• उमपा के सत्ताधारियों का हवा महल वाला बजट महासभा में हुआ पास !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उमपा के सत्ताधारियों का हवा महल वाला बजट महासभा में हुआ पास !

    शहर के मनपा स्कूलों बनेंगे सेमी इंगलिश स्कूल !

    मनपा स्कूल के बच्चों को मनपा देगी मुफ्त में टैब !

    बच्चों को स्पोर्ट में आगे बढ़ने ने लिए शहर में बनेंगे इनडोर स्टेडियम !

    शहर को क्राईम मुक्त शहर बनाने के लिए हर कोने में लगेंगे सी.सी.टी.वी. कैमरे-महापौर

    उल्हासनगर-उल्हासनगर स्थायी समिति की सभापति जया प्रकाश माखीजा, उल्हासनगर महानगरपालिका की महापौर,पंचम कालानी के द्वारा महासभा में बजट पेश किया गया। मनपा आयुक्त अच्युत हांगे द्वारा 548 करोड़ रुपये के अनुमानित बजट, को स्थायी समिति और आम सभा की बैठक में इसे मुंगेरीलाल के सपनो के जैसे बढ़ाते हुए 957 करोड़ रुपये तक पहुचा दिया है। यहां तक कि जब उस मल्टीप्लायर में पालिक की आय नहीं बढ़ती है, तो क्या इसका मतलब यह है कि गुब्बारे के बजट को एक अच्छे दिन की तरह अच्छा समय मिलता है ? इस पर सबका ध्यान गया है। इस बजट के अंत उमपा की महापौर पंचम कालानी बहुत ही सुंदर विजन को रखते हुए कहा कि उमपा शहर के मनपा स्कूलों बनेंगे सेमी इंगलिश स्कूल !मनपा स्कूल के बच्चों को मनपा देगी मुफ्त में टैब देगी !बच्चों को स्पोर्ट में आगे बढ़ने ने लिए शहर में बनेंगे इनडोर स्टेडियम ! शहर को क्राईम मुक्त शहर बनाने के लिए हर कोने में लगेंगे सी.सी.टी.वी. कैमरे लगेंगे ताकि पूरा शहर सुरक्षित रहे !
    बता दे कि उल्हासनगर महानगरपालिका के आयुक्त अच्युत हांगे ने वर्ष 2018-19 के लिए अंतिम महीने में स्थायी समिति सभापति जया माखिजा को 548 करोड़ रुपये का शेष बजट दिया। इस बजट में मेयर, डिप्टी मेयर, स्थायी समिति के सभापति, सदन के नेता और विपक्ष के नेता के लिए 10 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।स्थायी समिति ने प्रति नगरसेवक को 50 लाख रुपये और वार्ड समिति के कोष से 20 लाख रुपये का प्रावधान किया। स्थायी समिति के सदस्य और वार्ड समिति के अध्यक्ष के लिए विशेष प्रावधान किया गया था। स्थायी समिति द्वारा यह बजट 858 करोड़ रुपए तक पहुंच गया है। इस बजट को महासभा में जया माखिजा ने महासभा में विस्तारित किया और 100 करोड़ रुपये के बजट में खर्च किया।यह पाया गया है कि विपक्षी दलों का प्रस्ताव बजट में दिया गया है। यह शिवसेना और भाजपा गठबंधन का परिणाम है। पिछले साल, विपक्षी दल ने महासभा से शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को वापस ले लिया था। आय से अधिक का बजट न हो - मनपा आयुक्त पालिका आयुक्त अच्युत हांगे ने अनुरोध किया था कि आम सभा में बजट पर चर्चा करते समय बजट को सीमा से बाहर से ज्यादा नहीं किया जाना चाहिए। इसके बावजूद 400 करोड़ का बजट फुलाया गया है। उल्हासनगर में आय के सपने देखने वाले की चर्चा सच है।भाजपा के मनोनीत नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी, जमनु पुरुस्वानी, अर्चना करनकाले, शिवसेना के सुनील सुर्वे, सुरेंद्र सावंत, सुमित सोनकांबले, अरुण आशान और एनसीपी के भरत गंगोत्री और कांग्रेस की अंजलि सालवे, साई पार्टी के टोनी सिरवानी आदि ने हिस्सा लिया। वलधुनि नदी के विकास के लिए 10 करोड़ का फंड विपक्षी नेता धनंजय बोडारे ने नदी तल के विकास के लिए 10 करोड़ रुपये की मांग की। महासभा ने उन्हें मंजूरी दी। शिवसेना के नगरसेवक राजेंद्रसिंह भुल्लर ने खुनी खाड़ा में एक उद्यान विकसित करने की मांग की। उन्हें सत्तारूढ़ दल द्वारा भी अनुमोदित किया गया था।
  • No Comment to " उमपा के सत्ताधारियों का हवा महल वाला बजट महासभा में हुआ पास ! "