Browsing "Older Posts"

  • टीओके प्रमुख कालानी पर शोशल मीडिया की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर कालानी समर्थकों गुस्सा फूटा !

    By fast headline india →
    टीओके प्रमुख कालानी पर शोशल मीडिया की गई आपत्तिजनक टिप्पणी पर कालानी समर्थकों गुस्सा फूटा ! 

    आपत्तिजनक टिप्पणी पोस्ट करने वाले गमलाड़ू को कालानी समर्थक ने की पिटाई ! 

    पुलिस ने क्रॉस कंमप्लेन दर्ज किया कुछ लोगो को किया गिरफ्तार ! 

    क्या था पूरा मामला इस का खुलासा किया टीओके प्रवक्ता निकम ने सुनिये क्या उन्होंने ने,,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक सनसनीखेज घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है इस फुटेज में 35 से 40 लोगो के जरिये एक युवक को मारते व उसका अपहरण करने की कोशिश करते दिख रहे थे,  टीओके के समर्थका गुस्सा था , इसका खुलासा टीओके प्रवक्ता कमलेश निकम ने किया उन्होंने बताया कि गमलाड़ू के जरिये टीओके प्रमुख ओमी कालानी पर शोशल मीडिया पर आपत्तिजनक टिप्पणी से कालानी समर्थक नाराज थे उसी नाराजगी का यह सीसीटीवी फुटेज है,जिसमें उनका आक्रोश दिख रहा है इस मामले में उल्हासनगर पुलिस ने परस्पर मामला दर्ज किया है और दोनो पक्षो से कुछ लोगो को गिरफ्तार किया गया था जिन्हें बाद में कोर्ट से जमानत मिलने पर रिहा कर दिया गया है, इस मामले पर टीओके के प्रवक्ता कमलेश निकम ने क्या किया खुलासा सुनिये उन्ही की जुबानी,,,,,,,,,,
  • शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर ट्रेफिक पुलिस की बड़ी कार्यवाई !

    By fast headline india →
    शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर ट्रेफिक पुलिस की बड़ी कार्यवाई !

     सौ से ज्यादा लोगो पर हो चुकी है अभीतक कार्यवाई ! 

    दन्यू ईयर का जश्न मनाने वालो ट्रैफिक के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीकांत धरणे ने दिया संदेश ! 

    टीम बनाकर की जा रही शराबी ड्राइवरों पर कार्यवाई ! 

    इन सारे विषय पर क्या कहना है ट्रैफिक के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीकांत धरणे जी का सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,,

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों की अब खैर नही है खास करके नए साल का जश्न मनाने की धुन में शराब सेवन करने वालो को कड़ा संदेश देने की कोशिश किया है उल्हासनगर के ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीकांत धरने के द्वारा अभीतक की गई कार्यवाई में सौ से ज्यादा लोगो पर हो चुकी है इसमें कुछ को जुर्माना तो कुछ को कोर्ट तक लेजा ने कार्रवाई की गई है, 
    गौरतलब हो कि नए साल के जश्न में लोग इस कदर डूब जाते है कि शराब पीकर गाड़ी चलाने से भी बाज नही आते और उसका नतीजा जो बिना शराब पिये गाड़ी चलाते है कभी कभी उन्हें भुगतान पड़ता है और एक्सीडेंट में अपनी जान या हाथ पैर तुड़वाना पर जाता है यही नही ऐसे लोग ट्रेफिक नियमों का खुलकर उल्लंघन करते है इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए उल्हासनगर शहर के ट्रैफिक पुलिस के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीकांत धरने के द्वारा बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया है इसके लिए उन्होंने कई टीम बनाई है जो शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों पर नजर बनाए रहते है जैसे ही कोई संदिग्ध दिखता है वह तुरंत उसको रुका कर उसकी जांच करते है और उसके बाद उसका मेडिकल करवा कर कार्यवाई की जाती अभीतक ऐसे सौ से ज्यादा लोगो पर कार्यवाई की जा चुकी है, इस विषय पर धरणे ने एक मैसेज आमजनता को भी दिया है क्या है वह मैसेज देखिए पूरी खबर को,,,,,,,,
  • सेंचुरी रेयान कंपनी एसिड प्लांट हादसा मामला गुंजा विधान परिषद में !

    By fast headline india →
    सेंचुरी रेयान कंपनी एसिड प्लांट हादसा मामला गुंजा विधान परिषद में ! 

     विधान परिषद में उठे मुद्दे पर सभापती ने दिया कार्यवाही करने का आदेश !

     पिछले महीने में एसिड प्लांट में सुरक्षा व्यवस्था के अभाव के चलते हुआ था बड़ा हादसा जिसमे 8 कर्मचारी बुरी तरह झुलसे थे !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर की नामचीन सेंचुरी रेयान कंपनी के एसिड प्लांट में सुरक्षा के इंतजाम नही होने की वजह से नवम्बर महीने में 27 तारीख की सुबह की शिफ्ट में कार्यरत पंकज सिंह,अंकित सिंह,केतन जाधव तथा अनिल कनसे नामक चार कर्मचारी एसिड की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गए है,जिन्हें प्राथमिक उपचार के लिए पहले सेंचुरी रेयान के अस्पताल में भर्ती कराया गया।जब उनकी हालत और नाजुक होते गयी तो उन चारों कामगारों को उपचार के लिए मुम्बई के अस्पताल में भेज दिया गया था। उसके दो दिन बाद ही 29 तारीख को उसी एसिड प्लांट में दूसरा हादसा हुआ उसमे भी लक्षमण यादव,विकास मोरे,गोरख जिरेमाली तथा रवि शुक्ला नामक चार कर्मचारी बुरी तरह झुलस गए थे।जिनका उपचार सेंचुरी अस्पताल में किया गया था। 
    गौरतलब हो कि एसिड प्लांट में सुरक्षा का इंतजाम नही होने की वजह से दो दिन में दो वारदाते हुई जिसे सेंचुरी कंपनी के व्यवस्थाको ने दबा दिया।इन दोनों घटनाओं का महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के शहर संघटक मैनुद्दीन शेख ने उठाते हुए उल्हासनगर पुलिस को एक पत्र देकर एसिड प्लांट की सुरक्षा व्यवस्था में कोताही बरतने वाले कंपनी व्यवस्थापकों पर अपराधिक मामला दर्ज करने की मांग की थी।कंपनी व्यवस्थापकों के दबाव में जब कोई कार्यवाही नही की गई तो पीपल्स रिपब्लिकन पार्टी के शहर अध्यक्ष पंडित निकम ने पुलिस को एक पत्र देकर उपोष्ण करने की चेतावनी दी। 11 दिसंबर को जब पंडित निकम के कार्यकर्ता कंपनी  गेट के सामने स्टेज बनवा कर उपोष्ण पर बैठने की तैयारी कर रहे थे,तभी अचानक कंपनी में कार्यरत संतोष भोईर,ज्ञानेश्वर पाटिल,बहादुर सिंह,विजय सिंह,एकनाथ ओवडेकर व राजेश भोईर ने स्टेज पर लगे महापुरुषों का बैनर फाड़ते हुए स्टेज पर तोड़-फोड़ कर कार्यकर्ताओ को भगा दिया था।             जिसकी शिकायत पंडित निकम ने पत्र द्वारा पुलिस में करते हुए एटरासिटी के तहत मामला दर्ज करने की मांग की थी।बावजूद जब पुलिस ने कोई कार्यवाही नही किया तो शीतकालीन विधानपरिषद अधिवेशन में विधान परिषद सदस्य भाई गिरिकर ने कंपनी व्यवस्थापक सुबोध दवे व स्टेज की तोड़-फोड़ कर दहशत निर्माण करने वालो का मुद्दा उठाया।भाई गिरिकर के सवालों पर विधानपरिषद के पीठासीन अधिकारी (सभापती) ने मामले की गंभीरता को देखते हुए कंपनी व्यवस्थापक सहित स्टेज तोड़ने वालों पर तत्काल कार्यवाही का आदेश दिया है,जिससे सेंचुरी कंपनी व्यवस्थापकों की मुसीबतें बढ़ गयी है।
  • उल्हासनगर में टीओके के कार्यकर्ताओं गुंडाराज !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में टीओके के कार्यकर्ताओं गुंडाराज !

     दिन दहाड़े एक युवक का अपहरण की कोशिश,फिर जमकर किया पिटाई ! 

    पुलिस ने न्याय नही दिया तो पुलिस स्टेशन के सामने करूंगी आत्महत्या- पीड़ित लड़के की माँ 

    पुलिस पर क्रॉस कम्प्लेन लेने का बनाया जा रहा है दबाव ?

    ओमी कालानी के बारे में शोसल मीडिया पर किया था अभद्र टिप्पणी !

     टीओके व पीड़ित परिजनों के बीच में पुलिस स्टेशन हंगामा व हुई जमकर धक्कामुक्की ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक सनसनीखेज घटना का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है इस फुटेज में 35 से 40 लोगो के जरिये एक युवक को मारते व उसका अपहरण करने की कोशिश करते दिख रहे है, इस घटना को अंजाम दिया टीओके के गुंडों ने उल्हासनगर कैम्प क्रमांक एक के गोलमैदान परिसर में रहनेवाले अमे गमलाड़ू पवार युवक को अपहरण कर उसके साथ मारपीट का पूरा मामला है इस मामले में उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया जा रहा है ! यह पूरा मामला ओमी कालानी के बारे में शोसल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी  करने के वजह से हुआ है ऐसा कालानी समर्थकों का कहना है!
    इस मामले की जानकारी पीड़ित अमे गमलाड़ू पवार के भाई रोहित गमलाड़ू पवार ने पूरे मामले की जानकारी दी है वही इस मामले को लेकर पुलिस पर दबाव बनाने के पीड़ित की मां व विरोधी टीओके के कार्यकर्ताओं के बीच पुलिस स्टेशन परिसर मुंह मारी व हाथा पाई होने की भी जानकारी सामने आ रही है वही फिर्यादि माँ ने आरोप किया कि उल्हासनगर पुलिस स्टेशन टीओके के राजनीति दबाव में काम कर रही है और आरोपी को बचा रही है अगर हमें न्याय नही मिला तो हम पुलिस चौकी के सामने आत्मदाह करेंगे इस बयान पर पुलिस स्टेशन परिसर में हड़कंप मच गया है,वही इस मामले पर अभी पुलिस की कार्यवाई शुरू है खबर लिखे जानेतक मामला दर्ज का प्रोसेस जारी था !
  • उमपा के स्थाई समिति सभापति राजेश बधारिया ने रेग्युलराइजेशन प्रकिया लोगो को दी जानकारी !

    By fast headline india →
    उमपा के स्थाई समिति सभापति राजेश बधारिया ने रेग्युलराइजेशन प्रकिया लोगो को दी जानकारी !

     अपने वार्ड में कैम्प लगाकर आमजनता के मन की संकायों का किया समाधान ! 

    2006 की पेनाल्टी भरे लोगो के विषय दी विस्तृत जानकारी !

     पेनाल्टी को कैसे कलकुलेट करे और बहुत सी जानकारी सुनिये उन्ही की जुबानी,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के ज्वलंत विषय में एक नई बात सामने आई वह डेडलाइन को लेकर पहले वह आम जनता जान ले कि सरकार के दिये कानून में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए जो समय सीमा दी गई है वह 60 दिनों की है 1 दिसम्बर 2019 से लेकर 30 जनवरी 2020 तक डेडलाइन है, और जो 80 के करीब इमारतवासियों ने 2006 से रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया में जाते हुये अपने कागजाद उस समय जमा करवाये थे, जिन्होंने उस समय पेनल्टी भरी थी, जिन लोगों ने पहले जुर्माना और शुल्क का भुगतान किया था, उन्हें भी ऑनलाइन प्रक्रिया करने के बाद ही डी फॉर्म प्राप्त होगा, यह आयुक्त ने कई बार दिए अपने स्टेटमेंट में क्लियर किया है इस लिए किसी बहकाओ में न आये और ऑनलाइन प्रकिया में भाग ले ! बता दे कि रविवार को उल्हासनगर के भाजपा नगरसेवक व स्थाई समिति सभापति राजेश बधारिया ने अपने वार्ड के लोगो को रेग्युलराइजेशन की विस्तृत जानकारी देने के लिए दुनीचंद कालानी हाल में मीटिंग का आयोजन किया था इस मीटिंग में चेयरमैन ,बिल्डिंगों के सेक्रेटरी और रेसिडेंट ऑफ शेरावाली पैलेस A, B&C व आश्रम अपार्टमेंट A & B, बसराम अपार्टमेंट A & B, इन्द्रलोक अपार्टमेंट A & B, आकाश अपार्टमेंट A & B, अमर ज्योति अपार्टमेंट A & B, गीता काम्प्लेक्स A & B, कैलाश सोसायटी, व्हाइट हाउस अपार्टमेंट, भाग्य लक्ष्मी अपार्टमेंट, साई गंगा अपार्टमेंट,गणेश पैलेश समेत और बड़ी संख्या में वार्ड के लोगो की उपस्थिति में यह कार्यक्रम सम्पन्न हुआ इस कार्यक्रम के मार्ग दर्शक रहे बधारिया ने लोगो के समस्याओं को सुना कैसे लोगो के प्रश्ननो के उत्तर दिए सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,
  • दाऊद' का जन्मदिन मनाना कथित पत्रकार को पड़ा भारी !

    By fast headline india →
    दाऊद' का जन्मदिन मनाना कथित पत्रकार को पड़ा भारी ! 

    मुंबई क्राइम ब्रांच ने किया जन्मदिन मनाने वाले को किया गिरफ्तार !

     पूछताछ के दौरान शख्स ने बताया कि वह फेसबुक पर अपने फॉलोवर्स बढ़ाने के लिए ऐसा कर रहा था !

     उसने यह भी कहा कि वह अपने परिचित दाऊद का जन्मदिन मना रहा था, न कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का ! 

     वर्ष 1993 के मुंबई बम धमाकों का मुख्य आरोपी दाऊद गुरुवार को 64 साल का हो गया ! 

