Browsing "Older Posts"

  • दो मुंहे सांप के साथ तस्कर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    दो मुंहे सांप के साथ तस्कर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार ! 

    15 लाख में एक सांप को बेचने आया था आरोपी ! 

    इस सांप का इस्तेमाल काला जादू व दवाई बनाने में होता है इस्तेमाल ! 

    इससे पहले भी कई दो मुंहे सांप के तस्करों क्राइम ब्रांच पहुचा चुकी सलाखों के पीछे ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर क्राइम ब्रांच ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए विदेश में औषधी बनने के लिये काम आने दो मुंहा दुर्लभ जाति के सांप को बेचने आए एक तस्कर को गिरफ्तार किया है साँप की बाजार में कुल किमत 15 लाख 1 हजार 600 सौ 69 रुपए बताया जा रहा है.दो मुंहा साँप का इस्तेमाल काला जादू या दवाई बनाने के काम भी आता है। 
    बता दे कि उल्हासनगर क्राइम ब्रांच पुलिस को अपने मुखबिरों से जानकारी मिली थी की माण्डा टिटवाला निवाशी देवराम काशीराम हमरे पालघर के मोखाडा में मांडूल जाति का दोमुंहा साप विक्री करने आने वाला है मिली इस जानकारी के आधार पर 27 फरवरी दोपहर 3. 30 बजे उल्हासनगर क्राइम ब्राच के पोलीस उपनिरीक्षक तोरगलर ने अपनी टीम के साथ जाल बिछाया.कुछ समय मे आरोपी देवराम काशीराम हमरे( 24 ) मौके पर आया तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर उसके पास से दोमुंहा साप जप्त किया।साँप का बाजार में कुल किमत 15 लाख 1 हजार 600 सौ 69 रुपये बताया जा रहा.जप्त मांडूल साप का विदेश में बड़े पैमाने पर मांग है इसका दवा (औषध) बनाने के उपयोग में इसका इस्तमाल होने की जानकारी पुलिस ने दी.इन दिनों साप की तस्करी करने वाली की टोली सक्रिय होने की अंदेशा से इंकार नही किया जा सकता.आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया जहाँ न्यायाधीश ने पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया। मामले की जांच सहायक पोलीस उपनिरीक्षक तोरगलकर कर रहे हैं।
  • उमपा पीडब्लूडी विभाग के भ्रष्ट्राचार का कांग्रेसी नगरसेविका ने किया पर्दाफाश !

    By fast headline india →
    उमपा पीडब्लूडी विभाग के भ्रष्ट्राचार का कांग्रेसी नगरसेविका ने किया पर्दाफाश ! 

     रोड़ बना ही नही फिर भी कर दिया पेमेंट !  

     नगरसेविका ने इसकी की जिलाधिकारी से की थी शिकायत ! 

     जिला अधिकारी ने दिया पूरे मामले का जांच करने का आदेश ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में रास्तों के काम न होने के बावजूद 15 लाख रूपए के बिल का भुगतान करने का एक अनोखा मामला उल्हासनगर महानगरपालिका के पैनल क्रमांक 18 में सामने आया है। इस मामले में स्थानीय कांग्रेस नगरसेविका अंजली सालवे ने ठाणे जिलाधिकारी के पास इस संदर्भ में शिकायत दर्ज कराई है। इसके बाद जिलाधिकारी ने इस संदर्भ में जांच के आदेश दिया है। उमपा के इस भ्रष्टाचार के आने से मनपा के पीडब्लूडी विभाग में हड़कंप मचा हुआ है !   
    बता दे कि  शासन द्वारा दलित वस्ती सुधार योजना के अंतर्गत उल्हासनगर शहर के लिए कुल ३००करोड़ की निधी दी गई थी, जिसमें से कुछ निधी पुराने प्रभाग क्र. ३० व ३५ और अभी के पैनल क्रमांक १८ के लिए दिया गया था।लेकिन इस प्रभाग के विकास कामों में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है, जिसमें रास्तों का काम न होने के बावजूद बिल मंजूर होने का प्रकरण सामने आया है। इस मामले को नगरसेविका अंजली सालवे ने उजागर किया है।इस संदर्भ में उन्होंने   ठाणे जिलाधिकारी के पास लिखित रूप में शिकायत दर्ज कराई है।           दलित वस्ती निधी से पैनल क्र. १८ में डिफेन्स किराणा स्टोअर से संजय वाघमारे के घर तक सीसी रोड नाले व फुटपाथ बनाने के लिए लगभग १५ लाख रूपए की निधी मंजूर करके उसका बिल भी निकाला गया है।  प्रत्यक्ष रूप में यह रास्ता अत्यंत दयनीय अवस्था में है।इसके कारण दलित वस्ती की निधी का दुरुपयोग करके इधर के विकास कामों को दलितवस्ती में ना करके अन्य ठिकानों पर किया गया है, ऐसी शिकायत नगरसेविका अंजली सालवे ने जिलाधिकारी के पास की थी,ऐसा बताया जा रहा है। इस शिकायत पर दखल देते हुए जिलाधिकारी ने मनपा आयुक्त को पत्र भेजा है।उसमें दलित वस्ती में किए गए विकास कामों की सक्षम तांत्रिक अधिकारियों के द्वारा जांच कराकर उसकी रिपोर्ट भेजने का आदेश दिया है।  इस संदर्भ में शहर अभियंता महेश शितलानी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इस प्रकरण में प्रत्यक्ष रास्तों के निरीक्षण किया जायेगा और उसका रिपोर्ट पेश किया जाएगा।
  • उमपा के सत्ताधारियों का हवा महल वाला बजट महासभा में हुआ पास !

    By fast headline india →
    उमपा के सत्ताधारियों का हवा महल वाला बजट महासभा में हुआ पास !

    शहर के मनपा स्कूलों बनेंगे सेमी इंगलिश स्कूल !

    मनपा स्कूल के बच्चों को मनपा देगी मुफ्त में टैब !

    बच्चों को स्पोर्ट में आगे बढ़ने ने लिए शहर में बनेंगे इनडोर स्टेडियम !

    शहर को क्राईम मुक्त शहर बनाने के लिए हर कोने में लगेंगे सी.सी.टी.वी. कैमरे-महापौर

    उल्हासनगर-उल्हासनगर स्थायी समिति की सभापति जया प्रकाश माखीजा, उल्हासनगर महानगरपालिका की महापौर,पंचम कालानी के द्वारा महासभा में बजट पेश किया गया। मनपा आयुक्त अच्युत हांगे द्वारा 548 करोड़ रुपये के अनुमानित बजट, को स्थायी समिति और आम सभा की बैठक में इसे मुंगेरीलाल के सपनो के जैसे बढ़ाते हुए 957 करोड़ रुपये तक पहुचा दिया है। यहां तक कि जब उस मल्टीप्लायर में पालिक की आय नहीं बढ़ती है, तो क्या इसका मतलब यह है कि गुब्बारे के बजट को एक अच्छे दिन की तरह अच्छा समय मिलता है ? इस पर सबका ध्यान गया है। इस बजट के अंत उमपा की महापौर पंचम कालानी बहुत ही सुंदर विजन को रखते हुए कहा कि उमपा शहर के मनपा स्कूलों बनेंगे सेमी इंगलिश स्कूल !मनपा स्कूल के बच्चों को मनपा देगी मुफ्त में टैब देगी !बच्चों को स्पोर्ट में आगे बढ़ने ने लिए शहर में बनेंगे इनडोर स्टेडियम ! शहर को क्राईम मुक्त शहर बनाने के लिए हर कोने में लगेंगे सी.सी.टी.वी. कैमरे लगेंगे ताकि पूरा शहर सुरक्षित रहे !
    बता दे कि उल्हासनगर महानगरपालिका के आयुक्त अच्युत हांगे ने वर्ष 2018-19 के लिए अंतिम महीने में स्थायी समिति सभापति जया माखिजा को 548 करोड़ रुपये का शेष बजट दिया। इस बजट में मेयर, डिप्टी मेयर, स्थायी समिति के सभापति, सदन के नेता और विपक्ष के नेता के लिए 10 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।स्थायी समिति ने प्रति नगरसेवक को 50 लाख रुपये और वार्ड समिति के कोष से 20 लाख रुपये का प्रावधान किया। स्थायी समिति के सदस्य और वार्ड समिति के अध्यक्ष के लिए विशेष प्रावधान किया गया था। स्थायी समिति द्वारा यह बजट 858 करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। इस बजट को महासभा में जया माखिजा ने महासभा में विस्तारित किया और 100 करोड़ रुपये के बजट में खर्च किया।यह पाया गया है कि विपक्षी दलों का प्रस्ताव बजट में दिया गया है। यह शिवसेना और भाजपा गठबंधन का परिणाम है। पिछले साल, विपक्षी दल ने महासभा से शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को वापस ले लिया था। आय से अधिक का बजट न हो - मनपा आयुक्त पालिका आयुक्त अच्युत हांगे ने अनुरोध किया था कि आम सभा में बजट पर चर्चा करते समय बजट को सीमा से बाहर से ज्यादा नहीं किया जाना चाहिए। इसके बावजूद 400 करोड़ का बजट फुलाया गया है। उल्हासनगर में आय के सपने देखने वाले की चर्चा सच है।भाजपा के मनोनीत नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी, जमनु पुरुस्वानी, अर्चना करनकाले, शिवसेना के सुनील सुर्वे, सुरेंद्र सावंत, सुमित सोनकांबले, अरुण आशान और एनसीपी के भरत गंगोत्री और कांग्रेस की अंजलि सालवे, साई पार्टी के टोनी सिरवानी आदि ने हिस्सा लिया। वलधुनि नदी के विकास के लिए 10 करोड़ का फंड विपक्षी नेता धनंजय बोडारे ने नदी तल के विकास के लिए 10 करोड़ रुपये की मांग की। महासभा ने उन्हें मंजूरी दी। शिवसेना के नगरसेवक राजेंद्रसिंह भुल्लर ने खुनी खाड़ा में एक उद्यान विकसित करने की मांग की। उन्हें सत्तारूढ़ दल द्वारा भी अनुमोदित किया गया था।
  • 12 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे लोगों का मनपा आयुक्त ने जूस पिलाकर उपोषण कराया खत्म !

    By fast headline india →
    12 दिनों से आमरण अनशन पर बैठे लोगों का मनपा आयुक्त ने जूस पिलाकर उपोषण कराया खत्म ! 

    मनपा आयुक्त,सभा गृह नेता, स्टैंडिंग चेयरमैन के पति व पत्रकारों के साथ मिलकर स्पॉट का किया मुवायना ! 

    दो दिनों में आयुक्त देगे लिखित जवाब के जरिये फैसला !

     दरवाजा आमने सामने खोलने को लेकर हुआ यह विवाद !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर कैम्प 1 पैनल क्रमांक 1 बैरक नम्बर 122 रुम नम्बर 133 तेजुमल चक्की के पास के रहिवासी उमाशंकर शर्मा उनकी वृद्ध माँ और उनका परिवार पिछले 12 दिनों से उल्हासनगर मनपा कार्यालय के बाहर न्याय के लिए आमरण अनशन पर पर बैठे थे, मनपा आयुक्त हांगे व उमपा सभा गृह नेता जम्मू पुरुस्वानी स्टेंडिंग चेयरमैन के पति प्रकाश मखीजा के मौजूदगी में उपोषण पर बैठे परिवार को जूस पिलाकर उनका उपोषण खत्म कराया है !
    बता दे कि उल्हासनगर कैम्प 1 पैनल क्रमांक 1 बैरक नम्बर 122 रुम नम्बर 133 तेजुमल चक्की के पास के रहिवासी उमाशंकर शर्मा उनकी वृद्ध माँ और उनका परिवार वहाँ पर रहते उनके घर के बगल में एक दूसरी महिला का घर उसने अपने घर में गली की साइड दो दरवाजे खोले है उसी के चलते इनका विवाद शुरू हुआ उन्ही दरवाजे पर कार्यवाई की मांग को लेकर यह परिवार पिछले 12 दिनों से उल्हासनगर मनपा कार्यालय के बाहर न्याय के लिए आमरण अनशन पर पर बैठे थे, मंगलवार की दोपहर मनपा के सभागृह नेता ने मनपा आयुक्त अच्चुत हांगे को उपोषण कर्ता के पास लेकर गए आयुक्त ने उपोषण कर रहे परिवार को आश्वासन दिया कि हम खुद स्पॉट का मुवायना करेगे और उसके बाद निर्णय लिया जाएगा कि क्या कार्यवाई करनी इस आश्वासन के बाद उपोषण पर बैठे शर्मा परिवार को जूस पिलाकर उपोषण खत्म कराया मनपा आयुक्त हांगे सभागृह नेता,जम्मू पुरुस्वानी प्रकाश मखीजा व कुछ पत्रकारों के टीम के साथ मनपा आयुक्त ने स्पॉट पंचनामा किया और दोनो पक्षो को सुना और दो दिनों में लिखित जवाब देने की बात कही जो दोनो पक्षो को मान्य करना होगा,बहरहाल दोनो पड़ोसी इतनी छोटी सी लड़ाई को इतना बड़ा क्यो बना दिया इसके पीछे की वजह क्या है यह भी समझ के परे ही अब मनपा आयुक्त दो दिन बाद क्या फैसला लेते सबकी नजरें उसपे टिकी हुई है !
  • मोबाईल चोर गिरोह का पुलिस ने किया भंडाफोड़ ! 16 मोबाईल के साथ चार को किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    मोबाईल चोर गिरोह का पुलिस ने किया भंडाफोड़ !

     16 मोबाईल के साथ चार चोरों को किया गिरफ्तार ! 

