• स्वीफ्ट डिजायर गाड़ी पर महाराष्ट्र शासन लिखकर घूमने वाले "रईस जादे" पर चला कानून का डंडा !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    स्वीफ्ट डिजायर गाड़ी में घूमने वाले "रईस जादे" पर चला कानून का डंडा ! 

     फर्जी तरीके से महाराष्ट्र शासन लिखकर रूवाब दिखाने के चक्कर पहुचे हवालात !

     रोड़ की ट्रेफिक की वजह से खुला फर्जी "महाराष्ट्र शासन "लिखी गाड़ी का राज ! 

    वाहतूक पुलिस कर्मी की शिकायत पर नंदलाल भोजवानी पर दर्ज हुआ मामला ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में "स्वीफ्ट डिजायर" प्राइवेट वाहन पर "महाराष्ट्र शासन" लिखकर घूमने वाले व पुलिस प्रशासन पर रूवाब झाड़ने वाले जालसाज के मुखोटा से पर्दा उठाते हुए वाहतूक पुलिस ने उसकी सही जगह दिखाई और उसके खिलाफ उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में मामला कराकर उसे सलाखों के पीछे पहुचाया है। 
    पुलिस से जानकारी के अनुसार दोपहर 2.45 बजे शिरू चौक रोड पर स्थित ठाकुर स्टूडियो के सामने सड़क पर " स्वीफ्ट डिजायर " गाड़ी नम्बर MH.05-BL1089 खड़ी थी जिसकी वजह से यातायात बाधित हो गया था।अम्बरनाथ वाहतूक शाखा में कार्यरत पुलिस कांस्टेबल बाबासाहेब सोपान पोटे अपने सुपीरियर एसीपी से मिलने जा रहे थे ,तो उन्होंने यातयात बाधित देख अवरुद्ध यातायात को क्लियर करने लगे।यातायात बाधित होने की वजह "स्वीफ्ट डिजायर" कार थी।पोटे कार के पास पहुचे तो फूल ब्लैक कांच के सीसे वाली कार पर "महाराष्ट्र शासन"लिखा हुआ था,जब पोटे ने वाहन चालक का लाइसेंस चेक किया तो उसकी शिनाख्त रोहित नंदलाल भोजवानी (26) के रूप में हुई,वाहन पर "महाराष्ट्र शासन " लिखने की जब वजह पूछी गयी तो पता चला कि नाकेबंदी व टोल-नाका बचाने के लिए कार पर "महाराष्ट्र शासन" लिखवाया गया था। पोटे की शिकायत पर उल्हासनगर पुलिस ने भा.द.वि.149,171,420 सह.मो.वा.100 डी 122/177 के तहत मामला दर्ज कर लिया है मामले की जांच सहायक पुलिस निरीक्षक पी.पी.चौधरी कर रहे है। बता दे कि उल्हासनगर में विभिन्न पार्टियों के बोर्ड -लोगो,प्रेस-पुलिस,मानव अधिकार आयोग स्टिकर लगाकर शहर में हजारो गाड़िया अवैध तरीके से घूम रही है,जब भी कोई वाहतूक पुलिस कर्मी इन गाड़ियों को रोकने का प्रयास करता है तो उस पर रौब झाड़कर निकल जाते है।यदि स्थानीय पुलिस व वाहतूक विभाग ऐसे लोगो की तफ्तीश शुरू करे तो शहर में सैकड़ो गाड़िया पुलिस की पकड़ में आएगी ! यह फर्जी वाड़ा ज्यादातर उल्हासनगर में देखने को मिलता है इस लिये यह जरूरी है ऐसी सभी गाडियों को रोककर उनकी सही तरीके से जांच हो ताकि पूरे फर्जीवाड़े पर अंकुश लग सके !
  • No Comment to " स्वीफ्ट डिजायर गाड़ी पर महाराष्ट्र शासन लिखकर घूमने वाले "रईस जादे" पर चला कानून का डंडा ! "