     मुंबई-मुंबई पुलिस क्राइम ब्रांच ने डोंगरी से एक शख्स को अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का जन्मदिन मनाने के आरोप में गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान शख्स ने बताया कि वह फेसबुक पर अपने फॉलोवर्स बढ़ाने के लिए ऐसा कर रहा था। इसके साथ ही उसने यह भी कहा कि वह अपने परिचित दाऊद का जन्मदिन मना रहा था, न कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के जन्मदिन का जश्न मना रहा था। 
    गौरतलब हो किडोंगरी से एक व्यक्ति को कथित रूप से एक पत्रकार को धमकाने के लिए गिरफ्तार किया गया है। पत्रकार ने भगोड़े गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम का जन्मदिन मनाते हुए उस व्यक्ति का विडियो सोशल मीडिया पर साझा किया था। वर्ष 1993 के मुंबई बम धमाकों का मुख्य आरोपी दाऊद गुरुवार को 64 साल का हो गया। इसपर डोंगरी निवासी अजहर फिरोज मनियार उर्फ शेरा चिकना ने फेसबुक पर एक विडियो पोस्ट किया, जिसमें वह कथित रूप से दाऊद का जन्मदिन मनाता दिख रहा है। माना जाता है कि दाऊद पाकिस्तान में छिपा हुआ है। पुलिस ने बताया कि स्थानीय पत्रकार मोहसिन शेख ने विडियो को यू-ट्यूब पर अपलोड कर उसे वायरल कर दिया और फिर वॉट्सऐप समूहों पर उसे फॉरवर्ड कर दिया। इसके बाद मनियार ने उसे धमकी दी। उन्होंने कहा कि शेख ने शुक्रवार को गोरेगांव थाने में शिकायत की। इसके बाद मुंबई अपराध शाखा ने उसी दिन उसे गिरफ्तार कर लिया।
  • 23 वर्षीय नौकरानी के साथ अय्यासी करना 68 वर्षीय बुड्ढे को पड़ा भारी !

    By fast headline india →
    23 वर्षीय नौकरानी के साथ अय्यासी करना 68 वर्षीय बुड्ढे को पड़ा भारी ! 

    नौकरानी की शिकायत पर पुलिस ने अय्यास बुड्ढे को किया गिरफ्तार ! 

    घर के लोग गए हुए बाहर अकेली नौकरानी को देखकर जागी जवानी !

     कोर्ट ने 30 दिसम्बर तक पुलिस रिमांड पर भेजा ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के सुभाष टेकड़ी में परिसर में रहने वाले एक 68 वर्षीय अय्यास बुड्ढे ने अपने ही घर की नौकरानी से छेड़खानी करके उसे अपनी हवस का शिकार बनाने की कोशिश की,नौकरानी की शिकायत पर विट्ठलवाड़ी पुलिस ने बुड्ढे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। इस घटना से परिसर में हड़कंप मच गया है ।
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सुभाष टेकड़ी कैम्प चार में रहने वाला भीम राव धानी (68)  बैंक से रिटायर्ड कर्मी है,उसके घर मे एक 23 वर्षीय महिला बतौर नौकरानी झाड़ू-पोछा,बर्तन घसने का काम करती थी।रोज की तरह कल भी नौकरानी अपने नियमित समय पर घरकाम करने गयी थी,लेकिन उसे नही पता था कि मालकिन व उसकी बेटी मेडिकल उपचार के लिए पूना के एक निजी हॉस्पिटल में गए हुए है। नौकरानी महिला जब हाल में झाड़ू लगा रही थी तभी घर मे  नौकरानी को अकेली देख मकान मालिक भीमराव धानी की नीयत खराब हो गयी और उसने उसे फसाने के चक्कर मे चिकन खायेगी क्या ?पूछा नौकरानी ने उत्तर दिया मैं खाना खाकर आयी हुई,इसके बाद जब नौकरानी झाड़ू लगा रही थी तब मकान मालिक ने उससे छेड़खानी करनी शुरू कर दी,इस बात से नाराज नौकरानी मकान मालिक को ढकेल कर घर से निकल गयी और पूरी कहानी अपने पति को बताई,बुड्ढे की हरकत सुनकर नौकरानी का पति अपनी पत्नी को लेकर पुलिस स्टेशन पहुचा और पुलिस के समक्ष वाक्या बयान किया।68 वर्षीय वृध्द होने के वजह से पुलिस नौकरानी की बात पर यकीन नही कर पा रही थी तब पुलिस ने मकान मालिक के घर का सीसीटीवी फुटेज चेक किया तो उसमें भीमराव धानी नौकरानी से अश्लील हरकत करते हुए कैद था।उसके बाद विट्ठलवाड़ी पुलिस ने नौकरानी की शिकायत पर मामला दर्ज कर भीमराव धानी को गिरफ्तार कर लिया।न्यायालय ने धानी को 30 तारीख तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है।
  • टीवी एक्टर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट हुआ बरामद !

    By fast headline india →
    टीवी एक्टर ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट हुआ बरामद ! 

     टीवी एक्टर कुशल पंजाबी का हाल ही में मौत ही है ! 

    मुंबई के पाली हिल स्थित अपने आवास पर मृत पाए गए थे ! 

    मुंबई-मुंबई पुलिस ने उनके आत्महत्या किए जाने की पुष्टि की है, हालांकि आत्महत्या की वजहों का पता नहीं चल पाया है. पुलिस के अनुसार कुशल विजय पंजाबी (उम्र 42 साल) ने पंखे से लटककर ख़ुदकुशी की है. उन्हें भाभा अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. इस संबंध में पुलिस ने एक्सिडेंटल डेथ रिपोर्ट (एडीआर) दर्ज की है और जांच की जा रही है. 
    बता दे कि कुशल के दोस्त और एक्टर-प्रड्यूसर करनवीर बोहरा ने कुछ तस्वीरें ट्वीट करते हुए उनकी मौत पर दुख जताया है. करनवीर लिखते हैं, "तुम्हारे यूं जाने से मैं हैरान रह गया हूं. अभी तक यक़ीन नहीं कर पा रहा." पुलिस को कुशल के घर से सुसाइड नोट भी मिला है. पुलिस के अनुसार, कुशल ने डेढ़ पन्नों के नोट में लिखा है कि उनकी मौत के लिए किसी को भी ज़िम्मेदार न ठहराया जाए.इसमें लिखा है, "मेरी संपत्ति का 50 प्रतिशत हिस्सा मेरे माता-पिता और बहन में बराबर बांट दिया जाए जबकि बचे हुए हिस्से को तीन साल के बेटे को दिया जाए." कुशल ने साल 2015 में ऑड्री डॉलेन से शादी की थी और अप्रैल 2016 में उनके एक बेटा हुआ था. कुशल पंजाबी 30 से अधिक टीवी सीरियल्स और शोज़ में नज़र आ चुके हैं. नौ फ़िल्मों में भी उन्होंने छोटी-बड़ी भूमिकाएं निभाई हैं. कुशल हाल ही में टीवी सिरीज़ 'इश्क़ में मरजावां' में नज़र आए थे. साल 2011 में उन्होंने अमरीकी रिएलिटी गेम शो वाइपआउट का 50 लाख की इनामी रकम वाला भारतीय संस्करण ज़ोर का झटका: टोटल वाइपआउट जीता था. सीआईडी, लव मैरिज, देखो मगर प्यार से, श... फिर कोई है, फ़ियर फ़ैक्टर, कभी हां कभी ना जैसे लोकप्रिय टीवी कार्यक्रमों में दिख चुके हैं. कुशल प्रोफ़ेशनल डांसर भी थे और उन्होंने रिएलिटी टीवी डांस शो 'झलक दिखला जा' के सातवें सीज़न में भी हिस्सा लिया था. वह 2004 में आई फ़रहान अख़्तर की फ़िल्म लक्ष्य और 2007 में करन जौहर की फ़िल्म काल में भी दिखे थे.
  • सांसद, विधायक, टीओके प्रमुख व नगरसेवक और मनपा आयुक्त ने शहर की जनता से किया ऑनलाइन प्रकिया आने की अपील !

    By fast headline india →
    सांसद, विधायक, टीओके प्रमुख व नगरसेवक और मनपा आयुक्त ने शहर की जनता से किया ऑनलाइन प्रकिया आने की अपील ! 

    ऑनलाइन फार्म भरने के लिए प्रशासन ने 60 दिनों दिया है समय, 1 दिसम्बर 2019 से 30 जनवरी 2020 को है आखिरी डेडलाइन ! 

    2006 के अध्यादेश के बाद पेनल्टी जिन्होंने भरी उन्हें भी ऑनलाइन फार्म भरना है तभी उनको डी फ़ॉर्म मिलेगा !

     शहरवासियों को शोसल साइडों पर गलत मैसेज के जरिये किया जा रहा है गुमराह !

     ऑनलाइन फार्म भरना है जरूरी नया डीपी रोड़ बाधित व हाइस्टेन्स वायर के नीचे बिल्डिंग वाले भी कर सकते है निवेदन ! 

    इन सारे विषयों पर सांसद शिंदे,विधायक आयलानी, टीओके प्रमुख कालानी व नगरसेवक रामचंदानी और मनपा आयुक्त देशमुख ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,, 


     उल्हासनगर-उल्हासनगर के ज्वलंत विषय में एक नई बात सामने आई वह डेडलाइन को लेकर पहले वह आम जनता जान ले कि सरकार के दिये कानून में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए जो समय सीमा दी गई है वह 60 दिनों की है 1 दिसम्बर 2019 से लेकर 30 जनवरी 2020 तक डेडलाइन है, और जो 100 के करीब इमारतवासियों ने 2006 से रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया में जाते हुये अपने कागजाद उस समय जमा करवाये थे, जिन्होंने उस समय पेनल्टी भरी थी, जिन लोगों ने पहले जुर्माना और शुल्क का भुगतान किया था, उन्हें भी ऑनलाइन प्रक्रिया करने के बाद ही डी फॉर्म प्राप्त होगा, यह आयुक्त ने कई बार दिए अपने स्टेटमेंट में क्लियर किया है इस लिए किसी बहकाओ में न आये और ऑनलाइन प्रकिया में भाग ले ! गौरतलब हो कि गुरुवार को कल्याण लोकसभा सांसद डॉ श्रीकांत शिंदे की बैठक उमपा आयुक्त के साथ किया है और रेग्युलराइजेशन में आम जनता को हो रही परेसानी पर चर्चा किया इसके अलावा शहर के विभिन्न समस्याओं के समाधान पर भी गभीर चर्चा किया गया है इस चर्चा मे उमपा नगरसेवक दिपक सिरवानी सभागृह नेता शंकर लुंड और स्थाई समिती सभापती राजेश बधारिया व महापौर लीलाबाई आसान नगरसेवक व शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी व नगरसेवक धनंजय बोडारे समेत और कई नगरसेवकों की मौजूदगी में यह बैठक संपन हुआ है, इसके बाद सांसद श्रीकांत शिंदे व आयुक्त सुधाकर देशमुख ने उल्हासनगर की जनता से अपील की है कि, जल्द से जल्द ऑनलाइन प्रक्रिया में अपने आवेदन दर्ज कराए। जिससे सभी लोगो की प्रॉपर्टी को रेग्युलराइजेशन का लाभ मिल सके ! इस विषय पर विधायक कुमार आयलानी ,टीओके प्रमुख ओमी कालानी व नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी ने क्या कहा है सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,,
  • नालासोपार में मनपा अधिकारी की गुंडा राज !

    By fast headline india →
    नालासोपार में मनपा अधिकारी की गुंडा राज ! 

    वीडियो, सीधा दिख रहा है कि झगड़े की शुरुआत मनपा कर्मचारी ने किया है ! 

    अवैध ढेले पर कार्यवाई से जुड़ा हुआ है पूरा मामला ! 

    मनपा अधिकारी शिकायत पीड़ित परिवार पर दर्ज हुआ मामला !

    (नालासोपारा ओम प्रकाश यादव की रिपोर्ट ) 

    नालासोपारा-नालासोपारा पूर्व राजनगर इलाके की घटना है,दरअसल बात है कि वसई शहर महानगर पालिका अतिक्रमण विभाग द्वारा राजनगर क्षेत्र में दोपहर 12 बजे के आसपास अवैध फेरीवालों पर कार्रवाई हेतु पहुंची थी। कार्रवाई की वायरल वीडियो मे साफ तौर से दिखाई दे रहा है कि मनपा कर्मचारी कार्रवाई जैसे ही शुरू की,वैसे ही कर्मचारी और हाथगाड़ी वाले से दोनों में कहा सुनी हो गई।लेकिन जो काम कर्मचारियों को सिस्टम के साथ करना चाहिए था ,वह न करके हाथगाड़ी वाले से भीड़ गए। जब हाथगाड़ी वाले कार्रवाई में अड़चन डाले रहे थे तो उन्हें तत्काल इसकी शिकायत मनपा उच्च अधिकारी को करनी चाहिए था। तथा उनके मार्गदर्शन में हाथगाड़ी के खिलाफ सरकारी कामकाज अड़चन डालने को लेकर उनपर मामला दर्ज करवाना चाहिए था, लेकीन कर्मचारी यह करने की बजाए हाथगाड़ी वाले से भीड़ गए... वीडियो में देखिये ; झगड़े की शुरुआत मनपा कर्मचारी द्वारा शुरू की गई,,वीडियो में कर्मचारी गोकुल पाटिल किस तरह से एक महिला से भिड़ गए है,देखिए पूरा मामला वीडियो क्लिप के जरिए,,,,,
  • अंबरनाथ रेलवे स्टेशन पर महिला टीसी से हुई मारपीट !

    By fast headline india →
    अंबरनाथ रेलवे स्टेशन पर महिला टीसी से हुई मारपीट ! 

    सीसीटीवी में कैद हुई पूरी बारदात ! 

     टिकट मांगने पर नाराज हुई महिला ! 

     इससे पहले किंग्स सर्कल और बांद्रा में हो चुकी ऐसी वारदात ! 

     अंबरनाथ-अंबरनाथ किंग्स सर्कल और बांद्रा रेलवे स्टेशन पर अज्ञात यात्रीयो के द्वारा टीसी की पिटाई का मामला अभी ठंडा भी नही हुआ था तभी एक महिला यात्री को महिला टिकट निरीक्षक के द्वारा टिकट पूछे जाने पर अंबरनाथ रेलवे स्टेशन पर गुस्से में आई महिला यात्री के द्वारा पिटाई करने का मामला सामने आया है। यह पूरा मामला स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है। गौरतलब हो कि ट्रेन यात्रा के दौरान, साथी यात्रियों के साथ पिटाई की घटनाएं रोज होती हैं। हालांकि, पिछले कुछ दिनों में, टिकट चेक (टीसी)करने वालों की संख्या में वृद्धि हुई है। मंगलवार को पवन मुंबई जाने के लिए अंबरनाथ रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर तीन से मुंबई जा रहे थे और उनके साथ बच्चे भी साथ में यात्रा कर रहे थे। उस समय, पर विशेष दस्ते की एक महिला नम्रता शेडगे ने महिला मीनल धुले से टिकट मांगा और जब उन्होंने टिकट नही दिखाया तो उसे ट्रेन से उतार दिया। उस समय मीनल अपने पति और बेटे के साथ थी। हालाँकि, जब उसे नीचे उतारा उसके बाद मीनल को टिकट चेकर महिला के सुझाव पर गुस्सा आ गया था, उसके बाद महिला ने बाल पकड़कर टीसी की महिला की पिटाई कर दी। रेलवे पुलिस ने इस मामले में टिकट निरीक्षक नम्रता शादगे द्वारा दर्ज शिकायत के बाद आरोपी महिला मीनल को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पति से बिना टिकट यात्रा करने के लिए भी जुर्माना लगाया गया है। कल्याण जीआरपी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक वी शार्दुल ने इस बारे में कहा कि यह हर तरह से परेशान करने वाला मामल है , यात्री और टिकट जांचकर्ता के बीच सामंजस्य की भूमिका होनी चाहिए, कल्याण कर्जत कसारा रेल यात्री संघ एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश घनगांव ने कहा टिकट परीक्षकों पर रेलवे प्रशासन के दबाव को पूरा करने की जिम्मेदारी होती है, वे भी अपने काम के कारण तनावग्रस्त हैं और अपने टारगेट को पूरा करने के लिए यात्री बहुत परेशान करते हैं।
  • उमपा आयुक्त देशमुख का सामाजिक संस्थाओ के द्वारा होगा घेराव ?