    कल्याण-कल्याण महात्माफुले पुलिस ने मोबाईल चोर के गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए चार मोबाईल चोरो को गिरफ्तार किया है जिनके पास से एक दर्जन से अधिक मोबाइल चोरी के बरामद किया गया है।जिसकी कीमत बाजार में लाखो रुपये बताई जा रही है,
     पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उल्हासनगर, विट्ठलवाडी ,भिवंडी,शाहपुर के रहनेवाले चार युवक अजीज उर्फ शाहरुख आलम खान,अरुण राजू गुप्ता,अजहर अजमद अली शेख,मतीन जीमल कोतवाल नामक युवकों को गिरफ्ततार किया गया है।उक्त चारो लोगो को पर ठाणे, नासिक,भिवंडी,पालघर पुलिस स्टेशन में पहले से ही चोरी के अन्य मामले दर्ज है। महात्माफुले पुलिस को मोबाइल चोरी की लगातार शिकायत मिल रही थी, इसी शिकायतों के आधार पर पुलिस चोरों की तलाश रात दिन एक कर दिया आखिरकार 14 फरवरी को कल्याण रेलवे स्टेशन के स्काई वॉक पर सो रहे व्यक्ति के जेब से मोबाइल चोरी की शिकायत महात्माफुले पुलिस को मिली, पुलिस उपायुक्त संजय शिंदे ,सहाययक पुलिस आयुक्त अनिल पोवार, वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक प्रकाश लोंढे सपुनिरी डाम्बरे. पवार. पु ना शिर्के.सुचित टीकेकर.भोईर ,सानप आदि पुलिस मिलकर एक टीम बनाई अपने अपने काम पर गये तभी पुलिस को इस मामले में पहला आरोपी अजीज नामक युवक को अपने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू किया.अजीज ने अपने और तीन दोस्त का नाम बताया।जो कि चोरी की वारदात को अंजाम देते थे, अजीज की निशानदेही पर पुलिस ने उक्त सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 16 मोबाइल बरामद किया जिसकी कीमत बाजार में एक लाख 25 हजार 500 रूपए बताई जा रही है गिरफ्तार युवको की जांच महात्माफुले पुलिस थाने के पुलिस अधिकारी कर रहे है.
  • शराब पिलाया नही तो सामने वाले ने सर पर दे मारी बियर बॉटल !

    By fast headline india →
    शराब पिलाया नही तो सामने वाले ने सर पर दे मारी बियर बॉटल ! 

    6 लोगो के विरुद्ध दर्ज हुआ मामला !

    जीन्स ब्यापारी की सोने की चेन भी लेकर हुए फरार !


     उल्हासनगर -उल्हासनगर में शराब पिलाया नही इससे नाराज ब्यक्ति ने अपने ही दोस्त के सर बियर की बाटली दे मारी दूसरे दोस्त ने भी बॉटल फोड़ी, इस मामले में सभी आरोपियों के विरुद्ध मामला दर्ज किया है.      पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार उल्हासनगर - 4 के मौर्या नगरी परिसर में रहने वाले सागर रमेशलाल दुसेजा ( 27 ) जो पेसे से जीन्स कपडे का ब्यवसाई है . वह रात में 11 . 20 बजे के दरम्यान व्हीनस चौक के पास के जनता बार में शराब पीकर बाहर निकला और अपने घर की तरफ जा रहा था तभी रास्ते में उसके मित्र मिले सुरेश ने कहा सागर आज शराब पिलाओ हमको , इस पर सागर ने शराब पिलाने से मना कर इससे नाराज हुए सुरेश व उसके 5 दोस्तो ने सागर के सर पर बियर की बाटली दे मारी और उसके गले से सोने की चेन निकाल कर फरार हो गए है .  इस मामले में घायल सागर ने विठ्ठलवाडी पुलिस स्टेशन में आरोपी सुरेश व उसके 5 दोस्तो के विरुद्ध मामला दर्ज किया है और आगे की जांच में जुट गई है. 
  • हप्ता वसूली के मामले में मनपा सभागृह नेता हुये गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    हप्ता वसूली के मामले में मनपा सभागृह नेता हुये गिरफ्तार ! 

    कांग्रेस पार्टी के नगरसेवक सरदार ने बिल्डर से मांगे थे चार लाख ! 

    मोबाईल क्लिप के आधार पर पुलिस ने दर्ज किया मामला !

     मनपा अधिकारी रणखांब को पैसे देने की हुई है बात ! 

    भिवंडी- भिवंडी मनपा सभागृह नेता व कांग्रेस नगरसेवक मतलूब अफजल सरदार को बिल्डर से हफ्ता मांगने के आरोप में शुक्रवार की रात शांतिनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मतलूब सरदार की गिरफ्तारी से कांग्रेस पार्टी व मनपा नेताओं में हड़कंप मचा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार शांतिनगर स्थिति पीरानीपाड़ा में बिल्डर का व्यवसाय करने वाले सलीम अब्दुल हाफिज अंसारी ने शांतिनगर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि वह पीरानीपाड़ा में नूर अपार्टमेंट नामक बिल्डिंग का निर्माण कर रहे है, जिसे गैर कानूनी बता कर उसे चालू रखने के लिए कांग्रेस नगरसेवक मतलूब सरदार ने बिल्डर से मार्च 2017 से अक्टूबर 2018 के दरमियान हफ्ता मांग कर चार लाख रूपये लिए थे ।बिल्डिंग बचाने के नाम पर और पैसे की मांग करने के साथ रणखांब साहब को पैसा देने की बात कही। बार बार पैसे की मांग से परेशान होकर बिल्डर सलीम अब्दुल हफीज अंसारी ने मोबाइल का क्लिप सुना कर शुक्रवार की शाम शांतिनगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया। मामले की गंभीरता को देखते हुए शांतिनगर पुलिस के एपीआई दुर्गेश दुबे ने सभी शिकायत की सत्यता को जांच कर मनपा सुभागृह नेता मतलूब अफजल सरदार के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 384 व 385 के तहत मामला दर्ज कर रात में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने शनिवार को मतलूब सरदार को भिवंडी न्यायालय में पेश किया जहां न्यायालय ने नगरसेवक मतलूब सरदार को 26 फरवरी तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया गया है।
  • जहरीली शराब पीने से हुई 80 मजदूरों की हुई मौत !

    By fast headline india →
    जहरीली शराब पीने से हुई 80 मजदूरों की हुई मौत ! 

    100 से ज्यादा लोग है बीमार ! टी एस्टेट के है सभी मजदूर ! 

     असम-असम में गोलाघाट जिले के एक चाय बागान में जहरीली शराब पीने के बाद 80 लोगों की मौत हो गई जबकि 100 से ज्यादा लोग बीमार बताए जा रहे हैं. असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने आज यह जानकारी दी है.
    पुलिस के मुताबिक ये लोग सलमीरा टी एस्टेट के श्रमिक हैं. गुरुवार रात शराब पीने के बाद वे बीमार पड़ गए थे. बीमार लोगों को जोरहाट मेडिकल कॉलेज अस्पताल भर्ती कराया गया है. बीमार लोगों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने बताया कि देशी जहरीली शराब पीने की वजह से ये मौतें हुईं और अस्पताल लाए गए ज्यादातर लोगों की हालत गंभीर है.खुमतई से बीजेपी विधायक मृणाल सैकिया ने बताया कि 100 से अधिक लोगों ने शराब पी थी. उनका यह संदेह है कि ये सारी शराब एक ही विक्रेता से खरीदी गई है. सैकिया ने बताया कि उन्होंने जिला प्रशासन से इस मामले की जांच करने और फौरन कार्रवाई का अनुरोध किया है. वहीं, कांग्रेस विधायक रूपज्योति कुर्मी ने आबकारी मंत्री परिमल शुक्लवैद्य के इस्तीफे की मांग करते हुए मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल से मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की अपील की है.असम में गुरुवार रात से अब तक इस घटना में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है. यहां जोरहाट कॉलेज अस्पताल का दौरा करने के बाद स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मौत का आंकड़ा हर मिनट बढ़ रहा है. शर्मा ने अस्पताल में कुछ मरीजों से मिलने के बाद बताया था कि मृतकों और अस्पतालों में भर्ती लोगों की संख्या हर मिनट बदल रही है.   उन्होंने कहा कि मुझे बताया गया है कि 142 लोग जोरहाट मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराए गए थे, जिनमें से 36 महिलाएं शामिल हैं.  यहां 12 लोगों की मौत हो चुकी है. मेरे यहां आने के बाद भी और मरीजों को भर्ती कराया गया है. शर्मा ने कहा कि मेडिकल एजुकेशन के निदेशक अनूप बर्मन की देखरेख में मरीजों का इलाज किया जा रहा है. यूपी- उत्तराखंड में 100 से ज्यादा मौतें बता दें कि कुछ दिन पहले ही उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीने से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. ये घटना सहारनपुर, रुड़की और कुशीनगर में हुई थी. सहारनपुर में 64, रुड़की में 26 और कुशीनगर में 8 लोगों की मौत हुई थी. उत्तर प्रदेश सरकार के मुताबिक जहरीली शराब से मरने वालों में ज्यादातर वे लोग थे जो उत्तराखंड में एक तेरहवीं संस्कार में शरीक होने गए थे, जहां इन लोगों ने शराब का सेवन किया था. इन मौतों के बाद योगी सरकार ने अवैध शराब के खिलाफ पूरे प्रदेश में अभियान शुरू किया था. इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था.
  • स्वच्छता मिशन के नाम पर मनपा में हुआ शौचालय घोटाला ?

    By fast headline india →
    मनपा में हुआ शौचालय घोटाला ?  

    महापौर ने दिया जांच करने का आदेश !

    सत्ताधारी शिवसेना सभागृह नेता ने महासभा में किया आरोप !

    शौचालय की देखभाल मरम्मत हुआ ही नही, फिर भी करोड़ो रूपये का बिल निकाला गया !

    उमपा के फाइल चोरी मामले से जुड़े ठेकेदार को केडीएमसी ने शौचालय बनाने का दिया ठेका !


     कल्याण- कल्याण केडीएमसी हद में शौचालय बना हुआ दिखाया और हकीकत में उस जगह पर शौचालय व देखभाल मरम्मत हुआ ही नही है मगर उस काम का करोड़ो रूपये का बिल निकाला गया है ऐसा आरोप सत्ताधारी शिवसेना सभागृह नेता श्रेयस समेल ने महासभा में किया है । इस प्रकरण की जांच करके अहवाल अगले महासभा में पेश करने का आदेश महापौर विनीता राणे ने प्रशासन को दिया हैं ।
    आगे समेल ने कहा कि, शौचालय का काम हुआ ही नही मगर मेजरमेंट पुस्तक में काम होने का जिक्र करके उसका बिल निकाला गया है । जिस ठेकेदार की फाइल उल्हासनगर मनपा में चोरी हुई उसी ठेकेदार को केडीएमसी ने शौचालय बनाने का कॉन्ट्रैक्ट दिया है इसलिए काम हुआ कि नही ? इसकी पुष्टि करें , और ऐसे ठेकेदार को काम देने पर भ्रष्टाचार नही होगा तो क्या होगा ऐसा सवाल समेल ने खड़े किए । आगे समेल ने कहा कि, पहले भी इस मुद्दे को उठाया था मगर कोई कारवाई नही हुई । किए आरोपों पर प्रशासन से खुलासा मांगा । कार्यकारी अभियंता चंद्रकांत कोलते ने कहा कि काम सब सही तरीके से हुआ है उसकी सब जानकारी दी गई हैं ऐसा उत्तर दिया । इसपर बाकी सदस्यों ने कोलते के कामकाज को लेकर आवाज बुलंद की । अधिकारी झूठी जानकारी देकर सभी को गुमराह करते हैं । अनेकों ने शौचालय के काम में भी भ्रष्टाचार किया है । लोगो को शौचालय की सुविधा नही मिलता हैं ऐसे लोगों की वजह से हम सुविधा नही दे पाते हैं । स्वच्छ भारत अभियान अंतर्गत केंद्र सरकार के द्वारा मनपा को निधी प्राप्त हुआ है । निधी का गैर इस्तेमाल अधिकारी ऐसे कर रहे हैं । आज बंद दरवाजे का विज्ञापन टीवी पर किया जा रहा है । हकीकत में स्मार्ट सिटी की दिशा में मनपा का बढ़ता कदम और स्वच्छ भारत संकल्पना पर मनपा अधिकारी घोटाले करके कालिख पोत रहे हैं । निधी का योग्य प्रकार से उपयोग नही करते और योजना कागजों पर दिखाकर अधिकारी ठेकेदारों की मदद से निधी अपने जेब में डाल रहे हैं यही स्पष्ट होता हैं । इस शौचालय घोटाले बरीकी से जांच पड़ताल करने की मांग समेल ने की । बाकी सदस्यों ने भी इसका समर्थन किया हैं । सबने एक सुर में कहा कि हमारे भी वार्ड में इसी तरह से काम हुआ है इसलिए समेल की आरोपो में सच्चाई है । दोषी अधिकारियों को निलंबित करें । इस तरह से काम करने वाले ठेकेदारों को ब्लैक लिस्टेड करने की मांग भी सदस्यों ने की । इस प्रकरण की जांच करके अहवाल अगले महासभा में पेश करने का आदेश महापौर विनीता राणे ने प्रशासन को दिया हैं ।
  • अवैध निर्माण करनेवाले तीन लोगो के विरुद्ध दर्ज हुआ मामला !

    By fast headline india →
    अवैध निर्माण करनेवाले तीन लोगो के विरुद्ध दर्ज हुआ मामला ! 

    अवैध निर्माणों को संरक्षण देने का उमपा का नया जुआड ! 

    एमआरटीपी मामला दर्ज हुआ अवैध निर्माण पर नही हुई कार्यवाई !

