• विवादित धुरु डांसबार पर क्राइम ब्रांच छापा !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    विवादित धुरु डांसबार पर क्राइम ब्रांच छापा !

    नउ बारबाला, चार महिला सिंगर, होटल मैनेजर समेत कई ग्राहक को पुलिस ने किया गिरफ्तार !
     फाइल फोटो

    ल्हासनगर-उल्हासनगर के नेहरू चौक स्थित विवादित धुरु डांसबार पर दो दिन पहले देर रात क्राइम ब्रांच उल्हासनगर यूनिट ने लाव-लश्कर के साथ छापा मारकर 4 महिला सिंगर ,9 बार बाला,होटल मैनेजर सहित कई ग्राहकों को नशे के धुत में गिरफ्तार किया था।इस घटना की शिकायत क्राइम ब्रांच ने उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में दर्ज करवाकर आगे की कार्यवाही करने का काम उल्हासनगर पुलिस के सुपर्द कर दिया था।क्राइम ब्रांच की इस छापेमारी से अन्य डांसबार चालको और मालिको में हड़कंप मचा हुआ है,परन्तु यह बात समझ मे नही आ रही है कि पुलिस इस मामले को दबाने का प्रयास क्यू कर रही है।क्योंकि पहली बार ऐसा हुआ है कि इतनी बड़ी कार्यवाही की घटना "क्राइम डिटेल रिपोर्ट " प्रेस रिलीज के जरिये पत्रकारों को नही दी गयी,बहरहाल इस छापे की चर्चा जमकर छाई हुई है। 
    गौर तलब हो कि उल्हासनगर में धुरु डांसबार,चाँदनी,आशियाना,वर्षा,100 डेज,90 डिग्री जैसे आधा दर्जन डांस बार देर रात तक स्थानीय पुलिस की वरदहस्त में चल रहे है।इन्ही डाँसबारो के अंदर बार बालाओं पर पैसा लुटाने को लेकर आये दिन दारू के नशे में धुत ग्राहकों के बीच आपसी मारपीट की घटनाएं होते रहती है।लेकिन धुरु डांस बार की अपनी एक अलग ही पहचान है।इसी डांस बार मे कुछ वर्ष पहले राजेश श्यामलाल कुकरेजा की नृशंश हत्या की गई थी।उस हत्या के बाद यह डांस बार कुछ समय के लिए पूरी तरह बंद था। वापस बन गए बारबालाओं को छुपाने वाले गुप्त तहखाने मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन की हद में फर्नीचर बाजार में स्थित एक डांसबार में कुछ समय पहले ठाणे क्राइम ब्रांच की विशेष शाखा ने छापा मारकर स्थानीय पुलिस की नींद उड़ा दी थी।इसी छापे के बाद तत्कालीन डीसीपी वसंत जाधव व एसीपी टोटावार ने तत्कालीन उमनपा आयुक्त राजेन्द्र निम्बालकर को एक पत्र देकर डाँसबारो के अंदर बारबालाओं को छुपाने के लिए बार मालिको द्वारा बनाये गए गुप्त तहखानों को तोड़ने का आग्रह किया था।डीसीपी जाधव के पत्र को संज्ञान में लेते हुए तत्कालीन आयुक्त ने उपायुक्त मुख्यालय नितिन कापर्निस को तहखाने तोड़ने का आदेश दिया था।आयुक्त का आदेश मिलते ही कापर्निश ने सभी डाँसबारो पर अचानक रात के समय कार्यवाही करते हुए बारबालाओं को छुपाने वाले सभी तहखाने ध्वस्त कर दिया था।डीसीपी के ट्रांसफर के बाद बार चालको ने बारबालाओं को छुपाने वाला तहखाना वापस बना दिया जिसकी शिकायत पुनः आने के बाद तत्कालीन उपायुक्त जमीर लेंगरेकर व सहायक आयुक्त गणेश शिम्पी ने उक्त तहखाने को वापस तोड़ दिया था। फ्रीज के पीछे बने तहखाने से निकली थी 11 बारबालाये । दो दिन पहले उल्हासनगर क्राइम ब्रांच ने जो छापा मारा उस समय उनके आंखों के समक्ष सिर्फ 4 सिंगर नजर आ रही थी,उसके बाद पुलिस गुप्त तहखाने की तलाश में जुट गई,बताया जाता है कि किचन के अंदर एक फ्रीज के पीछे से छोटा सा दरवाजा बनाया हुआ था जो नजर नही आ रहा था,जब फ्रीज सरकाया गया तब उक्त दरवाजे पर पुलिस की नजर पड़ी और उसे खोलने के बाद अंदर छुपी 11 बारबालाओ को पुलिस ने बाहर निकालकर हिरासत में ले लिया था।यहां बता दे कि देर रात चलने वाले इस डांसबार के खिलाफ सभापती सरोजनी टेकचंदानी व यूटीए पदाधिकारी राजेश टेकचंदानी ने भी शिकायत किया हुआ है।
  • No Comment to " विवादित धुरु डांसबार पर क्राइम ब्रांच छापा ! "