    By fast headline india →
    उमपा आयुक्त देशमुख का सामाजिक संस्थाओ के द्वारा होगा घेराव ? 

    40 बिल्डिंगो को " टु बी डिमोलिश्ड " नोटिस देने पर मांगा जाएगा जवाब !

     नए डीपी प्लान के अनुसार शहर 80 प्रतिशत बिल्डिंगे नही हो पाएगी रेग्युलराइज -दायमा 

    उमपा पहले अपनी बिल्डिंग को करे रेग्युलराइजेशन में शामिल फिर जनता पर करे कार्यवाही ! 

    संस्थाओं के लोगो ने क्या किया है आरपो सुनिए उनकी जुबानी,,,,, 

    उल्हासनगर- उल्हासनगर महानगरपालिका के आयुक्त ने बुधवार 24 दिसंबर को 40 इमारतों को " टु बी डिमोलिश्ड " नोटिस दिया है उस नोटिस के बाद शहर की सामाजिक संस्थाओं ने इस का विरोध किया है और जल्द मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख का घेराव करके इसका जवाब मांगने की तैयारी कर रही है ! 
    गौरतलब हो कि हाल ही में मनपा आयुक्त ने स्थानीय चैनल के जरिये विडिओ ज़ारी करके उल्हासनगर के नागरिकों को मैसेज देने की कोशिश थी जिसके चलते रेग्युलराइजेशन में ज्यादा से ज्यादा लोग भाग ले ऐसा निवेदन किया गया था और नही भाग लेने पर कार्यवाई की बात कहा गया है, इसी संदेश का विरोध करते हुए सामाजिक संस्थाओं के लोगो ने सीधा आरोप किया है कि इस वीडियो मैसेज व 40 इमारतों को " टु बी डिमोलिश्ड " नोटिस के जरिये शहर में दहशत का माहौल फैले इसका पुरा प्रबन्ध किया, काफ़ी हद तक सफ़ल भी रहे, परंतु बुज़ुर्गों, महिलाओं बच्चों में दहशत फैलाकर आयुक्त साबित क्या करना चाहते है ? ऐसा संस्थाओ के द्वारा सवाल किया गया है उल्हासनगर की 40 इमारतों को आयुक्त के कहने पर प्रभाग समिती अधिकारियों द्वारा " टु बी डिमोलिश्ड " की नोटीस बुज़ुर्गों, महिलाओं बच्चों के हाथों में देकर दहशत फैला दी गयी, नोटिस देते समय विडिओग्राफी भी की गयी, बदनामी के डर से किसी बुजुर्ग की तबियत बिगड़ जाये, किसी महिला का नाम खराब हो जाये किसी बच्चे के दिमाग पे असर हो जाये उसका ज़िम्मेदारी आयुक्त लेते है क्या इस तरह के प्रश्न किया जा रहा है ! जिन इमारतों में लोग रह रहे है, जिन्होंने 2007 में नियमितीकरण में हिस्सा लेकर अपने कागजाद जमा करवाये, जिन्होंने उस समय सरकार द्वारा लगे जुर्माने को भी भरा ऐसे इमारतों को भी नोटिस बोर्ड पर चिपकायी गयी है जब आयुक्त बार बार यह कह रहे है कि, मैं कुछ नहीं कर रहा मैं तो न्यायालय और सरकार के अध्यादेश का पालन कर रहा हु, आयुक्त महोदय, अध्यादेश में कहीं नही लिखा कि, रेग्युलराइज़ेशन की प्रक्रिया ऑनलाइन करो, अध्यादेश में कहीं नही लिखा कि, कोटक महिंद्रा कम्पनी से 1000 रुपए लेकर प्रोसेस फीस के रूप में वसूल करो, अध्यादेश में कहीं नही लिखा कि, 2007 में जिन 21,000 लोगों आवेदन किये थे, उनको फिर से आवेदन करने बोलो, अध्यादेश में कहीं नही लिखा कि, 855 इमारतों में से सिर्फ 40 इमारतों को खाली करवाओ और डिमोलेशन का नोटीस दो, सब तो अपनी मनमर्जी से कर रहे हो, तो अध्यादेश पालन का ढिंढोरा क्यों पिट रहे हों ? उमपा प्रशासन अपनी अवैध बिल्डिंग को रेग्युलराइजेशन के लिए आवेदन किया है क्या ? येसे कड़वे सवाल संस्थाओं के द्वारा पूछे जा रहे है, इन्ही सब सवालों को लेकर संस्थाओं के लोग मनपा आयुक्त का घेराव करके प्रस्तुत करने वाले है, इसी विषय पर 855 इमारतों को नियमितीकरण नोटिस पर चर्चा करने हेतु आज 25 दिसम्बर की शाम सिंधु युथ सर्कल, उल्हासनगर में कई संस्थाओं के द्वाराउक्त विषयों पर चर्चा की गयी, आयुक्त के कहने पर प्रभाग समिती अधिकारियों द्वारा रहिवासियो को दी गयी नोटिसों के बारे में सवाल पुछने उमपा आयुक्त का घेराव किया जायेगा, और पुछा जायेगा, कौन से आधार पे उन्होंने 40 इमारतों को " टु बी डिमोलिश्ड " नोटिस देने का चयन किया है। संस्थाओं के द्वारा आयुक्त को कब घेराव करने वाले इसकी जानकारी नही दिया गया है,,,, इस विषय पर क्या कहे संस्था के लोग क्या है आरोप सुनिये उनकी जुबानी,,,,,
  • नवजीवन बैंक को वाशु कुकरेजा ब्लैकमेल करने के लिए कर रहा शिकायत -शीतलदास चेयरमैन नवजीवन

    By fast headline india →
    नवजीवन बैंक को वाशु कुकरेजा ब्लैकमेल करने के लिए कर रहा शिकायत -शीतलदास चेयरमैन नवजीवन 

    बैंक से  50 लाख का लोन डिफाल्टर कुकरेजा की प्रॉपर्टी बैंक ने किया जप्त ! 

    उल्हासनगर में इससे पहले भी कुछ लोग बैंक से लोन लेकर नही भरने के लिए कर चुके हाइबोल्टेज ड्रामा !

     देखिए पूरी खबर ,,,,क्या कहा नवजीवन बैंक के चेयरमैन शीतलदास,,,,,,,, वाशु कुकरेजा ने क्या कहा है सुनिये दोनो की जुबानी,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के सुप्रसिद्ध नवजीवन बैंक के द्वारा संचालित साईबाबा एजुकेशन ट्रस्ट के द्वारा विकलांग व मूक बधिर के बच्चों को शिक्षित करने काम किया जाता है, नवजीवन बैंक के लोन डिफाल्टर वाशु कुकरेजा की शिकायत पर उल्हासनगर तहसीलदार की टीम ने ट्रस्ट के ऑफिस को सील किया है ! इस विषय पर जब नवजीवन बैंक के चेयरमैन शीतलदास हरचंदानी से बात किया तो उन्होंने कहा कि हमें बिना नोटिस दिए कार्यवाई किया है, वह भी बैंक डिफॉल्टर वाशु कुकरेजा उनको ब्लैकमेल करके लोन माफ करने का जुआड़ में लगा है ऐसा उनका कहना है,,, वही इस बारे में जब वाशु कुकरेजा से फोन पर बात किया गया सुनिये क्या कहना है खुद उनकी जुबानी,,,,,,,
  • इस हसीना ने ठंड में कामुक पोज देकर, बढ़ाया सोशल मीडिया का तापमान !

    By fast headline india →
    इस हसीना ने ठंड में कामुक पोज देकर, बढ़ाया सोशल मीडिया का तापमान ! 

    कौन है यह मॉडल देखिए तस्वीरों के जरिये !

    मुंबई -मुंबई अक्सर सेक्सी मॉडल अपने बोल्ड लुक के कारण तहलका मचाने का काम करती हैं और इतना ही नहीं उनके सेक्सी लुक को देखते ही फैंस इनके दीवाने हो जाते हैं। इस बार anastasiya kvitko ने सेक्सी फोटो शेयर कर तहलका मचा दिया है।
    आपको बता दें कि इंस्टा हैंडल पर भी anastasiya kvitko की फैन फॉलोइंग भी काफी अच्छी हैं। anastasiya kvitko हर बार बड़ी बेबाकी से अपने न्यूड फोटो शेयर करती हैं।इस बार वे बिकिनी फोटो के जरिए फैंस के दिलों पर राज कर रही है।
    साथ ही बता दे कि उनक इंस्टा अकाउंट देखकर आप दंग रह जाएंगे क्योंकि उस पर सेक्सी फोटोज की भरमार देखने को मिलेगी।anastasiya kvitko अपने हॉट फोटोज से अपने फैंस को खूब प्रभावित करती हैं।
    वहीं यह विदेशी मॉडल अपने फैंस को ज्यादा इंतजार नहीं करवाती है।
  • उल्हासनगर के सर्वोदय अस्पताल में सिटी स्कैन कराने आई महिला से टिकनिशियन ने किया छेड़खानी !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर के सर्वोदय अस्पताल में सिटी स्कैन कराने आई महिला से टिकनिशियन ने किया छेड़खानी ! 

    महिला की शिकायत पर पुलिस ने टिकनिशियन को किया गिरफ्तार !

     कोर्ट ने 27 दिसम्बर तक पुलिस रिमांड पर भेजा !


    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक अस्पताल के सीटी स्कैन के दौरान महिला के साथ टिकनीशियन के द्वारा यौन उत्पीड़न करने की चौंकाने वाली घटना सामने आई है। इस मामले में उल्हासनगर की हिललाइन पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज किया गया है और आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।
    गौरतलब हो कि यह पूरा मामला (सीटी स्कैन के दौरान छेड़छाड़) का बताया जा रहा की शिकायतकर्ता, 35 वर्षीय महिला, शहर सीटी स्कैन कराने के लिए उल्हासनगर के सर्वोदत अस्पताल में आई थी। उस समय, सिटीस्कैन करने वाले टिकनिशियन जेन्स थॉमस ने महिला के साथ छेड़खानी किया इस घटना से घबराई पीड़ित ने हिललाइन पुलिस स्टेशन में जाकर आरोपी टिकनिशियन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने थॉमस को यौन उत्पीड़न के आरोप में गिरफ्तार किया। और गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने उसे न्यायालय में पेश किया कोर्ट ने उसे 27 दिसम्बर तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। इस मामले की आगे की जांच में पुलिस जुटी हुई है !
  • उमपा प्रशासन के द्वारा 40 बिल्डिंग को कार्यवाई को नोटिस से शहर में मचा हड़कंप !

    By fast headline india →
    उमपा प्रशासन के द्वारा 40 बिल्डिंग को कार्यवाई को नोटिस से शहर में मचा हड़कंप ! 

     855 अवैध बिल्डिंगों पर मनपा का एक्शन हथौड़ा प्लान हुआ शुरू ?

     कोर्ट के आदेश का इंतजार उमपा प्रशासन हुई शक्त !

     855 अवैध बिल्डिंग वालो ने अभी तक रेग्युलराइजेशन में नही भरा आन लाइन आवेदन !

    सुनिये मनपा आयुक्त ने क्या कहा पूरे मामले पर,,,,,,,,   


    उल्हासनगर- उल्हासनगर 855 अवैध बिल्डिंगों के प्रॉपर्टी के मालिकों ने नियमितीकरण की में रुचि नही लिया यही कारण है कि एक भी बिल्डिंग के लोगो ने अभी तक ऑनलाइन फार्म नही भरा है, इनके बेरुखी के चलते उल्हासनगर महानगरपालिका ने इन बिल्डिंगों पर कार्यवाई को लेकर एक्शन मोड़ में आ गई है इन बिल्डिंग को पर कार्यवाई करने का नोटिस जारी किया और मंगलवार को चारों प्रभागों में कुल 40 बिल्डिंगो पर नोटिस छिपकाकर अपना मंसूबा साफ कर दिया है!वही नोटिस चिपकाते ही पूरे शहर में हड़कंप मच गया है, इस तरह के नोटिस के साथ,मनपा प्रशासन ने सीधा संदेश दिया या तो अपने अवैध निर्माण को रेग्युलराइजेशन कानून में जाक नियमित कर लो अन्यथा कार्यवाई के लिए तैयार रहो।
    गौरतलब हो कि 30 नवंबर को, महानगरपालिका प्रशासन ने एक सार्वजनिक नोटिस जारी किया था और शहर में सभी अवैध निर्माणों को नियमितीकरण के लिए आवेदन करने का अनुरोध किया था। हालांकि, इसे प्रॉपर्टी के मालिकों से बहुत कम प्रतिसाद मिल रहा है। मनपा प्रशासन ने विभिन्न तरीके से शोसल मीडिया व मीडिया के माध्यम से इस बारे में जागरूकता बढ़ा रहा है। फिर भी अभीतक केवल 95 प्रॉपर्टी मालिकों ने ऑनलाइन आवेदन किया है। शहर में ढेड़ लाख से अधिक प्रापर्टी ऐसी हैं जो अबैध निर्माण के रूप में बनी हुई है। मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख के आदेश पर, सहायक आयुक्त गणेश शिम्पी, भगवान कुमावत और अजीत गोवारी ने अपने वार्डो में नोटिस दिया है कि उनके वार्ड में आने वाले दस अवैध बिल्डिगो के बोर्ड पर देर शाम को नोटिस लगाई गई है। इस बारे में, मनपा आयुक्त देशमुख ने कहा कि 16 जनवरी को 855 अवैध बिल्डिंगो के संबंध में एक जनहित याचिका पर सुनवाई होनी है। उस इस रेग्युलराइजेशन प्रक्रिया कि सभी जानकारी प्रस्तुत की जानी है। यह सब अवैध निर्माण के प्रापर्टी मालिको को सचेत करने और उनके अवैध निर्माण को नियमित करने के लिए किया जा रहा है।
  • उमपा आयुक्त ने शहरवाशियो से रेग्युलराइजेशन के विषय पर किया आवाहन !