     उल्हासनगर- उल्हासनगर महानगरपालिका की परवानगी लिए बिना अवैध बांधकाम करनेवाले तीन व्यक्तियों के पर उल्हासनगर महानगरपालिका के सहायक आयुक्त के शिकायत पर एमआरटीपी कानून के अंतर्गत मामला दर्ज किया गया है। 
    पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार सुनीता गोपाल राजवानी (कौशल नगर), ज्योती विजय सोनवणे( गावडे स्कूल के पास) व लताबाई नानाभाऊ केदार( ब्राम्हणपाडा) पर उल्हासनगर महानगरपालिका की बांधकाम के लिए बिना परवानगी लिए अनधिकृत बांधकाम करने के लिए उल्हासनगर महानगरपालिका प्रभाग समिती एक के प्रभाग सहायक आयुक्त दत्तात्रय जाधव की फरियाद पर मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन में एमआरटीपी कानून १९६६ की धारा ५४(२) के अनुसार मामला दर्ज कर पुलिस आगे की जांच कर रही है।
  • शिवसेना विधानसभा संगठक सहित अन्य 2 पर एफआईआर हुआ दर्ज ! समाजसेविका से पंगा लेना पड़ा भारी ?

    By fast headline india →
    शिवसेना विधानसभा संगठक सहित अन्य 2 पर एफआईआर हुआ  दर्ज ! 

     सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे द्वारा उच्चन्यायालय में दिए गए हलफनामे का सार्वजनिक करने के बाद छिड़ा था बवाल ! 

     सोसल मीडिया पर की गई अभद्र टिप्पणी का अब दर्ज किया विट्ठालवाड़ी पुलिस ने मामला !

     समाज सेविका खानचंदानी की शिकायत पर दर्ज हुई एफआईआर ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में ध्वनि प्रदूषण के मुद्दे पर शिवसेना व समाज सेविका आमने सामने आया गए हैं ! इस मामले मर समाज सेविका सरिता खानचंदानी की शिकायत पर विठ्ठलवाड़ी पुलिस ने बीती देर रात शिवसेना विधानसभा संगठक सागर ऊंटवाल,सागर भिंगरदिवे तथा दिलीप वलेच्छा पर विट्ठालवाड़ी पुलिस ने 500,503,504,506,509 के तहत एफआईआर दर्ज किया है। समाजसेविका व शिवसेना की यह जंग किस मोड़ पर जा कर रुकती है वह देखने लायक होगा । 
    गौर तलब हो कि समाजसेविका सरिता खानचंदानी ने अम्बरनाथ शिव मंदिर फेस्टिवल में जमकर कानून की धज्जियां उड़ाने के खिलाफ ध्वनि प्रदूषण का मामला मुम्बई उच्चन्यायालय में दायर किया था,जिसका खासदार श्रीकांत शिंदे ने एफिडेविड के जरिये अपना पक्ष रखा था।न्यायालय में दायर किये गए एफिडेविड को सरिता खानचंदानी ने सार्वजनिक करते हुए फेसबुक पर डाल दोय था,इस बात से शिवसेना नाराज हो गयी थी,इसके अलावा  सपना गार्डन के समीप विगत कई वर्षों से शिवसेना विधानसभा संगठक सागर ऊंटवाल नवरात्र उत्सव करते आ रहे है,सरिता खानचंदानी ने सड़क बाधित करने सहित ध्वनि प्रदूषण की भी शिकायत स्थानीय पुलिस व उमनपा में की थी।इस घटना से आक्रोशित विधानसभा संगठक सागर ऊंटवाल व अन्य ने सरिता खानचंदानी के फेसबुक अकाउंट सहित सोसल मीडिया पर जमकर उनकी खिलाफत की थी,यही नही शिवसेना के अलग अलग लोगो ने करीब आधा दर्जन एन. सी भी खानचंदानी के विरुद्ध दर्ज करवाई थी। इस विषय मे खानचंदानी ने फस्ट हेडलाइन्स इंडिया से बात करते हुए कहा कि मैं हिंदुत्व वादी हु या नही किसी को यह साबित करने की जरूरत नही,मैं कानून पर विश्वाश करती हु और न्यायालय पर मुझे पूरा भरोषा है।इस विषय मे विधानसभा संगठक सागर ऊंटवाल से बात करने की कोशिश की गई परन्तु उनका मोबाइल फोन बंद था। जिसके चलते उनकी बात सामने नही आ पाया है !
  • विधवा महिला अपनी दो बेटियों की हक दिलाने के कर रही भूखहड़ताल ! भाजपा पदाधिकारी का कारनामा !

    By fast headline india →
    विधवा महिला अपनी दो बेटियों की हक दिलाने के कर रही भूखहड़ताल !

     ससुर के अन्याय पर महिला ने शुरू की यह जंग ! 

    भाजपा पदाधिकारी व भवन निर्माता पांडे कर रहे महिला व उसकी बच्चियों पर अन्याय !

     कल्याण-कल्याण अपने पति की हत्या होने के बाद परिजनों द्वारा ठुकराए जाने के बाद अपनी 2 मासूम बेटियों के साथ एक विधवा महिला को न्याय के लिए अपने ससुर रामसेवक पांडे भवन निर्माता व भाजपा पदाधिकारी के कल्याण के खड़कपाड़ा नेब्यूला हाइट्स बिल्डिंग के गेट पर बैठ भूख हड़ताल करने से कल्याण में चर्चाओं का माहौल गर्म हो गया है। 
    गौरतलब हो की मुलुड की रहने वाली प्रिया पांडे ने कल्याण के रहनेवाले अनिल पांडे से 10 वर्ष पूर्व प्रेम विवाह किया था.2015 में पति अनिल रामसेवक पांडे की किसी रंजिस के कारण उनके मुलुंड घर में हत्या हो गई थी.पति की हत्या होने के बाद महिला अपने 2 बेटियों के साथ कई दिन वहा गुजरे.उनको अनिल पांडे के परिवार के लोगो ने भाड़े किराए का मकान लेकर प्रिया को दिया था दो वर्षों तक पीड़ित के घर खर्च सहित दोनो बेटियों का पढ़ाई लिखाई सब देख रहे थे.जो अचानक बंद कर दिए जाने की जानकारी प्रिया ने देते हुए आरोप लगाया है कि तब से वह अपनी दो मासूम संतानो को लेकर यहाँ वहा भटक रही है.और उसके ससुर जो कल्याण के भवन बेवसाय से जुड़े रामसेवक पांडे है जो अब पहचानने से साफ इंकार कर रहे हैं. अब महिला और दोनों बच्चो के साथ ससुर जेठ के घर के सामने भूख हड़ताल पर बैठी है वही स्थानीय खड़कपाड़ा पुलिस महिला की सुरक्षा में तैनात है महिला और बच्चों को देख शहर के नागरिको में इस परिवार के प्रति बहुत नाराजगी बढ़ती जा रही है ........ इस बारे में कल्याण के भवन निर्माता ,समाजसेवक व पूर्व भाजपा उत्तरभारतीय मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष रामसेवक पांडे ने संपर्क करने पर जानकारी देते हुए कहा कि मेरा बेटा 11 वर्ष पूर्व 2007 में लापता हो गया था.उसके बाद से बेटे के साथ उनका कोई संपर्क नही हुआ.में इस महिला को नही जानता न ही कभी देखा.यह मेरे विरोधियों का मुझे बदनाम व फसाने का षडयंत्र है।
  • अंतरराष्ट्रीय आरोग्य सुविधा का डी वाय पाटील विद्यापीठ में हुआ उदघाटन।

    By fast headline india →
    अंतरराष्ट्रीय आरोग्य सुविधा का डी वाय पाटील विद्यापीठ में हुआ उदघाटन।

     'मेडइन्स्पाएर' चर्चासत्र के कारण भारतीय आरोग्य क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव आयेगा। डॉ विजय पाटील 

    नवी मुंबई राहुल तिवारी

    मुंबई-मुंबई महाराष्ट्र की जनसंख्या दिन ब दिन बढती जा रही है,इस बात को ध्यान मे रखते हुए आरोग्य सेवा मे बदलाव लाना आवश्यक है।उसका ध्यान रखते हुए अंतरराष्ट्रीय स्तर के नवी मुंबई स्थित डी वाय पाटील विद्यापीठ में इन सेवाओं का उद्धघाटन किया गया।उद्घाटन समारोह कार्यक्रम में राज्यपाल महामहिम श्री विद्यासागर राव,आरोग्य,व पालक मंत्री श्री एकनाथ शिंदे,बिहार ,और त्रिपुरा के पूर्व राज्यपाल डॉ डी वाय पाटील सहित कई अन्य मान्यवरो ने इस कार्यक्रम का हिस्सा लिया । प्राप्त जानकारी के अनुसार विश्व के कुछ ही देशों जैसे अमेरिका, और कुछ ही अन्य कई देशो में लोगो को विश्वस्तरीय आरोग्य सुविधा मिल रही है ।इसी विषय को ध्यान में रखते हुए नवी मुंबई स्थित डाक्टर डी॰वाय॰ पाटील हास्पिटल में अंतरराष्ट्रीय स्तर की कॉन्फ्रेंस का डॉ विजय डी पाटील ने आयोजन किया जिसमें मेडिकल की सभी शाखाओं के विशेषज्ञों ने भाग लिया। ऐसा आयोजन आजतक भारत मे कही नही हुआ था। लोगो को आरोग्य सुविधा मिल सके इस विषय पर चर्चा के लिये ८० देशों के डॉक्टर इस कार्यक्रम में उपस्थित है। वही राज्यपाल महामहिम श्री विद्यासागर राव ने लोगो को संबोधित करते हुए कहा,कि हमारे देश लोग संख्या की काफ़ी ज्यादा बढ़ोतरी होती जा रही है। सोशल मीडिया पर जो भी आरोग्य से जुड़ी बातें आती है उस पर न विश्वास करे।डॉ की सलाह से इलाज करे। दूसरी तरफ पालक ,व आरोग्य मंत्री एकनाथ शिंदे ने कार्यक्रम में उपस्थित लोगो को कहा कि आज कल लोगो को आरोग्य की जरूरत है। आप सभी लोग डॉ की ली हुई राय मानेगे मैं सभी से यही आशा रखूंगा । 80 से अधिक अन्तराष्ट्रीय एवं 600 से जादा देश के विशेषज्ञ डॉक्टर गण की मौजूदगी इसको एक नया आयाम देगी और आने वाले समय में आम जनता को इसका लाभ मिल सकेगा । 'मेडइन्स्पायर के आयोजक डॉ विजय डी पाटील ने पत्रकारों को बताया कि 10,000 डॉक्टर इस चार दिन के समारोह में शामिल होंगे। आरोग्य से जुडे 31 से अधिक महत्वपूर्ण अलग अलग विषयों पर चर्चा होगी। आरोग्य की दिशा में यह संगोष्ठी एक मील का पत्थर साबित होगी ऐसा विश्वास है
  • टीओके ने पाकिस्तान का पिंडदान करके किया निषेध !

    By fast headline india →
    टीओके ने पाकिस्तान का पिंडदान करके किया निषेध ! 

    उल्हासनगर के ब्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद कर किया निषेध !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में पुलवामा में हुए आतंकी हमले के निषेध में टीओके कार्यकर्ता ने सिर मुंडन करके पाकिस्तान का पिंडदान करके विरोध जताया है उसके बाद पाकिस्तान के राष्ट्रध्वज को जलाया और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाया गया ! 
    गौरतलब हो कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में देश के 40 जवान शहीद हो गए थे जिसके बाद में पूरे देश के लोगो के द्वारा इस घटना का निषेध किया जा रहा है और जवानों को श्रंद्धांजलि दी जा रही है उसी कड़ी में उल्हासनगर टीम ओमी कालानी के द्वारा शनिवार की शाम 6 बजे सैकड़ो कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में शहीद सैनिकों को श्रंद्धांजलि दी गई और फिर टीओके के एक कार्यकर्ता अन्नू केदार ने सर मुड़वा कर पाकिस्तान का पिंडदान किया और फिर पाकिस्तान के राष्ट्रध्वज को जलाकर निषेध किया गया है उस समय टीओके अध्यक्ष ओमी कालानी, टीओके प्रवक्ता कमलेश निकम, सुंदर मुदलियार, पंकज त्रिलोकनी,नारायण पंजाबी के साथ सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद थे शहीद सैनिकों को पूरे शहरवासियों ने मोमबत्ती जलाकर श्रंद्धांजलि दिया है इसके अलावा शहर के सभी ब्यापारियों ने अपनी दुकानें बंद करके अपना निषेध दर्ज कराया तो शहर के सभी ब्यापारी एसोसिएशन ने भी पाकिस्तान राष्ट्रध्वज जलाकर अपना विरोध दर्ज कराया है
  • उल्हासनगर फर्जीवाड़े में देश में हुआ अव्वल, कोर्ट को 28 सालों तक फर्जी दस्तावेज के जरिये किया गुमराह !

    By fast headline india →

    बीएमसी का फर्जी स्थगन आदेश बनाकर कोर्ट को किया गुमराह ! 

     28 साल की लंबी लड़ाई के बाद आरोपी के खिलाफ दर्ज ही एफआईआर ! 

    बीएमसी कमिश्नर के आदेश का बनाया था फर्जी दस्तावेज ! 

