• 3 मजदूर, सेप्टिक टैंक में दम घुटने से हुई मौत !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
     3 मजदूर, सेप्टिक टैंक में दम घुटने से हुई मौत !

    पुलिस ने बिल्डर सहित 6 लोगों पर  304अ, 34 के तहत मामला किया दर्ज,सुपरवाइजर को किया गिरफ्तार !

    बिल्डर ने मजदूरों को सेफ्टी बेल्ट, ऑक्सीजन किट और सीढ़ी  नहीं कराई थी उपलब्ध !

    नालासोपारा-नालासोपारा में सुरक्षा के उपकरण न होने और प्रशासनिक लापरवाही के चलते गटर में उतरे मजदूरों की मौत की घटनाएं अकसर सुनने में आती रही हैं। अब एक इमारत के सेफ्टी टैंक में 3 मजदूरों के दम घुटने से मौत की खबर आई है। पश्चिम के निलेमोरे गांव स्थित एक इमारत के सेफ्टी टैंक में उतरे मजदूरों की गुरुवार की देर रात मौत हो गई। इस हादसे के बाद पुलिस ने इमारत के सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया जबकि बिल्डर फरार हैं। 
    जानकारी के अनुसार, नालासोपारा पश्चिम के निलेमोरे गांव स्थित एक इमारत आनंद व्यू में तीन मजदूर रात 11 बजे सेफ्टी टैंक की सफाई करने उतरे थे। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और फायरब्रिगेड टीम ने तीन घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद तीनों शव बाहर निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिए। नालासोपारा के सीनियर पीआई वंसत लब्दे ने बताया है कि 6 लोगों पर मामला दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने जानकारी दी कि बिल्डरों ने मजदूरों को सेफ्टी बेल्ट, ऑक्सीजन किट और सीढ़ी उपलब्ध नहीं कराई थी। उन्होंने दावा किया कि लापरवाही बरतने वाले बिल्डरों पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार की सुबह मौत की खबर सुनते ही मृतकों के परिजन और रिश्तेदारों के साथ ही सैकड़ों मजदूर पुलिस स्टेशन पहुंचे और बिल्डर को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। मामले में पुलिस ने बिल्डर सहित 6 लोगों पर धारा 304अ, 34 के तहत मामला दर्ज कर सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मृतकों के परिजन का कहना था कि जब तक बिल्डर को गिरफ्तार नहीं करेंगे तब तक वे शवों को हाथ नहीं लगाएंगे। हादसे में मरने वाले सुनील चावरिया के चार और प्रदीप प्रदीप सरवटे के दो बच्चे हैं। विक्रम की हाल में ही शादी हुई थी। तीनों की मौत की खबर सुनते ही उनके घरों में मातम छा गया। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल था। हादसे में तीन महिलाओं का सुहाग उजड़ गया, 6 बच्चों के सिर से पिता का साया उठ गया है। परिजन का कहना है कि उनके भरोसे ही परिवार का भरण-पोषण होता था। उनकी मौत के बाद परिवारों का जीवन मुश्किल हो गया है। मृतक विक्रम पश्चिम के हनुमान नगर इलाके में अपनी पत्नी के साथ रहते थे। हाल में ही उनकी शादी हुई थी। वहीं, मृतक प्रदीप और सुनील वसई पूर्व के गोखिवरे इलाके में रहते थे। सुनील के तीन बेटे और एक 2 साल की बेटी है। प्रदीप के दो बेटे हैं। पुलिस ने बिल्डर रमेश मोरा, सुरेश जैन, पुष्कर जैन, नंदलाल दुबे, तेज प्रकाश मेहता व सुपरवाइजर अबु समाद अबु सिद्दीकी शेख पर धारा 304अ, 34 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। फिलहाल पुलिस ने अबु समाद अबु सिद्दीकी शेख को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि बिल्डर फरार बताए जा रहे हैं।
  • No Comment to " 3 मजदूर, सेप्टिक टैंक में दम घुटने से हुई मौत ! "