Browsing "Older Posts"

  • शिवसेना नगरसेवक रोडे की कुल्हाड़ी से हमला करके उतारा मौत के घाट !

    By fast headline india →
    शिवसेना नगरसेवक रोडे की कुल्हाड़ी से हमला करके उतारा मौत के घाट ! 

    दोनो हमलावर पुलिस स्टेशन जाकर अपने आप को किया पुलिस के हवाले ! 

     सनसनीखेज वारदात से पूरा शहर हुआ सन्न ! 

    पुलिस के आला अधिकारियों ने हत्या वाली जगह पर जाकर किया मुवायना ! 

    परभणी-परभणी से शिवसेना के नगरसेवक अमरदीप रोडे की मामूली विवाद के बाद हत्या किए जाने की खबर है. हत्या के बाद दोनों हमलावारों ने स्वयं स्थानीय मोंढा पुलिस थाने में हाजिर हो कर अपन गुनाह कबूल लिया. परभणी के जायकवाड़ी क्षेत्र में घटी इस सनसनीखेज वारदात से पूरा शहर सन्न रह गया. 
    गुनहगारों ने अपराध कबूल करते हुए बयान दिया कि रोडे से एक छोटे से विवाद ने गंभीर स्वरूप धारण कर लिया और दोनों ने कुल्हाड़ी से नगरसेवक को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस दोनों आरोपियों से और पूछताछ कर रही है. बता दे कि हमला करने के बाद आरोपी किरण सोपानराव डाके (३४, जिसका पता मातोश्री नगर परभणी) और रवी वसंतराव गायकवाड (पत्ता जायकवाडी परभणी) ये दोनों खुद ही पुलिस स्टेशन जाकर अपने आप को पुलिस के हवाले किया है. घटना के बाद परिसर में बहुत भारी संख्या में लोग जमा हुए थे. अमरदीप रोडे की डेडबॉडी को जिल्हा सामान्य अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए लाया गया वहा पर भी बड़ी संख्या में लोग जमा हुए है. उपविभागीय पुलिस अधिकारी संजय परदेशी के साथ पुलीस अधिकारियो ने घटनास्थल का मुवायना किया है . यही नही तज्ज्ञ और डाक स्काट भी घटनास्थल पर पहुचे हुए है.
  • ठाणे सरकार न्यूज चैनल बना यू टुयूब का पार्टनर !

    By fast headline india →
    ठाणे सरकार न्यूज चैनल बना यू टुयूब का पार्टनर ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर में लंबे समय से चल रहे वेब न्यूज चैनल ठाणे सरकार न्यूज को यू टुयूब पार्टनर प्रोग्राम में मॉनिटाइज हुआ है यह उल्हासनगर में पहला ऐसा वेब चैनल है जिसको यू टुयूब का पार्टनर बना है ! बता दे कि वेब चैनल के संपादक महेश मूलचंदानी पहले अपना सफर ठाणे सरकार न्यूज पेपर से शुरू किया और पिछले एक सालों से अपना पहला वेब न्यूज चैनल ठाणे सरकार न्यूज चैनल चालू किया हमेशा से कुछ नया करने की चाह रखने वाले मूलचंदानी ने अपने चैनल के माध्यम से शहर के कई घोटालों का पर्दाफाश किया यही कारण है कि उनका चैनल लोगो के बीच में काफी लोग प्रिय बन गया है,अभी हाल ही में यू टुयूब पार्टनर भी बन गए है उसके लिए शहर के सभी लोगो ने उन्होंने इसके लिए बधाई दिया है और कहा है कि आगे भी लोगो की जन समस्याओं को उठाते रहेगे, मूलचंदानी ने कहा कि सब का आशीर्वाद रहेगा तो जल्द हमारा चैनल सेटलाइट चैनल होगा है ऐसा उन्होंने उम्मीद ब्यक्त किया है !
  • आदिवासी और किसान मोर्चाकारी को एक बून्द पानी पिलाया तो सरकार आप पर भी केस फाइल करेगी ?

    By fast headline india →
    आदिवासी और किसान मोर्चाकारी को एक बून्द पानी पिलाया तो सरकार आप पर भी केस फाइल करेगी ?

    लोकसंघर्ष मोर्चा के करीब करीब १२००० किसानों ने  निकाला था यह मोर्चा !

     अगर आप पागल हो तो कम से कम एक बार यह गुनाह जरूर करना - अध्यक्ष लोकांचे दोस्त रवि भिलाणे 

     मुंबई-मुंबई संवेदनशील भारतीय नागरिको,आप अक्लमंद हो तो किसी भी आदिवासी और किसान मोर्चाकारी को एक बून्द पानी भी मत पिलाना। गांव खेड़ो से आठ दिनों की रोटी बांधकर निकले उन मोर्चाकारियोके थाली में सब्जी रोटी मत परोसना। इतना ही क्यों , चल चलकर छिल चुके उनके जख्मी पैरों पर अपने सहानुभूति का तेल भी मत लगाना। नहीं तो सरकार आप पर केस फाइल किए बिना शांत नहीं बैठेगी। जी हाँ ऐसा हुआ है उसी सत्य घटना की यह हकीकत न्यूज के जरिये आपके सामने है !
    बता दे कि हमने इस कार्य को किया इसी कारण से हम पर केस फाइल की गयी है। आप सभी को याद ही होगा की २२ नवम्बर २०१८ को प्रतिभा शिंदे इनके नेतृत्व में लोकसंघर्ष मोर्चा के करीब करीब १२००० किसानोंने अपने पत्नी और बच्चो के साथ मंत्रालय पर मोर्चा निकाला था। उन्होंने ठाणे से मुंबई मार्च का आयोजन किया था और लोगो के दोस्त संगठन ने घाटकोपर के रमाबाई नगर में बाबासाहेब आंबेडकर के पुतले को साक्षी मानकर इस मोर्चा का स्वागत किया था । जहा पर इक्कठा होने के बाद किसान ,आदिवासी ,दलित , बहुजन एकता के नारे लगाए गए और थकेहारे किसानो को पानी पिलाया गया। मुंबई के आज़ाद मैदान में भी अलग अलग संगठनों ने इन आदिवासी किसानों के लिए तम्बू ,चटाई ,खान पान ,पानी , साउंड ऐसी व्यवस्था की थी। मोर्चा ठाणे, मुंबई पहुंचे इससे पहलेही सभी संबंधित पुलिस अधिकारी ,सरकारी , नगर निगम कार्यालयों को पत्र दिए गए थे। हमारी गलती केवल इतनी ही थी के हमने उस पत्र पर हस्ताक्षर किए थे। इस मोर्चे के बाद मुख्यमंत्री ने मोर्चाकारी लोगो से चर्चा कर उनकी सभी मांगो को लिखित स्वरूप में मान लिया । मंत्री गिरीश महाजन ने आझाद मैदान में आकर मोर्चा का समारोप किया। जाते जाते उन्होंने सरकार की तरफसे मोर्चाकारियो के लिए विशेष ट्रैन की सुविधा भी मुहैया करवाई। मुंबई के नागरिकोंको अपना धन्यवाद देकर आदिवासी शांती से अपने गांव लौट गए। इस पुरे आंदोलन में एक भी गलत घटना नहीं हुई। फिर अब हमसेही ऐसा क्या गुनाह हो गया ? वह भी हम बताते है। ५ मार्च के दिन हमने " पुलवामा से बालाकोट, कुछ तथ्यं ,कुछ सवाल " इस विषय पर मुंबई पत्रकार संघ में पत्रकार परिषद् का आयोजन किया था। हमारे परिषद् स्थल पर पहुचने से पहले ही पुलीस वहा उपस्थित हो गयी थी। *रवि भिलाणे , फ़िरोज़ मिठिबोरवाला ,ज्योति बढेकर ,स्मिता साळुंखे ,अफ़रोज़ मालिक,धनंजय शिंदे* इनको नोटीस दी गयी की ,"आप लोगों ने लोक संघर्ष मोर्चा का आयोजन कर आदिवासियों को एकत्रित किया था,और ऐसा आप फिर कर सकते है तो आपको हिरासत में क्यों न लिया जाए ?आप को कोर्ट में हाजिर होकर जमानत लेनी होगी ।जल्द ही आपको कोर्ट की तारीख बतायी जाएगी" यह जानकारी देकर पुलिस निकल गए। इसके बाद हमने पत्रकार परिषद् सुरू कर दी। पुलवामा हमला और बालाकोट सर्जिकल स्ट्राइक से जुड़े जनता के सवालों को सामने रखा। जैसे ही हम परिषद् ख़त्म कर ५ बजे सभागृह से बाहर निकले , पुलिस दूसरी नोटीस हाथ में लिए हमारा इंतज़ार कर रही थी। नोटिस में लिखा था की, २३ मार्च सुबह ११ बजे आपको किल्ला कोर्ट, आझाद मैदान में उपस्थित रहना होगा। पुलिस की इस तत्परता से हम सभी अचंबित रह गए । तीन महीने से जो काम हुआ नहीं हुआ था,वह अब केवल २ घंटे में हो चूका था।पुलिस द्वारा कोर्ट में चार्जशीट फाइल कर २ घंटे के भीतर कोर्ट में उपस्थित रहने के सबंध में नोटिस भी तैयार करके हमको थमा दी गयी थी। शाब्बास रे मुंबई पुलीस ! ,महाराष्ट्र सरकार और उसके गृहमंत्री अर्थात मुख्यमंत्रीजी !! उपरोक्त घटना क्रम से आप सभी के ध्यान में आ गया होगा की हमने क्या गुनाह किया है ? देश और सैनिको की सुरक्षा में सरकार से सवाल पूछना , आदिवासी ,किसान ,दलित ,बहुजन इनके अधिकारों के लिए लढना और इस लढाई को मदत करना यही गुनाह ,जुर्म है । लेकिन अगर यह गुनाह है तो इस तरह का गुनाह बार बार होता ही रहेगा। पर आप अगर समझदार है तो इस तरह का गुनाह मत कीजिए। सरकार से सवाल मत पूछिए और किसी को पानी भी मत पिलाईये। यह सरकार किस बात को गुनाह कहेगी और किसे गुनाहगार और क्या कार्यवाही करेगी बता नहीं सकते। फिर भी... अगर आप पागल हो तो कम से कम एक बार यह गुनाह जरूर करना। - *रवि भिलाणे* *(अध्यक्ष-लोकांचे दोस्त)* *अनुवाद:अक्षय पाठक* *(ऑल इंडिया रिवोल्यूशनरी स्टुडंट्स ऑर्गनायझेशन)*
  • पूना के दो जालसाज ब्यापारी ने उल्हासनगर के 11 ब्यापारियों को लगाया 64 लाख चुना !

    By fast headline india →
    पूना के दो जालसाज ब्यापारी ने उल्हासनगर के 11 ब्यापारियों को लगाया 64 लाख चुना !

     चेक देकर लिया रेडीमेट कपड़ो माल एकाउंट बंद करके हुए फरार ! 

    पुलिस ने दर्ज 420 का मामला !

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के 11 रेडिमेड गारमेंट ब्यापारियों को पुुना के दो व्यापारियों ने कपड़े उधार लेकर उन्हें चेक द्वारा 64 लाख 86 हजार रुपये भुगतान कर दुकान और बैंक खाता बंद कर फरार होने की घटना सामने आयी है.इस मामले में पुलिस ने दो लोगो के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर आगे की जांच में जुट गई है।
     बता दे कि रेडिमेड कपड़े के व्यापार के लिए उल्हासनगर शहर देशभर में प्रसिद्ध है .विभिन जगहों से व्यापारी कपडे खरीदारी के लिये आते हैं.उल्हासनगर में एक दूसरे पर विश्वास कर करोड़ो रूपये का लेनदेन होता है.इसी का फायदा लेकर पुना के दो व्यापारी सुजय कन्हैयालाल शर्मा ( 23 )और कमलेश जैन ( 35 ) ने बुधवार पेठ ,पुना में विनायका टेक्स्टाईल नाम का कार्यालय है बताकर शर्मा और जैन ने उल्हासनगर के करीब 11 विभिन दुकानदारो से 2018 ते 2019 के दरम्यान 64 लाख 86 हजार रुपये किंमत का रेडिमेड कपडा उधार में लिया.नगद के बदले उल्हासनगर के व्यपारियों को विविध बेंको का चेक दिया. और चेक कैश कराने से पहले ही बँक अकाऊंट बंद व कार्यालय बंद कर दिया.साथ ही उनका मोबाइल फोन भी संपर्क के बहार हो गया. फिर उल्हासनगर के व्यापारियों को खुद को ठगी का शिकार होने का अहसास हुआ और जिसके उपरांत दीपक खुबचंद बिजलानी ( 29 ) ने उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में आरोपी सुजय कन्हैयालाल शर्मा और कमलेश जैन के खिलाफ भा द वी की धारा 420, 406, 34,के तहत मामला दर्ज किया.आगे की जांच सहाय्यक पुलिस निरीक्षक एस बी तडाखे कर रहे हैं।
  • अवैध हथियारो को बेचने आये सौदागर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    अवैध हथियारो को बेचने आये सौदागर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार ! 

    दो तमंचा,एक पिस्टल,तीन कारतूस किया बरामद !

     चुनाव के दरम्यान क्राइम ब्रांच की टीम हाई अलर्ट पर !