    अपने ही रिश्तेदार के कारनामो को वकील ने किया पर्दाफाश ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में 75 वर्षीय वरिष्ठ वकील और आयकर विभाग के सलाहकार को उसके रिश्तेदार द्वारा संपत्ति के एक विवाद के मामले में फर्जी स्थगन आदेश कोर्ट को देकर गुमराह करने का मामला सामने आया है । अदालत और अन्य सरकारी कार्यालयों में फर्जी दस्तावेजों का उपयोग करने वाले पर 28 साल बाद उनके खिलाफ मामला दर्ज करने का आदेश दिया है। पुलिस ने सभी आरोपियों के विरुद्ध 420 व अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है 
    बता दे कि उल्हासनगर -2 में फर्नीचर बाजार में 75 वर्षीय वरिष्ठ वकील और आयकर सलाहकार घनश्याम रिजुमल तोलानी अपने परिवार के साथ रहते हैं। घनश्याम की पुश्तैनी जमीन उल्हासनगर -4 में श्रीराम चौक इलाके में थी।इस जमीन पर उनके रिश्तेदार चंदर हरिराम तलानी ने भी दावा किया था। मामला अदालत में जाने के बाद, चंदर ने मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के कमिश्नर का फर्जी स्थगन आदेश दिया और 1991 में घनश्याम तोलानी के खिलाफ क्रिमिनल एंड सिविल कोर्ट में इस आदेश की छाया प्रति का इस्तेमाल किया। घनश्याम तलानी के वकील होने के कारण, उन्होंने इस आदेश का बारीकी से अध्ययन किया और संबंधित कार्यालय में अनुवर्ती कार्रवाई की। जब उन्होंने यह देखा कि उस समय ऐसा कोई आदेश नहीं लिया गया था, तो उन्होंने अपनी न्यायिक लड़ाई शुरू की। आखिरकार, उन्हें 28, साल बाद न्याय मिला। विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन में आरोपी चंदर तलानी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। मामले के जांच अधिकारी सहायक पुलिस निरीक्षक अमोल चौधरी ने कहा कि घनश्याम तोलानी कई वर्षों से इस मुद्दे का पीछा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अभियुक्त और अभियोजन पक्ष दोनों को स्थगन आदेश की एक प्रति दी गई थी, लेकिन उन्हें कैसे यह प्राप्त नहीं हुआ। उन्होंने इसी मुद्दे को स्थापित किया था।
  • पेनाल्टी वसूली के टार्गेट पूरा करने के चक्कर में टी सी ने गवाई अपनी जान !

    By fast headline india →
    पेनाल्टी वसूली के टार्गेट पूरा करने के चक्कर में टी सी ने गवाई अपनी जान !

     बिना टिकट यात्री को पकड़ने के चक्कर में लोकल से गिरे निचे ! 

    अस्पताल में ईलाज के दौरान ही मौत !

     पुलिस ने दर्ज किया अकस्मात मौत का मामला ! 
     फाईल फोटो

    कल्याण -कल्याण के एक टी सी ने महज इस लिए अपनी जान गवा दी उसको अपना दिया हुआ टार्गेट पूरा करना था, मध्य रेलवे के कल्याण कोर्ट बैच की टीम में कार्यरत टिकट निरीक्षक अरुण गायकवाड़ की शुक्रवार की सुबह कसारा व खरडी स्टेशनों के बीच उमरमाली स्टेशन की पटरी के पास गिर जाने से दर्दनाक मौत हो गई.
    सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार टीसी अरुण गायकवाड़ ने शुक्रवार की सुबह लगभग साढ़े 9 बजे कल्याण स्टेशन से मुंबई से लखनऊ के बीच चलने वाली पुष्पक एक्सप्रेस में सवार हुए और टिकट जांच करते हुए वह कसारा स्टेशन तक गए. वापसी में उन्होंने कसारा से मुंबई लोकल पकड़ी. कसारा से उन्होंने टिकट जांच शुरू की व कसारा व खर्डी के बीच उमरमाली स्टेशन के सिग्नल पर जैसे ही ट्रेन रुकी, तो पकड़ा गया एक बिना टिकट यात्री भागने लगा. टीसी गायकवाड़ उसे पकड़ने की कोशिश में नीचे पटरी की गिट्टियों के पास गिर गए. कुछ रेल कर्मचारी उन्हें उपचार के लिए शहापुर स्थित उप जिला सरकारी अस्पताल ले गए, लेकिन उपचार शुरू होने से पहले टीसी गायकवाड़ का निधन हो गया. पुलिस ने फिलहाल अकस्मात मौत का मामला दर्ज किया है. टिकट चेकिंग विभाग से जुड़े एक वरिष्ठ टीसी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि रेलवे विभाग ने पिछले कुछ वर्षों से टीसियों पेनाल्टी वसूली का टार्गेट तय किया और टार्गेट को पूरा करने के चक्कर में इस तरह की घटनाएं हो रही हैं.
  • चाचा की प्रॉपर्टी को उसके भतीजे ने हड़प करने निकाला था जुआड ! जुआड हुआ फेल अब जाएगा जेल !

    By fast headline india →
    चाचा की प्रॉपर्टी को उसके भतीजे ने हड़प करने निकाला था जुआड ! 

     फर्जी पेपर बनाकर दुकान पर कब्जा करने का किया प्रयाश ! 

     उल्हासनगर -उल्हासनगर एक ब्यापारी का दुकान हड़प करने के लिए उसके भतीजे ने ही फर्जी पेपर बनाकर उस दुकान पर कब्जा करने का प्रयाश किया ऐसा मामला सामने आया है .चाचा की शिकायत पर पुलिस ने भतीजे व उसके दो दोस्तों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज किया है .     पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार  उल्हासनगर - 3 के रिजेन्सी गार्डन इस बिल्डिंग में विनोद मोहनलाल कामरिया ( 49 ) यह ब्यवसाई रहते है,  इनका वाच्छानी हाऊस इस बिल्डिंग के तल महले पर दुकान है . इस दुकान को हड़प करने की फिराक में विनोद के भतीजे राजा शंकर कामरिया, मनीष शंकर कामरिया इन्होंने विनोद को भरोसे में लेकर पहले सादे पेपर पर सही लिया. फिर उसी पेपर के जरिये फर्जी पेपर तैयार करके दि 12 / 2 / 2019 को रात 8 . 30 बजे जब विनोद का दुकान बंद था तब राजा कामरिया, मनीष कामरिया और उनके दो दोस्त राजकुमार डावरा व अज्ञात ब्यक्ति ने दुकान के ताले तोड़कर व शटर को तोड़कर अंदर घुसने का प्रयाश किया .      जैसे ही इस घटना की जानकारी विनोद को मिली उन्होंने तुरंत सेंट्रल पुलिस स्टेशन जाकर इसकी शिकायत दर्ज कराई ,पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए सभी आरोपियों की तलाश में जुट गई है इस मामले की आगे की जांच पुलिस उपनिरीक्षक ए एम खतीब कर रहे है . समय रहते चाचा ने सही कदम उठाया नही तो उनकी दुकान हड़प हो जाता इस लिए कहा जाता है कभी सादे पेपर साइन करने से पहले दस बार विचार करना चाहिए कहि इसका इस्तेमाल अपने विरुद्ध न हो पाए जैसे इस मामले में देखने मे सामने आया !
  • पुलवामा आतंकी हमले का शिवसेना ने पाकिस्तान के राष्ट्रध्वज को जलाकर किया निषेध !

    By fast headline india →
    पुलवामा आतंकी हमले का शिवसेना ने पाकिस्तान के राष्ट्रध्वज को जलाकर किया निषेध ! 

     नम आंखों से सभी शहीदों को दी श्रंद्धाजलि !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंवादी के आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ जवानो की हुई शहादत पर उल्हासनगर की शिवसेना निषेध ब्यक्त करते हुए पाकिस्तान देश के राष्ट्रध्वज को जलाकर पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगा कर निषेध ब्यक्त किया है और शहीदों को नम आंखों से श्रंद्धांजलि दी गई है ! बता दे कि उल्हासनगर के छत्रपती शिवाजी महाराज चौक पर शिवसेना कल्याण उपजिल्हाप्रमुख चंद्रकांत बोडारे,शहरप्रमुख राजेंद्र चौधरी,विरोधी पक्षनेता धनंजय बोडारे,उपशहरप्रमुख राजेंद्र साहू,दिलीप गायकवाड,अरुण आशान,युवासेना अधिकारी बाला श्रीखंडे,शहर संघटक सागर उटवाल,बापू सावंत,दीपक सालवे प्रकाश माली इत्यादी शिवसैनिको पाकिस्तान के राष्ट्रध्वज जलाकर पाकिस्तान मुर्दाबाद नारे लगाते हुए अपना निषेध ब्यक्त किया है !
  • महाराज इज बैक ! शुक्रवार की महासभा में गूंजेगा रिस्कबेस प्लान घोटाले का मुद्दा !

    By fast headline india →
    महाराज इज बैक ! शुक्रवार की महासभा में गूंजेगा रिस्कबेस प्लान घोटाले का मुद्दा ! 

     शिवसेना नगरसेवक महाराज ने इस मुद्दे पर लाया अशासकीय प्रस्ताव ! 

    रिस्कबेस प्लान के घोटाले बाज की नींद हुई हराम ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर के सबसे चर्चित रिस्कबेस प्लान घोटाले का मुद्दा इस बार की महासभा में गुजना तय है इस मुद्दे को लेकर शिवसेना के वरिष्ठ नगरसेवक ने उल्हासनगर शहर में बन रहे अवैध निर्माणों और रिस्कबेस प्लान की आड़ में हो रहै अवैध निर्माणो के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए उल्हासनगर महानगर पालिका की महासभा की एक अशासकीय प्रस्ताव प्रस्तुत किया है। जिसको देखर यह कहा जा सकता महाराज इज बैक ! शुक्रवार की आम सभा तूफानी होगी ।
    गौरतलब हो कि पूर्व कमिश्नर राजेंद्र निंबालकर के प्रतिस्थापन के बाद, शहर में विभिन्न स्थानों पर अबैध निर्माण की बाढ़ आ गई है। संबंधित सहायक आयुक्त और बीट मुकादम केवल नोटिस जारी करने का कार्य करते हैं। मनपा के कार्यों पर, भुल्लर महाराज ने आरोप लगाया गया है, संबंधित महानगरपालिका अधिकारी और अबैध निर्माण ठेकेदारों के बीच बड़े पैमाने पर लेनदेन होने की संभावना ब्यक्त किया है। कुछ जगहों पर जोखिम-आधारित (रिस्कबेस प्लान) के नाम पर बहुमंजिला इमारतों का निर्माण कार्य चल रहा है। वर्तमान में उल्हासनगर में पुरानी इमारत गिरने का एक सत्र शुरू है।बिल्डिंगो का ढांचा मसौदा नियंत्रण नियम के साथ असंगत है।यह महाराष्ट्र महानगर पालिका अधिनियम, १९६६ की धारा ४८, महाराष्ट्र महानगर पालिका अधिनियम, १९६६ का भी उल्लंघन है। २००३ में दायर की गई जनहित याचिका के आदेश के अनुसार, महानगरपालिका प्रशासन को शहर में किसी भी तरह का निर्माण नहीं करने का आदेश दिया गया है। लेकिन मनपा प्रशासन इस संबंध में विफल रहा है। शुक्रवार की महासभा में शिवसेना के वरिष्ठ नगरसेवक भुल्लर महाराज ने यह सब रोकने के लिए एक अशासकीय प्रस्ताव पेश किया है। शहर में हो रहे अबैध निर्माणों को कुछ राजनेता प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष का रूप से लाभ पहुंचाने का काम कर रहे है। शुक्रवार की महासभा इस विषय पर तूफानी होगी यह तय माना जा रहा है। मनपा के तकनीकी व्यक्ति से इस बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर कहा कि डीसी रूल को अनदेखा करके रिस्कबेस प्लान पास किया गया इसमें कोई शक नही यही नही बड़े पैमाने पर वायलेसन भी हो रहा है सभी प्लानो में नियमो धज्जियां उठाई गई है इस लिए इसकी जांच होनी चाहिए ताकि दोषी लोगो पर कार्यवाई किया जा सके।
  • पुरानी दुश्मनी के चलते आठ लोगो ने लोहे की रॉड व डंडों किया हमला !

    By fast headline india →
    पुरानी दुश्मनी के चलते आठ लोगो ने लोहे की रॉड व डंडों किया हमला ! 

    दो लोग हुए गंभीररूप से घायल ! 

    पुलिस ने दर्ज किया मामला ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में पुराने दुश्मनी के चलते आठ लोगों के एक गिरोह ने लोहे की रॉड व डंडों से दो लोगों को पर जान लेवा हमला किया इस हमले में दोनो गंभीर रूप से घायल कर दिया। दोनो की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है !
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में दर्ज की गई शिकायत के अनुसार रवि दिनेश शर्मा और उनके दोस्त अजय भालेराव, महराल गांव, उल्हासनगर -3 में कल रात लगभग१०:३० बजे उल्हासनगर -३ के आजादनगर इलाके में बुलेट मोटरसाइकिल से अपने दोस्त सोनू गुप्ता से मिलने जा रहे थे। जब दोनों निजाम बिल्डिंग के पास आए, तो आरोपी अक्षय सिंह, चिंटू खलीफा, आकाश काले, विजय काले, यम यादव और तीन अन्य लोगों ने उन्हें बुलेट से नीचे गिरा दिया। इसके बाद आरोपियों ने गली -गलौज करते हुए रवि और अजय को लकड़ी के डंडे और लोहे की रॉड से बुरी तरह पीटा। रवि को गंभीर चोटें आई हैं और उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस मामले में रवि की मां सुमन दिनेश शर्मा ने उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई और पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया। सहायक पुलिस निरीक्षक पीपी चौधरी इस संबंध में आगे की जांच कर रहे हैं।
  • ऑटो रिक्शा में फाइवस्टार वाली सुविधा !

    By fast headline india →
    शुद्ध जल,नाश्ता, वायफाय समेत हायफाय सफर ऑटो रिक्शा में!

