• उमपा की महासभा में दिखा नगरसेवकों की गैर जिम्मेदाराना रवैया ! महापौर ने ली सभी की क्लास !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उमपा की महासभा में दिखा नगरसेवकों की गैर जिम्मेदाराना रवैया ! 

     महापौर पंचम कलानी ने ली नगरसेवकों की क्लास ! 

    शिवसेना व भाजपा नगरसेवकों के बीच हुआ शाब्दिक संग्राम ! 

    शहरवासियों की मूलभूत समस्याओं की बहस के दरम्यान आपस में गप्पा मारते दिखे कुछ नगरसेवक ! 

    माझ्या बोलण्याकडे आयुक्त लक्ष देत नाहीत" मी काय शूद्र आहे काय " -शिवसेना नगरसेविका जाधव

    उल्हासनगर -उल्हासनगर की मंगलवार की महासभा सुरू होते हुए भी कुछ नगरसेवक यह आपस में एक जगह खड़े होकर चर्चा करते दिखे तो कुछ नगरसेवक महापौर की बिना अनुमति के ही बोलने लगे यही नही जिस विषय पर चर्चा हो रही उस विषय से हटकर बोलने वाले ऐसे नगरसेवको को कई बार महापौर पंचम कलानी इन्होंने रोकने का प्रयास भी किया निवेदन किया परन्तु जब इसके बावजूद भी जब इनकी बाते बंद नही हुआ तो महापौर इन सब की अच्छे से क्लास लेते हुए फटकार लगाकर महासभा की मर्यादा ख्याल रखने की नसीहत दी !
    बता दे कि मनपा महासभ में कुछ नगरसेवको के द्वारा गैरजिम्मेदाराना हरकतें देखने को मिला मंगलवार की महासभा में उल्हासनगर शहर में बेघर हुए लोगो के पुनर्वसन को लेकर इस विषय पर गंभीर मुद्दे पर चर्चा सुरू थी तभी कुछ नगरसेवक महापौर के सामने ही खड़े होकर बिना वजह की दूसरे किसी विषय पर आपस में चर्चा शुरू कर दी थी .   यह पूरा गैरजिम्मेदाराना रवैया सुरू होते देख कर भी उसे नजरअंदाज करते हुए शिवसेना नगरसेविका ज्योतस्ना जाधव इन्होंने शहर के शौचालयो की हो रही दुर्दशा की तरफ प्रशासन का ध्यान देने की बात कर रही थी इतने गभीर विषय के वावजूद जब उनकी बात को नजरअंदाज किया तो उन्होंने उपायुक्त संतोष देहरकर और उपमहापौर जीवन ईदनानी की हो रही चर्चा पर अपना ध्यान केंद्रीत करने के लिए यह आरोप करते हुए कहा कि "माझ्या बोलण्याकडे आयुक्त लक्ष देत नाहीत" मी काय शूद्र आहे काय " ऐसा वादग्रस्त शब्द का उच्चारण किया . दूसरी तरफ भाजप नगरसेवक जमनू पुरुसवानी यह महासभा बोल रहे तभी शिवसेना मनोनीत नगरसेवक सुरेंद्र सावंत इन्होंने बीच रुकाते हुए उनसे अरे तरे की भाषा जैसे शब्दों का उल्लेख किया जिसके बाद शिवसेना और भाजपा नगरसेवको में शाब्दिक वादविवाद हुआ .इसके चलते महासभा में तनावपूर्ण माहौल भी देखने को मिला .       भाजप नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी ने कहा कि मनपा प्रशासन किसी प्रकार का काम करने नही दे रही है जिसकी वजह से हम लोगो को जनता के सामने जाकर अपना मुंह दिखाने में शर्म आता है इससे अच्छा होगा कि हम सारे नगरसेवक अपना राजीनामा देदे ऐसी धमकी दी जिस पर भाजपा के नगरसेवक डॉ प्रकाश नाथानी इन्होने आपत्ति दर्ज करते हुए कहा कि हम क्यू राजीनामा दे ऐसा प्रश्न रामचंदानी से किया . जिसके चलते भाजपा के नगरसेवक आपस में भिड़ते नजर आए.  इन सारे मामले को देखते हुए महापौर पंचम कलानी इन्होंने पहले सभी नगरसेवको से विनती किया और फिर सभी नगरसेवको महासभा की मानमर्यादा खयाल रखने की हिदायत दिया , और गैरजिम्मेदाराना रवैया आगे से बर्दास्त नही किया जाएगा ऐसे बोलते हुए सबकी क्लास भी ली !
  • No Comment to " उमपा की महासभा में दिखा नगरसेवकों की गैर जिम्मेदाराना रवैया ! महापौर ने ली सभी की क्लास ! "