    By fast headline india →
    उमपा आयुक्त ने शहरवाशियो से रेग्युलराइजेशन के विषय पर किया आवाहन ! 

    अपने अवैध निर्माणों को रेग्युलराइजेशन करके ले अन्यथा अवधी समाप्त होने के बाद अबैध निर्माणों पर चलेगा मनपा का हथौड़ा ! 

    855 अवैध निर्माणों पर जो रेग्युलराइजेशन का नही लेगे लाभ पहले उन पर गिरेगी गांज ! 

    विशेष कानून पर मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख ने क्या दी जानकारी और क्या किया निवेदन सुनिये उनकी जुबानी,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया सुचारू रूप से कैसे चले, उक्त प्रक्रिया की जानकारी नगरसेवको को व उनके द्वारा रहिवासियो की अबैध निर्माणों को नियमितीकरण हो इसलिये उल्हासनगर मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख द्वारा 21 दिसम्बर 2019 के दिन मनपा महासभा कार्यालय में नगरसेवक, आर्किटेक्ट, पत्रकार बन्धुओं की उपस्थिति में कार्यशाला आयोजित की गई थी, उमपा महापौर लिलाताई आशान भी उपस्थित थी, उपस्थितो सभी को प्रोजेक्टर के माध्यम से आनलाइन प्रक्रिया की जानकारी दी गयी, उमपा आयुक्त के साथ जानकारी देने के लिए नगर रचनाकार मिलिंद सोनावणे भी उपस्थित रहे, नगरसेवको के लिये आयोजित कार्यशाला में अधिकतर नगरसेवक ही अनुपस्थित रहे, उपस्थित नगरसेवको, पत्रकारों द्वारा रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया के लिये महत्वपूर्ण प्रश्न पुछे गये थे, 
    गौरतलब हो की सभी प्रश्नों का उत्तर देते आयुक्त ने बताया कि, राज्य सरकार के द्वारा जनहित याचिका उच्च न्यायालय 105/2003 और 144/2005 कोर्ट द्वारा नियमित करने के लिये जो अध्यादेश या नियमावली आई है उसके तहत शहरवासियों को अपनी 1 जनवरी 2005 के पहले बनी सम्पत्तियों को unrda.in इस वेबसाइट पे जाकर बी और सी फ़ॉर्म डाउनलोड करके ऑनलाइन ही रजिस्ट्रेशन करवाना है, 16 दिसम्बर 2019 से ही ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है जिसमे शहरवासियों की उदासीनता दिखाई दे रही है, ऐसा आयुक्त ने माना, ऑफ़लाइन करवाने की जो नगरसेवको की मांग थी वो आयुक्त ने उसे साफ मना किया, नगरसेवक प्रमोद टाले द्वारा उपस्थित प्रश्न ये कि, 2006 में 21,000 आवेदन दिए जानेपर समूर्ण प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी उन सभी 21,000 सम्पत्ति धारकों को आयुक्त द्वारा पुनः आवेदन करने की ज़बरदस्ती क्यु कर रहे है? इन 21,000 सम्पत्ती धारकों में से 14,000 धारकों को जिनको ठाणे जिलाधिकारी द्वारा कइयों को डी फार्म दिये गये उनको सिर्फ जुर्माना भरना था उनको फिर से ऑनलाइन प्रक्रिया से गुजरना है, जबकी ऐसा कहीं अध्यादेश में लिखा नहीं तब आयुक्त ने कहा कि, जिनको जो कागजाद 2006 से 2011 के बीच दिए गए है वो उन काग़ज़ादों को ऑनलाइन अपलोड करें उनपर तीनसदस्यीय समिती ध्यान देगी, टाले द्वारा एक खिड़की योजना लागु करते हुऐ गुजरात पैटर्न लागु करने की मांग दोहराई गयी उसमे आयुक्त ने ये कहा कि, जो भी नगरसेवको की मांगें है वो उन्हें लिखित में दें ताकि राज्य शासन को प्रस्तुत किया जा सके, 100 मीटर के अंदर जिनके निर्माण होंगे उनको 50 प्रतिशत पेनल्टी लगेगी, ऐसा नगरसेवक राजेश बधारिया का कहा इस सारे सवाल के उत्तर देते आयुक्त ने कहा यह प्रक्रिया और इसके अधिनियम राज्य शासन द्वारा लागु किया गया है, मैं सिर्फ़ इस प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने के लिए प्राधिकृत अधिकारी के रूप में काम कर रहा हु, शहर के 90 प्रतिशत आर्किटेक्ट इंजीनियर के लाइसेंस रिन्यु नही है, ऑर्किटेक्ट अतुल देशमुख द्वारा ये जानकारी दी गयी कि, पुर्व आयुक्त निम्बालकर द्वारा 1 लाख रुपये फीस भरकर लाइसेंस रिन्यु करने बोला गया था मगर उसको भी 2 साल हो गये, तब आयुक्त सुधाकर देशमुख ने आर्किटेक्ट बन्धुओं को राहत देते हुये ये आश्वासन दिया कि, आप लोग मात्र 50,000 रुपये डिपॉज़िट और 25,000 रुपये फ़ीस भरकर अपने लाइसेंस रिन्यु करने का आवेदन कीजिये, आठ दिन में प्रशासन द्वारा उक्त विषय पर विचार करके सभी आवेदन कर्ताओं के लाइसेंस रिन्यु किये जायेंगे, शहर की हज़ारों धोकादायक इमारतें, जो तोड़ी गयी सील की और खाली करवाई गई उनको रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया में लाने के लिये आयुक्त महोदय ने पहले की तरह कहा कि जो भी कहना है वो नगरसेवक लिखित में दें ताकि वह राज्य सरकार को भेजा जा सके, 2019 के प्रस्तावित डेवलपमेंट प्लान के दायरे में, रोड कटिंग में आनेवाली इमारतें, नाले पे बनी, नदी के बफ़र ज़ोन में बनी इमारतें l, हाई टेंशन वायर के निचे आनेवाली इमारतें रेग्युलराइज़ नहीं होगी, 1974 का डेवलपमेंट प्लान लागु करते है तो अधिकतर इमारतों के रहिवासियो, दुकानदारों को लाभ मिलेगा, अन्यथा 2019 का डेवलपमेंट प्लान लागु किया गया तो शहर की 70 प्रतिशत सम्पत्तियां नियमित नहीं होगी ऐसा नगरसेवक राजू जग्यासी का कहना था, उस आयुक्त के पास क्या व्यवस्था है? ये प्रश्न उपस्थित होने पर आयुक्त ने कहा कि, 2019 का ही डेवलपमेंट प्लान लागु होगा, उसी के तहत रेडी रेकनर रेट द्वारा जुर्माना लिया जायेगा ना कि पुराने 2006 के तहत जुर्माना होगा ना ही तबके डेवलपमेंट प्लान के तहत रेगुलराइज़ेशन होगा, एफएसआई, धोकादायक इमारतें और रिडेवलपमेंट के विषय मे आयुक्त द्वारा सरकार से कोई भी बातचीत लिखित में नही चल रही है जो भी प्रस्ताव नगरसेवक लिखित में देंगे वो राज्य सरकार को भेजा जायेगा, टाले द्वारा 2006 तक की झोपडपट्टीयों को अभय देने की मांग की गई, गुजरात पैटर्न के माध्यम से कम से कम जुर्माना लेकर नियमित करने की मांग दोहराई गयी, प्रक्रिया को ऑफलाइन करते हुऐ एक खिड़की योजना लागु करने की मांग भी की गई, कोटक महिंद्रा कम्पनी की विश्वसनीयता व गोपनीयता पर प्रश्न उठाते हुये नगरसेवको ने मांग की है कि, प्रक्रिया सीएफसी सेंटर में ऑफलाइन पद्धति से चलाई जाए परंतु हर प्रश्न के उत्तर में आयुक्त ने यहकहा कि, जो भी प्रस्ताव नगरसेवक लिखित में देंगे वो राज्य सरकार को भेजा जायेगा, जो संपत्तियां रेग्युलराइज़ेशन प्रक्रिया में नही आ पायेगी या जो रिजेक्ट हो जायेगी उन प्रापर्टी को अनधिकृत मानकर उनपर अदालत के आदेशानुसार तोड़ू कार्यवाही की जायेगी, इसलिये शहरवासियों ने जल्द से जल्द इस योजना का लाभ लेते हुये अपनी संपत्ति नियमित करवायें, अदालत की अगली सुनवाई 16 जनवरी 2020 को है। इस समय रहते इसका लाभ ले और मनपा की कार्यवाही से बचे,!
  • उमपा की महासभा में हुए राहुल गांधी के अपमान पर कांग्रेस व टीओके हुई आक्रमक !

    By fast headline india →
    उमपा की महासभा में हुए राहुल गांधी के अपमान पर कांग्रेस व टीओके हुई आक्रमक ! 

    भाजपा के तीन नगरसेवकों के पद रद्द करने की मांग को लेकर मनपा आयुक्त से किया मुलाकात !

     "रेप इन इंडिया" के बयान पर भाजपा नगरसेवकों ने राहुल गाँधी के पोस्टर को पैरों तले रौदा था ! 

    इस पूरे विषय कांग्रेस के रोहित सालवे व टीओके प्रवक्ता निकम ने क्या कहा सुनिये उन्ही की जुबानी,,,,,

  • 420 डॉक्टर मियां, बीबी ने एक ब्यक्ति से ठगे ढेड़ करोड़ !

    By fast headline india →
    420 डॉक्टर मियां, बीबी ने एक ब्यक्ति से ठगे ढेड़ करोड़ ! 

    पुलिस ने मामला किया दर्ज, डॉक्टर मिंया, बीबी ले लिया कोर्ट से अग्रिम जमानत ! 

    पुलिस अग्रिम जमानत खत्म होने पर गिरफ्तार करने की लगी है जुआड़ में !

     एक ही प्रापर्टी दो लोगो को बेचने से जुड़ा है यह मामला !

     6 करोड़ की दुकान दिखाकर लिया था यह ढेड़ करोड़ ! 

     कल्याण-कल्याण शहर से एक सनसनीखेज तरीके से 420 करने का मामला सामने आया है,इस मामले में एक डॉक्टर और पत्नी पर करोडों रुपये की ठगी करने का मामला कोलसेवाड़ी पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है । यह दोनो मिंया व बीबी ने इस मामले में न्यायालय से पहले ह अग्रिम जमानत ले लिया है, इस लिए इस मामले की जांच में जुटी पुलिस पर भी सवालिया निशान लग गया क्या कोई ब्यक्ति एफआईआर होने की जानकारी पहले ही 420 डॉक्टर को दे दिया जो वो गिरफ्तारी से पहले ही अपनी जमानत ले लिया है !
     इस मामले में पुलिस के प्रेस नोट से मिली जानकारी के अनुसार कल्याण पश्चिम के चिकनघर इलाके में रहने वाले यलप्पा अप्पया मनगुटकर जो कि मूल रूप से कर्नाटक के बेलगाम का मूलनिवासी है। इस यलप्पा की मुलाकात कल्याण पश्चिम में खड़कपाड़ा, वायलेनगर परिसर में रहनेवाले डॉक्टर हेमंत विश्वास मोरे व उसकी पत्नी मनीषा मोरे से 8 नवंबर 2016 में हुई थी, फिर एक दिन डॉक्टर हेमंत ने यलप्पा से कहा कि मुझे गांव में जमीन खरीदना है और अस्पताल में कुछ अत्याधुनिक नई मशीन भी लगाना है जिसके लिए मुझे पैसे की जरूरत है,अगर आपके पास पैसे है तो मुझे दे दो तो मैं आप को यहां रविराज बिल्डिंग के बेसमेंट के चार दुकान छह करोड़ में आप को दे देता हूं।उसकी बात पर भरोसा कर यलप्पा ने डॉक्टर हेमंत व उसकी पत्नी को एक करोड़ 52 लाख रूपए बतौर एडवांस के तौर पर दे दिया । लेकिन जब पैसे दे दिया तो उसके बाद उन्हें मालूम पढ़ा कि हेमंत ने यह दुकान पहले ही किसी और को बेच चुका है । उसके बाद उन्हें लगा कि वो ठगी का शिकार हो चुके है जिसके बाद यलप्पा इस पूरे मामले की शिकायत कोलसेवाड़ी पुलिस स्टेशन में जाकर दर्ज कराई है, लेकिन पता नही कैसे मामला दर्ज होने की जानकारी डॉक्टर फैमली को लग गई और 420 डॉक्टर ने पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए कल्याण कोर्ट से जाकर अग्रिम जमानत ले लिया है। जिसके चलते पुलिस उसको अभी तक गिरफ्तार नही कर पाई ! बता दे कि इस मामले की वजह से पुलिस पर भी लोग उंगलिया उठा रहे है 420 डॉक्टर को बचाने में कोई पुलिस स्टेशन से ही उसे पहले जानकारी दे दी जिससे वह पहले ही सावधान हो गया वह कोलसेवाड़ी पुलिस अब उसकी अग्रिम जमानत खत्म होने का इंतजार कर रही उसके बाद ही उनपर पुलिस अपना सिंकजा कसने की तैयारी में है।
  • उमपा नगरचनाकार विभाग के सनसनीखेज भ्रष्ट्राचार का रांकपा गटनेता गंगोत्री ने किया पर्दाफाश !

    By fast headline india →
    उमपा नगरचनाकार विभाग के सनसनीखेज भ्रष्ट्राचार का रांकपा गटनेता गंगोत्री ने किया पर्दाफाश !

     गायब हुए पूर्व नगरचनाकार करपे के फर्जी साईन के जरिये किया जा रहा बिल्डिंग बनाने का प्लान पास ? 

    नगरसेवकों को प्लान की जानकारी देने में कर रहे वर्तमान नगरचनाकार सोनवणे आनाकानी ! 

    अपने किये भ्रष्ट्राचार को छुपाने में जुटे सोनवणे-रांकपा गटनेता गंगोत्री 

    उमपा नगरचनाकार के केबिन में क्यो हुआ हंगामा, और क्या है गंगोत्री व बगाड़े के आरोप देखिए पूरी खबर,,,,,, 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका के नगरचनाकार विभाग में बड़े भ्रष्ट्राचार का पर्दाफाश रांकपा के गटनेता भारत राजवानी व रांकपा नगरसेविका के पति माधव बगाड़े के द्वारा किया गया है इस भ्रष्टाचार में मनपा के गायब हुए पूर्व नगरचनाकार संजीव करपे के फर्जी साईन करके अभी के मनपा के नगरचनाकार मिलिंद सोनवणे के द्वारा प्लान पास किये जाने का सीधा आरोप इन दोनों लोगो के द्वारा किया गया है, क्या है पूरा मामला देखिए वीडियो,,,,और क्या कहना है भारत राजवानी व माधव बगाड़े का सुनिये उन्ही की जुबानी,,,,
  • संतोष पांडेय की चाणक्य नीति के चलते परिवहन समिति में भाजपा को हराकर महा शिवआघाड़ी की हुई जीत !