    गिरफ्तार युवक भदौरिया से क्राइम ब्रांच की टीम कर रही है पूछताछ ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में होने वाले लोकसभा चुनाव के पहले या उस दरम्यान कोई अप्रिय घटना घटित न हो इसलिए स्थानीय पुलिस से लेकर क्राइम ब्रांच की टीम हाई अलर्ट पर है,गुरुवार की दोपहर खबरी से मिली गुप्त जानकारी के आधार पर क्राइम ब्रांच के सीनियर पीआय महेश तरडे, पुलिस इंस्पेक्टर मनोहर पाटिल की टीम ने शहद स्टेशन परिसर से अवैध अधियार बेचने आये गोविंद अर्जुन सिंह भदौरिया (26) नामक युवक को गिरफ्तार किया उसके पास से एक पिस्टल,दो तमंचा ,तीन जिंदा कारतूस बरामद किया।भरत नवले कि शिकायत पर उल्हासनगर पुलिस ने मामला दर्ज किया है।
     गौर तलब हो कि लोकसभा चुनाव सर पर है ऐसे में परिमंडल-4 में कोई अप्रिय घटना घटित न हो इसलिए डीसीपी प्रमोद शेवाले ने सभी पुलिस स्टेशन के सीनियर पीआय को अलर्ट रहने का सख्त आदेश दे दिया है,इसी क्रम में चार दिन पहले विट्ठलवाड़ी पुलिस ने आशीष पाल व करण गवई नामक दो युवकों को संदेह के आधार पर हिरासत में लिया था,जब उनकी तलाशी ली गयी तो युवकों के पास एक पिस्टल हस्तगत किया गया जिसकी कीमत 95 हजार आंकी गयी थी।इसी तरह कल शहाण स्टेशन के परिसर में एक युवक पिस्टल व देशी कट्टा बेचने आने वाला है,इसकी सूचना मुखबिरों के जरिये क्राइम ब्रांच सीनियर पीआय महेश तरडे को मिली,सीनियर पीआय के आदेश पर सहायक पुलिस निरीक्षक झेंडे,पीएसआई तोरगल, पुलिस कांस्टेबल भरत नवले, माने,सौदागर अन्य मातहत पुलिस टीम ने पहले ही शहद स्टेशन परिसर में जाल बिछाया और जैसे ही गोविंद अर्जुन सिंह भदौरिया (26) नामक युवक वहां आया।उसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया,गिरफ्तार भदौरिया मूल रूप से मध्यप्रदेश का रहिवाशी है और शांतिनगर कैम्प-3 में रहता है।क्राइम ब्रांच की टीम यह पता लगाने में जुटी है कि यह हथियार आरोपी किसको बेचने वाला था ,उसका मंसूबा क्या था इसकी पुलिस जांच कर रही है,
  • बेगुनाह ब्यापारी पर टूटा हवलदार काले का कहर, के मामले में आया नया मोड़ !

    By fast headline india →
    बेगुनाह ब्यापारी पर टूटा हवलदार काले का कहर, के मामले में आया नया मोड़ ! 

    पुलिस मामले को रफादफा करने के लिए असरानी परिवार पर डाल रही दबाव ? 

    सेंट्रल अस्पताल के डॉक्टर वाघमारे की रिपोर्ट से पुलिस की मुसीबतें बढ़ने के आसार ! 

    ब्यापारी संघटनाओं ने विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन के सामने किया निषेध ! 

    झूठे चाकू के केश में फंसाया,फिर की जमकर धुलाई,ब्यापारी से 25 हजार व सोने अंगूठी उसकी माँ से लिये 50 हजार !   

    जमानत पर छूटने के बाद पूरे मामले का ब्यापारी ने किया पर्दाफाश !   

     सेंट्रल अस्पताल में असरानी से मिलने पहुँचे भाजपा पूर्व विधायक आयलानी,शिवसेना शहर प्रमुख चौधरी,रांकपा जिलाध्यक्ष मामा पाटिल ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर के विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन में कार्यरत एक हवलदार की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है, उसने एक ब्यापारी को पहले बिना किसी कारण के ही श्रीराम चौक के 90 टी डेज बार के नीचे जमकर धुनाई किया और उससे भी मन नही भरा तो पुलिस स्टेशन लाया झूठा मामला दर्ज किया और उसके बाद बेंच पर लिटाकर डंडे व पट्टे जमकर पीटने व 25 हजार एक अंगूठी उसकी माँ से 50 हजार लेने का सनसनी खेज मामला सामने आया है, इस मामले में गुरुवार को एक नया मोड़ सामने आया पुलिस विभाग के जरिये फिरयादी असरानी परिवार पर दबाव तंत्र का इस्तेमाल करके मामले को रफादफा करने के जुआड में लगी है ऐसी जानकारी विश्वसनीय सूत्रों से सामने आ रही है, वही इस मामले में सेन्टर अस्पताल ने दुबारा मेडिकल करने के लिए हितेश असरानी को अस्पताल एडमिट किया है आने वाले समय में मेडिकल रिपोर्ट के चलते मुसीबत बढ़ने वाली यह तय है,ब्यापारी को इतनी बेरहमी से पीटा गया है उसकी तस्वीरे आपको विचलीत कर सकती है, अभी तक पुलिस वाले के खिलाफ कुछ भी कार्यवाई नही किया गया है ! वही गुरुवार को सेंट्रल अस्पताल में भर्ती होने के बाद कई नेताओं ने मुलाकात किया शिवसेना शहर प्रमुख राजेंद्र चौधरी,भाजपा के पूर्व विधायक कुमार आयलानी,अंबरनाथ के रांकपा जिल्हाध्यक्ष सदा मामा पाटिल मिलकर हालचाल जाना और परिवार को पूरी मदत का भरोसा दिया है !   

       गौरतलब हो कि उल्हासनगर के ब्यापारी हितेश असरानी जिनकी उल्हासनगर के 2 नम्बर की नेहरू चौक पर नास्ते की रमेश कोल्ड्रींक्स नामक मशहूर होटल है, हितेश 21 मार्च को श्रीराम चौक स्थित 90 टी डेज होटल में गए थे वहां पर उन्होंने एक बियर पिया और तो रात 1.45 बजेे के करीब बाहर निकले ही तभी दो लोग आए बिना किसी कारण के ही उसे मारने लगे बचाव में हितेश ने भी उन लोगो को मारा इतने में श्री राम चौक पर खड़े पुलिस कर्मी वहाँ पर आए और बोले पुलिस वाले को मारता है वो सब लोग डंडों से पीटने लगे हितेश कुछ समझ पाता तबतक पुलिस वाले उसे विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन लाया उसी दरम्यान हितेश की गाड़ी के ड्राइवर ने इस मामले की सूचना असरानी के माता पिता को दे दिया वो लोग पुलिस स्टेशन पहुचे उन्होंने देखा कि कुछ पुलिस वाले उनके बेटे को पीट रहे है उन्होंने बिनती किया तो उनके माता पिता से पुलिस हवलदार राहुल काले ने 2 लाख रुपये मांगे नही तो तेरे बेटे को झूठे मामले में फंसा देगे ऐसा धमकी दी उन्होंने 50 हजार रुपये काले को दिया परन्तु पुलिस ने पैसे लेने के बाद भी माता पिता को धक्के देकर पुलिस स्टेशन के बाहर कर दिया उसी मारपीट के दौरान काले हितेश के जेब में रखे 25 हजार रुपये भी ले लिया और हाथ से अंगूठे की रिंग भी ले लिया उसके बाद हितेश के पहने हुए सारा सोना निकलवाया उसकी वीडियो शूटिंग किया और वह सोना हितेश के माता पिता को दे दिया गया और उनको चलता किया इसके बाद शुरू हुई पुलिस की असली कहानी चाकू रखने का झूठा केश बनाया गया और बेंच पर लिटाकर कमर के नीचे के हिस्सों पर जमकर पिटाई किया और फिर सेंट्रल अस्पताल ले जाकर मेडिकल कराया वहाँ से लौटते समय काले ने धमकी दी कि कोर्ट में शांत रहना नही तो दूसरे केश में फंसा दूँगा और फिर रिमांड लेकर और पिटाई करेगे इससे डरे हितेश असरानी ने कोर्ट के समक्ष चुप्पी रखी जब उनकी जमानत हुआ उसके बाद उन्होंने ऐसे भ्रष्ट्र पुलिस हवलदार को जेल के पीछे भेजने के लिए अपने ऊपर हुए अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाई और अपनी आप बीती मीडिया कर्मियों के समक्ष रखा है और इंसाफ की मांग किया है उन्होंने इस विषय को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री, व डीजीपी,सीपी ठाणे, पुलिस उपायुक्त परिमंडल 4 को लिखित पत्र देकर पूरे मामले की जांच कर कार्यवाई की मांग करने की बात कही है इंसाफ नही मिला तो कोर्ट का सहारा लेने की बात कही है वही इस मामले में जब विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन के सीनियर इंस्पेक्टर रमेश भामे से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि अभी तक हमारे पास ऐसी कोई शिकायत आई नही है शिकायत आती है तो पूरे मामले की जाँच करेगे अगर आरोप सही पाया गया तो निश्चित हो दोषी पुलिसकर्मी के विरुद्ध कठोर कार्यवाई किया जाएगा कानून सब को एक नजर से देखता है इस तरह की हरकत बर्दास्त नही किया जा सकता है ! अब यहाँ पर सवाल यह है कि हितेश असरानी की घटना जहाँ हुई है क्या पुलिस ने दोनों 90 टी डेज बार व पुलिस स्टेशन वाली जगहों की सी सी टी वी फुटेज चेकर मामले की जांच करेगी क्या ? दूसरी क्या किसी पुलिस को इस तरह से किसी भी ब्यक्ति की पिटाई करने का कानूनी अधिकार है क्या ?पुलिस हवलदार राहुल काले व उनके सहकर्मी पुलिस वालों पर कार्यवाई होगी ? क्योकि जिस तरह से यह मामला सामने आया उसको देखते हुए यह लग रहा है वर्दी की आड़ में गुंडे घूम रहे जिसे जब चाहे किसी भी पर झूठे मामले में फंसाकर इस तरह से उसके साथ क्रूरता की सारी हदें पार करे और क्या उन्हें कानून का डर नही है क्या ? या उन्हें ऐसा लगता है कि हमारे पास तो वर्दी है हमारा कौन क्या बिगाड़ सकता है अगर ऐसी सोच है तो गलत है उसे बदले की जरूरत है नही तो वो दिन दूर नही होगा कि लोगों का कानून वालो से विश्वास उठ जाए और लोग खुद कानून हाथों में लेने लगे इससे पहले ऐसे लोगो को उनकी सही जगह दिखानी जरूरी है !
  • बेगुनाह ब्यापारी पर टूटा हवलदार काले का कहर !

    By fast headline india →
    बेगुनाह ब्यापारी पर टूटा हवलदार काले का कहर ! 

    झूठे चाकू के केश में फंसाया,फिर की जमकर धुलाई,ब्यापारी से 25 हजार व सोने अंगूठी उसकी माँ से लिये 50 हजार !

     ब्यापारी को काले हवलदार ने धमकाया कोर्ट में मुंह खोला लेंगे रिमांड फिर होगी धुलाई ! 

    जमानत पर छूटने के बाद पूरे मामले का ब्यापारी ने किया पर्दाफाश ! 