            मुंबई राहुल तिवारी 

     मुंबई-मुंबई में एक ऐसी रिक्शा तीन सालों बाद दिखी है । उस ऑटो रिक्शा को नजरअंदाज़ नहीं कर सकेंगे आप । मनमोहक सजावट और यात्रीयो का सफर मजेदार बनाने के लिये सुविधाओं से लैस है यह ऑटो रिक्शा;ड्राइवर मकबूल खान की केवल रोजी-रोटी नहीं बल्कि यह उनकी शान भी है और जान भी है 
    गौरतलब हो कि मुम्बई के गोरेगांव के रहने वाले मकबूल खान की प्रशंसा जितनी भी की जाए उतनी ही कम है। उनकी रिक्शा पर लिखा है। फ़्री वाईफाई, फ्री नास्ता फ्री चाय फ़्री ,ऐसे बहुत सी सुविधा लोगो को मुफ्त देते है।आपको पता ही होगा 2016 में कुछ शोशल मीडिया के माध्यम संजय दत्त का फैन संदीप नामक रिक्शा चला था। वैसे ही कुछ गोरेगांव के रहने वाले मकबूल खान की रिक्शा मे देखने मिला मकबूल खान का सपना है। कि मैं यही चाहता हु की जो भी यात्री यात्रा करते है उनको सारी सुविधाएं पैसे से लेनी पड़ती है जैसे की इंसान को पानी पीना है। तो उनको २० रुपये में पानी का बोतल लेना पड़ता है अगर यात्री का मोबाइल बंद हुवा तो उनको चार्जिंग करने कहा जाए ? इस कारण से मैं यही चाहता हु की जैसी हमारी ऑटो रिक्शा में सुविधा है ऐसे सभी ऑटो रिक्शा में सुविधा होनी चाहिए ताकि लोगो को किसी भी दिक्कतों का सामना न करना पड़े वहीं एक कॉलेज की २०वर्षीय यात्री छात्रा नीलम सुनिल चौरसिया ने संवादाता को बताया कि मक़बूल खान लोगो को जैसी सुविधा दे रहे है। उससे मैं अति प्रसन्न हूँ मुंबई मे जितने भी रिक्शा चालक है। अगर वो लोगो को ऐसी सुविधा दे दो मुंबई में काफी सुधार आएगा मैं मक़बूल खान को दिल से धन्यवाद देती हूं और उनका जो भी सपना है वो जल्द पूरा हो। अब देखना यह है कि क्या मक़बूल खान का अच्छा कारनामा देख कर बाकी रिक्शा चालकों मे सुधार आता है या नही।
  • उमपा आयुक्त हांगे कोर्ट ऑफ कंटेम्ट के जाल में ?

    By fast headline india →
    उमपा आयुक्त हांगे कोर्ट ऑफ कंटेम्ट के जाल में ?

     15 फरवरी तक का कोर्ट ने दिया अपना पक्ष रखने समय !

     305 रोजनदारी कामगारों का है यह पूरा मामला ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका पूर्व आयुक्त के द्वारा दिया गया हलफनामा वर्तमान आयुक्त हांगे की गले का फ़ांस बनता दिखाई दे रहा है कोर्ट ने उन्होंने 15 फरवरी तक जवाब देने का समय दिया है पिछले 2 दिनों से लगातार मनपा आयुक्त समेत मनपा के मनीष हिवरे व उपायुक्त मुख्यालय देयरकर भी कोर्ट के चक्कर लगाते दिख रहे है ऐसा विश्वसनीय सूत्रों से पता चला है ! 
    बता दे कि पूरा मामला 305 रोजनदारी काम पर हुई भर्ती से जुड़ा मामला है जिनको बाद में मनपा ने निकाल दिया था और पिछले गई सालों से न्याय की तलाश में न्यायालय जा पहुचे और लंबे समय से यह मामला न्यायालय में चल रहा है इसी मामले में कोर्ट ने आदेश दिया सभी कामगारों को काम वापस रखने के लिए उस समय के उमपा आयुक्त मनोहर हीरे कोर्ट को हलफनामा दिया था कि हमें समय दिया जाय और हम इनको काम पर वापस लेगे इसके बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया इसी दरम्यान मनपा के दो नए आयुक्त आये और गए भी कुछ महीनों पहले ही अच्युत हांगे ने मनपा के नए आयुक्त बने है इसी दरम्यान 305 कामगारों के मुद्दे को लेकर मनपा की सभी यूनियन ने एक बार फिर से कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और मामले की गंभीरता को देखते हुए कोर्ट ने मनपा आयुक्त पर कोर्ट ऑफ कंटेम्ट के तहत कार्यवाई करने की बात कह कर मनपा प्रशासन की मुश्किलें बढ़ा दिया कोर्ट ने मनपा प्रशासन को 15 फरवरी तक अपना पक्ष रखने की बात कही हुई है ! 305 कामगारों में से कुछ कामगारों की मौत हो गई कुछ की उम्र 60 साल के पार हो गया कुछ लोग ही बचे है जो अभी भी नोकरी करने लायक बचे है ! बहरहाल मनपा आयुक्त पुराने आयुक्त की वजह से मुसीबत में आ चुके बहरहाल 15 फरवरी को समझ में आयेगा की आखिरकार आयुक्त इस कोर्ट ऑफ कंटेम्ट के जाल में आते है या वह बचते है इस पर पूरे शहरवासियों की नजरे टिकी हुई है ! इस बारे में मनपा प्रशासन के विधी विभाग से संपर्क किया गया तो वो बात करने में टालमटोल किया और कहा कि इस विषय पर आयुक्त से जानकारी लीजिए हम जानकारी नही दे सकते है आयुक्त का फोन कवरेज क्षेत्र के बाहर बता रहा था जिससे उनसे संपर्क नही हुआ और उनका पक्ष हमें नही मिल सका !
  • वेस्ट टू एनर्जी प्रोजेक्ट को लेकर नीदरलैंड के दल ने किया उल्हासनगर का दौरा !

    By fast headline india →
    वेस्ट टू एनर्जी प्रोजेक्ट को लेकर नीदरलैंड के दल ने किया उल्हासनगर का दौरा ! 

    मनपा आयुक्त व महापौर ने किया आये हुए लोगो का स्वागत !

     कचरे बिजली बनाने का हो रहा प्रयोजन ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में महाराष्ट्र अर्बन डेवलपमेंट स्वच्छ महाराष्ट्र मिशन और नीदरलैंड सरकार के संयुक्त उपक्रम से वेस्ट टु एनर्जी - कचरे से बिजली कैसे बनाये इस विषय की विस्तृत जानकारी लेने के लिए नीदरलैंड के एक दल ने उल्हासनगर के कचरा डंपिंग वाली जगह का आकर निरीक्षण किया है उस समय साथ में उमपा की महापौर व आयुक्त के साथ बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे !
     गौरतलब हो कि नीदरलैंड की टीम के अभ्यास और उपाययोजना करने हेतु अभ्यास दौरा 12 फरवरी को 11 बजे से शुरू हुआ इसमें नीदरलैंड एम्स्टर्डम शहर से प्रकल्प अधिकारी पीटर सिमोन और उनके साथीयों द्वारा उल्हासनगर के डंपिंग ग्राउंड पर निरीक्षण दौरा किया गया है इस विशेष भेंट में उनके साथ उमपा के आयुक्त अच्युत हांगे, महापौर पंचम कालानी, उप महापौर, जीवन इदनानी,नगरसेविका मीना सोंडे, नगरसेवक किशोर वनवारी, राजेश वधारीया, उमपा मुख्य स्वच्छता निरीक्षक विनोद केने, एकनाथ पवार व उमपा के एकाउंटेंड चौहान, राजू निकालजे इत्यादि लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे। पीटर सिमोन ने कहा है कि मनपा को सबसे पहले सुखा व गिला कचरा अलग करना होगा जिससे बिजली बनाने में आसानी होगी इसके लिए हमारी कंपनी जल्द ही यहाँ पर प्लांट शुरू करने वालो है !
  • के बी रोड़ विस्तारीकरण में बांधा बने स्टे को कोर्ट ने हटाया !

    By fast headline india →
    के बी रोड़ विस्तारीकरण में बांधा बने स्टे को कोर्ट ने हटाया ! 

    जल्द होगा रोड़ काम पूरा -मनपा आयुक्त हांगे

    उमपा महापौर व मनपा प्रशासन के प्रयाश से मिली बड़ी कामयाबी ! 

    2015 से लटका हुआ है यह रोड़ का मामला ! 

    शहर के कुछ नेताओं की ओझी राजनीति के चलते नहीं हो रहा था इस रोड़ का विकाश ? 
     फाईल फोटो,

    उल्हासनगर-उल्हासनगर महानगरपालिका की सीमा से जानेवाले कल्याण-कर्जत स्टेट हाईवे के चौड़ीकरण का मार्ग प्रशस्त हो गया है। सड़क चौड़ीकरण के खिलाफ कुछ दुकानदारों ने हाईकोर्ट की शरण ली। इसलिए, काम पर रोक थी, अब अदालत ने सुनवाई में रोक को हटा दिया है, जिससे जल्द ही चौड़ीकरण का काम शुरू होगा। बता दे कि १५ दिसंबर २०१५ को कल्याण-कर्जत स्टेट हाईवे के चौड़ीकरण का काम शुरू हुआ, यह सड़क MMRDA द्वारा बनाई जा रही है। प्रशासन ने उल्हासनगर नगरपालिका सीमा के क्षेत्र में लगभग 850 निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई की थी। इसमें दुकानें, शोरूम, कई रिहायशी इमारतें, गोडाउन तोड़े गए। इस बीच, २० से २५ दुकानदारों ने इस कार्रवाई के खिलाफ उच्च न्यायालय में जाकर स्टे लाया, इसलिए चौड़ीकरण का काम रुका हुआ था। इस हाइवे के कारण इसके काम को जल्द से जल्द चौड़ा करने के लिए आवश्यक हो गया है, लेकिन स्टे के बाद काम रुकने के कारण ट्रैफिक की समस्या से परेशानी हो रही है। इस समस्या को ध्यान में रखते हुए महापौर पंचम कालानी ने संशोधित याचिका दायर करके स्टे हटाने का अनुरोध किया,जिससे चौड़ीकरण के कार्य में तेजी लाई जा सके। मनपा आयुक्त अच्युत हंगे ने भी दुकानदारों से शहर के विकास को प्राथमिकता देने का अनुरोध किया था, लेकिन दुकानदार पीछे हटने को तैयार नहीं थे। हाई कोर्ट में आज की सुनवाई जस्टिस रंजीत मोरे और भारती डांगरे की बेंच पर थी। उल्हासनगर मनपा प्रशासन की ओर से एडवोकेट संजीव बोरवारकर और एडवोकेटएस. एम. कांबले तो दुकानदारों की तरफ से एडवोकेट राम आपटे ने अपना पक्ष रखा।इस समय हाईकोर्ट ने स्टे उठाने का फैसला लिया। उल्हासनगर महानगरपालिका की ओर से महापौर पंचम कालानी, मनपा आयुक्त अच्युत हांगे विधि विभाग के राजी गुलानी आदि उपस्थित थे। मनपा के जनसंपर्क अधिकारी युवराज भदाने ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि अदालत ने कल्याण-कर्जत सड़क के चौड़ीकरण की कार्यवाही पर लगे स्टे को हटा दिया है। इस कार्य के लिए, एमएमआरडीए ने १८ करोड़ रुपये की निधि मंजूर की है। लेकिन दिए गए समय सीमा में काम करना आवश्यक था, काम में देरी के कारण, धन वापस आने की संभावना थी, लेकिन अब इस राज्य सड़क का काम जल्द ही शुरू होगा।
  • टीओके अध्यक्ष व प्रवक्ता समेत चार लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मामला !

    By fast headline india →
    टीओके अध्यक्ष व प्रवक्ता समेत चार लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मामला !

     भरत गंगोत्री की शिकायत पर हिलाइन पुलिस ने दर्ज किया मामला ! 

     शोसल साइड पर गंगोत्री के खिलाफ की गई थी आपत्तिजनक टिप्पणी !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर टीम ओमी कालानी के अध्यक्ष ओमी कालानी व टीओके प्रवक्ता कमलेश निकम समेत चार लोगों के खिलाफ रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री ने हिलाइन पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है शोसल साइड पर फोटो पर चीटर लिखकर पोस्ट मामले पर यह कार्यवाई हुई है ऐसी जानकारी सामने आया है !
    बता दे कि कोंकण विभाग ने हाल ही में रांकपा नगरसेविका सुमन सचदेव का जाती प्रमाण पत्र रद्द करने आदेश दिया था उसके बाद टीम ओमी कालानी के लोगो के द्वारा शोसल साइड फेसबुक,व्हाट्सऐप पर रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री की फोटो जिस पर चीटर भरत गंगोत्री शब्दो का उल्लेख करते हुए सभी ग्रुपो पर पोस्ट किया गया था उसी को लेकर भरत गंगोत्री ने हिलाइन पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज करवाया पुलिस ने 9 फरवरी को आईपीसी 500,501 के तहत मामला दर्ज किया है इसमें टीम ओमी कालानी के अध्यक्ष ओमी कालानी टीओके प्रवक्ता कमलेश निकम, सागर मखीजा,जीया मखीजा के नाम शामिल है ! पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से टीओके व गंगोत्री के बीच शोसल साइडो के जरिये जो राजनीतिक संग्राम झिड़ा है वह अपने आप में शहर भर में अलग की चर्चा का विषय बना हुआ है यह लड़ाई आगे कहा तक जाती है यह देखने लायक होगा !
  • उमपा की महापौर के खुद के वार्ड में शौचालय के हालात है खराब !

    By fast headline india →
    उमपा की महापौर के खुद के वार्ड में शौचालय के हालात है खराब !  

     मनसे ने निकाला " ट्वायलेट बाल्टी को लेकर निकाला मोर्चा !  

