्वत लेते पुलिस ने गिरफ्तार किया था. इस दरम्यान शिंपी को कुछ समय के लिए निलंबित किया गया था उसके कुछ समय बाद तत्कालिन मनपा आयुक्त मनोहर हिरे इनके कार्यकाल में गणेश शिंपी इनकी सहाय्यक आयुक्त पद पर बहाली किया गया इस दरम्यान इनके कार्यकाल के दरम्यान बड़े पैमाने इनके प्रभाग में हुए है ,अभी शिंपी के पास सहाय्यक आयुक्त और अवैध बांधकाम निष्कासन प्रमुख पद भी दिया गया है. इनको पद संभालने के बाद पूरे शहर में अवैध निर्माण बनाने में बड़े पैमाने पर तेजी आई है. उसी का नतीजा सामने है अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार हो रहा है अगर जल्द ही प्रशासन ने अंकुश नही लगाया तो वो दिन दूर नही प्रशासन का मुखिया ही कभी ऐसी न्यूज की सुर्खियों में आना पड़ेगा क्यो जिस तह से शिंपी के चार्ज देने के बाद शहर भर में अवैध बांधकाम बन रहे है उसको देखकर लगता है कि आगे भी कुछ अधिकारियों पर इस तरह की कार्यवाई से इनका नही किया जा सकता है !
  • No Comment to " 20 हजार की रिश्वत लेते मनपा के प्रभाग एक के सहायक आयुक्त हुए गिरफ्तार ! शिंपी के कारनामो का हर्जाना चुकाया समतानी को ? "