• शादीशुदा महिला हुई छेड़खानी का शिकार !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    शादीशुदा महिला हुई छेड़खानी का शिकार ! 

     पुलिस मामला दर्ज करने में कर रही है आनाकानी !

     कायद्या ने वागा संस्था ने संबंधित पुलिस के अधिकारियों पर किया कार्यवाई की मांग ! 

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर की एक विवाहित महिला को प्रताड़ित करने और यौन उत्पीड़न करने वाले अपराधी पर मामला दर्ज करने में पुलिस द्वारा आनाकानी का आरोप महिला ने लगाया है। इस मामले में, कायद्या ने वागा संगठन ने संबंधित पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को निलंबित करने की मांग की है।
     बता दे कि उल्हासनगर के दीपक दरबार होटल के पास रहने वाली महिला सुबह 10 बजे मंदिर जाने के लिए घर से निकली, जब राहुल नाम के एक युवक ने सड़क पर उलझने की कोशिश की और छेड़खानी करने लगा,महिला ने कहा कि तुम मेरे बेटे समान हो,लेकिन राहुल बदतमीजी कर रहा था। महिला घर आई और अपनी सास को यह बात बताई। जब उसके पति को इस बारे में पता चला, तो वह राहुल के घर गया,जहां राहुल और उसके परिवार ने महिला के पति की पिटाई कर दी। शिकायतकर्ता महिला और उसका पति इस बारे में शिकायत करने के लिए विट्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन गए, लेकिन पुलिस शिकायत दर्ज करने में आनाकानी कर रही थी। पुलिस ने शिकायत दर्ज करने के लिए सुबह तीन बजे तक इस दंपती को पुलिस स्टेशन में बिठाकर रखा।रविवार को कायदे ने वागा संगठन के एडवोकेट स्वप्निल पाटिल ने हस्तक्षेप करके विनयभंग का मामला राहुल के खिलाफ़ दर्ज कराई। कायदे ने वागा के संस्थापक राज असरोडकर, एडवोकेट अमेय बाकरे, प्रफुल्ल केदारे, कुणाल वाघ और नितिन महाजन की एक प्रतिनिधि मंडल ने वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रमेश भामे से मुलाकात की और एक लिखित बयान प्रस्तुत किया, इस मामले में अपराध दर्ज नहीं करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। इस संबंध में जब रमेश भामे से पूछा गया, तो उन्होंने कहा कि "मैंने पहले से ही निवारक उपायों के साथ-साथ हमारे कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिए हैं, और निवारक उपायों और इस तरह के अभियान को हमारे संबंधित क्षेत्रों में लागू किया जाएगा, अगर कोई पुलिस कर्मी दोषी पाया जाता है, तो उस पर उचित कार्रवाई की जाएगी।
  • No Comment to " शादीशुदा महिला हुई छेड़खानी का शिकार ! "