    By fast headline india →
    संतोष पांडेय की चाणक्य नीति के चलते परिवहन समिति में भाजपा को हराकर महा शिवआघाड़ी की हुई जीत ! 

     टीओके के समर्थक दिनेश लहरानी बने नए परिवहन समिति के चेयरमैन ! 

     वोट से पहले भाजपा के एक सदस्य फोड़ कर काटे का हुआ मुकाबला ! 

     महापौर चुनाव के बाद भाजपा को मिला दूसरी शिकस्त ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में भाजपा के दावे की पोलखोल करते हुए सारे दावे को दरकिनार करते हुए टीओके के संतोष पांडेय की चाणक्य नीति की बदौलत उन्होंने भाजपा के एक सदस्य को फोड़कर मुकाबला बराबर का करके परिवहन चुनाव पर महा शिवआघाड़ी के उम्मीदवार को विजयी बनाया है, भाजपा उल्हासनगर महानगर पालिका परिवहन सेवा की चेयरमैन व महापौर, उपमहापौर चुनाव में हार गई। भाजपा के सदस्यों की संख्या ज्यादा थी जिससे उनकी जीत पक्की थी परन्तु चुनाव के एक घण्टे पहले भाजपा का एक सदस्य गायब हो गया जिससे मुकाबला बराबरी का हो गया उसके बाद लाटरी निकाली गई जिसमें टीओके के दिनेश लहारानी, ​​ को जीत मिली जब की शंकर दवानी को हार के चलते भाजपा को एक बार फिर झटका लगा।
     गौरतलब हो कि बीजेपी की ओर से शंकर दवानी तो महा शिवआघाड़ी शिवसेना-एनसीपी-रिपाई में, टीम ओमी कलानी की तरफ से दिनेश लहरानी खड़े थे। इससे पहले, शंकर दवानी एनसीपी से परिवहन के सदस्य थे। उन्होंने चुनाव से पहले एनसीपी पार्टी को छोड़ भाजपा में प्रवेश किया। मतदान से एक घंटे पहले, शहीद जनरल अरुण कुमार वैद्य (टाउन) हॉल में नेताओं और परिवहन के सदस्यों की एक बैठक हुई। परिवहन सदस्य राजकुमार सिंह बैठक से भाग गए। चुनावों के दौरान भी राजकुमार चुनाव में नहीं आये। टीओके के संतोष पांडे, अजीत और दीपक छतलानी  ने कहा है कि राजकुमार को अनुपस्थित रखने में उनकी भूमिका थी। मुंबई के उपनगरीय जिला मजिस्ट्रेट और चुनाव निर्णय अधिकारी मिलिंद बोरिकर ने एक पत्र जारी किया जिसमें कहा गया था कि राजकुमार भाजपा और महा गठबंधन के सदस्यों की उपस्थिति थे तो भाजपा के एक सदस्य अनुपस्थित थे। जिससे परिवहन समिति पर टीओके के दिनेश लहरानी को जीत मिला है , ओमी कलानी, उप शहर प्रमुख अरुण आसान वहीं एनसीपी गट नेता भरत गंगोत्री, टीओके के सुमित चक्रवर्ती, अजीत माखीजानी, संतोष पांडे, दीपक छतलानी, कमलेश निकम, पंकज त्रिलोकानी, मनीष हिंगोरानी, ​​अशोक बजाज, सुंदर मुदलियार आदि ने नवनिर्वाचित चेयरमैन दिनेश को बधाई दी है।
  • दिलीप राजवानी के हाइबोल्टेज ड्रामे का कोणार्क बैंक के डारेक्टर ने किया चौकाने वाला खुलासा !

    By fast headline india →
    दिलीप राजवानी के हाइबोल्टेज ड्रामे का कोणार्क बैंक के डारेक्टर ने किया चौकाने वाला खुलासा !

     बैंक रिकवरी टीम को डराने के दुकानदार ने खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आत्महत्या करने का किया था ड्रामा ।

     हाईबोल्टेज ड्रामे के बाद बैंक व पुलिस की कार्यवाही से बचने के लिए राजवानी हॉस्पिटल में एडमिट ! 

     राजवानी के हाईबोल्टेज ड्रामे पर कोणार्क बैंक के डायरेक्टर अन्नू मनवानी व मैनेजर गलानी ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,, 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के नेहरू चौक स्थित मुख्य बाजार में स्थित यूनिवर्सल पटाखे की दुकान की जब्ती करने आये कोणार्क बैंक के रिकवरी कर्मियों के साथ मारपीट और गाली गलौज करने वाले दुकानदार दिलीप राजवानी ने बैंक के डायरेक्टर पर दबाव बनाने के लिए खुद पर पेट्रोल छिड़ककर आत्महत्या का प्रयास किया था।बैंक कर्मियों के साथ गयी पुलिस ने राजवानी को हिरासत में लिया था,परन्तु हाईबोल्टेज ड्रामे के बाद राजवानी ब्रदर्स ने दिलीप राजवानी को उपचार के लिए स्थानीय शिवनेरी हॉस्पिटल में एडमिट किया है। बात वही पर नही खत्म हुआ अपनी अस्पताल में भर्ती फोटो भी सोशल साइड पर वायर करवाकर प्रेसर बनाने का नायाब षणयंत्र भी किया गया है !
    गौरतलब हो कि बैंक के डायरेक्टर अन्नू मनवानी ने बताया कि साई कुटीर नामक इमारत में स्थित फ्लैट मॉर्गेज रखकर दिलीप राजवानी व अन्य भाइयो ने बैंक से 55 लाख रुपये का बिजनेस लोन लिया था,इन्होंने ईएमआई के तहत 25 लाख रुपये की अदायगी कर चुके है जब कि बैंक की शेष राशि 30 लाख रुपयो का पिछले 3 वर्षों से ईएमआई नही भर रहे थे।बैंक ने कई बार नोटिस भी दिया बावजूद हर बार कोई न कोई बहाना बनाकर राजवानी ब्रदर्स सिर्फ पैसों की अदायगी नही करनी पड़े इसलिए टाईम पास कर रहे थे। यह एक सोची समझी रणनीति के तहत किया गया कारनामा है पुलिस कार्यवाई की तैयारी बैंक जुटी हुई !
  • शादी का जश्न अचानक बदला मातम में, दो लोगो ने एक युवक की गला दबा कर दी हत्या !

    By fast headline india →
    शादी का जश्न अचानक बदला मातम में, दो लोगो ने एक युवक की गला दबा कर दी हत्या ! 

     शादी समारोह में शामिल लोगों में किसी बात को लेकर हुआ विवाद और हो गई हत्या ! 

     विवाह समारोह में मची अफरा-तफरी के बाद शादी हुआ कैंसल।

     उल्हासनगर-उल्हासनगर दो नम्बर में मोनिका मैरेज हाल में आयोजित विवाह समारोह में डोम्बिवली के नंदवली गाँव से आये रवि सुरेश शिंदे नामक युवक की विवाह समारोह में शामिल दो युवकों ने पहले तो उसकी जमकर पिटाई की जब उससे भी मन नही भरा तो गला दबाकर रवि शिंदे की हत्या कर विवाह समारोह से फरार हो गए।विवाह समारोह में हत्या के बाद अफरा-तफरी मच गई,आनन-फानन में विवाह कैंसल कर दिया गया।पुलिस ने मुख्य आरोपी सोन्या एकनाथ शिंदे नामक युवक को गिरफ्तार कर लिया। 
    प्राप्त जानकारी के अनुसार डोम्बिवली रहिवाशी रवि मांजुले की आज कैम्प क्रमांक-2 के मोनिका मैरेज हाल में शादी थी।इस विवाह समारोह में रवि सुरेश शिंदे के अलावा सोन्या एकनाथ शिंदे भी अपने एक अन्य मित्र के साथ शामिल हुआ था।पुलिस के मुताबिक मृतक युवक रवि शिंदे व सोन्या शिंदे आपस मे रिस्तेदार ही है।विवाह समारोह के दरम्यान ही रवि शिंदे व सोन्या शिंदे के बीच आपसी वाद-विवाद हो गया,इस बात से नाराज सोन्या अपने साथी के साथ मिलकर रवि शिंदे को लात घुसो से पीटने लगा उसके बाद उसका गला दबाकर जमीन पर गिरा दिया। विवाह समारोह में शामिल लोगों ने मारपीट छुड़वाया और सोन्या शिंदे व उसके दोस्त को मार कर वहां से भगाया, शादी में आये मेहमानों को लगा कि फिट आने की वजह से रवि बेहोश हो गया है,उसे तत्काल सेंट्रल हॉस्पिटल ले जाया गया।जहां डॉक्टरों ने रवि शिंदे को मृत घोषित कर दिया।मर्डर की घटना सुनते ही सीनियर पीआय सुशील जावले,क्राइम पीआय गोरे, एपीआई तड़ाखे, एपीआई चौधरी व अन्य अधिकारी घटना स्थल पर पहुच गए।सीनियर पीआय सुशील जावले ने आरोपियों को पकड़ने के लिए तीन टीम बनाया और मोबाइल लोकेशन के जरिये सोन्या शिंदे को महज दो घण्टे में डोम्बिवली के मानपाड़ा इलाके से गिरफ्तार कर लिया है।
  • सरकारी नौकरी में काम लगाने के नाम पर युवाओं को ठगने के आरोप में भाजपा उपाध्यक्ष की बीबी गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    सरकारी नौकरी में काम लगाने के नाम पर युवाओं को ठगने के आरोप में भाजपा उपाध्यक्ष की बीबी गिरफ्तार !

     ओबीसी सेल भाजपा उपाध्यक्ष की बीबी पर पहले से है धोखाधड़ी के 10 और मामले ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में बेरोजगार युवक को सरकारी नौकरी में काम पर लगाने के आरोप में पुलिस ने एक महिला को लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने के मामले में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार महिला उल्हासनगर भाजपा के ठाणे और पालघर जिले के ओबीसी सेल के उपाध्यक्ष दिलीप फुंदे की पत्नी है। 
    गौरतलब हो कि 44 साल की किरण दिलीप फुंदे अपने पति दिलीप फुंदे और अपने बच्चों के साथ उल्हासनगर के पास वरप गांव के पास मोहन पैलेस बिल्डिंग में रहती हैं। सी ब्लॉक प्रबुद्धनगर इलाके में रहने वाली 22 साल की पूजा तात्या खात को कलेक्टर ऑफिस में नौकरी दिलाने के नाम पर उसने ने अपने पिता से 75,000 रुपये लिए थे। लेकिन पैसे देने के 1 साल के बाद, पूजा को नौकरी नहीं मिली। जब पूजा के पिता ने किरण को दिए अपने पैसे की मांग की, तो उसने उन्हें 60,000 रुपये का चेक दिया, लेकिन वह चेक बाउंस हो गया। पूजा ने घटना के संबंध में किरण के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने कहा कि आरोपी एक सजायाफ्ता अपराधी है और उसके खिलाफ पहले से छह मामले दर्ज और चार अन्य दूसरे मामले भी दर्ज हैं। किरण किरण फुंदे के पति, दिलीप फुंदे, भाजपा के ठाणे और पालघर जिलों के ओबीसी सेल के उपाध्यक्ष हैं।
  • स्वेतपत्रिका निकालने वाले मनपा आयुक्त देशमुख पर लगा 5 करोड़ के भ्रष्ट्राचार आरोप ?

    By fast headline india →
    स्वेतपत्रिका निकालने वाले मनपा आयुक्त देशमुख पर लगा 5 करोड़ के भ्रष्ट्राचार आरोप ? 

     सड़कों के गड्ढों को भरने के काम को 5,2,2 में पांच करोड़ रुपए वर्क आर्डर देने से जुड़ा है मामला ! 

     सत्ता व विपक्ष के सभी लोगो 5,2,2 के इस काम किया विरोध !

     ईमानदारी की आड़ में भ्रष्टाचार मनपा आयुक्त के संरक्षण में हुआ - ईदनानी 

     इस विषय पर जीवन ईदनानी, राजेन्द्र चौधरी व अरुण आशास ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,, 

    उल्हासनगर- उल्हासनगर मनपा की स्थायी समिति ने मनपा के 4 प्रभाग क्षेत्रों में गड्ढों को भरने के लिए 2 करोड़ रुपए मंजूर किए हैं फिर यह आंकड़ा 7 करोड़ तक कैसे पहुंच गया इस मुद्दे को भाजपा के नगरसेवकों ने मनपा की महासभा में जोरदार ढंग से उपस्थित किया. वही भाजपा के नगरसेवकों ने इस भ्रष्टाचार में सीधे आयुक्तों को निशाना बनाया है, मनपा आयुक्त जैसे ही मनपा का चार्ज लिया उसके कुछ दिनों बाद मनपा की खस्ता हालात पर स्वेतपत्रिका निकाल कर अपनी ईमानदारी का सबूत दिया था,परन्तु रोड़ के गड्ढों भरने के मामले में इन पर ही भ्रष्ट्राचार का बड़ा आरोप हुआ है,
    गौरतलब हो हर साल की तुलना में इस साल भारी बारिश के कारण, उल्हासनगर शहर में 70 किलोमीटर की पक्की सड़कों पर काफी गड्ढे हो गए थे. इन गड्ढों को लेकर काफी हो हल्ला हुआ था. इन सड़कों पर मनपा ने बरसात के मौसम में ग्रिड और गिट्टी डालकर इसी तरह इससे निजात दिलाने की कोशिश की थी. मानसून के अंत में स्थायी समिति ने सभी 4 प्रभाग में गड्ढों को भरने के लिए 50 - 50 लाख की चार निविदाएं निकाली. इस काम का ठेका जेड पी कंपनी ने लिया था इसमें 16 सड़कों का चयन किया गया था. महासभा में उक्त बात को लेकर आपत्ति दर्ज कराते हुए सदन में कहा कि 2 करोड़ का कार्य साढ़े 7 करोड़ कैसे व क्यों हो गया इसका जिम्मेदार कौन है. इदनानी के इन आरोपों का भाजपा के मनोज लासी, प्रदीप रामचंदानी, किशोर वनवारी, प्रकाश नाथानी आदि नगरसेवकों ने समर्थन किया.इस संदर्भ में जानकारी देते हुए, मनपा सिटी इंजीनियर महेश सितलानी ने बताया कि 16 सड़कों पर 65 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है. तथा इस कार्य को स्थायी समिति द्वारा अनुमोदित किया गया था. हालांकि वह राशि में कम थी, इसी के कारण मनपा आयुक्त ने महाराष्ट्र नगरपालिका अधिनियम 73 ए और डी, 5.2.2 के तहत बढ़े हुए काम को मंजूरी दी है. अदालत ने एक जनहित याचिका के तहत शहर के गड्ढों को भरने का भी आदेश दिया गया है. जिसके कारण सड़कों को जल्द से जल्द अच्छा व चलने योग्य बनाना था इसलिए काम को तेज गति से किया जा रहा है. मनपा के आयुक्त सुधाकर देशमुख ने प्रशासन का पक्ष रखते हुए सभागृह में बताया कि शासन द्वारा दिए गए अधिकार के तहत ही सड़कों का काम जो रहा है इसमें किसी भी प्रकार की कोई अनियमितता नहीं हैं. विधानसभा के चुनाव की आचार संहिता भी लगने वाली थी, शहर को गड्ढा मुक्त करने के लिए यह काम किया जा रहा है इसमें रत्ती भर भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ है. लेकिन 2 करोड़ के ठेके को 7 करोड़ तक पहुचाने के खुद 5,2,2 के तहत काम की बढ़ी लागत पर काम करना कही न कही भ्रष्टाचार होने संभावना को जन्म देना स्वाभाविक है, स्वच्छ छबि के आड़ में यह भ्रष्टाचार आयुक्त देशमुख के देखरेख में हुआ ऐसा आरोप सत्ता व विपक्षी पार्टियों के नगरसेवकों ने किया है,इस पर जीवन इदनानी,अरुण आशास, व राजेन्द्र चौधरी ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,
  • कोणार्क बैंक कर्ज वसुली करने गए ब्यापारी राजवानी का हाई बोल्टेज ड्रामा !