     ब्यापारी ने दी शिकायत तो जांच करके करेगे कार्यवाई-विठ्ठलवाड़ी वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भामे 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन में कार्यरत एक हवलदार की गुंडागर्दी का मामला सामने आया है, उसने एक ब्यापारी को पहले बिना किसी कारण के ही श्रीराम चौक के 90 टी डेज बार के नीचे जमकर धुनाई किया और उससे भी मन नही भरा तो पुलिस स्टेशन लाया झूठा मामला दर्ज किया और उसके बाद बेंच पर लिटाकर डंडे व पट्टे जमकर पीटने व 25 हजार एक अंगूठी उसकी माँ से 50 हजार लेने का सनसनी खेज मामला सामने आया है,ब्यापारी को इतनी बेरहमी से पीटा गया है उसकी तस्वीरे आपको विचलीत कर सकती है, अभी तक पुलिस वाले के खिलाफ कुछ भी कार्यवाई नही किया गया है !    
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर के ब्यापारी हितेश असरानी जिनकी उल्हासनगर के 2 नम्बर की नेहरू चौक पर नास्ते की रमेश कोल्ड्रींक्स नामक मशहूर होटल है, हितेश 21 मार्च को श्रीराम चौक स्थित 90 टी डेज होटल में गए थे वहां पर उन्होंने एक बियर पिया और तो रात 1.45 बजेे के करीब बाहर निकले ही तभी दो लोग आए बिना किसी कारण के ही उसे मारने लगे बचाव में हितेश ने भी उन लोगो को मारा इतने में श्री राम चौक पर खड़े पुलिस कर्मी वहाँ पर आए और बोले पुलिस वाले को मारता है वो सब लोग डंडों से पीटने लगे हितेश कुछ समझ पाता तबतक पुलिस वाले उसे विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन लाया उसी दरम्यान हितेश की गाड़ी के ड्राइवर ने इस मामले की सूचना असरानी के माता पिता को दे दिया वो लोग पुलिस स्टेशन पहुचे उन्होंने देखा कि कुछ पुलिस वाले उनके बेटे को पीट रहे है उन्होंने बिनती किया तो उनके माता पिता से पुलिस हवलदार राहुल काले ने 2 लाख रुपये मांगे नही तो तेरे बेटे को झूठे मामले में फंसा देगे ऐसा धमकी दी उन्होंने 50 हजार रुपये काले को दिया परन्तु पुलिस ने पैसे लेने के बाद भी माता पिता को धक्के देकर पुलिस स्टेशन के बाहर कर दिया उसी मारपीट के दौरान काले हितेश के जेब में रखे 25 हजार रुपये भी ले लिया और हाथ से अंगूठे की रिंग भी ले लिया उसके बाद हितेश के पहने हुए सारा सोना निकलवाया उसकी वीडियो शूटिंग किया और वह सोना हितेश के माता पिता को दे दिया गया और उनको चलता किया इसके बाद शुरू हुई पुलिस की असली कहानी चाकू रखने का झूठा केश बनाया गया और बेंच पर लिटाकर कमर के नीचे के हिस्सों पर जमकर पिटाई किया और फिर सेंट्रल अस्पताल ले जाकर मेडिकल कराया वहाँ से लौटते समय काले ने धमकी दी कि कोर्ट में शांत रहना नही तो दूसरे केश में फंसा दूँगा और फिर रिमांड लेकर और पिटाई करेगे इससे डरे हितेश असरानी ने कोर्ट के समक्ष चुप्पी रखी जब उनकी जमानत हुआ उसके बाद उन्होंने ऐसे भ्रष्ट्र पुलिस हवलदार को जेल के पीछे भेजने के लिए अपने ऊपर हुए अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाई और अपनी आप बीती मीडिया कर्मियों के समक्ष रखा है और इंसाफ की मांग किया है उन्होंने इस विषय को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री, व डीजीपी,सीपी ठाणे, पुलिस उपायुक्त परिमंडल 4 को लिखित पत्र देकर पूरे मामले की जांच कर कार्यवाई की मांग करने की बात कही है इंसाफ नही मिला तो कोर्ट का सहारा लेने की बात कही है वही इस मामले में जब विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन के सीनियर इंस्पेक्टर रमेश भामे से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि अभी तक हमारे पास ऐसी कोई शिकायत आई नही है शिकायत आती है तो पूरे मामले की जाँच करेगे अगर आरोप सही पाया गया तो निश्चित हो दोषी पुलिसकर्मी के विरुद्ध कठोर कार्यवाई किया जाएगा कानून सब को एक नजर से देखता है इस तरह की हरकत बर्दास्त नही किया जा सकता है ! अब यहाँ पर सवाल यह है कि हितेश असरानी की घटना जहाँ हुई है क्या पुलिस ने दोनों 90 टी डेज बार व पुलिस स्टेशन वाली जगहों की सी सी टी वी फुटेज चेकर मामले की जांच करेगी क्या ? दूसरी क्या किसी पुलिस को इस तरह से किसी भी ब्यक्ति की पिटाई करने का कानूनी अधिकार है क्या ?पुलिस हवलदार राहुल काले व उनके सहकर्मी पुलिस वालों पर कार्यवाई होगी ? क्योकि जिस तरह से यह मामला सामने आया उसको देखते हुए यह लग रहा है वर्दी की आड़ में गुंडे घूम रहे जिसे जब चाहे किसी भी पर झूठे मामले में फंसाकर इस तरह से उसके साथ क्रूरता की सारी हदें पार करे और क्या उन्हें कानून का डर नही है क्या ? या उन्हें ऐसा लगता है कि हमारे पास तो वर्दी है हमारा कौन क्या बिगाड़ सकता है अगर ऐसी सोच है तो गलत है उसे बदले की जरूरत है नही तो वो दिन दूर नही होगा कि लोगों का कानून वालो से विश्वास उठ जाए और लोग खुद कानून हाथों में लेने लगे इससे पहले ऐसे लोगो को उनकी सही जगह दिखानी जरूरी है !
  • पांच नम्बर डंपिंग पर कचरा सपाट करने का ठेका फर्जी दस्तावेज पर लिया है ठेकेदार ने -दीपक पांडेय

    By fast headline india →
    पांच नम्बर डंपिंग पर कचरा सपाट करने का ठेका फर्जी दस्तावेज पर लिया है ठेकेदार ने -दीपक पांडेय 

     फर्जी दस्तावेज वाली कोणार्क कंपनी 3 करोड़ की सालाना कर रही है लूट-समाजसेवक !

     टेंडर में भाग लेने वाली तीनो कंपनी थी बोगस ?

    सपाटिंग करण में लगे वाहनों पर नही दिखा कोई नम्बर प्लेट ? 

    क्या बिना पासिंग वाले वाहन से किया जा रहा है यह काम ? 

    पांच साल पुराने वाहन से नही लेना है काम,सभी वाहनों की हालत है खराब ! 

    आरटीआई में जानकारी देने में मनपा प्रशासन कर रही है आनाकानी !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर के डंपिंग ग्राउंड पर जमा कचरे को सपाट करने के ठेके में बड़ा घोटाला होने का नया मामला सामने आया है, जिस कंपनी को ठेका दिया उसके दस्तावेज फर्जी होने के आरोप एक समाज सेवक द्वारा किया गया है ! बता दे कि उल्हासनगर महानगरपालिका ने पांच नम्बर के डंपिंग पर जमा होने वाले कचरे को सपाट करने का ठेका 3 करोड़ का 2017 में निकाला था यह ठेका कोणार्क इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड को मिला है समाजसेवक दीपक पांडेय ने आरोप किया गया है कि कंपनी ठेका लेने के समय दिए सभी पेपर फर्जी है, मनपा के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से यह पूरे फर्जी वाडे को अंजाम दिया गया है, 

    बता दे कि इस भ्रष्टाचार की पोल तब खुली जब समाजसेवक पांडेय ने मनपा में आर टी आई एक्ट 2005-(माहिती अधिकार अधिनियम 2005) के अनुसार इस से जुड़े सारे दस्तावेज मांगे तो उमपा के लोग माहिती देने में आना कानी शुरू कर दिया उसके बाद उन्होंने अपील में गए वहा पर भी उन्हें जानकारी नही दिया गया और अब उन्होंने कोंकण विभाग के अपीलीयअधिकारी के पास इसकी शिकायत किया है इसका सीधा मतलब है कि कंपनी के फर्जी दस्तावेज को बचाने के लिए यह पूरा नाटक रचा गया है,उन्होंने आगे यह भी आरोप किया की इस टेंडर प्रकिया में शामिल दो और कंपनी भी फर्जी थे यही कोणार्क इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के द्वारा कचरा उठाने वाली कंपनी है.डम्पिंग ग्राऊंड पर जीतनी बड़ी संख्या में मशीन चल रही है. सभी 5 साल से ज्यादा पुरानी मशीन है जबकी टेंडर के मुताबिक पांच साल से पुरानी मशीनों को इस्तेमाल नही करना है उन्होंने मांग किया है कि पूरे मामले की गंभीरता से जांच हो और इसमें लिप्त अधिकारियों पर कार्य किया जाय वही जब इसकी सच्चाई जानने के लिए पांच नम्बर के डंपिंग पर फस्ट हेडलाइन की टीम पहुची तो वहाँ पर इस्तेमाल की जा रही मशीनों की हालात काफी खराब दिखे पोकलेन, जेसीबी,पर आरटीओ से पासिंग हुए नम्बर प्लेट भी नही दिखे मतलब सपाटिंग करण में चलने वाली मशीनें कही बिना नम्बर प्लेट के ही तो नही चलाई जा रही है ? इस बारे मनपा के मुख्यस्वछता निरीक्षण विनोद केनी से संपर्क करने की कोशिश किया गया परन्तु उनका नम्बर बंद था इस लिए उनका पक्ष स्पष्ट नही हो पाया है बहरहाल अगर आरोप सही है इस पर मनपा आयुक्त को ही आगे आकर ठोस कार्यवाई करने की जरूरत है ! ताकि ऐसी हरकत करने वालो ठेकेदारो व अधिकारियों को उनकी सही जगह दिखाई जा सके !
  • तमंचे के साथ पुलिस ने दो युवक को किया गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    तमंचे के साथ पुलिस ने दो युवक को किया गिरफ्तार ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर पुलिस ने एक तमंचे के साथ दो युवकों को गिरफ्तार किया है, चुनाव के समय इस तरह के मामले आने से प्रशासन भी आंख कान खोलकर रखा है .     
    उल्हासनगर - चार के व्ही टी सी मैदान के पास मंगलवार की दोपहर 2.30 बजे के दोपहर दो लोग एक मोटरसाइकिल से आये उनकी हरकतों को देखते हुए संदेहास्पद था गस्त पर गए पुलिस वालों ने जब उनकी तलाशी लिया तो उनके पास से बाजार भाव 95 हजार कीमत का तमंचा बरामद किया है . पुलिस ने इस मामले में आशिष रामजी पाल (29) व्यवसाय ज्यूस विक्रेता व करण गवई को गिरफ्तार किया है.पुलिस इस मामले की आगे की जांच में जुटी है यह हथियार किसको बेचने आये थे या इसका इस्तेमाल खुद करने वाले थे,    
  • 27 गांव के भू माफियाओ,रजिस्टार की मिलीभगत हुआ पर्दाफाश !

    By fast headline india →
    27 गांव के भू माफियाओ,रजिस्टार की मिलीभगत हुआ पर्दाफाश ! 

     जाली सिक्के, जाली कागजात के जरिए हो रहा रजिस्ट्रेशन ?

    कौन है जिसके संरक्षण में चल रहा यह पूरा कारोबार ?

     फर्जी कागजात पर हो रहा अवैध बांधकाम की रजिस्ट्री ! 

    रजिस्टार, बिल्डर, नेताओ के दलालों की मिलीभगत से गरीब ग्राहकों को बनाया जा रहा है शिकार ! 

    लोकसभा चुनाव जीतने के लिए पैसे का किया जा रहा है जुआड-मनसे 

    हमने ऐसी कोई भी रजिस्ट्रेशन की इजाजत नहीं दी-जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर 

     कल्याण-कल्याण डोंबिवली के करीब २७ गांव में अवैध बांधकामो पर लगाम लगाने के लिए कुछ बिल्डरों ने कोर्ट में याचिका दायर की थी, उसके बाद रजिस्ट्रेशन बन्द कर बिल्डरों की कमर तोड़ने का काम किया था, मगर कुछ दिनों से लाखों रुपए लेकर, जाली कागजातों के सहारे, शासन के नियमो को पैरों तले रौंदते हुए  रजिस्ट्रेशन शुरू किया गया हैं । एक रजिस्ट्रेशन पर लाखों रुपए लेकर लोकसभा चुनाव के लिए पैसे जुटाया जा रहा है ऐसा आरोप भी मनसे ने किया है ।रजिस्टार, बिल्डर, नेताओ के साथ दलालों की मिलीभगत से गरीब ग्राहकों को फंसाया जा रहा है । मनपा आयुक्त बोडके का कहना है कि राज्य सरकार अवैध बांधकाम का रजिस्ट्रेशन कर रही हैं । जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर का कहना है कि हमने ऐसी कोई भी रजिस्ट्रेशन की इजाजत नहीं दी है जल्द ही छानबीन कर जानकारी प्राप्त कर रिपोर्ट पेश किया जाएगा ।
    बता दे कि  कल्याण ग्रामीण और 27 गांव में सरेआम अवैध बांधकाम किया जा रहा है, राज्य सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं, मनपा आयुक्त व सबंधित अधिकारी इन अवैध बांधकाम की तरफ अनदेखी कर रहे हैं । अवैध बांधकाम को रोकने के लिए शासन ने डेढ़ साल पहले रजिस्ट्रेशन बंद किया था, जिसे शुरू कराने के लिए बिल्डर माफिया, नेताओं ने एड़ी चोटी का जोर लगाया । लोकसभा चुनाव करीब आते ही कल्याण-४ के दुय्यम निबन्धक कार्यलय में रजिस्ट्रेशन करवाने का काम बड़ी जोरो से शुरू हुआ है जिससे आश्चर्य व्यक्त किया जा रहा हैं । स्थानीय बिल्डर, राजकीय नेता, दलाल, रजिस्टार की मिलीभगत से जाली सिक्के, जाली कागजात के जरिए रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है । अगर राज्य सरकार और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस इन्होंने जांच पड़ताल करवाया तो एक बड़ा महाघोटाला बाहर आने की संभावना है ।
     ◆ हालही में मनसे पदाधिकारियों ने रजिस्ट्रेशन कार्यालय में जाकर रजिस्ट्रेशन घोटाला का भंडाफोड़ करना चाहा जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है ।  इस बारे में मनसे शहराध्यक्ष राजेश कदम से सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि, हमारा विरोध रजिस्ट्रेशन करने पर नही है, बल्कि रजिस्ट्रेशन के नाम पर ज्यादा पैसे ग्राहकों ऐंठे जा रहे हैं इसपर हमारा विरोध हैं । यह पूरा पैसा लोकसभा चुनाव के मद्देनजर इस्तेमाल किया जाएगा ऐसा भी मनसे ने आरोप किया है ।
     ◆ सूत्रों के अनुसार एक रजिस्ट्रेशन के पीछे ८० हज़ार से एक लाख रुपए जैसी बड़ी रकम रजिस्टार ले रहे है । रजिस्ट्रेशन के समय ऐसा कहा जाता है कि हमे इस प्राप्त रकम में वरिष्ठों को भी हिस्सा देना पड़ता है । बिना स्ट्रक्चर ऑडिट व घटिया मटेरियल से इमारत धड़ल्ले से बन रहे है जिसकी जीवन बहुत कम होती हैं । बीते कुछ दिनों में कई सैकड़ो रजिस्ट्रेशन किये गए ऐसी भी जानकारी प्रकाश में आया है । 
     ◆ रजिस्ट्रेशन के बाद यहां पर घर लेने वालों को यहां के बिल्डर नेशनल बैंक के माध्यम से लोन दिलाने की बात करते है । इसी कारण वश नियमों के अनुसार निर्माण काम करने वाले बिल्डर जो नियमों के अनुसार टैक्स भरते है उनका व्यवसाय खतरे में आया है । अवैध बांधकाम को वैध बताकर रजिस्ट्रेशन करके सस्ते में फ्लैट मिल रहा है ऐसा झूठा हवाला दिया जाता है । महंगाई के दौर मे सस्ते में घर पाने के लिये ऐसे बहकावे में आकर सामान्य नागरिक बली पड़ रहे है, अगर शासन ने ध्यान नही दिया तो भविष्य में बड़ी जीवित हानि हो सकती है । जाली रजिस्ट्रेशन करवाकर ग्राहकों को गुमराह करने वाले ठगों को सही समय पर गिरफ्तार करवाकर यह महाघोटाला जनता के सामने लाने मांग की जा रही है । 
     ◆ महसूलमंत्री चन्द्रकांत पाटिल इन्होंने कहा था कि कोई भी रजिस्ट्रेशन बन्द नही है, राज्यशासन एवं जिलाधिकारी की तरफ से कोई लिखित पत्र भी नही है, नियमों के साथ , रेरा नम्बर के साथ अधिकृत निर्माण करने वालो का रजिस्ट्रेशन चालू है । लेकिन रजिस्टार व दलाल लोगो को गुमराह कर रजिस्ट्रेशन बंद होने की अफवाह फैला बन्द दरवाजे से रजिस्ट्रेशन करके बड़ी रकम वसूल रहे थे, मगर अब यह रजिस्ट्रेशन खुलेआम शुरू हुआ है ऐसी भी जानकारी सूत्रों से मिली ।
  • पुरानी चुनावी रंजिश को लेकर शिवसेना-एनसीपी कार्यकर्ताओं के बीच हुआ हिंसक दंगल !

