• 25 लाख के खंडनी मांगने वालों पर मेहरबान हुई बदलापुर पुलिस ! अभीतक नही हुए एक भी आरोपी गिरफ्तार !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    25 लाख के खंडनी मांगने वालों पर मेहरबान हुई बदलापुर पुलिस !

     कोर्ट के आदेश के बाद 7 लोगो पर दर्ज हुआ खंडनी का मामला !

     पुलिस ने अभी तक नही किया एक भी आरोपी को गिरफ्तार !  

    बदलापुर -बदलापुर में एक बिल्डर से पहले किया पार्टनरशिप फिर किया धोखेबाजी बिल्डर ने पार्टनरशिप किया खत्म तो कुछ गुंडों व स्थानीय पुलिस की मदत से प्रॉपर्टी पर किया जबरन कब्जा इससे भी जब मन नही भरा तो ब्लेकमेलर व आरटीआई कार्यकर्ता द्वारा मामले को निपटाने के लिए 25 लाख रुपया खंडनी मांगने का रचा एक जाल फिर खुद ही आ फंसे इस जाल में ऐसा ही एक नायाब मामला प्रकाश में आया है, बदलापुर पश्चिम पुलिस व्यापारी रितेश वीरेंद्र मिश्रा की शिकायत पर धारा 147, 149 ,389, 452, के तहत आरोपी पंकज जटाशंकर त्रिवेदी, निरुपमा पंकज त्रिवेदी, आतिफ इस्लाम रियाज खान उर्फ मुन्ना, अखिफुल  इस्लाम, विनोद प्रकाश तिवारी, योगेश जटाशंकर दुबे, के खिलाफ अदालत के आदेश के तहत मामला दर्ज किया है,परन्तु अभी भी पुलिस ने इस मामले में किसी भी आरोपी को गिरफ्तार करने की जहमत नही उठाई है इससे पुलिस की कार्यवाई पर भी सवाल खड़ा होना लाजमी है इस मामले की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक चौगुले कर रहे हैं, पुलिस से मिली जानकारी अनुसार मौजा सोनीवली तालुका अंबरनाथ  स्थिति दी चलेट अवेन्यु  साइड का रितेश वीरेंद्र मिश्रा के इमारत का बांधकाम चल रहा है, जिस  निर्माण में आरोपी पंकज जटाशंकर द्विवेदी त्रिवेदी और उनकी पत्नी निरुपमा पंकज त्रिवेदी भागीदार थे, जिन्होंने आतिफ इस्लाम, व अखिफुल  इस्लाम, को इमारत से सम्बंधित बांधकाम ईट बांधकाम के साथ प्लास्टर व अन्य काम का ठेका दिया था, पुलिस के अनुसार आरोपी पंकज त्रिवेदी व उनकी पत्नी निरुपमा त्रिवेदी इमारत के  काम से अपनी भागीदारी वापस ले लिए है, वही इमारत के काम का ठेका लिए आतिफ इस्लाम व अखीफूल इस्लाम ने इमारत से संबंधित कोई भी काम पूरा नहीं किया,है, जिसके चलते शिकायतकर्ता रितेश मिश्रा ने उनका इमारत  काम संबंधित सभी ठेके को रद्द कर दिया था, पुलिस के जानकारी अनुसार इमारत में भागीदारी खत्म होने के बाद भी पंकज त्रिवेदी व निरूपमा त्रिवेदी ने हाउस नंबर 11  में आरोपी योगेश हरिशंकर दुबे को गैर कानूनी तरीके से कब्जा दिया है, जिस प्रॉपर्टी में अपना उद्देश साधने के लिए ब्लेकमेलर व आरटीआई कार्यकर्ता विनोद प्रकाश तिवारी प्रवेश कर लिए जो पंकज त्रिवेदी के दोस्त हैं, विनोद  प्रकाश तिवारी आरटीआई कार्यकर्ता बता कर मामले को निपटाने के लिए 25 लाख रुपया खंडनी की  मांग किया, साथ ही इमारत काम से ठेका रद्द होने के बाद भी आतिफ इस्लाम,व अखीफूल इस्लाम ने रितेश मिश्रा व लेबर कांट्रैक्टर का हाथ पैर तोड़ने की धमकी देकर पैसे की मांग किया, साथ ही पंकज व निरुपमा व योगेश ने फर्जी गुनाह में फंसाने की धमकी दी, जिसके तहत अर्जी क्रमांक 755 / 2018 प्रथम वर्ग न्याय दंडाधिकारी उल्हासनगर अधीक्षक दीवानी अदालत उल्हासनगर पत्र जावक क्रमांक 1492/ 2018 दिनांक 1', 11, 2018, सीआरपीसी कलम 156 3 के तहत बदलापुर पुलिस ने मामला दर्ज किया है,
  • No Comment to " 25 लाख के खंडनी मांगने वालों पर मेहरबान हुई बदलापुर पुलिस ! अभीतक नही हुए एक भी आरोपी गिरफ्तार ! "