• सौतेली माँ से परेशान छात्रा घर से भागी, मदत के नाम पर हैवानो किया सामुहिक रेप !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    सौतेली माँ से परेशान छात्रा घर से भागी, मदत के नाम पर हैवानो किया सामुहिक रेप !

     एक दूसरी घटना में मजदूर महिला के साथ हुआ बलात्कार !

     पुलिस ने दर्ज किया हैवानों के खिलाफ मामला !

     ठाणे- ठाणे सौतेली मां के व्यवहार से परेशान होकर उत्तर प्रदेश से भागी एक कक्षा दसवीं की 15 वर्षीय छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार तथा दूसरी घटना में मजदूर महिला के साथ गोदाम मालिक व उसके ड्राइवर द्वारा बलात्कार करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। 
    मिली जानकारी के अनुसार सौतेली मां से परेशान होकर कक्षा दसवीं में पढ़ने वाली नाबालिक छात्रा रात को घर से भागकर सुबह 4 बजे उत्तर प्रदेश के महागावा रेलवे स्टेशन पर दिल्ली जाने वाली ट्रेन पकड़ कर बहन के यहां जाने के लिए आई थी। सूत्रों के अनुसार रेलवे स्टेशन पर पहुंच कर छात्रा ने बबलू नामक रेलवे चौकीदार से दिल्ली जाने वाली ट्रेन के संबंध में जानकारी मांगी। लड़की को अकेली देखकर चौकीदार उसे अंदर बुला कर उसके साथ जबरदस्ती बलात्कार किया। चौकीदार के दुष्कर्म से छूटने के बाद उसे इकरार और संतोष यादव नामक दो लोगों ने मदद करने के बहाने भंडारी रेलवे स्टेशन के पास एक किराए की खोली में बंद कर उसके साथ 2 दिन तक बलात्कार किया। उसके बाद संतोष यादव ने जौनपुर रेलवे स्टेशन पर पीड़िता छात्रा को जबरन मुंबई आने वाली गोदान एक्सप्रेस में बैठाकर कल्याण ले आया और बुधवार को शांति नगर में रहने वाले अपने मित्र सोहराब शरबत वाले के पास घर में रखा। इस बात की जानकारी पड़ोस वालों को मिली कि एक मुस्लिम लड़की को हिंदू युवक भगा कर ले आया हैं ।तब उन्होंने इस बात की खबर शांतिनगर पुलिस स्टेशन को दिया। मामले की गंभीरता को देखते हुए शांतिनगर पुलिस स्टेशन इंचार्ज ममता डिसूजा ने पुलिस दल के साथ घटनास्थल पर जाकर लड़की को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया और लड़की से पुलिस स्टेशन में लाकर पूछताछ किया।पुलिस पूछताछ के दौरान लड़की ने आपबीती कहानी पुलिस को बताई। पुलिस ने लड़की को विश्वास में लेकर जांच किया तब इस बलात्कार की घटना का उजागर हुई। पुलिस जांच के लिए लड़की को ले गई है इस बात की भनक लगते ही संतोष यादव और उसका मित्र सोहराब शरबतवाला दोनों फरार हो गए हैं। पीड़ित लड़की को न्यायालय के आदेश पर भिवंडी के बाल सुधार गृह में रखा गया है। इस सामूहिक बलात्कार कांड के मामले में शांतिनगर पुलिस ने बबलू इकरार और संतोष यादव सहित तीन लोगों के विरुद्ध बलात्कार का मामला दर्ज कर आगे की जांच के लिए सीसीटीएनएस प्रणाली द्वारा सराय ख्वाजा पुलिस स्टेशन उत्तर प्रदेश को संपूर्ण जानकारी भेजा है। इस संदर्भ में पुलिस निरीक्षक किरण कबाड़ी ने बताया कि उत्तर प्रदेश पुलिस भिवंडी पहुंचने पर उनके ताबे में लड़की को दे दिया जाएगा। इसी तरह दूसरी घटना में मानकोली, अंजुरफाटा रोड पर स्थित महावीर कंपाउंड में यार्न(धागा ) बनाने की कंपनी में काम करने वाली 30 वर्षीय मजदूर महिला पर मालिक व उसके ड्राइवर द्वारा बार-बार जबरन कुकर्म करने की घटना प्रकाश में आई है। मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता 30 वर्षीय महिला कंपनी में काम करती थी। जिसको नौकरी से निकाल देने की धमकी देकर कंपनी मालिक सुभाष मालुसरे उसे कलवा स्थित लाज में व कंपनी के एक रूम में ले जाकर जबरन शारीरिक संबंध स्थापित किया और उसके बाद उसके ड्राइवर ने भी महिला के साथ जबरन कुकर्म किया। इन दोनों द्वारा रोज रोज किए जा रहे अत्याचार से परेशान होकर पीड़ित महिला ने कंपनी के मालिक और ड्राइवर के विरुद्ध नारपोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई। नारपोली पुलिस ने महिला की शिकायत पर यार्न कंपनी के मालिक सुभाष गोपाल मालूसरे 40, निवासी गौतम नगर, कुर्ला (पश्चिम) व उसके ड्राइवर संतोष यादव उर्फ बाबू 35 निवासी, कुर्ला के विरुद्ध नारपोली पुलिस ने महिला के साथ बलात्कार करने का मामला दर्ज किया है। पुलिस में मामला दर्ज होने की भनक लगते ही कंपनी मालिक व ड्राइवर फरार हो गए हैं। मामले की जांच एपीआई लक्ष्मण चौहान कर रहे हैं।
  • No Comment to " सौतेली माँ से परेशान छात्रा घर से भागी, मदत के नाम पर हैवानो किया सामुहिक रेप ! "