    By fast headline india →
    कोणार्क बैंक कर्ज वसुली करने गए ब्यापारी राजवानी का हाई बोल्टेज ड्रामा ! 

     खुद पर पेट्रोल ड़ालकर आत्महत्या करने हुआ पुलिस के सामने नोटंकी !

     20 लाख कर्ज से जुड़ा हुआ है पूरा मामला है ! 

    अन्नू मनवानी व नंद जेठानी पर किया गंभीर आरोप ! 

    राजवानी ने क्या किया आरोप सुनिये उनकी जुबानी,,,,,, 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के यूनिवर्सल ट्रेडर्स के नाम से पटाखों और अन्य खुदरा सामानों की बिक्री करने वाले ब्यापारी दिलीप राजवानी द्वारा पुलिस की मौजूदगी में अपने ऊपर पेट्रोल छिड़क कर आत्महत्या करने का हाइबोल्टेज ड्रामा करने का मामला सामने आया है, गौरतलब हो उन्होंने कोणार्क बैंक से बीजनेस लोन लिया था वह लोन वह बैंक को वापस नही कर रहे थे कई नोटिस देने के बाद बैंक ने लीगल कार्यवाई करते हुए आज दुकान को सील करने के लिए बैंक कर्मचारियों के अलावा स्थानीय पुलिस भी साथ में थी जैसे कर्ज़े की रकम वसुली करने गये उल्हासनगर की कोणार्क बैंक के कर्मचारी द्वारा रकम वसुली की मांग किया गया तभी दिलीप राजवानी द्वारा खुदपर पेट्रोल छिड़क कर आत्महत्या करने का प्रयास से किया गया जिसे देकर व्यापार जगत में खलबली मच गई है,बहरहाल उपस्थित पुलिस प्रशासन कि मुस्तैदी से आत्महत्या के प्रयास को टाला गया, दोनों पक्षों में समन्वय बिठाने के लिये पुलिस प्रशासन को काफी मशक्कत करनी पड़ी। इस पर राजवानी ने कोणार्क बैंक के चेयरपर्सन पर गभीर आरोप किया है क्या किया आरोप सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,इस संदर्भ में अन्नू मनवानी से जवाब मांगा गया तो वो बोलो कल हम अपना पक्ष रखेगे इस लिए खबर में उनकी साइड नही आया है,,
  • उमपा उपायुक्त मुख्यालय संतोष देयरकर के केबिन मनपा कर्मचारी ने पेट्रोल पीकर किया आत्महत्या का प्रयाश !

    By fast headline india →
    उमपा उपायुक्त मुख्यालय संतोष देयरकर के केबिन मनपा कर्मचारी ने पेट्रोल पीकर किया आत्महत्या का प्रयाश ! 


    प्रमोशन नही मिलने से परेशान सफाई कर्मचारी !

     पेट्रोल के साथ उपायुक्त मुख्यालय के केबिन में कैसे घुसा ? 

    सुरक्षा में हुई बड़ी चूक कौन है इसका जिम्मेदार !

     इस पूरे मामले मनपा उपायुक्त मुख्यालय देयरक ने क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,, 

    उल्हासनगर - उल्हासनगर में एक कर्मचारी जो पिछले कई वर्षों से पदोन्नति की प्रतीक्षा कर रहा था, जब पदोन्नति नही मिला तो कर्मचारी न खुलासा किया कि कैसे कर्मचारियों को परेशान किया जा रहा था क्योंकि उन्होंने उल्हासनगर महानगरपालिका उप-मुख्यालय के केबिन जाकर पेट्रोल पीकर आत्महत्या करने की कोशिश किया। सुरक्षा रक्षकों ने उसको पकड़ा व उसे सेंट्रल अस्पताल ईलाज के लिए भर्ती कराया है ! 
    गौरतलब हो कि पिछले कई वर्षों से सफाई कर्मचारी के रूप में काम कर रहे दीपक कनोजिया चुनाव कार्यालय में सफाई कर्मचारी के रूप में काम कर रहे हैं। हालांकि, अब तक, महानगरपालिका अधिकारियों ने दीपक कनोजिया को उपायुक्त मुख्यालय संतोष देहकरकर के दफ्तर में पेट्रोल पीकर आत्महत्या करने की कोशिश पर सवाल उठाया है क्योंकि वह अपने प्रमोशन में देरी से परेशान रहते थे। इस बात का खुलासा हुआ है कि वरिष्ठ अधिकारी कर्मचारियों को किस तरह परेशान करते हैं। बहरहाल दीपक कनोजिया को इलाज के लिए उल्हासनगर के सेंट्रल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों ने उसे अब खतरे से बाहर है ! जो भी हो इस तरह के कदम से उमपा एक बार फिर से बदनाम हुई है !
  • 6 सालों से नही मिला न्याय, न्याय पाने के लिए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के सामने करेंगे आमरण उपोषण ?

    By fast headline india →
    6 सालों से नही मिला न्याय, न्याय पाने के लिए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के सामने करेंगे आमरण उपोषण ? 

    मारामारी के मामले फरार आरोपियों पकड़ने पुलिस रही है अबतक असफल !

     आरोपियों से भयभीत परिवार वालो ने न्याय पाने के लिए आमरण उपोषण दिया संकेत ! 

    क्या कहना इस पूरे मामले पर सुनिये उनकी जुबानी,,,,,

    उल्हासनगर- उल्हासनगर पुलिस स्टेशन की हद में रहने वाले यमगर परिवार पर बारह लोगों की टोली ने धारदार अधियार से लैस गुंडों ने हमला किया इस हमले में पांच लोग घायल हुए थे.पुलिस ने इस मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया था.परन्तु उसी मामले में अभीतक चार आरोपी फरार है पुलिस 6 सालों में अभीतक आरोपियों ढुढ पाने असफल रही है इसमें कही न कही पुलिस की लापरवाही दिख रही है फरार आरोपियों की वजह से यमगर परिवार भयभीत है इसी विषय को लेकर यह फैमली उल्हासनगर पुलिस.उप.आयुक्त कार्यालय के सामने आमरण उपोषण करने का संकेत देते हुए लिखित पत्र पुलिस प्रशासन को दिया है .  
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर शहर के कैम्प नं.एक के शिवरोड परिसर के पुजा ज्वेलर्स के पीछे यमगर परिवार रहता है. 6 साल पहले 20 जनवरी की शाम को साडे 7 बजे के करीब बारह लोगो की टोली ने अज्ञात कारणों के चलते हाथ में लाठी, डंडे,चाकु व धारदार हथियार लेकर  यमगर परिवार पर उनके रहते घर में घुसकर हमला किया उस समय घर पर विकलांग सुरेश अप्पा यमगर, सुभद्रा राम यमगर, मनीषा सुरेश यमगर व बच्चे सिध्दार्थ, व रेवण यमगर ये सभी लोग बुरी तरह उस हमले में घायल हुए.इस मामले में उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में बारह लोगो के विरुद्ध एफआईआर दर्ज हुआ उसमें से पुलिस ने आठ लोगो को गिरफ्तार किया परन्तु चार आरोपी फरार ही रहे और उनकी फरारी को 6 साल बीत गए पुलिस आजतक उनको पकड़ने असफल रही है.अब उन्ही फरार चार आरोपियों की वजह से यमगर परिवार को उनकी जान का धोका निर्माण होने का डर है, इस लिए इन चार फरार आरोपियों जल्द पुलिस ढुढ कर गिरफ्तार करने की मांग किया है, पिछले 6 सालों से इस विषय में कई बार लिखित पत्र देकर शिकायत स्थानिक पुलिस स्टेशन, पुलिस उपायुक्त कार्यालय, सहाय्यक पुलिस आयुक्त कार्यालय इतना ही नही मंत्रालय में भी देकर न्याय मांगा.परन्तु अभीतक यमगर परिवार को न्याय नही मिला इस लिए उन्होंने अब न्याय पाने के लिए इस बार जो लिखित पत्र दिया है उसमें परिवार ने मांग किया कि पुलिस प्रशासन ने जल्द न्याय दे और फरार आरोपियों को ढुढ कर उनको गिरफ्तार करे पुलिस ऐसा नही कर पाती है तो राम यमगर ने लिखा है कि 30 दिसम्बर 2019 को पुलिस उपआयुक्त प्रमोेद शेवाले के कार्यालय के सामने वह आमरण उपोषण करेगे ऐसा उन्होंने अपने लिखित पत्र में लिखकर एक संकेत दिया है. अगर इसके बाद भी न्याय नही मिला तो हम आत्मधन करने से भी पीछे नही हटेंगे ऐसा संकेत देते राम यमगर व उनके बड़े विकलांग भाई सुरेश यमगर इन्होंने कहा है.
  • नाबालिग छात्रा से पहले प्रेमी, फिर टीचर,उसके बाद मदतगार, ने किया बलात्कार !

    By fast headline india →
    नाबालिग छात्रा से पहले प्रेमी, फिर टीचर,उसके बाद मदतगार, ने किया बलात्कार !

    घर से मामूली विवाद पर घर छोड़कर भागी थी नाबालिग छात्रा !

    पुलिस ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार एक अभी भी है फरार !

    पुलिस ने फ़ास्को के तहत दर्ज किया है एफआईआर !
    पुलिस जांच में होटल, व लॉजिंग बोर्डिंग के लोग भी हो सकते है गिरफ्तार ?

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक सनसनीखेज घटना सामने आई है एक नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार पहले उसके प्रेमी ने फिर स्कूल स्पोर्ट्स टीचर ने एक मदतगार बनकर उसकी इज्जत लूटने का यह पूरा मामला है इस मामले में हिलाइन पुलिस ने दो आरोपियों को फास्को के तहत गिरफ्तार किया है जब कि अभीतक प्रेमी पुलिस की गिरफ्त से फरार है ,
    पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना 7 दिसंबर की शाम 6 बजे करीब की है।जब नाबालिग छात्रा अपनी माँ से झगडाकर गुस्से में बिना किसी कुछ बताए घर छोड़ कर निकल गई।जिसके बाद परिजनों ने उसकी सभी जगह तलाश किया जब वह कही नही मिली तो परिवार के लोगो ने छात्रा की गुमशुदगी की शिकायत पुलिस में दर्ज करवाई।मामला दर्ज होने के बाद पुलिस छात्रा के परिचितों से पूछताछ शुरू कि तब पुलिस को पता चला कि नाबालिग छात्रा की परिसर में ही रहनेवाला अक्षय जाधव से प्रेम संबंध चल रहा है।तब पुलिस ने तुरंत अक्षय को पकड़कर पूछताछ के लिए थाने ले आई।परंतु पुलिस को उसके पास कोई जानकारी न मिलने से पुलिस ने उसे छोड़ दिया।जिसके बाद पुलिस की चंगुल से छूटने के बाद अक्षय ने छात्रा के मोबाइल पर सम्पर्क कियाऔर उससे कहा तुम कहा हो तुम्हारे बारे में पुलिस मुझे परेशान कर रही है।तब छात्रा ने उसे यह कहा कि वह पूना में अपने प्रेमी के साथ रह रही है।जब यह बात अक्षय ने पुलिस को बताई तब पुलिस ने तुरंत पूना जाकर दोनो को पकड़ कर ले आई।छात्रा से पूछताछ के दौरान पुलिस को उसने आपबीती सुनाई छात्रा की पुरी बात सुनने के बाद पुलिस के होश उड़ गए जब पुलिस को पता चला कि पहले अक्षय ने उसे अपने प्रेम जाल में फांसकर उसके साथ बलात्कार किया।जिसके पश्च्यात घर से निकलने के बाद मनेरा गाँव निवासी स्पोर्ट शिक्षक चंद्रकांत भोईर के घर जाकर माँ से हुए विवाद की बात की और उनसे मदद ली मदत तो दी लेकिन शिक्षक की बुरी नजर से बेखबर छात्रा को छत पर ले गया।जहाँ उसके साथ जबरन शारिरिक संबंध बनाए।सुबह होते ही छात्रा वहाँ से चुपचाप निकली और कल्याण रेल्वे स्टेशन पहुँची।रेल्वे स्टेशन पर उसे रोता देख ट्रेन का इंतजार कर रहे सोलापुर निवासी अजित सरबर की उसपर नजर पड़ी जब छात्रा ने उसे अपनी बेबसी की कहानी बताई तब अजित ने उसे प्रेम का नाटक दिखाने के जाल फंसा उसे पूना ले आया जहाँ पांच दिन तक अजित ने उसके साथ जबरन अपनी हवस का शिकार बनाया।छात्रा के साथ हुई इस घटनाक्रम को सुनने के बाद पुलिस ने आरोपी अजित और शिक्षक चंद्रकांत के खिलाफ भादवि 376(3),363,354 फाक्सो की धारा 4,6,8,12 के तहत मामला दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार किया है। वही अक्षय अभी भी फरार है पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है,


  • उल्हासनगर में रोड़ गड्ढों को भरने मे हुआ पांच करोड़ रुपए का घोटाला !

    By fast headline india →
    उल्हासनगर में रोड़ गड्ढों को भरने मे हुआ पांच करोड़ रुपए का घोटाला !