    By fast headline india →
    पुरानी चुनावी रंजिश को लेकर शिवसेना-एनसीपी कार्यकर्ताओं के बीच हुआ हिंसक दंगल ! 

    हिंसक दंगल में कई लोग हुए घायल !

     चार लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

    अंबरनाथ-अंबरनाथ में शनिवार रात पुरानी चुनावी रंजिश के चलते शिवसेना कार्यकर्ताओं और राकांपा कार्यकर्ताओं के बीच जमकर हिंसक दंगल हुआ और मारपीट हुई। शिवसेना के नगरसेवक राजू शिर्के और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष महेश गोरे और उनके कार्यकर्ताओं पर इस मामले में शिवाजीनगर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। इस घटना में कई लोग घायल हुए हैं ।
    बता दे कि पुरानी चुनावी रंजिश को लेकर शिवसेना नगरसेवक राजेश (राजू) शिर्के आए राष्ट्रवादी यूथ कांग्रेस के अंबरनाथ शहर के उपाध्यक्ष महेश गोर के बीच कई सालों से विवाद चल रहा था।इस घटना में शिर्के गुट के पांच लोग घायल हो गए, जबकि सुधीर शिर्के गंभीर रूप से घायल हो गए और महेश गोरे को भी सिर में अधिक चोट लगी है। देर रात शिवजीनगर पुलिस स्टेशन में परस्पर एक दूसरे के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। युवा कांग्रेस के उपाध्यक्ष महेश गोरे, दत्त गोरे, अभिजीत बोराडे, दर्शन पाटिल, श्याम तिवारी, तानाजी पाटिल और अक्षय नायकवाड़ी के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। दूसरी ओर, शिवसेना के नगरसेवक राजू शिर्के, रोहित शिर्के, ऋतिक शिर्के, अनीश, सुधा शिर्के के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने अब तक ऋतिक शिर्के, रोहित शिर्के, महेश गोरे, अक्षय नायकवाड़ी को गिरफ्तार किया है। अन्य आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही है।
  • मजदूर की मौत के मामले में चार साल बाद दर्ज हुआ एफआईआर !

    By fast headline india →
    मजदूर की मौत के मामले में चार साल बाद दर्ज हुआ एफआईआर ! 

     बिल्डर,ठेकेदार,ऊपर दर्ज हुआ मनुष्य वध कानून तहत मामला ! 

    4 साल लंबे इंतजार के मिला इंसाफ ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में बिजली का झटका लगने से पेंटिंग में काम करने वाले मजदूर की मौत हो गई थी। मामले पर चूक करने और उसकी मौत का कारण बनने के मामले में ठेकेदार और श्रम ठेकेदार के खिलाफ ४ साल बाद मामला दर्ज किया गया है। 
    बता दे कि उल्हासनगर के नेताजी चौक के पास सुगत पैलेस की इमारत के पास एक घर में २२ अप्रैल, २०१५ को पेंटिंग का काम करते समय, इस पर काम कर रहे लक्ष्मण रमलू तोटकरी उर्फ ​​के लक्ष्मण (५०) को बिजली का झटका लगा। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। पुलिस ने घटना को अचानक मौत के रूप में दर्ज किया और आगे की जांच शुरू कर दी। शुक्रवार २२ मार्च को ४ साल बाद पेंटिंग ठेकेदार सचिन भारत शिंदे निवासी ओटी सेक्शन, उल्हासनगर - ४ और श्रम ठेकेदार अजय जवाहर चौहान(२०) निवासी बुबापाड़ा, अंबरनाथ के खिलाफ हिललाइन पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस उप-निरीक्षक बुरूकुल इस मामले की जांच कर रहे हैं, पूछने पर उन्होंने बताया कि चार साल पहले हुई इस घटना को अचानक मौत के रूप में दर्ज की गई थी। जांच अधिकारी के स्थानांतरण के कारण मामला दूसरे अधिकारी को स्थानांतरित कर दिया गया था। अब यह मामला मुझे सौंपा गया है, अब तक कई प्रतिक्रियाएं ली गई हैं और चार्जशीट दायर की गई है। लक्ष्मण एक प्रशिक्षित कार्यकर्ता नहीं था और उसे सुरक्षा के लिए कोई सामग्री उपलब्ध नहीं कराई गई थी, इसलिए दोनों आरोपियों की अक्षमता के कारण लक्ष्मण की मृत्यु हो गई। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
  • शिव जयंती मनाने के उपलक्ष्य पर बने रोड़ पर पंडाल को लेकर हुआ विवाद !

    By fast headline india →
    शिव जयंती मनाने के उपलक्ष्य पर बने रोड़ पर पंडाल को लेकर हुआ विवाद ! 

     हिराली फाउंडेशन सामाजिक संस्था द्वारा दर्ज शिकायत के बाद हटाया गया पंडाल !

     रोड़ पर बने पंडाल से अवरुद्ध हो रहा था यातायात ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में शिवजयंती के अवसर पर कई कार्यक्रमो का आयोजन किया गया था ऐसे ही एक कार्यक्रम को मनाने के लिए रोड को ब्लॉक किया गया था, जिसके कारण यातायात में बड़ी बाधा उत्पन्न हो रही थी। इस मामले में हीराली फाउंडेशन ने पुलिस से शिकायत की थी। उसके बाद पंडाल हटाया गया वही दूसरी ओर से कहा गया कि, आचार संहिता के कारण, हमें किसी प्रकार की अनुमति नहीं मिलती है, शिवसेना नेताओं ने ऐसा आरोप लगाया है ।
    बिरला गेट के पास उल्हासनगर- १चौक में नीलकंठ का मंदिर है। स्थानीय शिवसेना नेताओं ने इस मंदिर के एक तरफ की सड़क को बंद करके मंच स्थापित किया था। यह सड़क कल्याण-नगर स्टेट हाईवे का एक कनेक्टर है, जो बहुत व्यस्त रहता है। कल, २३ मार्च को शिव जयंती के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था । हीराली फाउंडेशन की अध्यक्ष सरिता खानचंदानी ने इस कार्यक्रम पर आपत्ति जताई है और ठाणे के पुलिस आयुक्त के पास शिकायत दर्ज कराई है। पहले भी उल्हासनगर -४ की ओर जाने वाली सड़क में एक मंच बनाकर ध्वनि प्रदूषण करने के लिए नगरसेवक शेरी लुंड के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उस समय, सरिता खानचंदानी ने इस मामले को उठाया था। उल्हासनगर पुलिस स्टेशन के दस्ते, आदर्श आचार संहिता, उल्हासनगर नगर परिषद के मनीष हिवरे, शनिवार को शाम ६ बजे मौके पहुंचे और यातायात में बाधा डालते हुए परिवहन के मार्ग से तुरंत स्टेज को हटाकर रॉड खाली करवाया । शिवसेना के शहर प्रमुख राजेंद्र चौधरी और युवा विंग के अधिकारी बाला श्रीखंडे ने सोशल मीडिया पर आरोप लगाया कि हमने शिव जयंती मनाने के लिए नगरपालिका प्रशासन, तहसीलदार कार्यालय, प्रांत अधिकारी से अनुमति मांगी थी, लेकिन आचार संहिता के कारणों को बताते हुए उन्होंने हमें अनुमति देने में टालमटोल करते रहे।
  • फेमस ब्रांड के डुप्लीकेट टीवी बनाकर बेचने वाला ठग हुआ गिरफ्तार !

    By fast headline india →
    फेमस ब्रांड के डुप्लीकेट टीवी बनाकर बेचने वाला ठग हुआ गिरफ्तार !

     60 डुप्लीकेट टीवी अलग अलग ब्राड के हुआ बरामद !

    सोनी,सैमसंग, आईवा और एल. जी. जैसे बड़े ब्रांड के नाम करता था इस्तेमाल !

    5,51,500 रुपए कीमत का माल हुआ  जब्त !

    क्राइम ब्रांच यूनिट 5 के द्वारा दिया गया कार्यवाई को अंजाम ! 

    ठाणे-ठाणे पुलिस आयुक्तालय में हुई प्रेसवार्ता में बताया गया कि ब्रांडेड कंपनियों के टीवी के नाम पर बनावटी टीवी बेचकर ग्राहकों को फसानेवाले ठग को ठाणे क्राइम ब्रांच यूनिट-5 ने गिरफ्तार किया है।
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार इस मामले में वरिष्ठ अधिकारियों से आदेश मिलने के बाद वागले यूनिट-5 के पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों ने जानकारी निकाली तो पता चला कि भिवंडी स्थित काल्हेर के एक दुकान में असेंबल किए हुए सादे टीवी को सोनी,सैमसंग, आईवा और एल. जी. जैसे ब्रांडेड कंपनियों का लोगो लगाकर उसे बेचकर ग्राहकों को फ़ंसाया जा रहा है।इसी जानकारी के आधार पर क्राइम ब्रांच वागले यूनिट-5 की टीम ने कल्हेर स्थित एच. बी. इलेक्ट्रॉनिक्स एंड होम एप्लायंसेस में कार्रवाई करके आरोपी अजय बाल्मीक सिंह को गिरफ्तार करके कार्यालय में लाया।यहां उसने पूछताछ में बताया कि वह सादे टीवी को सोनी,सैमसंग, आईवा और एल. जी. जैसे ब्रांडेड कंपनियों का लोगो लगाता था और अपने सॉफ्टवेयर द्वारा टीवी में कंपनी का सिंबल अपलोड करता था।इस टीवी को वह ब्रांडेड टीवी बताकर ग्राहकों को बेचता था।इस आरोपी के दुकान से क्राइम ब्रांच ने सोनी कंपनी के 10 टीवी,सैमसंग और आईवा कंपनी के 2 टीवी,लोकल असेंबल किए हुए 48 टीवी,सोनी,आईवा, सैमसंग,एल.जी. कंपनी का 275 लोगो,कॉम्पपैक कंपनी का 1 लैपटॉप और कंपनी के सॉफ्टवेयर वाला 1 पेन ड्राइव कुल मिलाकर 5,51,500रुपए का माल बरामद किया है।आरोपी अजय को 25 मार्च तक पुलिस कस्टडी में रखा गया है, इसने और भी अपराध किए हैं क्या,इसकी जांच चल रही है।पुलिस ने नागरिकों से अपील की है कि अगर इस प्रकार की कोई फर्जीवाड़ा उनके साथ हुआ है तो आकर संपर्क करें। इस कार्रवाई को वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच वागले यूनिट-5 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक जयराज रणवरे,सहायक पुलिस निरीक्षक प्रशांत पवार,पुलिस उप निरीक्षक शिवराज बेंद्रे, श्रीनिवास तुंगेनवार,सहायक पुलिस उप निरीक्षक बाबू चव्हाण, निवृत्ति महांगरे,दिलीप तड़वी, देवीदास जाधव, विजयकुमार गोर्हे, मनोज पवार,राजकुमार पाटिल और उनकी टीम ने अंजाम दिया है।
  • होली के दिन ट्रैफिक पुलिस ने की बड़ी कार्यवाई ! 922 ड्रिंक ड्राइव,490 मामले किया दर्ज !

    By fast headline india →
    होली के दिन ट्रैफिक पुलिस ने की बड़ी कार्यवाई !

     922 ड्रिंक ड्राइव,175 ट्रिपल सीट,37 बिना हेलमेट, स्टंड 11 नो एंट्री,27, मामला दर्ज हुआ490 ! 

