• जन्म देने वाली माँ ने बच्चे को काली पन्नी में भरकर नाली में फेंका ! जाको रांखे साईंया मार सकें न कोई ,, इस कहावत को चरितार्थ किया कुछ घण्टे पहले जन्मे एक बच्चे ने !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    जन्म देने वाली माँ ने बच्चे को काली पन्नी में भरकर नाली में फेंका !

     नवजात बच्चे को मिला जीवनदान !

     काली पन्नी के अंदर हो रही आहट सुनने के बाद नागरिकों ने बाहर निकाला ! 

    उल्हासनगर- उल्हासनगर में केवल एक घंटे पूर्व जन्मे अर्भक शिशु को काली थैली में बांधकर अज्ञात निर्दयी माता-पिता ने नाले में फेंक दिया था।अपनी जान बचाने के लिए बच्चे ने की 
     कोशिश उसकी आहट सुनकर नागरिकों ने इस बच्चे को जीवनदान दिया।
    बता दे कि शाम पौने पांच बजे उल्हासनगर पालिका की हद में स्थित वडोल गांव के एक नाले में काली थैली में बंद यह बच्चा मिला। वहां रहने वाली सामाजिक कार्यकर्ता शालिनी गायकवाड ने नागरिकों की मदद से थैली को नाले से बाहर निकाला।थैली खोलने के बाद उसमें एक नवजात बच्चे को देखकर शालीनी गायकवाड ने अशोका फाऊंडेशन के अध्यक्ष शिवाजी रगडे को फोन करके इसकी जानकारी दी।जानकारी मिलते ही रगडे वडोल गांव में पहुंच गए और तत्काल उस बच्चे को लेकर शासकीय मध्यवर्ती रुग्णालय में गए। डॉक्टरों ने अर्भक की नाल काटकर उसका तत्काल उपचार किया, जिससे उस बच्चे को जीवनदान मिला। स्त्रीभ्रूणहत्या रोको, ऐसा दिल्ली से गल्ली तक जनजागृती की जाती है, तब भी ऐसी घटना घट रही है। अज्ञात माता-पिता की शिकायत पुलिस स्टेशन में कई गई है, ऐसी जानकारी शिवाजी रगडे ने दी है।
  • No Comment to " जन्म देने वाली माँ ने बच्चे को काली पन्नी में भरकर नाली में फेंका ! जाको रांखे साईंया मार सकें न कोई ,, इस कहावत को चरितार्थ किया कुछ घण्टे पहले जन्मे एक बच्चे ने ! "