• मर्डर सिटी इन उल्हासनगर टू बदलापुर ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मर्डर सिटी इन उल्हासनगर टू बदलापुर ?

     दीपावली त्यौहार के दिन हुई दो हत्या से दहला शहर ! 

     कानून व्यवस्था का अपराधियो ने बनाया मजाक ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के परिमंडल-4 के मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन व बदलापुर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत दीपावली के दिन ही दो युवकों की निर्मम हत्या से त्यौहार उत्सव को खूनी उत्सव में ततबिल कर दिया ।दोनो ही हत्याये छोटे वाद- विवाद को लेकर की गई,शिवसेना उप विभाग प्रमुख दशरथ चौधरी के भतीजे की हत्या से अशोक सम्राट नगर दहल गया।हत्या की घटना से आक्रोशित लोगो ने स्थानीय परिसर में जमकर उत्पात मचाया,जिसका शिकार वहा पर रहने वाले पत्रकार रामेश्वर गवई को होना पड़ा उनकी दो गाड़ियों में भी तोड़फोड़ हुआ है,हत्या की घटना के तकरीबन आधे घंटे बाद पुलिस जब पहुची तब उत्पात की घटना पर काबू पाया।
    सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन की हद में सम्राट अशोक नगर चौक,पांडे किराना स्टोर्स के समीप नवीन चौधरी अपने अन्य दोस्त करण भालेराव ,सागर उम्बाले के साथ दिवाली त्योहार के दिन गप्प-ठहाका लगा रहा था।तभी वहां से एक्टिवा गाड़ी पर तेज रफ्तार से कुशल निकम व राहुल भोसले गुजर रहे थे।गाड़ी की रफ्तार तेज होने की वजह से एक्टिवा का पिछला चक्का सागर उबाले के पैर पर चढ़ गया,जिसको लेकर आपस मे गाली-गलौच हुआ।"कुशल ने धमकाते हुए कहा यही रूक अभी आता हूं"यह कहकर कुशल और राहुल वहां से चले गए और थोड़ी देर में ही कुशल व राहुल अपने अन्य दोस्त रितिक गांगुर्ढे, प्रदीप जाधव,जगदीश जाधव उर्फ टीनू ,दिलीप जाधव रात साढ़े 10 बजे डंडा,लोहे की रॉड,व लादी लेकर वहां आये और वहां जो -जो खड़े थे सभी को मारना शुरू कर दिया। युवकों ने जब नवीन चौधरी को मारना शुरू किया तब करण भालेराव बचाव के लिए गया उसको भी बेरहमी से पीटना शुरू कर दिया।लोहे की रॉड और डंडे से पीटने से उप विभाग प्रमुख दशरथ चौधरी के भतीजे नवीन चौधरी की घटना स्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी।यह देख आरोपी युवक वहां से फरार हो गए दिल दहला देने वाली इस घटना से क्षुब्ध स्थानीय युवकों ने परिसर में जमकर उत्पात मचाते हुए टू-व्हीलर व फोर व्हीलर ऐसी कई गाड़ियों की जमकर तोड़-फोड़ की,माहौल बिगड़ने के आधे घंटे बाद पुलिस पहुचने के बाद हालत पर काबू पाया ,वही दूसरी घटना बदलापुर पुलिस स्टेशन के हद की है वहा भी चार लोगों ने मिलकर राजेश उर्फ चिडया नामक युवक की बेरहमी से हत्या कर दी,दिवाली के दिन दो अलग-अलग हत्याओं से त्योहार फीका पड़ गया और परिसर में शोक की लहर छाई हुई है।दो महीनों के अंतराल 5 हत्याओं ने पुलिस प्रसासन की सुरक्षा व्यवस्था पर सवालिया निशान लगा दिया है।इस विषय मे आमदार ज्योती कालानी ने कहा कि उल्हासनगर में बिगड़ते कानून व्यवस्था का मुद्दा आगामी विधानसभा में उठाऊँगी।
  • No Comment to " मर्डर सिटी इन उल्हासनगर टू बदलापुर ? "