    मनपा आयुक्त कार्यालय,महापौर के ऑफिस, उपमहापौर, सभागृह नेता, पीडब्ल्यूडी के कार्यकारी अभियंता, मुख्यस्वछता निरीक्षक को दिया ट्वायलेट की बाल्टी  दी भेंट !

    उल्हासनगर -उल्हासनगर महानगर पालिका की महापौर पंचम कालानी के  पॅनल क्रमांक 2 में तेजुमल चक्की परिसर में  शौचालय की हालत काफी खराब है .इसकी वजह से स्थानीय झोपडपट्टी में रहने वाले गरीब जनता को मजबूर ट्वायलेट के लिए बाहर जाना पड़ता है , महापौर व अन्य राजकीय नेता मंडली के साथ मनपा प्रशासन भी इस समस्या के लिए जबाबदार है ऐसा आरोप महाराष्ट्र नव निर्माण सेना किया है . आज राजकीय नेता और प्रशासन को सबक सिखाने के लिए मनसे ने आज मुख्यालय पर ट्वायलेट की बाल्टी के साथ मोर्चा निकाल करके अपना विरोध किया. मनपा आयुक्त कार्यालय,महापौर के ऑफिस, उपमहापौर, सभागृह नेता, पीडब्ल्यूडी के कार्यकारी अभियंता, मुख्यस्वछता निरीक्षक को दिया ट्वायलेट की बाल्टी दी भेंट !       मनपा प्रशासन और शहर के महापौर समेत नेता मंडली स्वच्छ भारत अभियान के महत्त्व पर शहर भर के लोगो को बोलते रहते है , इसके लिए कई बार कार्यक्रम, जाहिरात करके फोटो सेशनभी करते है . उस लर  लाखो रुपये खर्च भी होता है . परंतु महापौर के पैनल में ही शौचालय की खस्ताहाल है , यही नही रमाबाई आंबेडकर नगर, पंजाबी कॉलनी , शास्त्रीनगर  सुभाष टेकडी व अन्य परिसरो में भी शौचालयों की हालत बद से बत्तर है .ऐसा आरोप करते हुए मनसे के शहराध्यक्ष बंडू देशमुख, जिल्हा उपसचिव संजय घुगे , शहर संघटक मेनुद्दीन शेख , मनोज शेलार , दिनेश आहुजा, बादशाह शेख व अन्य कार्यकर्ताओं ने मनपा मुख्यालया पर सोमवार की दोपहर में "ट्वायलेट बाल्टी लेकर मोर्चा " निकाला . उस समय पर मनपा आयुक्त और महापौर अनुपस्थित थे , इस लिए उनकी अनुपस्थिती में उनके कार्यालय के सामने ट्वायलेट की बाल्टी को भेंट के रूप दिया . उपमहापौर जीवन ईदनानी, सभागृह नेता जमनु पुरुस्वानी , मुख्य स्वच्छता निरीक्षक विनोद केणे, शहर अभियंता महेश शितलानी इनको भी ट्वायलेट की बाल्टी को भेंट देकर निषेध व्यक्त किया गया . मनसे कार्यकर्ताओं ने उस समय जोरदार नारे बाजी भी किया.                    शहर भर स्वच्छता का संदेश देने वाली  महापौर ने अपने ही प्रभाग के लोगो की समस्या को भूल गई है "ऐसा पहले ही पत्र दि. 28/1/2019 को महापालिका प्रशासन और महापौर को दिया था परंतु उस पत्र पर जब कोई कार्यवाई नही हुआ तो और हमको आज तक सिर्फ ऊपरी आश्वासन मिलता रहा इस लिए हमने इस तरह के मोर्चे के जरिये प्रशासन व सत्ताधारियों को जगाने के लिए किया ऐसा मनसे जिल्हा उपसचिव संजय घुगे इन्होंने कहि है ,इसके बाद भी अगर शहर भर के शौचालयो की परिस्थितीत सुधारी नही तो शहर भर की आम जनता की सुबह की नित्य क्रिया को करने के लिए मनपा मुख्यालय में भेजने की चेतावनी प्रशासन को दिया है .       इस विषय मे जब उमपा कि महापौर पंचम कालानी से बात किया गया तो उन्होंने शौचालयो की मरम्मत के और उसके नवीनीकरण करने के काम करने का आदेश प्रशासन को दिया है , इसके लिए कुछ टेंडर भी जल्द निकाले जायेगे . मनसे इस विषय को लेकर राजनीति नही करे मेरा यही कहना है . 
  • राष्ट्रवादी कांग्रेस की नगरसेविका सचदेव को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत ! नगरसेविका पद रहेगा बरकरार !

    By fast headline india →
    राष्ट्रवादी कांग्रेस की नगरसेविका सचदेव को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत ! 

    कोंकण विभाग के आदेश पर हाई कोर्ट ने दिया स्टे !

     जाति प्रमाणपत्र जांच समिति ने ठहराया था अयोग्य ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर कोकण विभाग के द्वारा जाति प्रमाणपत्र जांच समिति ने उल्हासनगर मनपा के पैनल नंबर 17 की राष्ट्रवादी कांग्रेस की नगरसेविका सुमन सचदेव का जाति प्रमाण को अयोग्य माना था, समिति द्वारा जाति प्रमाण पत्र रद्द कर दिए जाने के कारण स्थानीय मनपा के आयुक्त अच्युत हांगे ने राकपा की नगरसेविका सुमन सचदेव का नगरसेवक पद रद्द कर दिया था, इस मामले को लेकर सुमन सचदेव ने हाई कोर्ट जाने का निर्णय लिया कोर्ट ने कोंकण विभाग के आदेश को रद्द करते हुए उन्हें इस मामलों पर स्टे दे दिया है ! गौरतलब है कि राकापा के टिकट पर सुमन सचदेव उपचुनाव जीत कर नगरसेविका बनी थी, साल  2017 में मनपा के हुए आम चुनाव में राकपा की पूजा कौर लभाणा विजयी हुई थीं, उन्होनें कांग्रेस की सिटिंग नगरसेविका जया साधवानी को पराजित किया था, साधवानी ने लभाणा के जाति प्रमाणपत्र को लेकर आपत्ति दर्ज करते हुये जांच की मांग की थी, तब कौर का जाति प्रमाणपत्र रद्द हुआ था, उसके बाद हुए  उपचुनाव में राकां ने सुमन सचदेव को उतारा था,  और राकां की ही सचदेव ने भाजपा की उम्मीदवार साक्षी पमनानी को 203 वोट के अंतर से पराजित किया था वह उपचुनाव में जीतने में सफल रही थी.कांग्रेस से जय साधवानी भी चुनावी मैदान में थी. मनपा में  राकां के गुटनेता भरत गंगोत्री से जब इस संदर्भ बात की तो उन्होंने कहा कि जांच समिति ने सुमन सचदेव के जाति प्रमाण पत्र को रद्द किया है, उन्होंने कहा कि वह यूं शांत नहीं बैठेंगे वह अदालत से न्याय मांगेंगे, गंगोत्री ने कहा कि सुमन सचदेव कांग्रेस की जया साधवानी के चाचा अशोक कुमार उदासी की बेटी है यानी चचेरी बहन है जब साधवानी का जाति प्रमाणपत्र वैद्य है तो सचदेव का अवैध कैसे हो सकता है.इस लिए कोंकण विभाग के आदेश को चुनोती देने के लिए हाईकोर्ट का सहारा लिया कोर्ट ने इस मामले रांकपा नगरसेविका सुमन सचदेव को बड़ी राहत देते हुए स्टे दे दिया है बहरहाल इस आदेश के बाद उनका नगरसेवक पद पर पड़े अभी के संकट से दूर हो गया है जब तक कोर्ट का यह स्टे रहता तबतक के लिए ! यह देखा जाय तो विरोधी खेमे को बड़ा झटका लगा है !
  • महिला ने संबंध बनाने से किया इनकार युवक ने की उसकी हत्या !

    By fast headline india →
    महिला ने संबंध बनाने से किया इनकार युवक ने की उसकी हत्या ! 

     शादीशुदा थी महिला सनकी युवक हुआ गिरफ्तार ! 

     ठाणे-ठाणे जिले की पुलिस ने शनिवार शाम एक शख्स को एक महिला की हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है। आरोप है कि उक्त शख्स ने यौन संबंध बनाने से इनकार करने पर उक्त महिला की हत्या कर दी थी। आरोपी ने जिस महिला की हत्या की वह शादीशुदा थी और उसके दो बच्चे भी हैं। 
     मिली जानकारी के अनुसार ठाणे के शांति नगर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर राजेंद्र मायने की माने , हत्या की वारदात की जांच के दौरान पुलिस ने महिला के कुछ दोस्तों और पड़ोसियों से पूछताछ की थी। इसी दौरान आरोपी शख्स का पता चलने के बाद उससे भी मामले से जुड़े तमाम सवाल किए गए थे। पुलिस का दावा है कि इस पूछताछ के दौरान ही आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया।पुलिस के मुताबिक, हत्या के बाद पोस्टमॉर्टम में महिला के निजी अंगों पर चोट के निशान मिले थे, जिसके बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू की। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी की उम्र 25 वर्ष के आसपास है और उसे कोर्ट में पेश कर पुलिस की हिरासत में रखा गया है।
  • पुराने कपड़े खरीदने वाली गायब महिला का जंगल में मिला शव !

    By fast headline india →
    पुराने कपड़े खरीदने वाली गायब महिला का जंगल में मिला शव ! 

    पुलिस ने अज्ञात हत्यारो के खिलाफ दर्ज हत्या का मामला दर्ज ! 

    हत्यारो की गिरफ्तारी के बाद ही हत्या की असली वजह पर उठ पायेगा रहस्य ! 

    बदलापुर-बदलापुर शहर से चार दिन पहले गायब हुई महिला का मृतक शरीर टिटवाला के जंगल में मिलने की खबर से पूरे परिसर में सनसनी फैल गयी है। शुरुआती जांच में ऐसा सामने आ रहा है कि महिला की हत्या कर उसके शव को जंगल में फेंक देने का मामला सामने आयहे ।                                           
     पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बदलापुर की रहने वाली टिकिया नामक 25 वर्षीय महिला लोगों के पास से पुराने कपड़े खरीदने का व्यवसाय करती थी।  4 दिन पहले टिकिया अपने पति के साथ बदलापुर पश्चिम के रमेशवाणी में पुराने कपड़े खरीदने के लिए गयी हुई थी।लेकिन दोपहर 1 बजे के दरम्यान टिकिया बदलापुर से गायब हो गई, बदलापुर पुलिस स्टेशन में टिकिया के पति ने लापता होने की शिकायत भी दर्ज करायी थी।  गायब होने के 4 दिन बाद टिटवाला के जंगलों में टिकिया की लाश मिलने से जहां परिवार के लोग सदमे है। वही इस घटना से बदलापुर परिसर में सनसनी फैल गई है !  पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचनामा करके मुंबई के जे जे हॉस्पिटल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है वहीं बदलापुर पुलिस ने इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करअज्ञात हत्यारों की तलाश में जुट गई है। हत्यारो की गिरफ्तारी के बाद ही पूरे रहस्य से पर्दाफाश हो पायेगा की हत्या की असली वजह क्या थी !
  • टीम ओमी कालानी व रांकपा नगरसेवक के बीच छिड़ा राजनीतिक संग्राम !

    By fast headline india →
    टीम ओमी कालानी व रांकपा नगरसेवक के बीच छिड़ा राजनीतिक संग्राम !

    दुसरो पर आरोप लगाने वाले अपने दामन में झांक लो-भरत गंगोत्री 

    टीम ओमी कालानी की उम्मीदवार दीपा सैनानी का जाती प्रमाण पत्र था फर्जी !

    उल्हासनगर में चल रही फर्जी जाती प्रमाण पत्र बनाने की फैक्ट्री ?


    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर मचे राजनीति संग्राम में टीम ओमी कालानी को जवाब देते हुए रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री कहा कि अपने खड़े उम्मीदवार का दामन तो देखे वह भी बोगस प्रमाण पत्र ही चुनाव लड़ा था रही बात शोशल साइट पर लिखे मामले का तो उसका जवाब भी जल्द कानूनी ठंग से दिया जाएगा ! "दुसरो के दामन में झांकने वाले पहले अपने दामन में झांक तो लो" !
    बता दे कि रांकपा नगरसेविका सुमन सचदेव की हाल ही में जाति प्रमाण पत्र रद्द होने का मामला सामने आया था उसके बाद से ही शोसल ग्रुपो पर रांकपा नगरसेवक भरत गंगोत्री की फोटो व पोस्ट लिखकर चीटर शब्द का इस्तेमाल कर टीम ओमी कालानी के कुछ सदस्यों द्वारा ग्रुपो में डाला जा रहा था इसी विषय पर भरत गंगोत्री आज जवाब देते हुए कड़ा जवाब प्रमाण पत्र के साथ दिया है जिसमें टीम ओमी कालानी की उम्मीदवार दीपा सैनानी के जाती प्रमाण पत्र भी फर्जी था ऐसा गंगोत्री का कहना है उन्होंने एक पत्र दिया जिसकी माहिती अधिकार में जानकारी मांगी थी पूजा लबाना ने जिसमें कारंजा के नायब तहसीलदार उप विभागीय अधिकारी कार्यालय ने जवाब दिया है कि दीपा सैनानी पत्ता कारंजा तहसील कारंजा जिला वाशिम जात हिन्दू सोनार इसको कोई भी जाति प्रमाण पत्र नही दिया गया ऐसा उस पत्र में लिखा गया है मतलब पहले चुनाव में टीम ओमी कालानी की उम्मीदवार थी ! उल्हासनगर में चुनाव जीतने के लिए बिंदास बोगस जाती प्रमाण पत्र पर चुनाव लड़ते है यहाँ सवाल यह है कि यह है कि बोगस जाती प्रमाण पत्र बनाने की फैक्ट्री उल्हासनगर में फल फूल रही है यह इन मामलों से सामने आया है इस लिए जरूरी है कि फर्जी जाती प्रमाण पत्र की फैक्ट्री का पर्दाफाश हो ताकि दोबारा चुनाव लड़ने वालों को नकली जाती प्रमाण पत्र पर चुनाव लड़ने का मौका ही न मिले ! टीम ओमी कालानी व भरत गंगोत्री की यह लड़ाई किस मुकाम पर खत्म होगा यह तो आने वाले समय पर ही पता चलेगा !
  • चालीस साल पहले बने कुकर कंपनी के निर्माण पर मनपा ने चलाया हथौड़ा ! भाजपा के मंत्री व विधायक के दबाव में हुई कार्यवाई !