     विपक्षी नगरसेवको ने महासभा में उपस्थित किया सवाल ! 

    2 करोड़ का ठेका 7 करोड़ तक पहुचा !

     5 करोड़ रुपया 5,2,2 के अंतर्गत देने का लगा आरोप !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा की स्थायी समिति ने मनपा के 4 प्रभाग में रोड़ गड्ढों को भरने के लिए 2 करोड़ रुपए ठेका दिया गया था वह आंकड़ा 7 करोड़ तक कैसे पहुंच गया इस मुद्दे को भाजपा के नगरसेवकों ने मनपा की महासभा में जोरशोर उठाया. वही भाजपा के नगरसेवकों ने इस भ्रष्टाचार में सीधे मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख को निशाने पर लिया है.
    गौरतलब हो कि इस साल हुई जोरदार बारिश के कारण, उल्हासनगर शहर में 70 किलोमीटर की पक्की सड़कों पर काफी गड्ढे हो गए थे. इन गड्ढों को लेकर काफी होहल्ला हुआ था. इन सड़कों पर मनपा ने बरसात के मौसम में ग्रिड और गिट्टी डालकर इसी तरह इससे निजात दिलाने की कोशिश की थी. मानसून के अंत में स्थायी समिति ने सभी चारो प्रभाग में गड्ढों को भरने के लिए 50 - 50 लाख की चार निविदाएं निकाली. इस काम का ठेका जेड पी कंपनी ने लिया था इसमें 16 सड़कों का चयन किया गया था. साईं पार्टी के मुखिया तथा महापौर के चुनाव में भाजपा में शामिल हुए पूर्व उप महापौर जीवन इदनानी ने महासभा में उक्त बात कही व संपूर्ण कार्य को लेकर अपनी आपत्ति दर्ज कराते हुए सदन में कहा कि 2 करोड़ का कार्य साढ़े 7 करोड़ कैसे व क्यों हो गया इसका जिम्मेदार कौन है. इदनानी के इन आरोपों का भाजपा के मनोज लासी, प्रदीप रामचंदानी, किशोर वनवारी, प्रकाश नाथानी आदि नगरसेवकों ने समर्थन किया. इस संदर्भ में जानकारी देते हुए, मनपा सिटी इंजीनियर महेश सितलानी ने बताया कि 16 सड़कों पर 65 प्रतिशत काम पूरा कर लिया है. तथा इस कार्य को स्थायी समिति द्वारा अनुमोदित किया गया था. हालांकि वह राशि में कम थी, इसी के कारण मनपा आयुक्त ने महाराष्ट्र नगरपालिका अधिनियम 73 ए और डी, 5.2.2 के तहत बढ़े हुए काम को मंजूरी दी है. अदालत ने एक जनहित याचिका के तहत शहर के गड्ढों को भरने का भी आदेश दिया गया है. जिसके कारण सड़कों को जल्द से जल्द अच्छा व चलने योग्य बनाना था इसलिए काम को तेज गति से किया जा रहा है.मनपा सदन में भाजपा के गुटनेता जमनादास पुरुसानी ने कहा कि दो करोड़ का काम स्टैंडिंग कमेटी को भेजा गया और मंजूर हुआ. वास्तव में काम को साढ़े 7 करोड़ तक बढ़ा दिया गया है. किन नियमों के तहत यह बढ़ा हुआ काम किया जा रहा है. मनपा के आयुक्त सुधाकर देशमुख ने प्रशासन का पक्ष रखते हुए सभागृह में बताया कि शासन द्वारा दिए गए अधिकार के तहत ही सड़कों का काम किया जा रहा है इसमें किसी भी प्रकार की कोई अनियमितता नहीं हैं. विधानसभा के चुनाव की आचार संहिता भी लगने वाली थी, शहर को गड्ढा मुक्त करने के लिए यह काम किया जा रहा है इसमें रत्ती भर भी भ्रष्टाचार नहीं हुआ है.यह एक बड़ा सवाल यह है कि क्या 5,2,2 में 5 करोड़ का बिना टेंडर काम किया जा सकता है यह बड़ा सवाल है और समय आने पर इसका उत्तर देना मनपा प्रशासन को ही देना पड़ेगा !
  • राहुल गांधी के "रेप इन इंडिया" के बयान पर उमपा की महासभा हुआ हंगामा !

    By fast headline india →
    राहुल गांधी के "रेप इन इंडिया" के बयान पर उमपा की महासभा हुआ हंगामा !

    भाजपा नगरसेवकों ने राहुल गांधी के फोटो को पैरों से रौंदा व शेम शेम के लगाए नारे ! 

    भाजपा पार्टी राहुल गांधी से अपने दिए बयान पर कर रही है माफी मांगने की मांग !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका की सोमवार की महासभा में भाजपा के स्वीकृत नगरसेवक मनोज लासी द्वारा राहुल गांधी के रेप इन इंडिया वाले वक्तव्य का विरोध करते हुये राहुल गांधी शेम शेम के नारे लगाए गये, व भाजपा गट नेता जमनु पुरस्वानी, किशोर वनवारी, प्रदीप रामचंदानी व अन्य नगरसेवको द्वारा राहुल गांधी की तस्वीर को फाड़ते, हुये पैरों से रौंदते हुये शेम शेम के नारे लगाये गये। भाजपा के सभी सदस्यों ने इसमें भाग लिया ! बता दे कि रेप इन इंडिया’ वाले बयान को लेकर राहुल गांधी शुक्रवार को तल्ख नजर आए। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने संसद मेंइस बयान पर राहुल से माफी की मांग की थी। राहुल ने माफी मांगने से इनकार कर दिया। साथ ही यह भी कहा कि मोदी ने तो दिल्ली को रेप कैपिटल बताया था। मेरे पास इसकी क्लिप है। इसके बाद स्मृति समेत अन्य महिला सांसदों ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई। स्मृति ईरानी ने कहा कि चुनाव आयोग ने हमें उचित कार्रवाई का भरोसा दिया है। हमने आयोग से कहा है कि महिला अपराधों को लेकर किसी तरह की राजनीति नहीं की जानी चाहिए। राहुल गांधी ने दुष्कर्म को एक राजनीतिक हथकंडे के तौर पर इस्तेमाल किया है। इससे पहले राहुल ने कहा, ‘‘नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने पूर्वोत्तर को जलाया है। उस मुद्दे से ध्यान हटाने के लिए नरेंद्र मोदी मुझ पर हमला बोल रहे हैं। मैं अपना बयान फिर से कहता हूं कि मोदीजी ने कहा कि मेक इन इंडिया होगा। हमें लगा कि मेक इन इंडिया दिखाई देगा। आज जब हम अखबार खोलते हैं तो हमें रेप इन इंडिया दिखाई देता है। मेरे पास एक क्लिप है जिसमें मोदीजी दिल्ली को रेप कैपिटल कह रहे हैं। हम इसे सोशल मीडिया पर डालेंगे, ताकि सब इसे देख सकें।’’ ‘भाजपा विधायक ने रेप किया’ राहुल ने कहा, ‘‘उन्नाव में भाजपा के विधायक ने लड़की का रेप किया है। लड़की का एक्सीडेंट करवाया गया। मोदीजी कुछ नहीं बोले। मोदीजी हिंसा का प्रयोग करते हैं। हर जगह हिंसा हो रही है। कश्मीर में हिंसा हो रही है। नॉर्थ ईस्ट में हिंसा हो रही है।’’
  • सोलह लाख 61 हजार रूपये का चोरी हुआ मोबाईल फोन को शिकायकर्ताओं को पुलिस ने लौटाया !

    By fast headline india →
    सोलह लाख 61 हजार रूपये का चोरी हुआ मोबाईल फोन को शिकायकर्ताओं को पुलिस ने लौटाया ! 

    20 मामले में 22 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार ! 

     उल्हासनगर व अंबरनाथ से १ करोड १० लाख ५३ हजार २७६ रूपये के मोबाईल किया गया जप्त ! 

    पुलिस की अभीतक संयुक्त टीम की कार्यवाई से मिली बड़ी सफलता ! 

    अंबरनाथ-उल्हासनगर-अंबरनाथ व आसपास के परिसर से चोरी हुई मोबाईल को पुलिस की एक विशेष टीम ने १६ लाख ६१ हजार २३७ रूपये कीमत का १६५ मोबाइल बरामद किया था। एक कार्यक्रम के माध्यम से पूर्व प्रादेशिक विभाग कल्याण के अप्पर पुलिस आयुक्त दत्तत्रेय कराले के हाथों मोबाईल को शिकायतकर्ताओं को वापस लौटा दिया गया है।
    बता दे कि बीस मामले का खुलासा हुआ और २२ आरोपियों को गिरफ्तार किया है और उनके पास से २२ मोबाईल, २ मोटरसायकल व दूसरे मामले में चोरी हुए २६० मोबाईल फोन व ४० लाख ९७ हजार ७३५ रूपये किंमती २८२ मोबाईल फोन को जप्त किया गया है. वही दूसरे मामले में पुलिस आयुक्त डी.डी.टेळे इनके मार्गदर्शन में ५ मामलों का खुलासा हुआ उसमे ८ आरोपियों को गिरफ्तार करके उनके पास ७ मोबाईल फोन व दूसरे मामलों चोरी हुए ६२० मोबाईल फोन ऐसे ६९ लाख ५५ हजार ५४१ रूपये किंमत के ६२० मोबाईल फोन को जप्त किया है. उल्हासनगर व अंबरनाथ विभागाच्या पथक के द्वारा कुल ९०२ मोबाईल फोन जिसकी कीमत १ करोड १० लाख ५३ हजार २७६ रूपये के मोबाईल जप्त हुआ उनमें से कुछ मोबाईल दो बार के कार्यक्रम के जरिये शिकायत कर्ताओं को वापस दिया गया है .        उल्हासनगर पुलिस विभाग न ९९ मोबाईल फोन जिसकी कीमत १० लाख १४ हजार ३३७ रूपये कि मोबाईल व मोबाईल स्कॉड अंबरनाथ विभाग के ६६ मोबाईल फोन जिसकी कीमत ६ लाख ४६ हजार ९०० रूपये है ऐसे कुल १६५ मोबाईल फोन १६ लाख ६१ हजार २३७ रूपये कीमत के सामान को जप्त किया गया है         अप्पर पुलिस आयुक्त दत्त्तात्रय कराले के आदेशानुसार पुलिस उपायुक्त प्रमोद शेवाले के मार्गदर्शन व अंबरनाथ के सहायक पुलिस आयुक्त विनायक नरले व उल्हासनगर के सहायक पुलिस आयुक्त डी.डी. टेले के देखरेख में दो अलग अलग टीम बनाई गयी। जो मोबाईल चोरी अथवा गायब हुए मोबाइल की जांच पड़ताल शुरू किया गया था। करीबन एक साल में मोबाईल चोरी अथवा गायब होने के मामले में उत्कृष्ट प्रदर्शन किये है। पुलिस की इस कार्य की काफी सरहाना किया जा रहा है।
  • एक हजार का सामान खरीदने पर मिलेगा एक किलो प्याज मुफ्त !

    By fast headline india →
    एक हजार का सामान खरीदने पर मिलेगा एक किलो प्याज मुफ्त ! 

    शीतल हैंडलूम कंबल, चादर, तकिया कवर, पर्दे इत्यादि सामान की है दुकान ! 

    इससे पहले रंगक्रियेशन ने 10 रुपये लोगो को साड़ियां बेचने का निकली थी स्किम !

     उल्हासनगर- उल्हासनगर के शीतल हैंडलूम के मालिक ललित शेवकानी ने प्याज की कीमतों के कारण वित्तीय संकट से जूझ रही महिलाओं के लिए एक हजार रुपये की खरीदारी करने के बाद एक किलोग्राम प्याज मुफ्त में उपलब्ध कराने की योजना शुरू की है। 
    गौरतलब हो कि देश भर की हर मीडिया में प्याज की कीमतें एक गर्म विषय बन गई हैं। प्याज के सौ को पार करते ही महिला वर्ग ने गुस्से के साथ प्रतिक्रिया दी थी। जहां प्याज उगाने वाली आत्मा महिलाओं की आंखों से पानी खींच रही है, वहीं उल्हासनगर के शिरू चौक में जयशंकर आइसक्रीम के पीछे शीतल हैंडलूम खुशखबरी लेकर आई है। कोल्ड हैंडलूम कंबल, चादर, तकिया कवर, पर्दे, पैर के पोछना इत्यादि सामान उपलब्ध हैं। एक दिन दुकान में महिलाओं का एक बड़ा समूह खरीदारी करने आया था। वो महिलाएं प्याज के दाम बढ़ने की चर्चा कर रही थी। इस चर्चा से शीतल हैंडलूम के मालिक ललित शेखवानी ने एक हजार रुपये की खरीद के लिए एक किलोग्राम प्याज मुफ्त में देने की योजना शुरू की है। ललित ने कहा कि शुक्रवार को पहले दिन 40 किलो प्याज गया था। आरती चंदवानी और महक प्रिसिएनी, जो कुछ दिनों बाद शादी में पहुंचीं, शुक्रवार शाम को शीतल हैंडलूम से आरती ने कूल हैंडलूम से एक हजार के सामान खरीदने के लिए दुकान पर आती है। इस खरीदारी के बाद, ललित ने उन्हें एक किलो प्याज दिया, आरती ने कहा जब ललित से योजना के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि हमने दुकान के बाहर कहीं भी एक विज्ञापन बोर्ड नहीं लगाया है। कुछ ग्राहक दुकान पर आते हैं और 600 से 700 रुपये खरीदते हैं और उनसे एक हजार तक खरीदने और एक किलो प्याज मुफ्त देने का अनुरोध करते हैं। उस समय, उनके चेहरे पर खुशी और आश्चर्य अद्भुत है। जो प्याज हम दे रहे हैं, वह एक सौ रुपये किलो, उच्च गुणवत्ता का खरीदा गया है। प्याज की कीमतें सामान्य होने तक हम महिला उपभोक्ताओं की मदद के लिए इस योजना को जारी रखेंगे।
  • पुरुषों के लोकल ट्रेन के डिब्बे में सीट को लेकर हो रही दादागिरी !

    By fast headline india →
    पुरुषों के लोकल ट्रेन के डिब्बे में सीट को लेकर हो रही दादागिरी ! 

     इन दादाओं पर कार्यवाही करने की जा रही है मांग ! 

     अंबरनाथ , कल्याण, डोंबिवली और बदलापुर से छूटने वाली ट्रेनों हो रही दादागिरी ! 

    रेल्वे प्रशासन अगर समय रहते नही की कार्यवाई हो सकता है बड़ा संग्राम ! 

