• फर्जी पत्रकारों की टोली ने भंगार ब्यवसाई पहले की जमकर धुलाई फिर लिया लूट !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    फर्जी पत्रकारों की टोली ने भंगार ब्यवसाई पहले की जमकर धुलाई फिर लिया लूट ! 

     हिलाइन पुलिस ने दर्ज किया मामला !  

    पत्रकार बताकर रुकाई गाड़ी फिर दिया घटना को अंजाम ! 

    उल्हासनगर शहर में बड़े पैमाने पर है झोलाछाप पत्रकार ? 

    यही लोग कर रहे है पत्रकारिता को कलंकित करने काम ! 
    मराठी पत्रकार संघ करेगा झोलाछाप पत्रकारों पर कार्यवाई मांग ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर में एक शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है एक भंगार ब्यवसाई को पत्रकार बताकर चार लोगों के द्वारा उससे लूटपाट करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है भंगार ब्यापारी की शिकायत हिलाइन पुलिस स्टेशन में यह मामला दर्ज किया है ! 
    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शिव कालोनी ओटी सेक्शन पांच नम्बर में रहने वाले भंगार ब्यवसाई नियाज अहमद खान ने मामला दर्ज कराया है कि 11 अप्रैल को उसका एक छोटा हाथी टैम्पो एम एच 05-डी के, 3046 भंगार का माल भरकर लाल चक्की परिसर में पहुचा तभी चार लोग आकर गाड़ी को रुकाय और बोले हम पत्रकार यह माल किसका है उसके पास लायसन्स है क्या उसके बाद गाड़ी के ड्राइवर से मेरा नम्बर लिया और मेरे नम्बर इस मो,से फोन 8828620711 करके मुझे बुलाया जब मैं गाड़ी के पास पहुचा उन लोगो मुझसे लायसन्स मांगने लगे तो मैने उनसे कहा कि लायसन्स घर पर तो उन लोगो ने मुझे गाली देते हुए पीटना शुरू कर दिया और गाड़ी का कांच भी फोड़ दिया और मेरे टी शर्ट की जेब से जबरजस्ती 7 हजार रुपये निकाल लिया और वह से फरार हो गए उसके बाद मैंने हिलाइन पुलिस स्टेशन आकर उन लोगो के विरुद्ध मामला दर्ज कराया पुलिस ने 341,324,323,504,427,34 के तहत लूटपाट का मामला दर्ज किया पत्रकार बन कर फोन करने वाले आरोपी व उसके तीन दोस्तो की तलाश में जुटी है,पत्रकार बन कर लूटपाट की घटना को अंजाम देने वाली घटना से जहा पत्रकारिता को बदनाम किया गया है इस लिए जरूरी है कि पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच करके पत्रकार बन कर इस तरह की घटना को अंजाम देने वाले को उनकी सही जगह दिखाए इस पूरे मामले की आगे की जांच पुलिस अधिकारी जरग के द्वारा किया जा रही है ,इस मामले से इतनी बढ़ तो तय है इस शहर पता नही ऐसे कितने और झोलाछाप पत्रकार घूम रहे है जिनको लिखना पढ़ना नही आता और पत्रकारिता के चोला पहन कर इस तरह की घटना को अंजाम देने में लगे हुए है ऐसे में शहर की पुलिस को जरूरत कड़े कदम उठाने की ताकि झोलाछाप लोग जो पत्रकारिता को बदनाम कर रहे उनको उनकी सही जगह दिखाए ताकि भविष्य इस तरह की घटना न हो और पत्रकारिता की अश्मिता बची रहे ! वही मराठी पत्रकार संघ करेगा झोलाछाप पत्रकारों पर कार्यवाई की जल्द मांग ताकि अनपढ़ व गवार बने लोगो पर नकलेल कसी जा सके जो पत्रकारिता को बदनाम कर रहे है उनको उनकी सही जगह दिखाई जा सके ! 
  • No Comment to " फर्जी पत्रकारों की टोली ने भंगार ब्यवसाई पहले की जमकर धुलाई फिर लिया लूट ! "