    By fast headline india →
    चालीस साल पहले बने कुकर कंपनी के निर्माण पर मनपा ने चलाया हथौड़ा !

     भाजपा विधायक व भाजपा के नगरविकास मंत्री का इस जमीन पर है नजर हो रहा ऐसा आरोप ! 

    7 हजार इस्क्वेयर मीटर का है यह पूरा मामला !

    भू माफियाओं से सांठगांठ करके मनपा प्रशासन ने दिया तोड़क कार्यवाई को अंजाम -जमीन मालिक डोडेजा 

     सिंधी ब्यापारियों की जमीन हड़प करने में मनपा कर रही योगदान ? 

     उल्हासनगर -उल्हासनगर महानगर पालिका का साहसिक कारनामा सामने आया है बता दे कि जहाँ एक तरफ शहर भर में सैकड़ो अवैध बांधकाम दिन दहाड़े फलफूल रहे हैं, जिनकी तरफ तो मनपा ने आंख कान बंद रखा है, वहीं दूसरी तरफ एक चालीस साल पहले बने एक कुकर कंपनी के साथ एक और छोटी फैक्टरी पर मनपा प्रशासन के द्वारा तोडक कारवाई करने से मनपा के कार्रवाई के क्रिया कलापो पर प्रश्न चिन्ह निर्माण हुआ है ! इस कार्यवाई के जरिये मनपा ने एक भू माफिया के जमीन हड़पने वाले कुकृत्य को बढ़ावा देने का काम किया है ऐसा आरोप कंपनी के लोगो द्वारा किया गया है !       गौरतलब है कि उल्हासनगर कैंप नंबर एक खेमानी परिसर में स्थित एक कुकर कंपनी पर मनपा के अवैध बांधकाम पथक ने कार्रवाई की।यह बांधकाम चालीस साल पुराना है, ऐसा कंपनी मालिक कमलेश दुलानी का कहना है। इस कंपनी के बांधकाम अवैध होने की शिकायत अनिल गुप्ता ने विधायक गणपत गायकवाड व मनपा प्रशासन से की थी ।इस बांधकाम के संबंध में विधायक गणपत गाकवाड ने मनपा प्रशासन को २२ अक्टूबर२०१८को लिखित पत्र दिया था। इसी मामले में नगरविकास राज्यमंत्री रणजीत पाटिल के कार्यालय से भी इस बांधकाम पर कार्रवाई करने की  शिकायत मनपा प्रशासन के पास आई थी। उसी अनुसार मनपा के अधिकारी गणेश शिंपी, भगवान कुमावत व अजित गोवारी इन अधिकारियों की टीम ने इस कंपनी के बांधकाम पर आज हथौड़ा चलाकर बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। 
     इस संदर्भ में नगरविकास राज्य मंत्री रणजीत पाटिल से संपर्क किया गया तो वहां से जवाब मिला कि हमारे कार्यालय में ऐसी कोई शिकायत नहीं प्राप्त हुई है।इस संदर्भ में उल्हासनगर महानगरपालिका से कोई भी पत्र व्यवहार नहीं हुआ है, ऐसा उन्होंने बताया।      

    वही कल्याण के भाजपा विधायक गणपत गायकवाड़ ने कहा कि अनिल गुप्ता उस जगह का कागजात लेकर मेरे कार्यालय पर आया था, उसने बताया कि मेरे जगह पर कुछ लोगों ने अवैध रूप से कब्जा किया है, उसपर अवैध बांधकाम किया है, ऐसा उसने मुझे बताया था।उसकी मदद के लिए मैंने महानगरपालिका के साथ पत्रव्यवहार किया था, मेरा इस प्रकरण में प्रत्यक्ष रूप से कोई संबंध नहीं है, ऐसा उन्होंने ने बताया है।
     वही कंपनी के मालिक नंद डोडेजा ने यह आरोप किया है यह हमारी जमीन को हड़पने का पूरा प्लान किया जा रहा है क्योंकि मेरी यह पूरी जमीन 7 बाजार इस्क्वाय मीटर है और इस पर कई भू माफियाओं की नजरें गड़ी हुई थी अनिल गुप्ता एक नशेड़ी ब्यक्ति है वह खुद सरकारी व हमारी जगह पर अवैध निर्माण करके कब्जा किया हुआ है वह अब इस जमीन को हड़प करने के लिए स्थानीय गुंड मंडकी व कल्याण के भाजपा विधायक गनपत गायकवाड़ के साथ मिलकर झूठे पेपर बनाकर यह काम कर रहा है आज की हुई कार्यवाई उसी भू माफिया को फायदा पहुचाने के उद्देश्य किया है ऐसा कंपनी के लोगो का आरोप है मनपा प्रशासन हमें नोटिश दिया था हमने हमारे जमीन के पूरे पुरावे मनपा को दिए है उसके बादजूद बिना डिमोलेश आर्डर को दिखाए हमारे कारखानों पर मनपा ने कार्यवाई किया है वही इस कार्यवाई पर मनपा प्रशासन मुख्यालय संतोष देयर ने पत्रकारों को बताया कि यह कार्यवाई लोकायुक्त के आदेश पर किया जा रही है यहाँ सवाल यह है कि वार्ड आफिसर भगवान कुमावत के नोटिस व खुलासा नोटिस में इसका उल्लेख न करके विधायक गणपत गायकवाड़ व नगरविकास विभाग के मंत्री की शिकायत पर कार्यवाई करने की बात किया है मतलब मनपा प्रशासन की कार्यवाई किसी दबाव में किया गया क्या ऐसा प्रश्न खड़ा होना स्वाभाविक बनता है ! कुल मिलाकर जमीन हड़पने के गिरोह के आगे झुका प्रशासन ऐसा इस मामले में देखने में आया है !
  • उमपा का मुंगेरीलाल के सपनो वाला आया बजट ! 2019-2020 का 549 करोड़ बजट किया प्रस्तुत !

    By fast headline india →
    उमपा का मुंगेरीलाल के सपनो वाला आया बजट ! 

    2019-2020 का 549 करोड़ बजट किया प्रस्तुत ! 

    उल्हासनगर नगरवासियों से वसूला  जाएगा स्वच्छता का टैक्स ! 

    2018-2019 का 900 करोड़ का था बजट बाद में सुधारित कर हुआ 449 करोड़ ! 

     उल्हासनगर- उल्हासनगर के मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने मंगलवार को वर्ष 2019-2020 के लिए 549 करोड़ रुपये का शेष बजट पेश किया इसे स्थायी समिति अध्यक्ष जया प्रकाश मखीजा के सुपूर्द किया महाराष्ट्र सरकार के आदेश के बाद, कचरे के संग्रह के लिए उल्हासनगर के लोगों पर नए कर लगाए गए हैं मनपा चुनाव के कारण हर वर्ष अप्रैल महिने में स्थायी समिती के सामने जानेवाला बजट इस बार लोकसभा चुनाव के आचार सहिंता को ध्यान में रखकर फरवरी महिने के सुरुवात में अच्युत हांगे ने प्रस्तुत किया है!
     इस अर्थसंकल्प में मालमत्ता व पानीपट्टी कर से 158 करोड़ रुपए की आय अपेक्षित की गई है पिछले वर्ष यह आय 100 करोड़ रुपए तक भी नहीं पहुंच पाया था इस कारण मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने 10 फरवरी को अभय योजना खत्म होने के बाद किस प्रकार से वसूली पर ध्यान देंगे इस पर सबकी नजर है नए बांधकाम के परवाने के माध्यम से 90 करोड़ रुपए की आय अपेक्षित है शहर विकास नियमावली अभी तक शासन की तरफ से न आने के कारण चालू आर्थिक वर्ष में नए बांधकाम को दिए गए परवाना के माध्यम से लगभग 4 करोड़ रुपए मनपा की तिजोरी में जमा हुए है| स्थानिक संस्था कर के माध्यम से 20 करोड़ रुपए की आय अपेक्षित है शासन द्वारा मिलनेवाले विविध अनुदानों के माध्यम से 243 करोड़ रूपए और अमृत योजना के द्वारा 12 करोड़ रुपए मनपा की तिजोरी में आने की अपेक्षा आयुक्त हांगे ने व्यक्त की है इसी प्रकार पे ऍण्ड पार्किंग, आरक्षित भूखंड पर विकसित किए गए मालमत्ता को मनपा के कब्जे में लेकर उसकी निलामी करना ऐसे विविध उपक्रमों से करोड़ों रुपयों की आय पालीका करेगी ऐसा आयुक्त हांगे ने बताया| 2018-2019  वर्ष में ९०० करोड़ रुपयों का बजट महासभा ने पारित किया था जिसे बाद में सुधारित करके 449करोड़ का किया गया मनपा के कुल आय में से 122 करोड़ रुपए कर्मचारियों के वेतन और प्रशासकीय खर्च में प्रयोग होगा एमआईडीसी द्वारा पानी आपूर्ती बिल के लिए 33,40 करोड़ रुपए, रास्तों के विकास के लिए 51 करोड़ रुपए और कचरा वाहतुक करने के लिए 44 करोड़ रुपए तय किए गए है| शिक्षण समिती के लिए 62 करोड़ रुपए रुपए, उद्यानों के विकास के लिए ६ करोड़ रुपए रखे गए है महानगरपालिका की मूलभूत सेवा व रास्ता अनुदान से 24 करोड़ रुपए खर्च कर के रास्तों का नूतनीकरण किया जाएगा ओटी चौक से रामायण नगर, रोटरी गार्डन से गुरुद्वारा, सती अपार्टमेंट से भारत सिनेमा, बस स्टॉप से महाराष्ट्र मित्र मंडल, साधूबेला स्कुल से शाला क्रमांक 20, न्यू इंग्लिश स्कुल से निर्मल कुंज, वाको कम्पाऊंड से गांवदेवी माता मंदिर, गुरुतेग बहादूर नगर, सपना टॉकिज से रिजेन्सी हॉल, रमाबाई आंबेडकर नगर से हनुमान मंदिर, इंद्रलोक अपार्टमेंट से जपानी बाजार, समर्पण अपार्टमेंट से एमएसईबी कार्यालय के रास्तों का इन कामों में समावेश है| इसी प्रकार डांबरी रास्तों के गड्ढों को भरने के लिए लगभग 10 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है| मनपा परिवहन सेवा के लिए अमृत योजना से 10 मिनी बस खरीदी की जएगी| घनकचरों को नष्ट करने के लिए प्रकल्प तैयार करने के 2 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है| इस बजट में विविध विकास कामों पर 549.37 करोड़ रुपए खर्च होंगे और 8 लाख रुपए मनपा के खाते में बचेंगे| उल्हासनगर शहर होगा हरा-भरा अमृत योजना हरित क्षेत्र विकास योजना के अंतर्गत एक करोड़ रुपए की निधी मनपा को प्राप्त हुआ है| इस योजना के अंतर्गत 5315 वृक्ष लगाने है और इन वृक्षों को सही सलामत रखने के लिए सुविधा भी प्रदान की जाएगी| शहर के 17 उद्यानों के विकास के लिए 3 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है|
  • मेमसाहब बिल्डिंग हादसे मामले प्रभाग तीन के वार्ड ऑफिसर व मुकादम पर सदोष मुनष्य वध का मामला दर्ज होने की संभावना ?

    By fast headline india →
    मेमसाहब बिल्डिंग हादसे मामले  प्रभाग तीन के वार्ड ऑफिसर व मुकादम पर सदोष मुनष्य वध का मामला दर्ज होने की संभावना ? 

     रबिवार को शिंपी ने मीडिया को दिया बयान नही है बिल्डिंग धोखादायक, सोमवार को आयुक्त हांगे ने कहा बिल्डिंग है धोखादायक ! 

    अलग अलग बयान से बढ़ी प्रशासन की मुश्किलें !

     अपनी नाकामियो को छिपाने के लिए लीपापोती करने में जुटा उमपा प्रशासन ! 