    डोंबिवली-डोंबिवली जैसे-जैसे इलाके में विवाद बढ़ रहे हैं, वैसे इन घटनाएं दिन बदिन बढ़ती जा रही हैं। अंबरनाथ में इसी तरह के दुखद अनुभव कुछ दिनों से लगातार पुरुष यात्रियों द्वारा आ रहे हैं। कुछ पुरुष यात्रियों ने रेलवे प्रशासन से कथित दादाओं पर कार्रवाई करने का आह्वान किया है। 
    गौरतलब हो कि इस पर एक यात्री अनूप मेहरे ने कहा कि उन्हें यह अनुभव घटना के संबंध बात करने के दौरान हुआ। अंबरनाथ में, सुबह की लोकल ट्रेनों में 9 से 5 बजे तक पहुंचने वाले लोकल की सीटों पर, रूमाल, बैग रखे जाते हैं। इसलिए ऊब गए, अंततः इस समस्या को लेकर उन्हें लड़ना पड़ा। जैसे ही उन्होंने धमकाने वाले यात्रियों के मनमाने जुनून का विरोध किया, उन्होंने कहा कि उन्हें अश्लील भाषा और अश्लील गलियों का सामना करना पड़ा पड़ा। उन्होंने सोशल मीडिया पर गुरुवार शाम इस मुद्दे को उठाया। वह तस्वीरों के साथ वायरल भी हुआ, जिसमें उदाहरण दिया गया है कि अंतरिक्ष कैसे अवरुद्ध है। न केवल अंबरनाथ से प्रस्थान करने वाले स्थानीय लोगों में, बल्कि कल्याण, डोंबिवली और बदलापुर में भी। उन्होंने कहा कि समूह पर दबाव, ज़ोर से बोलने और किसी का मज़ाक बनाने के लिए दबाव बढ़ रहा है। उन्होंने ऐसे उदाहरणों की निंदा की है और आग्रह किया है कि किसी को भी ऐसा करने से रोका जाना चाहिए। यदि आप दोस्तों के लिए जगह बनाना चाहते हैं, तो उन्हें जगह रखना चाहिए , लेकिन अन्य यात्रियों को परेशान न करें। यह महत्वपूर्ण है कि कोच के भीतर घोषणा तंत्र द्वारा ट्रेन को किसी को सीट रखने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। मेहत्रे ने कहा, "यह यात्रियों के बीच संघर्ष को कम करेगा और समस्या पैदा करेगा।" कुछ यात्रियों ने पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करके यात्रियों के दादाओ के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की इच्छा भी व्यक्त की है। इस संबंध में विभिन्न यात्रि संगठनों से इसी तरह की शिकायतें आई हैं। एसोसिएशन के अधिकारियों ने सुझाव दिया कि यात्रियों को सीधे स्टेशन पर रेलवे पुलिस, आरपीएफ पुलिस को शिकायत करना चाहिए।
  • निर्मला जूस सेंटर की मालकिन प्रियंका ने किया मंत्रालय में नाटकीय ड्रामा !

    By fast headline india →
    निर्मला जूस सेंटर की मालकिन प्रियंका ने किया मंत्रालय में नाटकीय ड्रामा !

    आरोपी पति को बचाने व पुलिस पर दबाव बनाने का था यह खेल ?

     पुलिस पर हप्ता वसूली का आरोप लगाकर मंत्रालय के छठे मंजिले से लगाई छलांग !

     मंत्रालय के जाली पर अटकने के बाद घायल प्रियंका गुप्ता को उपचार के लिए मुम्बई के सेंट जार्ज अस्पताल में पुलिस ने कराया भर्ती ! 

     मरीन ड्राइव पुलिस के ड्यूटी आफिसर पीएसआई राहुल कदम महिला का बयान लेने के लिए अस्पताल पहुचे !

     पाँच दिन पहले सेंट्रल पुलिस ने जूस सेंटर के मालिक पवन गुप्ता व पत्नी प्रियंका गुप्ता समेत तीन लोगों पुलिस से मारपीट के मामले में किया था गिरफ्तार !

     देखिए शुरू से लेकर अभी तक हुए फिल्मी ड्रामे की पूरी खबर इस न्यूज के जरिये,,,,,,,,,, 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर की मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन का सरदर्द बढ़ गया है,सरकारी कार्य मे व्यवधान पैदा करने के आरोप में जमानत पर रिहा हुई महिला ने आज मंत्रालय के छठे मंजील से छलांग लगाकर अपनी जीवन लीला खत्म करने का नाटकीय प्रयास किया।मंत्रालय की 3 री मंजिल पर लगे जाली पर अटक कर घायल हुए महिला को उपचार के लिए सेंट जार्ज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है,मामले की जांच मरीन ड्राइव पुलिस कर रही है।                                  गौर तलब हो कि बीते 9 तारिख की रात 1.30 बजे जब एसीपी टेले का स्काट जब सिविल ड्रेस में निर्मला जूस सेंटर पर कार्यवाही को अंजाम देने पहुचा,तब दुकान मालिक पवन उर्फ अजीत प्यारेलाल गुप्ता,उसकी पत्नी प्रियंका गुप्ता व सहयोगी गीता आंवले ने पुलिस स्काट पर 20 हजार रुपये हप्ता मांगने का आरोप लगाकर सिविल ड्रेस के पुलिस कर्मियों पर नौकरों के साथ मिलकर हमला बोल दिया।एसीपी स्काट कर्मियों ने इसकी सूचना तत्काल मध्यवर्ती पुलिस को दी तब मौके पर स्थानीय पुलिस की टीम पहुचकर पवन गुप्ता, प्रियंका गुप्ता, गीता आंवले तथा नौकरों को गिरफ्तार करना चाहा तो इन्होंने और तमाशा खड़ा करते हुए पुलिस नाइक अवचिंदे पर हमला करते हुए पुलिस की गाड़ी का कांच तोड़ दिया था महिला पुलिस कर्मी व अन्य पुलिस कर्मियों की मदद से पवन गुप्ता व प्रियंका गुप्ता को पुलिस मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन ले गयी और सहायक पुलिस उपनिरीक्षक जानू पादिर की शिकायत पर पवन गुप्ता,प्रियंका गुप्ता,गीता आंवले पर पुलिस ने 353,332,342,427,504,34 के तहत मामला  दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था।बताया जाता है कि पवन गुप्ता पर हत्या का प्रयास,मारपीट जैसे कई अपराधिक मामले विभिन्न पुलिस स्टेशन में दर्ज है और यह नया मामला दर्ज होने के बाद स्थानीय पुलिस पवन गुप्ता को तड़ीपार करने का प्रोसीजर कर रही थी। पुलिस के साथ मारपीट करने के आरोप में पवन गुप्ता अभी भी अधारवाड़ी जेल में है जब कि पत्नी प्रियंका हाल ही में जमानत पर रिहा हुई है,पति को पुलिस की कार्यवाही से बचाने के लिए प्रियंका गुप्ता आज दोपहर मंत्रालय पहुच गयी और स्थानीय पुलिस पर आरोप लगाते हुए मंत्रालय के 6 ठे मंजिले से छलांग लगाकर आत्महत्या करने का असफल प्रयास किया और 3 रे मंजिले पर लगी नेट जाली पर आ गिरी।मंत्रालय में मौजूद पुलिस कर्मियों ने घायल प्रियंका गुप्ता को हिरासत में लेकर उसे मुम्बई के सेंट जार्ज हॉस्पिटल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।मरीन ड्राइव पुलिस के उपनिरीक्षक राहुल कदम मामले की जांच कर रहे है।
  • दूषित केमिकल छोड़ने का सिलसिला फिर हुआ शुरू !

    By fast headline india →
    दूषित केमिकल छोड़ने का सिलसिला फिर हुआ शुरू ! 

    केमिकल माफियाओं के निशाने पर वालधुनी नदी,देर रात पुलिस संरक्षण में खाली करवाया जाता है दूषित केमिकल का टैंकर ? 

     पुलिस संरक्षण में टैंकर खाली करवाने के जिम्मेदार अम्बरनाथ के दो पुलिस कर्मियों को किया गया था सस्पेंड ? 

    उल्हासनगर के शांतिनगर व अम्बरनाथ के वडोल गाँव की वालधुनी नदी में देर रात खाली करवाया जा रहा है टैंकर। 

     कल देर रात दूषित हवा की वजह से फिर मचा बवाल,केमिकल माफिया हुए सक्रिय ! 

    स्थानीय नगरसेवक टोनी साई ने क्या कहा इस विषय पर सुनिये उनकी जुबानी,,,,,

     शिवसेना नेता के गोडाउन में की जा चुकी है दो बार छापेमारी !  

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक बार वापस केमिकल माफियाओं का नंगा नाच शुरू हो गया है,सूत्रों के मुताबिक पानी के टैंकर की आड़ में देर रात अम्बरनाथ के वडोल गाँव व उल्हासनगर के शांतिनगर में के नाले में दूषित केमिकल खाली करवाया जाता है,रात के समय खाली किये जाने वाले टैंकर की एवज में रात पाली में कार्यरत ठाणे अमलदार व बीट चौकी हवलदारों को मोटी रकम ढि जाती है।कल रात हवा में दूषित केमिकल फैलने की वजह से एक बार यह मामला वापस सुर्खियों में आ गया है।मामला गंभीर होते ही बदलापुर,अम्बरनाथ व उल्हासनगर के केमिकल माफिया सक्रिय हो गए है।                        गौर तलब हो कि वडोल गाँव व शांतिनगर में दूषित केमिकल के रिसाव से कई बार अनहोनी हो चुकी है,इसकी वजह से अशोक सम्राट नगर में बच्चे,बूढ़े,महिलाओं को सांस लेने में परेशानी हो गयी थी,उस समय दर्जनों लोगों को  आनन फानन में में  उपचार के लिए सेंट्रल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।दो वर्ष पूर्व "पानी का टैंकर" की आड़ में देर रात वडोल गाँव मे केमिकल से भरा जब ट्रक खाली करवाया जा रहा था।तभी स्थानीय नागरिकों ने केमिकल के ट्रक व खाली करने वाले ड्राइवर व क्लीनर को घेर लिया था।मौके पर रात पाली में गश्त लगाने वाले अम्बरनाथ पुलिस के दो बीट मार्शल पहुचकर स्थानीय लोगो को कार्यवाही करने का आश्वाशन देकर वहां से रफा दफा किया और खुद खड़े होकर केमिकल का ट्रक खाली करवा दिया था।जिसकी वजह से उसी रात बड़ी अनहोनी हुई और बवाल मचते ही आनन-फानन में दो पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर केमिकल माफियाओं की धड़-पकड़ शुरू कर दी गयी थी।                    पुलिस की धड़-पकड़ की डर से कई केमिकल माफिया अंडरग्राउंड हो गए थे तो पुलिस ने अपने रिकार्ड वाले केमिकल व्यवसायियों को टाइट करना शुरू कर दिया था।इसी क्रम में डॉल्फिन क्लब रोड पर स्थित शिवसेना नेता के गोडाउन पर दो अलग-अलग बार छापा मारकर 8 से 9 लोगो पर एफआईआर दर्ज किया था।जब कि मुख्य आरोपी फरार था उसने अग्रिम जमानत करवा ली थी।कल एक बार वापस हवा में दूषित केमिकल की गंध उठने के बाद यह तो निश्चित हो गया कि दूषित केमिकल वालधुनी नदी में खाली करने वाला गिरोह वापस सक्रिय हो गया है,अब इस बात को लेकर पुलिस और पौलुसन विभाग कितना गंभीर है यह तो आने वाला समय ही बतायेगा।
  • उमपा के टैक्स विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों पर दर्ज हुआ 420 मामला !

    By fast headline india →
    उमपा के टैक्स विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों पर दर्ज हुआ 420 मामला ! 

     फर्जी दस्तावेज के आधार पर चेंज आफ नेम करने का बड़ा घोटाला उजागर !

     टैक्स विभाग के भ्रष्ट इंस्पेक्टर व अधिकारियों समेत मनपा आयुक्त पर पुलिस विभाग गिर सकती है गाज ! 

     पुराने तारीखों के स्टैम्प पेपर देने वाला बांड राइटर रमेश पाटिल भी बना आरोपी ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा में फर्जी दस्तावेज के आधार पर किसी की भी प्रॉपर्टी का चेंज आफ नेम करने को लेकर हमेशा से विवादो रही उमपा के टैक्स विभाग पर गुरुवार को न्यायालय के आदेश पर उल्हासनगर पुलिस ने 5 लोगो पर 419,420,465,467,468,471 तथा 120 (ब) के तहत मामला दर्ज किया है। जिसमे पाँचवे नंबर पर आरोपी के रूप में टैक्स अधिकारी व कर्मचारियों का समावेश है।बताया जाता है कि इन लोगो की जांच के लिए पुलिस ने भी कमर कस लिया है और जल्द ही मनपा आयुक्त भी इस पुलिस विभाग की जांच की रडार में आ सकते है ऐसी संभावनाएं है, इसके साथ भ्रष्ट टैक्स कर्मियों पर गाज गिरना तय है ।                    
    प्राप्त जानकारी के अनुसार टिटवाला के गणेश मंदिर के समीप रहने वाले अनिल तरे(50) ने न्यायालय में 156 (3) के तहत पिटीशन दायर किया कि जगदीश महसकर,जार्ज वाल्टर,ने मिलकर बिर्ला गेट स्थित शॉप नम्बर 1 व 2 जो मेवालाल यादव के नाम पर है,इन्होंने बांड राइटर रमेश पाटिल से 100 रुपये का बैक डेट का स्टैप पेपर निकालकर अज्ञात व्यक्ति को मेवालाल बनाकर उसके नाम से फर्जी दस्तावेज तैयार किये थे।             फर्जी दस्तावेज दुय्यम निम्बन्धक कार्यालय में नोंदणी नही की गई थी बावजूद फर्जी दस्तावेज के आधार पर महापालिका के टैक्स अधिकारियों व इंस्पेक्टरों ने लेन-देन करके अज्ञात व्यक्ति को मेवालाल बनाकर टैक्स का चेंज आफ नेम कर दिया।जब अनिल तरे को लगा कि उनको फसाया गया तब पहले अनिल ने स्थानीय पुलिस में शिकायत दर्ज करवानी चाही जब पुलिस ने शिकायत नही ली तो अनिल तरे ने न्यायालय में पिटीशन फाइल किया।जिसकी सुनवाई के बाद न्यायालय ने सभी आरोपियों पर मामला दर्ज करने का निर्देश दिया।न्यायालय के आदेश पर उल्हासनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दिया है। इस मामले में तत्कालीन टैक्स विभाग के उपायुक्त व टैक्स विभाग के एरिया इंस्पेक्टर व अधिकारियों का नपना तय है इस मामले में मनपा आयुक्त से भी पूछताछ होने की संभावनाएं है बहरहाल पुलिस जांच होने के बाद ही कुछ बोलने की बात कह रही है !