• मनपा स्थायी समिति के सभापति के द्वारा सिंधी भाषा मे लगाई नेमप्लेट को लेकर हुआ विवाद !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मनपा स्थायी समिति के सभापति के द्वारा सिंधी भाषा मे लगाई नेमप्लेट को लेकर हुआ विवाद ! 

     मनसे ने दो दिन के भीतर मराठी में भी नेमप्लेट लगाने की दी चेतावनी,ऐसा नही होने दी कालिख पोतने की दी धमकी ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर मनपा मुख्यालय स्थित स्थायी समिती के नवनिर्वाचित सभापति राजेश वधारिया ने अपने केबिन के बाहर अपने नाम का बोर्ड अपनी मात्र भाषा सिंधी में लगाया है. मनसे ने इस पर अपनी नाराजी ब्यक्त करते हुए कहा है यदी दो दिन के भीतर सभापति ने मराठी भाषा वाला बोर्ड नहीं लगाया तो वह उसपर नेमप्लेट कालिख पोतकर विरोध दर्शाएंगे की बात कही है इसको लेकर मनपा में संघर्ष की पॉलटिक्स एक बार फिर शुरू हुआ है. 
    इस संदर्भ में मनसे के शहरअध्यक्ष बंडू देशमुख  का कहना है कि हम सिंधी भाषा का आदर व सम्मान करते है लेकिन महाराष्ट्र में मराठी राज्य की  राजभाषा है व राज्य में मराठी भाषा में  बोर्ड लगाना अनिवार्य भी है, इसलिए अगर सभापति ने दो दिन में दर्शनीय भाग में मराठी में नेमप्लेट नहीं लगाई तो मनसे अपनी स्टाइल से निपटेगी. वही स्थायी समिति के  सभापति राजेश वधारिया  ने स्थानीय पत्रकारों से उक्त मुद्दे पर बातचीत करते हुए कहा कि वह अपनी मात्र भाषा जितना ही  मराठी भाषा का भी आदर करते है, सभापति ने कहा कि फ्रंट साइड में सिंधी में लिखा है तो उसके पीछे मराठी में लिखा है, लेकिन दर्शनीय भाग में सिंधी के साथ ही मराठी में नाम की तख्ती बनाने के आदेश सबंधित महकमे को दिए गए है.
  • No Comment to " मनपा स्थायी समिति के सभापति के द्वारा सिंधी भाषा मे लगाई नेमप्लेट को लेकर हुआ विवाद ! "