    324 बिल्डिंगे है संवेदनशील तो 29 बिल्डिंगे अति संवेदनशील ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर कैंप तीन के अंतर्गत आने वाले इंदिरा गांधी मार्केट के बगल में एक पुरानी मेमसाहब बिल्डिंग के दूसरे महले का स्लैब पहले पर गिरा और पहले महले का स्लैब ग्राउंड फ्लोर यानी पार्किंग की जगह पर बने गाले पर जिसमें अस्पताल चल रहा है और इस हादसे में में तीन जिंदगियां दफन हो गई और तीन लोग घायल है जिनका इलाज अस्पतालों हो रहा है ! यहा सवाल है कि इस विषय पर मनपा के स्थानीय वार्ड ऑफिसर व मुकदम पर अभी तक सदोष मनुष्य वध के कानून के तहत मामला क्यो दर्ज नही हुआ क्योंकि इस हादसे के पीछे मनपा विभाग की ही बड़ी लापरवाही है वर्ना चार दिनों से बिना परमिशन के दूसरे महले पर काम हो रहा था और मनपा के लोगो को इसकी भनक तक नही लगी अगर समय रहते एक्शन होता तो शायद वो तीन लोग जिंदा होते !
    बता दे कि रबिवार को हुए हादसे के बाद से ही उमपा प्रशासन अपनी नाकामियों को छुपाने की कोशिशों में जुटा हुआ है कल तीन के वार्ड ऑफिसर शिंपी ने सभी चैनलों को दिए अपने स्टेट मेन्ट में कहा कि यह धोखादायक बिल्डिंग नही है और सोमवार को मनपा आयुक्त अच्युत हांगे ने पत्रकारों को दिए स्टेट मेन्ट कहा कि बिल्डिंग धोखादायक है आखिरकार सच कौन बोल रहा है यह लोगो की समझ में नही आ रहा है ! इन बातों से ज्यादा यह जरूरी है कि आखिरकार एक के बाद एक हो रहे इस तरह के हादसों की पीछे की वजह क्या है इस बारे में जो बातें मनपा के गलियारों से सुनने में आ रही वह यह है कि उल्हासनगर शहर के चर्चित 855 अबैध बिल्डिंग के मामले के दौरान मनपा ने जो बिल्डिंगो पर कार्यवाई की थी उस समय बिल्डिंग के सिर्फ स्लैब तोड़े थे पिलर नही जो बाद में उस समय के भ्रष्ट्र मनपा कर्मियों ने बिल्डरों से मोटी रकम लेकर उन निर्माणों को बनने दिया आज जो इस हादसों की सकल में शहर के सामने मौत के रूप आ रहे है इस लिए मनपा प्रशासन को चाहिए बिना समय गवाए ऐसी बिल्डिंगों की यादि बनाये जिनपर पहले इस तरह की कार्यवाही हुई है और वो न चुकी है और लोग उसमें रह रहे है पहले उसके स्लैब के स्ट्रेक्चर आडिट हो ताकि फिर इस तरह के हादसे में लोगो की जान जाने से बचाई जा सके यही इन हादसों को रोकने का एक महत्वपूर्ण ईलाज है !क्यो की मनपा ने कार्यवाई किया है तो इसकी जानकारी पुरानी फाइलों से आसानी से मिल सकती है ! दूसरे सभी बिल्डिंगों के सोसायटी के चेयरमैन को बुलाकर मीटिंग ले और अपने बिल्डिंग में कोई भी रिपेरिंग करे तो उसको पहले स्थानीय वार्ड ऑफिसर को जानकारी दे ताकि उसके स्ट्रेक्चर आडिट हुआ है कि नही उसकी जांच हो सके और फिर उसको काम करने दिया जाय तभी इस तरह के हादसों पर पूरी तरह से लगाम लगाई जा सकती है ! अब हुए हादसे की बात करे तो बिल्डिंग को देखर यह पता लगा पाना की बिल्डिंग यदि प्लान से बनी है तो भी बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण हुआ है यह कहना शायद गलत नही होगा मनपा के स्थानीय वार्ड ऑफिसर मुकादम को अपने प्रभागों कहा क्या काम हो रहा है उसकी जानकारी सौ फीसदी रहता है इस लिए मनपा के आयुक्त हांगे को तत्काल वार्ड ऑफिसर व मुकादम पर कड़ी कार्यवाई करनी चाहिए ताकि दोबारा इस तरह की गलती दूसरे लोग कर न सके ! अब मनपा प्रशासन इस हादसे से सबक लेकर आगे क्या कदम उठाता है यह कुछ दिनों में शहरवासियों के सामने आ जायेगा !
  • सेंच्युरी कंपनी में किया जा रहा कामगारों का सोसड -मनसे

    By fast headline india →
    सेंच्युरी कंपनी में किया जा रहा कामगारों का सोसड -मनसे

     लकवा से पीड़ित मजदूर को फिट होने पर भी नही ले रही काम पर वापस !

    मराठी कामगारों के साथ कंपनी करती है भेदभाव पीड़ित कामगार पाटिल ने किया आरोप !

    मनसे ने कंपनी मैनेजमेंट को दिया पत्र जल्द इंसाफ नही मिला दी आंदोलन की चेतावनी !

    उल्हासनगर -उल्हासनगर के शहाण स्टेशन के पास की सेंच्युरी कंपनी में काम करने वाले बड़े पैमाने पर सोसड करने का मामला सामने आ रहा है ऐसा ही एक मामले एक कामगार पृथ्वीराज शांताराम पाटील पिछले 14 महीने से लकवा से पीड़ित थे उसके सरकारी अस्पताल से फीट रहने का प्रमाणपत्र लाने के बाद भी सेंच्युरी रेयॉन कंपनी के मैनेजमेंट पाटील को काम पर लेने के लिए तैयार नहीं है ! 
    बता दे इंसाफ पाने के लिए कंपनी मैनेजमेंट,कामगार युनियन के पदाधिकारी,शहर के नेताओं ,सभी के पास पाटील ने अपनी व्यथा सुनाई,लेकिन इसका कोई हल नहीं निकला नही। अंत में मराठी माणस के एकमात्र पर्याय राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के पास पाटिल मदद के लिए विनती की जिसपर मनसे के शहरसंघटक मैनुद्दीन शेख ने पाटील परिवार की समस्या के निवारण के आश्वासन दिया है और उन्होंने कहा कि हमें कहा गया है कि "अन्याय दिशेल तेथे लाथ घाला, आदेशाची वाट बघू नका" ऐसा राज साहेब ठाकरे ने हमें आदेशच दिया है, ऐसा मैनुद्दीन शेख ने बताया।सभी कामगारों को एक जैसा न्याय मिले और गरीब कामगार बंधुओं पर होनेवाले अत्याचार मनसे कदापि सहन नहीं करेगी। पाटील परिवार को न्याय दिलाकर ही रहेंगे ,ऐसा उन्होंने कहा है। परंतु अभी तक पाटिल को काम पर नही लिया गया है इस विषय में सेंचुरी कंपनी के पीआरओ अनिल ब्यास से फोन पर संपर्क करने की कोशिश किया पर उनका फोन कवरेज क्षेत्र के बाहर होने की वजह से संपर्क नही हो पाया इस लिए कंपनी की साइड सामने नही आ पाया है, मैनुद्दीन शेख ने आरोप करते हुए कहा है कंपनी में जो ठेकेदारों के द्वारा लोगो को काम पर रखा गया है उनका बड़े पैमाने पर सोसड हो रहा जितनी पगार मिलनी चाहिए वह नही मिलता ऐसे कंपनी के परमामेंट वर्कर के साथ भी हो रहा है परंतु अपनी नोकरी कही बोलने पर चली जायेगी इस लिए ये वर्कर चुप रहते है यहाँ की यूनियन भी सब मैनेजमेंट के इशारों पर चल रही है इसी का फायदा उठाकर कंपनी मजदूरों का सोसड कर रही है मनसे की तरफ से हमने कंपनी को पत्र देकर वर्करों पर हो रहे सोसड को बंद करने की मांग किया है जल्द यह सब बंद नही हुआ तो मनसे अपने स्टाइल में जवाब देगा ऐसा उन्होंने कहा है !
  • विश्व कर्करोग दिवस के निमित्त पर हुआ मैराथन बच्चों में प्रथम जय यादव तो लड़कियों प्रथम रही साक्षी !

    By fast headline india →
     विश्व कर्करोग दिवस के निमित्त पर हुआ मैराथन बच्चों में प्रथम रहे जय यादव तो लड़कियों प्रथम रही साक्षी ! 

     उल्हासनगर - उल्हासनगर मातोश्री सावित्रीबाई फुले नामक सामाजिक संस्था के सौजन्य से विश्व कर्करोग दिवस के निमित्त "उल्हासनगर मैराथन २०१९ का सफल आयोजन किया गया है। इस संस्था के सौजन्य से यह मैराथन आयोजन का दूसरा वर्ष है।१४ वर्षों से शैक्षणिक ,सामाजिक और आरोग्य के विषय पर यह संस्था काम कर रही है। इस मैराथन के पहले विजेता बच्चों में जय प्रकाश यादव तो लड़कियों में पहले स्थान पर रही साक्षी सोनावणे को मिली विजय है !    
    बता दे कि दिंनाक 3 फरवरी 2019 को जागतिक कर्करोग दिन के उपलक्ष्य पर मातोश्री सावित्रीबाई फुले सामाजिक संस्था और उल्हासनगर महानगरपालिका के द्वारा संयुक्त रूप से कर्करोग की जनजागृती के लिए उल्हासनगर मैराथन का आयोजन किया था इस कार्यक्रम में कुल 900 सौ विद्यार्थियों ने अपने नामांकन भरे थे इसमें से 750 विद्यार्थी ने मैराथन में भाग लिया, 5 की. मी. के इस मैराथन में १७ साल के नीचे उम्र के बच्चों ने भाग लिया इस मैराथन में पहले स्थान हासिल किया जयप्रकाश यादव, दुसरा विकास राजभर, तीसरा करन शर्मा इन्होंने जीता, तो लड़कियों में पहले स्थान पर रही साक्षी सोनावणे, दूसरी पर वर्षा प्रजापती और तीसरी स्थान पर संजना राय ने जीत हासिल किया है इस कार्यक्रम के प्रमुख उद्घाटक रूप में उल्हासनगर शिवसेना शहर प्रमुख व शिवसेना नगरसेवक राजेंद्र चौधरी राजेंद्र शाहू , शिव सेना युवा सेना के उल्हासनगर शहर अध्यक्ष बाला श्रीखंडे सुरेश सोनावणे , विनोद सालेकर, प्रदीप आयरे, राजेश मोरे, आदेश पाटील, केशव ओवलेकर, पंडित निकम, गणेश सालूंखे समेत गई गणमान्य लोग बड़ी संख्या में उपस्थित थे !
  • मेमसाहब बिल्डिंग का स्लैब गिरने से तीन की मौत तीन घायल !

    By fast headline india →
     मेमसाहब बिल्डिंग का स्लैब गिरने से तीन की मौत तीन घायल ! 

     मलबा में हटाने में  जुटे फायर ब्रिगेड की टीम ! 

    मनपा के बैद्यकीय अधिकारी डॉक्टर राजा रिजवानी के भाई की क्लिनिक पर गिरा था स्लैब ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर के शिवाजी चौक से थोड़ी दूर पर दोपहर 2:30 बजे के करीब इंदिरा गांधी मार्केट, महाराजा हाल के पास की मेमसाहब बिल्डिंग का स्लैब गिरने की वजह से तीन लोगों की मौत व 3 लोगों की जख्मी होने की खबर आई है सभी घायलों का सेंट्रल अस्पताल में ईलाज किया जा रहा है ! मलबा  हटाने में जुटे फायर ब्रिगेड की टीम !
    बता दे कि उल्हासनगर मनपा के बैद्यकीय अधिकारी राजा रिजवानी के भाई की साई आशीर्वाद क्लिनिक था उस बिल्डिंग का नाम मेमसाहब बिल्डिंग है क्लिनिक के ऊपर के महले पर कोई रिपेरिंग का काम चल रहा था तभी उस महले का स्लैब क्लिनिक के मरीजों के ऊपर आ गिरा इसमें डॉक्टर समेत आठ लोग फस गए थे इसकी सूचना मिलते ही मनपा की फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुँच कर बचाव में जुटी उन्होंने कुछ को बाहर निकाला जिसमें तीन लोगों की मौत हों गई तो बाकी घायलों का ईलाज के लिए सेंट्रल अस्पताल भेजा गया है जहाँ पर उनका इलाज किया जा रहा है अभी कोई दबे है तो नही है उनको बचाने के लिए फायर ब्रिगेड के लोग मलबा हटाने में जुटे है खबर लिखे जाने तक कार्यवाई चालू है इस लिए घटना के पीछे की सही वजह जांच होने के बाद ही स्पष्ट होगा पुलिस भी घटना स्थल पर मौजूद है !
  • अवैध होर्डिंग लगाने को लेकर सोनम क्लासेस के व्यवस्थापक के विरुद्ध दर्ज एफआईआर !

    By fast headline india →
    अवैध होर्डिंग लगाने को लेकर सोनम क्लासेस के व्यवस्थापक के विरुद्ध दर्ज एफआईआर !

     बिना परमिशन बोर्ड लगाने पर मनपा ने  कार्यवाई ! 
     फाईल फोटो

     उल्हासनगर -उल्हासनगर शहर में अलग अलग ठिकानों पर बिना पर मिशन के अवैध होर्डिंग लगाए हुए है ऐसे ही अवैध होर्डिंग लगाने को लेकर सोनम क्लासेस के व्यवस्थापक के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है .       उल्हासनगर - 3 के मारुती कॉम्प्लेक्स के पास के मेन रोड़ के लाईट पोल पर सोनम क्लासेस के 5 पोस्टर्स और 13 बैनर लगे हुए थे . इस सारे बैनर की मनपा से बिना परमिशन लिए लगाए गए थे . इस लिए प्रभाग - 2 के सहाय्यक आयुक्त भगवान कुमावत और मनपा के पथक ने यह सारे बैनर को जप्त करके सोनम क्लासेस के  व्यवस्थापक के विरुद्ध सेंट्रल पुलिस स्टेशन में महाराष्ट्र विरुपन प्रतिबंधक अधिनियम 1995 के कलम 3 के अनुसार मामला दर्ज किया गया है . इस मामले की आगे की जांच स्थानीय पुलिस विभाग के द्वारा किया जा रहा है इस विषय में सोनम क्लासेस के ब्यवस्थापक से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि हमनें बोर्ड व बैनर लगाने का ठेका अनिल शर्मा को दिया हुआ है उसने परमिशन लिया है कि नही वह मुझे नही मालूम है.