     ठाणे-ठाणे ट्रैफिक पुलिस ने होली के दिन एक विशेष मुहिम के तहत नियमो का उलंघन करने वाहन चालकों बड़ी कार्रवाई करते हुए कई लोगो पर मामले दर्ज किया है। 
    बता दे कि ठाणे ट्रैफिक पुलिस होली त्यौहार के मद्दे नजर एक विशेष मुहिम चलाकर नियमो की अनदेखी करने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया है इस कार्यवाई की जो जानकारी सामने आई है उसमें ड्रिंक एंड ड्राइव के 922 मामले है तो ट्रिपल सीट के,175,बिना हेलमेट के 37,स्टंड ड्राइव के 11 और नो एंट्री में ड्राइविंग के 27 और दूसरे मामलों 490 लोगो के केस दर्ज किया है, यह जानकारी ठाणे ट्रैफिक विभाग से मिली है। हर साल होली त्यौहार मनाने के बाद लोग ट्रैफिक नियमो को ताख पर रखकर रोडो पर घूमते नजर आते है इसी को ध्यान में रखर कर इस बार ट्रैफिक पुलिस ने दोपहर 12 बजे के बाद होली खेलकर रोडो पर नशे में होने के बादजूद ड्राइविंग करने वाले व नियमो को तोड़ने वाले के खिलाफ बड़ी कार्यवाई किया है इस कार्यवाई से आशा ब्यक्त है लोग नसीहत लेगे और त्यौहार के मोको पर भी नियमो जी अनदेखी नही करेगे ऐसी इस कार्यवाई के बाद हो सकता है !
  • गोल्ड लोन देने वाली कंपनी की जानकारी दूसरी प्रतिस्पर्धी कंपनी की गुप्त जानकारी देने को लेकर पुलिस में दर्ज हुआ मामला !

    By fast headline india →
    गोल्ड लोन देने वाली कंपनी की जानकारी दूसरी प्रतिस्पर्धी कंपनी की गुप्त जानकारी देने को लेकर पुलिस में दर्ज हुआ मामला !

    आईआईएफएल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ग्राहकों के बारे में व्यक्तिगत जानकारी, कंप्यूटर से डेटा, मोबाइल नंबर' किया थे शेयर !

    दो कर्मचारियों के विरुद्ध दर्ज हुआ 420 का मामला !
     फाइल फोटो

     उल्हासनगर-उल्हासनगर स्थित नामचीन कंपनी जो सोना गिरवी रखकर पैसा देती थी,उस कंपनी का एक अधिकारी ग्राहकों की व्यक्तिगत जानकारी अपने प्रतिद्वंद्वी कंपनी को देकर उसे लाभ पहुंचाने की कोशिश की है। इस मामले में दो लोगों पर मामला दर्ज किया गया है।
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गणेश विनायक भोईर सोने की गिरवी कंपनी IIFL प्राइवेट लिमिटेड की उल्हासनगर शाखा के शाखा प्रबंधक के रूप में कार्यरत था। गणेश ने जुलाई २०१८ से अक्टूबर २०१८ के बीच प्रतिस्पर्धी कंपनी में काम करने वाले सचिन नामदेव भोईर के साथ दोस्ती की, आईआईएफएल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के ग्राहकों के बारे में व्यक्तिगत जानकारी, कंप्यूटर से डेटा, मोबाइल नंबर, आदि व्हाट्स अप दे दिया । गणेश विनायक भोईर ने अपने पद का दुरुपयोग किया और प्रतिस्पर्धी कंपनी के कर्मचारी सचिन नामदेव भोईर को सारी जानकारी दी ।इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ सूचना और प्रौद्योगिकी अधिनियम २००० की धारा ६६, ७२ (ए) के तहत प्रतिस्पर्धा कंपनी को धोखा देने और धोखाधड़ी करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है। उल्हासनगर पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक (अपराध) आरए सावंत इस मामले में आगे की जांच कर रहे हैं।
  • अबैध तरीके से बेची जा रही गांवटी दारू के अड्डों पर पुलिस ने मारा छापा !

    By fast headline india →
    अबैध तरीके से बेची जा रही देशी दारू के अड्डों पर पुलिस ने मारा छापा ! 

    एक हप्ते में दर्जनों ठिकानों पर की गई कार्यवाई ! 

    स्टेट एक्साइज की मिली भगत से चलता है यह पूरा अवैध धंधों का कारोबार ? 

    पुलिस की हुई कार्यवाई से शहर के अवैध तरीके से चल रहे नशे के ठिकानों हुआ पर्दाफाश ! 
     फाईल फोटो

    उल्हासनगर -उल्हासनगर में पिछले दो दिनों में, परिमंडल ४ की पुलिस ने विभिन्न स्थानों पर छापा मारकर अबैध तरीके देशी दारू बेचनेवालों के खिलाफ कार्रवाई की है। जो काम स्टेट एक्साइज विभाग को करना चाहिए वह अब पुलिस विभाग के कर्मचारियों कर रहे है ! 
    बता दे कि पंचशीलनगर सुभाष पहाड़ी कैंप नं ४ में दिनेश गागड़े , कैंप नं३ में चोपड़ा कोर्ट के बाजू में आंबेडकर नगर में दीपक महाले, कैंप नं ५ के गणेश नगर झोपड़पट्टी में अकबर चौधरी को शराब बांटते हुए पाया गया ।इनके खिलाफ मद्य निषेध की धारा ६५ (ई) के अनुसार मामला दर्ज कर लिया गया है। दो दिनों में ६ लोगों को देशी दारू बेचते हुए गिरफ्तार किया गया है।। उल्हासनगर शहर में, इस तरह की देशी हाथभट्टी शराब की बिक्री कई वर्षों से चल रही है और नागरिक अक्सर इसके बारे में कई बार शिकायत भी कर चुके हैं। लेकिन पुलिस प्रशासन और राज्य आबकारी विभाग आंख बंदकर अवैध कारोबार को आश्रय दे रहे थे। हालांकि, शहर के निवासियों ने पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई से संतोष व्यक्त किया है।
  • होली फेस्टिवल के नाम पर शराब व सवाब परोसने की थी तैयारी ? महिलाओं के लिए की गई थी अभद्र टिप्पणी !

    By fast headline india →
    होली फेस्टिवल के नाम पर शराब व सवाब परोसने की थी तैयारी ?

     साई पार्टी की नगरसेविका के पति का है यह होटल !

     छावा संगठन की शिकायत पर कार्यक्रम हुआ रद्द ! 

     होटल के फेसबुक साइड के जरिये किया था विज्ञापन महिलाओं के लिये लिखी थी आपत्तिजनक टिप्पणी ! 

    छावा संगठन ने लिखित शिकायत देकर होटल मालिक पर मामला दर्ज करने किया है मांग जल्द नही हुआ एक्शन तो करेगे आंदोलन ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में होली के लिए सोशल मीडिया पर डाले गए इस विज्ञापन में उल्हासनगर के एक होटल में शराब और चुंबन जैसे शब्दों का उल्लेख किया गया है। विज्ञापन पर छावा संगठन ने रेलवे स्टेशन के उल्हासनगर पश्चिम में पिंटो पार्क पी 9 ड्रंकार्ड होटल के खिलाफ मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन में शिकायत की है। इस होटल में होली पार्टी का आयोजन किया गया है। इस पार्टी का प्रचार फेसबुक पर पोस्ट किया गया था। बड़ी संख्या में इस पोस्ट तक पहुंचने के लिए एक विशिष्ट हैशटैग का इस्तेमाल किया गया था। इसमें 'गर्ल्स वो गर्ल्स'हैश टैग के साथ इस्तेमाल किया गया था। युवा और लड़कियों को आकर्षित करने के लिए, इसमें संगीत, डीजे, बीयर, वोदका, लड़कियों को चुंबन और शॉट्स भी शामिल हैं। यह होटल साई पार्टी की महिला नगरसेविका के पति का है ऐसा सामने आया है ! 
    बता दे कि छावा संगठना के प्रदेशाध्यक्ष निखिल गोले ने इस पर आक्षेप लिया है उन्होंने कहा कि होली का यह त्योहार हिंदू संस्कृति का एक पवित्र त्योहार है और हर किसी को इसकी पवित्रता बनाए रखनी चाहिए। पी 9 ड्रंकर्ड का विज्ञापन असभ्य और सामाजिक मर्यादा को गिराने वाला है, यही वजह है कि हम इस तरह के कार्यक्रम का विरोध करते हैं। पी 9 ड्रंकार्ड के प्रमुख भावेश भाटिया ने कहा कि हमने विज्ञापन में कहीं भी अश्लील शब्दों का उल्लेख नहीं किया। इस विज्ञापन को बढ़ावा देने की जिम्मेदारी निजी संगठन को दी गई थी। उन्होंने हैशटैग का इस्तेमाल किया है। हालांकि,हिंदू संस्कृति को इससे ठेस पहुंच रही हैं, ऐसा निखिल गोले के माध्यम से मुझे सुनने में आया है,इसीलिए, मैंने इस के बाद निर्धारित होली कार्यक्रम को रद्द कर दिया है,मैं भी एक हिंदू हूं और यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम संस्कृति की रक्षा करें।
  • ज्यूस सेंटर के मालिक पर हमला करने वाला सुतखोर आरोपी रोशन माखीजा अभी भी है फरार !

    By fast headline india →

    ज्यूस सेंटर के मालिक पर हमला करने वाला सुतखोर आरोपी रोशन माखीजा अभी भी है फरार ! 

    10℅ ब्याज पर चलाता है पैसा,कानून को दिखा रहा ठेंगा ! 

     डॉक्टर पर आरोपी बना रहा झूठी रिपोर्ट देने का दबाव-परिवार वाले ने किया आरोप अग्रिम जमानत लेने की फिराक में आरोपी माखीजा ! 

     10℅ ब्याज पर दिया था एक लाख रुपये'चेक वापस मांगने पर हुआ विवाद ! 

     आरोपी माखीजा पर पहले भी दर्ज है अनेक मामले ! 

     60 टाके लगने के बाद भी नही दर्ज हुआ 307 का मामला ? 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में 10 टक्के ब्याज पर रुपया देने वालो का खुलेआम गुंडा राज देखने में आया है ऐसे ही एक मामले सुतखोर रोशन मखीजा ने ज्यूस सेंटर के मालिक पवन गुप्ता पर जानलेवा हमला किया था। दो दिन बीत जाने के बाद भी आरोपी रोशन मखीजा को पुलिस गिरफ्तार नही कर पाई है । आरोपी अग्रिम जामीन के जुआड में ?
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, पवन उर्फ ​​विजय गुप्ता का अमन टॉकीज रोड पर निर्मला ज्यूस सेंटर नामक दुकान है। पवन ने कुछ दिन पहले रोशन मखीजा से ब्याज पर एक लाख रुपये लिए थे। जिस का ब्याज 10℅था उसमें से एक लाख वापस कर दिए थे उसी का ब्याज का एक लाख को लेकर रोशन माखीजा पवन से हमेशा पैसे के लिए तगादा करता रहता था। पवन ने कहा कि रोशन के पास उसका एक डिमांड ड्राफ्ट पड़ा है, उसे वापस देने के बाद ही वह पैसा वापस देगा। लेकिन रोशन माखीजा पैसा वापस लेने पर अड़े रहे जब पैसे देने से पवन ने इनकार कर दिया तो उससे नाराज होकर अपने अन्य एक साथियों के साथ पवन पर जानलेवा हमला कर दिया पवन के पीठ और पेट पर धारदार हथियार से चार वार  किया गया है। जिसके बाद पवन को तुरंत मध्यवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया था,लेकिन उसकी हालत गंभीर होने के बाद उसे भोसले अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टर ने बताया कि उसे 60 से अधिक टांके लगाए गए हैं।। पवन ने आरोप लगाया है कि रोशन मखीजा टीम ओमी कलानी कार्यकर्ता है। इस मामले में मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन ने भारतीय दंड संहिता की धारा ३२६ के तहत मामला दर्ज किया है। हालांकि, पवन की पत्नी ने भादवी ३०७ के तहत मामला, दर्ज करने की मांग की है, क्योंकि पेट और पीठ में लगी चोट अधिक गहरी है। सहायक पुलिस आयुक्त धुला ढले ने कहा कि डॉक्टर की रिपोर्ट मिलने के बाद धारा बढ़ाने का निर्णय जाएगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भोसले अस्पताल के डॉक्टर पर माखीजा के द्वारा दबाव बनाकर सही रिपोर्ट दबाने का काम किया जा रहा है, पुलिस इस मामले में आगे क्या करती उस पर भी शाहरवशियो की नजर बनी हुई है, बता दे कि आरोपी माखीजा इससे पहले इस तरह के कई मामले दर्ज हुआ है,बहरहाल आरोपी रोशन माखीजा अग्रिम जमानत लेने में जुटा है,अब पुलिस ऐसे में आरोपी को गिरफ्तार कर पाती है या वह अग्रिम जमानत लेकर मजे से बाहर घूमता रहता है यह भी देखने वाली बात है फिरयादी के परिवार वालो ने आरोप किया है कि पुलिस प्रशासन इस मामले में राजनीतिक दबाव तंत्र के दबाव में काम कर रही है इसी लिए 307 नही लगाया गया और आरोपी को बाहर रहकर जमानत करने का मौका दे रही है, उल्हासनगर में अभी हाल ही में एक सुतखोर ने नेहरू चौक परिसर के धुरु बार में भी जान लेवा हमला किया गया था पूरे शहर में सुतखोरी का यह धंदा रात दिन फल फूल रहा है और इनको कानून का डर नही है यही कारण है कि शहर में ऐसी घटनाओं में अचानक बढ़ोतरी हो रही है समय रहते इन पर कानूनी शिकंजा नही कसा गया तो वो दिन दूर नही जब ये सुतखोर किसी की जान भी ले सकते है इस लिए शहर भर में चल रहे सुतखोरी के धंधे पर पुलिस को लगाम लगाने की जरूरत ताकि इस तरह के तांडव पर पूरी तरह से लगाम लगाई जा सके !
  • कालानी महल पहुचे शिवसेना उम्मीदवार वर्तमान सांसद डॉ, शिंदे !

    By fast headline india →
    कालानी महल पहुचे शिवसेना उम्मीदवार वर्तमान सांसद डॉ, शिंदे ! 

