• जिओ टॉवर लगाए जाने का स्थानिक नागरिको का विरोध !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    जिओ टॉवर लगाए जाने का स्थानिक नागरिको का विरोध ! 

    मनपा आयुक्त ने दिए सभी जिओ टॉवर के काम रुकाने का आदेश ! 

    30 टॉवर लगाने की नगरचनाकर ने दी थी अनुमति !  
     फाइल फोटो

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर में खड़े किए जा रहे जिओ मोबाईल कंपनी के टॉवर को स्थानिय नागरिको और भाजपा नगरसेविका रेखा ठाकूर ने कड़ा विरोध दर्शाते हुए आपत्ति जताई है।जिसके चलते इस संदर्भ में मनपा प्रशासन को लिखित शिकायत देकर एक शिस्टमंडळ ने मुलाकात करके दिया है। इस मामले की गभीरता को देखते हुए मनपा आयुक्त अच्चुत हांगे ने सभी जिओ टॉवर के काम रोकने का आदेश दिया है ! 
    गौरतलब हो कि कैम्प क्र.एक स्थित बेवस चौक परिसर में जिओ कंपनी के मोबाईल टॉवर लगाए जा रहे है।हैरत की बात तो यह है कि जिस जगह पर टावर लगाए जा रहे है वह भूखंड मनपा की मिलकियत है।बावजूद इसके कुछ कथित लोगो ने कपनी से करार कर टावर निर्माण में खुलेआम लगे हुए है।वैसे तो अमुमम टावरों को ऊँचे इमारतों पर लगाया जाता है।लेकिन यहाँ पर सीधे जमीन पर टॉवर खड़े किए जा रहे है।चौकाने वाली बात तो यह है कि जिस जगह पर टॉवर का निर्माण किया जा रहा है उसके इर्दगिर्द घनी आबादी वाली बस्ती है। आने वाले भविष्य में टॉवर से निकलने वाले रेडिएशन से नागरिको के स्वस्थ को धोखा निर्माण हो सकता है।ऐसा आरोप स्थानिक रहिवासियो ने किया है। स्थानिक नगरसेविका रेखा ठाकूर का कहना है कि इस संदर्भ में मैंने अनेको शिकायत मनपा प्रशासन से की थी। जिसके चलते शिकायतो को गंभीरतापूर्वक लेते हुए टावर निर्माण कार्य को रोक दिया था।लेकिन अब फिर से टावर निर्माण का काम शुरू हो गया है। कल नगरसेविका रेखा ठाकूर और स्थानिक नागरिको का शिष्टमंडल मनपा नगररचनाकार मिलिंद सोनावणे से मुलाकात कर इस बाबत लिखित शिकायत सौप कर अवगत कराया।इस पर मिलिंद सोनावणे ने बताया की सभी तरफ मोबाईल टॉवर लगाए जाने का विरोध किया जा रहा है।टावर न होने से मोबाईल ग्राहको के कॉल ड्रॉप होने की समस्या में भारी इजाफा हो रहा है।जब उक्त मामले सर्वोच्च न्यायालय में पहुँचा तब न्यायालय के आदेश के बाद मोबाईल टॉवर लगाने की अनुमति दी गई है। और मनपा ने भी इसी आदेश का पालन कर मोबाइल टॉवर खड़े करने हेतु अनुमति कंपनी को दी है।टॉवर को लेकर मनपा महापौर पंचमकलानी ने भी आपत्ति जताते हुए विरोध दरसाया है कि जियो कंपनी के टॉवर इमारत की जगह घनी बस्ती में लगाये जाने से नागरिको के सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है।फिलहाल शहर भर में 20 टॉवर लगाने को लेकर मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने भी सर्वोच न्यायालय का हवाला देते हुए कहा कि टॉवर लगाने के लिए न्यायालय ने कुछ शर्तें कंपनियों को दी है।अगर कही भी शर्त का उल्लंघन होता दिखा तो उसे तुरंत रोक दिया जाएगा। फिलहाल पहले ही टॉवर के खिलाफ उठे विरोध के बाद मनपा आयुक्त ने टॉवर निर्माण पर स्थगिति दी है।और सोनावणे को सभी ठिकानों का मुआयना कर टॉवर लगाने में शर्तो का सही तरीके से पालन होने के बाद ही अनुमति देने के निर्देश दिए है।
  • No Comment to " जिओ टॉवर लगाए जाने का स्थानिक नागरिको का विरोध ! "