• तीस घण्टे पानी कटौती के विरोध में उमपा की महासभा नगरसेवकों ने जमीन पर बैठकर किया आंदोलन !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    तीस घण्टे पानी कटौती के विरोध में उमपा की महासभा नगरसेवकों ने जमीन पर बैठकर किया आंदोलन ! 

    एमआईडीसी ने हप्ते के गुरुवार शाम 6 बजे से शुक्रवार रात 12 बजे रात तक पानी बंद करने का दिया फरमान ! 

     आयुक्त के आश्वासन के बाद नगरसेवकों खत्म किया अपना आंदोलन ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका की गुरुवार को हुई महासभा में पानी की हो रही एम आई डी सी के द्वारा 30 घण्टे की कटौती को लेकर सत्ता विपक्ष ने महासभा में जमीन पर बैठकर अपना विरोध जताया मनपा आयुक्त के आश्वासन के बाद सभी नगरसेवक अपने कुर्सियो पर जाकर बैठे और महासभा आगे चल पाई है !
    बता दे कि उल्हासनगर शहर को पानी पिलाने वाले बारवी और आंध्र बांध के जल अस्तर को देखते हुए एम आई डी सी के कार्यकारी अभियंता ने 11 दिसम्बर को मीटिंग बुलाई थी इस मीटिंग में यह निर्णय लिया गया कि उल्हासनगर शहर के पानी सप्लाई हप्ते में 30 घण्टे की कटौती करने निर्णय लिया है यह कटौती 21 दिसम्बर गुरुवार शाम 6 बजे से शुक्रवार रात 12 बजे तक कुल मिलाकर 30 घण्टे पानी बंद रहेगा इसका असर केडीएमसी व उल्हासनगर, आसपास के ग्राम पंचायत इलाको पर होगा ! गुरुवार की हुई महासभा में इस कटौती के विरोध करते सत्ता विपक्ष के नगरसेवकों ने जमीन पर बैठकर अपना विरोध जताया इसमें गंगाजल की नगरसेविका कंचन अमर लुंड व ज्योति रमेश चैनानी,शेरी लुंड,तो शिवसेना के नगरसेवक शेखर यादव,अरुण आशान, नगरसेविका लीलाबाई आशान,सुनील सुर्वे, नगरसेविका राजश्री चौधरी, भाजपा नगरसेवक राजेश वानखेड़े इत्यादि नगरसेवकों ने इस आंदोलन में भाग लिया यह सभी सदस्य एक घंटे तक नीचे बैठ आंदोलन किया मनपा आयुक्त अच्युत हांगे के आश्वास के बाद यह आंदोलन खत्म हुआ और सभी नगरसेवक अपने सीट पर आकर बैठे उसके बाद महासभा की आगे की कार्यवाही किया गया !
  • No Comment to " तीस घण्टे पानी कटौती के विरोध में उमपा की महासभा नगरसेवकों ने जमीन पर बैठकर किया आंदोलन ! "