    टीओके अध्यक्ष व पदाधिकारियों से की मुलाकात ! 

    नाराज कालानी को मनाने लगभग सफल रहे शिंदे !

     मुख्यमंत्री, राज्य मंत्री चौहान व भाजपा प्रवक्ता श्वेता शालिनी से चर्चा के बाद लेगे निर्णय-टीओके प्रवक्ता निकम 

    शिंदे ने किया कालानी परिवार के द्वारा किये गए विकाश कामो की सराहना ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में आगामी 29 अप्रैल को होने वाले कल्याण लोकसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए युवा सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे बतौर अतिथि के रूप में टीओके प्रमुख यूथ आयकॉन ओमी कालानी सहित उनके टीओके संगठन के अभिवादन करने कालानी महल पहुचे ,वहाँ पर टीओके के अध्यक्ष ओमी कालानी,महापौर पंचम कालानी,यूटीए अध्यक्ष सुमीत चक्रवर्ती,फोरम अध्यक्ष पित्तु राजवानी ,यूटीए महासचिव दीपक छतलानी ने उनका जोरदार स्वागत किया,टीओके के आदर सम्मान से गदगद हुए सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे ने टीओके प्रमुख ओमी कालानी सहित उनके संगठन के लोगो की तारीफ किया।
    बता दे कि पिछले कुछ दिनों से न्यूज आ रही थी कालानी सांसद शिंदे से नाराज है उसी दूरी को नजदीकियो में बदलने के लिए यह एक प्रयाश था इस प्रयाश में शिंदे सफल होते दिख रहे है !टीओके प्रमुख ओमी कालानी द्वारा आयोजित इस बैठक में टीओके संगठन के सभी प्रमुख पदाधिकारी मौजूद थे,बैठक में टीओके प्रवक्तता कमलेश निकम ने संगठन के पदाधिकारियों का पारम्परिक तरीके से सांसद शिंदे से सभी का परिचय कराया।टीओके व यूटीए पदाधिकारीयो के भाषण के बाद सेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी ने शहर हित मे तत्कालीन विधायक पप्पू कालानी द्वारा किये गए कार्यो सहित महापौर पंचम कालानी व यूथ आयकॉन ओमी कालानी के कार्यो की प्रसंसा किया ! सांसद डॉ. श्री कांत शिंदे टीओके पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव में टीओके का सेना के साथ जुड़ने के बाद अपोजिशन खत्म हो गया और उन्होंने उम्मीद जताई कि पिछले इलेक्शन में 67 हजार वोटो की लीड मिली थी अब टीओके साथ होने के बाद कम से कम 1 लाख से अधिक वोटों की लीड मिलेगी यह अपेक्षा है। हालांकि टीओके भाजपा के बीच उपजा विवाद यह अंदुरुनी मामला है, कालानी महल में सम्पन्न हुई टीओके-सेना की मीटिंग में टीओके प्रवक्तता कमलेश निकम ने कहा कि मुख्यमंत्री, राज्य मंत्री रविन्द्र चौहान व भाजपा प्रवक्तता श्वेता शालिनी के साथ चर्चा के बाद ही टीओके अपना समर्थन डिक्लेयर करेगी। परंतु इस मिडिंग के बाद टीओके युति के उम्मीदवार को समर्थन देगी इससे इनकार नही किया जा सकता है जैसे जैसे चुनाव आएगा वैसे बहुत सारी चीजें खुलकर सामने आएगी !
  • सट्टा बाज़ार का अनुमान, एनडीए करेगी जबरदस्त वापसी !

    By fast headline india →
    सट्टा बाज़ार का अनुमान, एनडीए करेगी जबरदस्त वापसी ! 

    भाजपा को बहुत मिलने का साफ संकेत तो कांग्रेस को 75 से 100 सीट मिलने का अनुमान सट्टा बाजार  ! 

     सपा-बसपा गठबंधन शामिल नहीं है ! 

     मुबई-मुंबई लोकसभा चुनावों की रणभेरी बज चुकी है। राजनितिक पार्टियों, जनता और विश्लेषकों के अलावा सट्टा बाज़ार भी चुनावों पर गहरी नज़र रख रहा है क्योंकि चुनावी माहौल के उतार चढाव से सट्टा बाज़ार का भाव तय होता है। चुनाव तारीखों की घोषणा के बाद से लेकर परिणाम आने के एक दिन पहले तक सट्टा बाज़ार में जबरदस्त गहमा गहमी का माहौल रहता है। राजस्थान के सट्टा बाज़ार में एनडीए की वापसी के कयास लगाए जा रहे हैं। राजस्थान के सीकर के सट्टा मार्केट के अनुसार लोकसभा चुनाव में भाजपा 250 का आंकड़ा पार करेगी और एनडीए को 300 सीटें मिलेगी। मतलब साफ़ है कि सट्टा बाज़ार में भाजपा की जीत पर भाव खुला हुआ है। बुकीज के अनुसार 14 फ़रवरी के पहले तक भाजपा पर 6 के बदले 11 का भाव था जबकि कांग्रेस पर 5 के बदले 10 का भाव चल रहा था। मतलब कि अगर आप भाजपा पर 6000 रुपये लगाते हैं तो जीत के बाद आपको 11,000 रुपये मिलते जबकि कांग्रेस पर 5,000 रुपये लगाने पर 10,000 रुपये मिलते। लेकिन 14 फ़रवरी के बाद हालात बदल चुके हैं। पुलवामा में हुए आ'तंकी हमले और फिर एयर स्ट्राइक के बाद खेल पूरी तरह पलट गया। अब लोग जीत हार पर नहीं बल्कि सीटों कि संख्या पर दांव लगा रहे हैं। बुकीज के अनुसार 14 फ़रवरी के पहले तक भाजपा पर 6 के बदले 11 का भाव था जबकि कांग्रेस पर 5 के बदले 10 का भाव चल रहा था। मतलब साफ़ है कि लोगों में मन में इस बात की शंका नहीं कि कौन सी पार्टी जीत रही है बल्कि लोग अब इस बात पर सट्टा लगा रहे हैं कि सीटें कितनी आ रही है? जोधपुर के पास फालोडी सट्टा बाजार में भाजपा को 250 सीटें मिलने का अनुमान लगाया जा रहा है और एनडीए को 300 सीटें मिलने का आनुमान लगाया जा रहा है। मतलब कि अगर आप भाजपा के 230 - 250 सीटें जीतने पर 4000 रुपये लगते हैं तो 250 सीटें आने पर आपको 12,000 रुपये मिलेंगे। जबकि कांग्रेस गठबंधन के 74 से 75 सीटें जीतने पर दांव लगाया जा रहा है। इस कांग्रेस गठबंधन में सपा-बसपा गठबंधन शामिल नहीं है। बल्कि वही पार्टियाँ शामिल है जिसके साथ कांग्रेस चुनाव में जा रही है। हालाँकि ये ट्रेंड स्थाई नहीं है। अभी चुनाव प्रचार खुले तौर पर शुरू नहीं हुआ है। अभी सबकुछ शुरूआती दौड़ में है। अभी कैम्पेन लांच हुए हैं। अभी ये ट्रेंड बदला भी सकता है लेकिन ट्रेंड सीटों की संख्या पर ही ऊपर नीचे होगा। पार्टियों /गठबंधन को ले कर नहीं।
  • सुतखोर ने ज्यूस सेंटर के मालिक पर किया जानलेवा हमला ! सुतखोरों का उल्हासनगर में तांडव !

    By fast headline india →
    सुतखोर ने ज्यूस सेंटर के मालिक पर किया जानलेवा हमला !

    10℅ ब्याज पर दिया था दो लाख रुपये'चेक वापस मांगने पर हुआ विवाद !

    आरोपी माखीजा पर पहले भी दर्ज है अनेक मामले !

    60 टाके लगने के बाद भी नही हुआ दर्ज 307 का मामला ?

    राजनीतिक दबाव के चलते पुलिस ने नही दर्ज किया 307 का मामला-परिवार के लोगो ने किया आरोप !

    आरोपी की तलाश के लिए पुलिस ने बनाई दो टीम !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसमें एक युवक पर उसके द्वारा दिए गए ब्याज के मुद्दे पर एक धारदार हथियार से नृशंस हमला किया गया है। आरोपी रोशन मखीजा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। सूत्रों के अनुसार, पवन उर्फ ​​विजय गुप्ता का अमन टॉकीज रोड पर निर्मला ज्यूस सेंटर नामक दुकान है। पवन ने कुछ दिन पहले रोशन मखीजा से ब्याज पर दो लाख रुपये लिए थे। जिस का ब्याज 10℅था उसमें से एक लाख वापस कर दिए थे बचे एक लाख को लेकर रोशन माखीजा पवन से हमेशा पैसे के लिए तगादा करता रहता था। पवन ने कहा कि रोशन के पास उसका एक डिमांड ड्राफ्ट पड़ा है, उसे वापस देने के बाद ही वह पैसा वापस देगा। लेकिन रोशन माखीजा पैसा वापस देने के मुद्दे पर नाराज होकर अपने अन्य एक साथियों के साथ पवन पर जानलेवा हमला कर दिया पवन के पीठ और पेट पर धारदार हथियार से चार वार  किया गया है।
    गौरतलब हो कि पहले मध्यवर्ती अस्पताल में भर्ती कराया गया था,लेकिन उसकी हालत गंभीर होने के बाद उसे भोसले अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डॉक्टर ने कहा कि उसे ६० से अधिक टांके लगाए गए हैं।। पवन ने आरोप लगाया है कि रोशन मखीजा टीम ओमी कलानी कार्यकर्ता है। इस मामले में मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन ने भारतीय दंड संहिता की धारा ३२६ के तहत मामला दर्ज किया है। हालांकि, पवन की पत्नी ने भादवी ३०७ के तहत मामला, दर्ज करने की मांग की है, क्योंकि पेट और पेट में लगी चोट अधिक गहरी है। सहायक पुलिस आयुक्त धुला ढले ने कहा कि डॉक्टर की रिपोर्ट मिलने के बाद धारा बढ़ाने का निर्णय जाएगा।
    बता दे कि आरोपी माखीजा इससे पहले इस तरह के कई मामले दर्ज हुआ है यही नही उल्हासनगर में अभी हाल ही में एक सुतखोर ने नेहरू चौक परिसर के धुरु बार में भी जान लेवा हमला किया गया था पूरे शहर में सुतखोरी का यह धंदा रात दिन फल फूल रहा है और इनको कानून का डर नही है यही कारण है कि शहर में ऐसी घटनाओं में अचानक बढ़ोतरी हो रही है समय रहते इन पर कानूनी शिकंजा नही कसा गया तो वो दिन दूर नही जब ये सुतखोर किसी की जान भी ले सकते है इस लिए शहर भर में चल रहे सुतखोरी के धंधे पर पुलिस को लगाम लगाने की जरूरत ताकि इस तरह के तांडव पर पूरी तरह से लगाम लगाई जा सके !
  • वालधुनी नदी में सारे नियमो को ताख पर किया जा रहा एस टी पी योजना का काम !

    By fast headline india →
    वालधुनी नदी में सारे नियमो को ताख पर किया जा रहा एस टी पी योजना का काम ! 

     अमृत योजना के तहत भूयारी गटर योजना के तहत हो रहा विकाश कार्य ! 

    नदी के बीच से घूमी हुई पाइप लाइन से बरसात में निचले इलाकों घुसेगा बारिस का पानी ? 

    ठेकेदारों के द्वारा पैसे बचाने के चक्कर में किया जा रहा है खटिया दर्जे का काम ! 

    पहली बारिस में ही कई जगहों की पाइप लाइन है टूटने का खतरा !  

    उल्हासनगर-उल्हासनगर के वालधुनी नदी पर बन रहे तीन एस टी पी को आपस जोड़ने के लिये राज्य सरकार और उल्हासनगर मनपा व अम्बरनाथ नपाके द्वारा अमृत योजना के अन्तर्गत सीमेंट पाइपलाइन डालने का कार्य जोरदार तरीके से किया जा रहा है,इस कार्य को करने नियमो को ताख पर रख कुछ काम हो रहा है ऐसा देखने में सामने आ रहा है जिसके चलते बारिस के समय नदी के निचले इलाकों बसे लोगो को घरों में पानी घुसने की संभावनों को जन्म दिया है ऐसा कहना सही होगा यदि ऐसा हुआ तो बड़े पैमाने पर जानो माल का नुकसान होना तय है !
    बता दे कि पिछले कुछ महीनों से बलधुनी नदी में सीमेंट की बड़ी पाइपलाइन बिछाने के लिये नदी के अंदर में ट्रकों के आवागमन के लिये रास्ते बनाये गये, खुदाई की गई और पाइपलाइन निर्माण कार्य मे आड़े आनेवाले कई अवैध निर्माणों को भी प्रशासन और ठेकेदार द्वारा तोड़ा गया है, यही नही पाइप लाइन को नदी के एक किनारे से डालने की योजना है परंतु सारे नियमो की अनदेखी करते हुए ठेकेदारों के द्वारा कुछ जगहों पर नदी के एक किनारे से दूसरे किनारे तक पाइप लाइन डाली जा रही जिसके चलते नदी में डाली गई यह पाइप लाइन एक छोटे बांध का काम करने वाले है यही नही बरसात में पानी के बहाव में इनका उखड़ने का डर भी और इनकी वजह से जो जल जमाव होगा उसका खामियाजा नदी के किनारे पर बसे लोगो को झेलना पड़ेगा यह भी तय है यही नही बरसात शुरू होते ही नदी में बनाये गये मिट्टी के रास्ते, निर्माणों का तोड़ा गया मलबा और डेब्रिज़ नदी के बहाव को रोकने का कार्य कर सकते है, परिणामतः नदी का पानी घरों में घुस सकता है, साथ ही ठेकेदार द्वारा अपनी मर्ज़ी से मनमाने तरीके से पाइपलाइन और रास्ता मोड़कर कार्य करने की वजह से बाढ़ बरसात का पानी इमारतों में घुसने की संभावना प्रबल है, ऐसी शिकायत नदी के आसपास के इमारत वासी कर रहे है, बरसात के समय कोई मुसीबत का सामना ना करना पड़े इसलिये इसकी उपाययोजना पहले ही की जाये, तकनीकी तरीके से पाइपलाइन रास्ता निकाला जाये और कार्य पुर्ण होते ही नदी पात्र में बनाये गये कच्चे रास्ते की मिट्टी पत्थर, डेब्रिज़ और अन्य मलबा हटाया जाये ताकि कोई पर्यावरण हानी ना हो और इमारतें भी सुरक्षित रहे।ऐसा वालधुनी उल्हास बिरादरी ने प्रशासन से मांग किया है जल्द ही पत्र देने की बात कही है !
  • तीन करोड़ की ड्रग्स पुलिस ने किया जप्त !

    By fast headline india →
    तीन करोड़ की ड्रग्स पुलिस ने किया जप्त ! 

    दो ड्रग्स तस्कर को पुलिस ने किया गिरफ्तार !

     ठाणे-ठाणे ग्रामीण पुलिस ने ठाणे के भायंदर से २५ किलोग्राम एफेड्रिन जब्त किया है। पुलिस अधीक्षक शिवाजी राठौड़ ने बताया कि इस एफेड्रिन की अंतरराष्ट्रीय बाजार में ३ करोड़ रुपए कीमत बताई जा रही है।इस मामले में दो ड्रग तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। योगेश शाह (50) और सादो जमादार दोनों आरोपी कांदिवली, मुंबई से हैं।      
    ठाणे ग्रामीण पुलिस के सहायक पुलिस अधीक्षक अतुल कुलकर्णी को सूचना मिली थी कि नवघर पुलिस स्टेशन के क्षेत्र में होटल बंटास में एपिड्रिन के कुछ तस्कर पदार्थ बेचने आनेवाले हैं,इसी सूचना के आधार पर पुलिस ने शनिवार सुबह जाल बिछा दिया । सुबह करीब 4.55 बजे, दो संदिग्ध रिक्शा से आए और तभी पुलिस ने छापा मारकर दोनों को गिरफ्तार किया।उनके पास के दो बैगों की जांच की गई तो उसमें २५ किलोग्राम एफेड्रिन पाई गई। इस मामले में दोनों आरोपियों के खिलाफ नवघर पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है।आगे की जांच पुलिस कर रही है।
  • उल्हासनगर का स्काईवॉक बना अपराधियों का अड्डा ! कभी हो सकता है बड़ा हादसा ?

    By fast headline india →
    उल्हासनगर का स्काईवॉक बना अपराधियों का अड्डा ! 

    स्काईवॉक पर पहले हो चुकी दो हत्याऐ,पुलिस कांस्टेबल पर हुआ था हमला ! 

    भंगार चोरों ने बहुत सारे पतरे किये गायब ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर रेलवे स्टेशन के पास स्काईवॉक लोगों की सुविधा के लिए बनाया गया था, लेकिन स्काईवॉक पर गैंगस्टरों, चरसियों, शराबियों और भंगारवालों द्वारा कब्जा कर लिया गया है। स्काईवॉक के पत्रों, पाईप और सरिया बड़ी संख्या में चोरी होने के कारण स्काईवॉक बहुत खस्ताहाल बन गया है। स्काईवॉक, जो उल्हासनगर रेलवे स्टेशन के पास पूर्व और पश्चिम को जोड़ता है, २०१० में बनाया गया था, 
    बता दे कि एमएमआरडीए ने ३४ करोड़ रुपए खर्च करके स्काईवॉक का निर्माण किया था। हालांकि,स्काईवॉक के रखरखाव और सुरक्षा को बनाए रखने के लिए मनपा ,एमएमआरडीए और रेलवे प्रशासन के बीच विवाद है। स्काईवॉक की तरफ से आयरन रॉड, पाइप ,पत्रा ,लाइट आदि चोरी हो रहे हैं। चोरी की मात्रा इतनी बढ़ गई है कि कुछ दिनों में स्काईवॉक केवल ढांचा ही दिखेगा। इसे चुराने के लिए कई भंगार गिरोह सक्रिय हो गए हैं, उनमें से किसी को भी कोई डर नहीं है। दिन में युवा-युवतियों के अश्लील हरकतें यहां चलते रहते हैं, जिसके कारण आम जनता के लिए चलना मुश्किल हो गया है। रात 10 बजे के बाद स्काईवॉक पर शराबी ,गंजेडीयों की टोली बैठी रहती है ,जो रात को आने-जाने वाले यात्रियों को हथियारों के साथ डराकर लूटते हैं। इस जगह पर, 4 लोगों के एक समूह ने कुछ महीने पहले एक पुलिसकर्मी को पीटा था।एमएमआरडीए और मनपा प्रशासन के बीच एक विवाद है कि किसे स्काईवॉक का रखरखाव करना चाहिए,एमएमआरडीए का कहना है कि हमने स्काईवॉक का निर्माण किया है और इसे मनपा प्रशासन को हस्तांतरित कर दिया है। अब मनपा को इसका ध्यान रखना होगा। उल्हासनगर के नगर आयुक्त अच्युत हंगे ने इस संबंध में कहा कि स्काईवॉक की पूरी जिम्मेदारी एमएमआरडीए प्रशासन की है, उन्हें इस मामले को देखना चाहिए। यह स्काईवॉक बहुत कम समय में दयनीय हो गया है, इसके लिए एक संरचनात्मक ऑडिट की आवश्यकता है। नागरिकों की सुरक्षा का मुद्दा भी बहुत गंभीर है, और यहां सुरक्षा गार्डों को रखने की बहुत आवश्यकता है। कल्याण - कर्जत - कसारा रेलवे प्रवासी संघ के अध्यक्ष राजेश घनघव ने ऐसा अपना विचार व्यक्त किया है।
  • साई वसन शाह उद्यान के उद्धघाटन मामले में गंगाजल पार्टी के नगरसेवक शेरी लुंड पर दर्ज हुई एफआईआर !

    By fast headline india →
    साई वसन शाह उद्यान के उद्धघाटन मामले में गंगाजल पार्टी के नगरसेवक शेरी लुंड पर दर्ज हुई एफआईआर ! 

     हिराली फाउंडेसन की अध्यक्ष सरिता खानचंदानी रायगड के पालकमंत्री,विधायक, उमपा आयुक्त,महापौर,विरोधी पक्ष नेता,सिंधी संतो पर मामला दर्ज करने के लिए हाईकोर्ट में करेगी एफिडेविड फाइल ! 

     उमपा लाईट विभाग भी दर्ज करेगी बिजली चोरी का मामला ?

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में 5 मार्च व्हीनस चौक परिसर में साई वशन शहा गार्डन बनाया गया ,जिसका उद्धघाटन रायगढ़ के पालकमंत्री व राज्य मंत्री रविन्द्र चौहान,साई कालीराम के हाथों किया गया,इस उद्यान के उद्धघाटन के लिए बनाये गए स्टेज सहित स्थानीय पुलिस से कोई परमिशन नही लिया गया था,यही नही हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी समारोह में अपने आकाओं को खुश करने के लिए जमकर पटाखे फोड़े गए।हिराली फाउंडेसन की अध्यक्ष सरिता खानचंदानी की पहल पर विट्ठलवाड़ी पुलिस ने बुधवार की देर शाम पुलिस कांस्टेबल गणेश चौधरी की शिकायत पर गंगाजल पार्टी के नगरसेवक शंकर लुंड उर्फ शेरी पर π 97/19 ,37 (1) (3) 135 के तहत मामला दर्ज किया,वही सरिता खानचंदानी ने पुलिस प्रसासन को आड़े हाथों लेते हुए सवाल खड़ा करते हुए कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री ने जब स्पस्ट कहा है कि नियमो को ताक पर रखने वालों को नही बख्सा जायेगा, तो समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रविन्द्र चौहान,सहित अन्य मान्यवरों पर पुलिस ने मामला दर्ज क्यू नही किया ? खानचंदानी ने कहा कि अन्य मान्यवरों पर मामला दर्ज करने के लिए हाईकोर्ट में एक एफिडेविड फाइल करूंगी। 
    गौरतलब हो कि 5 मार्च को उल्हासनगर नम्बर चार के व्हीनस चौक परिसर में नगरसेविका कांचन अमर लुंड के प्रयासों से बने एक छोटा गार्डन जिसका नाम साई वशन शहा गार्डन रखा गया है। उसी का उद्धघाटन के लिए राज्य मंत्री रायगड जिल्हा पालकमंत्री रविंद्र चौहान, उल्हासनगर के सभी संत, विधायक बालाजी किणीकर,पूर्व विधायक व भारतीय जनता पार्टी जिल्हा अध्यक्ष कुमार आयलानी, महापौर पंचम कालानी,उपमहापौर जीवन इदनांनी,विरोधी पक्ष नेता धनंजय बोडारे,सभागृह नेता जंमनादास पुरासवाणी व नगरसेवक, नगरसेविका व सभी पक्ष के पदाधिकारी इनकी उपस्थिति में यह कार्यक्रम संपन्न हुआ था।इस कार्यक्रम के प्रमुख मेहमान पालकमंत्री रवींद्र चौहान इस उद्धघाटन के बाद जाकर उल्हासनगर 5 के साई वशन शहा दरबार में जाकर दर्शन भी किये। बता दे कि जब यह कार्यक्रम शुरू हुआ तभी आतिशबाजी शुरू कर दी गयी थी,जिसकी आवाज सुनकर हिराली फाउंडेशन की अध्यक्ष व समाजसेविका सरिता खानचंदनी वहा पर पहुची उन्होंने आकर देखा जो उद्धघाटन समारोह का पंडाल लगा था वो रोड़ के तीन हिस्से से ज्यादा कवर करके लगाया गया था ।जिसके बाद वहा पर उपस्थित पुलिस के आला अधिकारियों से उन्होंने सवाल किया क्या इस कार्यक्रम को प्रशासन से मंजूरी ली गई है क्या ? तो पता चला कि बिना परमिशन के ही यह पंडाल लगाया गया था। जिसके बाद खानचंदनी ने पुलिस से कार्यक्रम में उपस्थित लोगों पर कार्यवाई की बात कही परन्तु प्रशासन के लोग की तरफ से सकारात्मक जवाब नही मिला था। इस लिए इस मामले को लेकर हिराली फाउंडेशन की अध्यक्षा सरिता खानचंदानी ने पहल करना शुरू कर दिया,परिणामस्वरूप विट्ठलवाड़ी पुलिस ने आज साइपक्ष के नगरसेवक व भावी सभागृह नेता शेरी लुंड पर महारास्ट्र पुलिस अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर पल्ला झाड़ने में जुट गई है,जब कि सरिता खानचंदानी ने कहा कि जब राज्य मंत्री सहित अन्य मान्यवरों को पता था कि सड़क के बीचोबीच बनाया गया पंडाल सहित उद्घाटन समारोह अवैध है तो अन्य मान्यवरों को नियमानुसार चलना चाहिए,खानचंदानी ने कहा कि वहां जो-जो मान्यवर मौजूद थे उन सभी की वीडियोग्राफी व फ़ोटो उनके पास मौजूद है और वह एक एफिडेविड फाइल कर सभी मान्यवरों पर मामला दर्ज करने की गुहार हाईकोर्ट से करेगी।
  • गृह मंत्री के नाम पर ब्यापारी से एक जालसाज ने किया लाखों रुपये की ठगी !

    By fast headline india →
    गृह मंत्री के नाम पर ब्यापारी से  एक जालसाज ने किया लाखों रुपये की ठगी ! 

    आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार ! 

    रिवॉल्वर का लाइसेंस दिलाने के नाम पर लाखों रुपये किया हड़प ! 

    पहले था एयर इंडिया का क्रू मेंबर अब बना है ठग ! 

    अंबरनाथ-अंबरनाथ में रिवॉल्वर का लाइसेंस दिलाने के लिए गृहराज्य मंत्री के नाम पर अंबरनाथ में एक ब्यापारी को ठगे जाने का मामला सामने आया है। शिवाजीनगर पुलिस ने इस मामले में उस ठग को गिरफ्तार किया है। जो राज्य के गृह मंत्री से लायसन्स दिलाने के नाम ठगी करता था ! 
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अतुल पेठे इस ठग का नाम है, जो ठाणे में रहता है। अंबरनाथ के उमेश पवार ने रिवाल्वर का लाइसेंस दिलाने के लिए आवेदन किया था। उस समय अतुल पेठे ने उमेश पवार से कहा कि उनका काम गृह राज्य मंत्री रंजीत पाटिल से कराकर देता हूं।ऐसा कहकर इस ठग ने उमेश पवार से साढ़े नौ लाख रुपए ले लिया। जब एक साल बाद भी उन्हें लाइसेंस नहीं मिला, तो पवार को मालूम हुआ कि उनका आवेदन खारिज कर दिया गया है। इसके बाद, पेठे ने भी पवार को हवाहवाई जवाब दिया। इसीलिए पवार ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। तदनुसार, पुलिस ने पेठे के खिलाफ मामला दर्ज किया। पेठे पहले एयर इंडिया में एक केबिन क्रू के रूप में काम कर रहा था। जांच में पता चला है कि उस पर पहले ही आठ अलग-अलग मामले दर्ज किए गए हैं। पुलिस ने स्पष्ट किया है कि अतुल पेठे का रंजीत पाटिल या किसी अन्य मंत्री के साथ कोई संबंध नहीं है।
  • पंजाब नेशनल बैंक उल्हासनगर की ब्रांच को लूटने का हुआ प्रयास !

    By fast headline india →
    पंजाब नेशनल बैंक उल्हासनगर की ब्रांच को लूटने का हुआ प्रयास ! 

    लूटपाट नही कर पाने से हताश लुटेरों ने एटीम मशीन, सीसीटीवी के डीवीआर हार्डडिस्क को तोड़ा ! 

    हिलाइन पुलिस ने अज्ञात लुटेरों के खिलाफ दर्ज किया मामला ! 
    फाईल फोटो

     उल्हासनगर - उल्हासनगर में शनिवार व रविवार के दरम्यान पंजाब नेशनल बैंक की उल्हासनगर दो के शाखा में चोरी करने का प्रयास किया गया। बैंक के बैटरी रूम की खिड़की व ग्रिल तोड़कर बैंक में प्रवेश कर चोरी का प्रयास किया कामयाब न होने पर एटीएम कार्ड मशीन व पासबुक मशीन बैंक में लगे सीसीटीवी डीवीआर ,हार्डडिक्स इत्यादि तोड़कर नुकसान पहुचाया,इस मामले में फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुट गई है !
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 8 से 10 मार्च दरम्यान उल्हासनगर दो नेहरू चौक के करीब स्थित पंजाब नेशनल बैंक में अज्ञात चोरों ने बैंक के बैटरी रूम की खिड़की व ग्रिल तोड़कर बैंक मे प्रवेश कर चोरी का प्रयास किया,इस दौरान चोरो ने वैंक के पासबुक मशीन,एटीएम कार्डमशीन हार्डडिस्क व इटननेट मोडम को नुकसान पहुचकर कर कुल 40 हजार रुपये का नुकसान किया, यहाँ दस्तावेजों को खंगालने के बाद उसने लॉकर खोलने का प्रयास भी किया लेकिन सफलता नहीं मिल सकी,सोमवार सुबह बैंक का दरवाजा खुला देख पुलिस को सूचित किया गया। ठाणे निवाशी वैभव महेंद्र पड़ते की शिकायत पर उल्हासनगर पुलिस ने अज्ञात बदमाश के विरुद्घ चोरी के प्रयास का प्रकरण दर्ज कि
  • टिओके नहीं करेगी शिवसेना उम्मीदवार का प्रचार ?

    By fast headline india →
    टिओके नहीं करेगी शिवसेना उम्मीदवार का प्रचार ? 

    हमारा भाजपा से गठबंधन है, शिवसेना से कोई संबंध नहीं -टिओके प्रवक्ता  

    एक लाख से ज्यादा सिंधी ओट पर है कलानी दबदबा !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर पिछले हफ्ते युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे ने कामगार रुग्णालय का भूमिपूजन किया,इस कार्यक्रम में कलानी परिवार से विधायक और महापौर को आमंत्रित न करने के कारण टिओके ने अपनी नाराजगी व्यक्त की है। उल्हासनगर शहर में अपना प्रभाव रखनेवाली टिओके की नाराजगी शिवसेना उम्मीदवार श्रीकांत शिंदे को दूसरी बार लोकसभा में जाने के मार्ग में बड़ी बाधा बनने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
     उल्हासनगर में कामगार रुग्णालय के भूमिपूजन का कार्यक्रम ३ मार्च को युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे के हाथों संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम में जिले के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे, सांसद श्रीकांत शिंदे, भाजपा के जिलाध्यक्ष कुमार आयलानी, नगरसेवक आदि मान्यवर उपस्थित थे।विशेषतः इस कार्यक्रम में औरंगाबाद के सांसद चंद्रकांत खैरे, अंबरनाथ के विधायक बालाजी किणीकर, कल्याण ग्रामीण के विधायक सुभाष भोईर इनको आमंत्रण दिया गया लेकिन स्थानिय विधायक ज्योती कलानी और महापौर पंचम कलानी को इस कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया था। इस अपमान का बदला लेने के लिए टिओके ने लोकसभा के चुनाव में शिवसेना उम्मीदवार का प्रचार न करने का निर्णय लिया है, ऐसा समझा जा रहा है।इस संदर्भ में टिओके के प्रवक्ता कमलेश निकम से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि विधायक ज्योती कलानी और महापौर पंचम कलानी ने कामगार रुग्णालय के इमारत के संदर्भ में अनेकों बार केंद्र और राज्य सरकार से की थी,आरोग्य मंत्री से मुलाकात कर कामगार रुग्णालय की दुर्दशा के बारे में भी बताया था। हमारी उल्हासनगर मनपा में भाजपा से गठबंधन है,कल्याण लोकसभा में भाजपा का उम्मीदवार नहीं है, इसकारण शिवसेना उम्मीदवार का प्रचार करने का प्रश्न ही निर्माण नहीं होता है, ऐसा निकम ने बताया। टिओके की उल्हासनगर में १ लाख की वोट बैंक है,सिंधी समाज के नेता पप्पू कलानी और राष्ट्रवादी कांग्रेस की विधायक ज्योती कलानी के पुत्र ओमी कलानी की टिओके संघटना है। मनपा में शिवसेना को सत्ता से दूर रखने के लिए भाजपा ने टिओके के साथ गठबंधन किया था। इसका भाजपा को फायदा मिला, जिसके कारण पंचम कलानी को महापौर पद दिया गया। कलानी परिवार का उल्हासनगर, कल्याण, अंबरनाथ में रहने वाले १ लाख से अधिक सिंधी भाषियों पर प्रभाव है। टिओके की नाराजगी का फटका शिवसेना उम्मीदवार को बैठ सकता है, ऐसा राजनीतिक विश्लेषकों का मत है। टिओके नेता ओमी कलानी के हृदय परिवर्तन के लिए शिवसेना क्या करती है, अब सब की नजर इस पर लगी हुई है।
  • २५ मार्च को होगा उल्हासनगर मनपा के ३०५ सफाई कामगारों के भविष्य का फैसला !

    By fast headline india →
    २५ मार्च को होगा उल्हासनगर मनपा के ३०५ सफाई कामगारों के भविष्य का फैसला  !

    १९९३ से न्यायालय में न्याय पाने के लिए लड़ रहे सफाई कामगार यह लड़ाई !


    मुंबई उच्चन्यायालय कामगारों को रखने का दिया था आदेश !

    उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा ने ३०५ सफाई कामगारों को १९९३ से अधर में लटकाकर रखा है। मुंबई उच्च न्यायालय ने इन कामगारों को काम पर रखने का आदेश देने के बाद भी अभी तक इन कामगारों को काम पर नहीं लिया है।इसके कारण इन कामगारों ने फिर से न्यायालय की दौड़ लगाई है। इस मामले में २५ मार्च को न्यायालय में सुनवाई होगी,उसके बाद ही इन कामगारों का भविष्य निर्धारित होगा। 
    उल्हासनगर मनपा में १९९३ से पहले ३०५ कामगार सफाई खाता में काम कर रहे थे, तब मनपा ने इन्हें कुछ कारण देते हुए काम पर से निकाल दिया था। ये सभी कामगार यूनियन की मदद से १९९३ में कामगार न्यायालय में गए थे, जहां न्यायालय ने इन कामगारों के पक्ष में निर्णय देते हुए इन्हें काम पर रखने का आदेश दिया था,लेकिन इस आदेश को चुनौती देते हुए मनपा ने औद्योगिक न्यायालय में अपील किया था।लेकिन औद्योगिक न्यायालय ने कामगार न्यायालय का आदेश कायम रखते हुए मनपा की अपील को खारिज कर दिया।तब मनपा ने मुंबई उच्च न्यायालय की शरण में गए, लेकिन इस न्यायालय ने भी मनपा को फटकार लगाते हुए इन ३०५ कामगारों को काम पर रखने का आदेश दिया। लेकिन मनपा ने इस आदेश को न मानते हुए इन कामगारों को अभी तक काम पर न रख कर उच्च न्यायालय के आदेश का कचरे के डिब्बे में डाल दिया है।इसी दरम्यान ये कामगार १९९३ से न्यायालयीनलड़ाई लड़ रहे हैं, लेकिन मनपा इन्हें काम पर रखने में टालमटोल कर रही है। इन ३०५ कामगारों में से कुछ कामगारों की काम पर लिए जाने की प्रतीक्षा करते करते उनकी मृत्यु भी हो गई है।इतना होने पर भी मनपा को इन कामगारों पर जरा भी दया नहीं आ रही है। न्यायालय की फटकार लगने के बाद उल्हासनगर मनपा प्रशासन ने २०१६ में न्यायालय में संमतीपत्र प्रस्तुत किया था, लेकिन इसके बाद भी इनकी भर्ती नहीं कि।इसलिए अब कामगारों के फिर से न्यायालय जाने पर न्यायाधीश गवई की खंडपीठ ने मनपा पर न्यायालय की अवमानना करने का आरोप लगाते हुए मनपा आयुक्त से पूछा कि ऐसा क्यों न करें ,लेकिन महाराष्ट्र शासन की अनुमति न होने के कारण भर्ती नहीं कर सकते,ऐसा जवाब दिया है।लेकिन न्यायालय ने यह तर्क नहीं माना, ऐसी जानकारी भारतीय कामगार कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष राधाकृष्ण साठे ने दी है।इसके कारण  न्यायालयीन प्रक्रिया में अटकी हुई मनपा ने स्वयं केे कामगार भर्ती का संमतीपत्र रद्द करने के लिए याचिका दाखिल की है। इस याचिका पर अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस, लेबर फ्रंट और भारतीय कामगार कर्मचारी महासंघ इन कामगार संघटनों के हस्तक्षेप करने के कारण मनपा प्रशासन की अड़चने बढ़ गई है। इस याचिका की सुनवाई १५ मार्च को होगी और भर्ती संबंधी मूल याचिका की सुनवाई २५ मार्च को होगी, ऐसा युनियन लीडर राधाकृष्ण साठे ने बताया है।
  • हिराली फाउंडेशन ने महिलाओं को एक्सीलेंस अवार्ड देकर किया सम्मानित !

    By fast headline india →
    हिराली फाउंडेशन ने महिलाओं को एक्सीलेंस अवार्ड देकर किया सम्मानित !

     " स्त्री रूप " महिला शक्ती को समर्पित विशेष कथक नृत्य कु. स्पर्श खानचंदानी की प्रस्तुती भाव विभोर हुए श्रोता ! 

    शहर के विभिन्न क्षेत्रों में अपना अलग मुकाम हासिल करने वाली महिलाओं सम्मान चिन्ह देकर किया सत्कार ! 

    पत्रकार, पुलिस,वकील,प्रोफेसर, समाजसेविका,महिला काजी समेत कई हस्तियों को दिया गया अवार्ड ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में हिराली फाउंडेशन के द्वारा जागतिक महिला दिवस के उपलक्ष्य पर विशेष कार्यक्रम वोकेशनल एक्सीलेंस अवार्ड समारोह 11 मार्च, की दोपहर ताराचंद ऑडिटोरियम, सी एच एम कॉलेज उल्हासनगर तीन के हाल में आयोजित हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में उल्हासनगर सहायक पुलिस आयुक्त सुनील पाटील, सहायक पुलिस आयुक्त धुल्ला टेले , पुलिस प्रशासन के अधिकारियों और चांदीबाई हिम्मतमल मनसुखानी कॉलेज की प्राचार्या मंजू पाठक  की प्रमुख उपस्थित थी, 

    बता दे कि इस कार्यक्रम के जरिये विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत सशक्त महिलाएँ जिसमें, निलिमा चंदीरामानी, मंजू पाठक शिक्षा विभाग, लता भक्तियानी विशनानी सिंधी कोयल गायिका, सजना नाम्बियार हिंदुस्थान टाइम्स पत्रकारिता, मंजुषा शेलार पुलिस विभाग, रिया गीदवानी अध्यात्म, खातुन शेख भारतीय मुस्लिम महिला आंदोलन, श्रिष्टि चुघ शिक्षा पुस्तकालय, सान्वी वलेचा ( रेखा ठाकुर ) युवा राजनीतिज्ञ, आशा विश्वकर्मा ऑटो रिक्शा चालक, नीला मेंघानी आदि अन्य महिलाओं को सन्मानित किया गया, स्त्री अनन्त, स्त्री कथा अनन्ता, नारी के असंख्य रूप का दर्शन कराने, स्त्री शक्ती को नमन करते हुये आदरयुक्त नृत्य नाटिका प्रस्तुति " स्त्री रूप " विषय पर महिला शक्ती को समर्पित विशेष कथक नृत्य कु. स्पर्श खानचंदानी द्वारा प्रस्तुत किया गया जिसको देखकर सभी की आंखे नम हुईं, उल्हासनगर शहर के गणमान्यों, समाजसेवियों और पत्रकारों की उपस्थिति में यह सम्मान समारोह संपन्न हुआ , पुरुषोत्तम खानचंदानी और सरिता खानचंदानी द्वारा हिराली फाउंडेशन के कार्यकलापों की जानकारी और उपलब्धियों को उपस्थितों के समक्ष रखा गया। एल आई सी के हरेश खबरानी और अन्य अधिकारी और समाजसेवियों के साथ पत्रकारों को भी उक्त समारोह में सम्मानित किया गया। अंत में कार्यक्रम की संयोजिका सरिता खानचंदानी ने सभी आभार ब्यक्त किया और कार्यक्रम का समापन किया !