• मनपा पीडब्ल्यूडी विभाग का नायाब कारनामा, अच्छे सीमेंट रोड़ पर लगवा रहे है पेवर ब्लॉक !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मनपा पीडब्ल्यूडी विभाग का नायाब कारनामा, अच्छे सीमेंट रोड़ पर लगवा रहे है पेवर ब्लॉक !

    10 लाख के काम को 45 लाख रुपये से पेवर ब्लॉक लगाने दिया गया है ठेका !

    मनपा अधिकारी व ठेकेदार और स्थानीय नगरसेवक की मिलीभगत हो रहा झोलझाल !

    मनपा आयुक्त ने दिया काम रोकने का आदेश,जांच करके पेवर ब्लॉक के काम को रद्द करने का दिया संकेत !

    जिस मनपा के पास दूसरे नगरसेवकों के गटर के ठक्कन व शौचालयो के टूटे दरवाजे के लिए नही है पैसे !

    वही मनपा अच्छे खासे सीमेंट रोड पर पेवर ब्लॉक लगाने के नाम लुटा रही है 45 लाख !

    उल्हासनगर- उल्हासनगर दो नम्बर परिसर में हेमराज डेरी के सामने की अच्छा खासा सीमेंट रोड़ पर पेवर ब्लॉक लगाने का नायाब कारनामा मनपा के पीडब्ल्यूडी व ठेकेदार के द्वारा किए जाने का मामला सामने आया है, वही यह विषय की जानकारी जैसे मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे को मिला तो उन्होंने काम रोकने का आदेश दिया है और जांच कर उचित कार्यवाही करने को कहा है ! जहाँ पर 10 लाख में काम हो जाता उसी काम को करने के लिए 45 लाख का किया जा रहा है इसका मतलब इ का में बड़ा घोटाला होने का भी अंदेशा है ऐसा आरोप आम जनता के द्वारा किया जा रहा है !
     बता दे कि उल्हासनगर - 2  में हेमराज डेरी परिसर में नगरसेविका सरोजिनी टेकचंदानी इनके प्रभाग में एक अच्छा सीमेंट रोड पर पेवर ब्लॉक लगाने का काम किया जा रहा है, इस काम को करने के लिए 45 लाख की मनपा के जनरल निधी से खर्च किया जा रहा है . विशेष तौर पर देखा जाय तो उच्च न्यायालय ने पेवर ब्लॉक को रोड़ पर लगाने पर बंद किया है वही नही तो उमपा के पूर्व आयुक्त मनोहर हीरे ने रोड पर पेवर ब्लॉक का काम नही करने का आदेश निकाला था उसके बाद इन आदेशों की धज्जियां उठाते हुए यह काम किया जा रहा है .एक ओर जहां मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख के द्वारा शहर के कई विवादित कामो की जांच किया जा रहा है, यही नही 16 करोड़ के काम को भी रद्द किया है ऐसे में सारे नियमो को ताख पर रखकर मनपा के पीडब्ल्यूडी विभाग के द्वारा टेंडर के जरिये 15 लाख के तीन काम कुल 45 लाख के पेवर ब्लॉक सीमेंट रोड पर किया जा रहा है, इसके पीछे की क्या मंसा यह समझना कोई मुश्किल बात नही है जो काम 10 लाख में हो सकता 45 लाख रुपये खर्च किया जा रहा है,मतलब मनपा पीडब्ल्यूडी व ठेकेदार और स्थानीय नगरसेवक मिलकर इस घोटाले को अंजाम दे रहे है,मंगलवार की महासभा में सत्ताधारी व विरोधी पक्ष समेत सभी नगरसेवक अपने वार्ड के काम नही होने के चलते जमीन पर बैठक विरोध किया कुछ नगरसेवकों ने शौचालय के दरवाजे की मरम्मत व गटर के ठक्कन तक के काम करने की निधी नही मिल रहा है वही दूसरी तरफ अच्छे खासे रोड़ पर पेवर ब्लॉक लगाकर क्या दिखाने की कोशिश किया जा रहा है क्या मनपा प्रशासन भी नगरसेवकों में भेदभाव कर रही क्या ऐसा सवाल खड़ा हो रहा है,10 लाख में होने वाले काम पर 45 लाख खर्च करने का नायाब कारनामा करने वाले लोगो पर मनपा आयुक्त क्या कार्यवाई करते है वह देखने वाली होगी ! वही जब इस विषय पर स्थानिक नगरसेविका सरोजिनी टेकचंदानी से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि रोड खराब था इसके लिए हम बार बार मनपा प्रशासन व पीडब्ल्यूडी से पत्र लिखकर काम करने की मांग किया उसी का नतीजा है कि यह काम पास हुआ है .अगर किसी को हमारे इस काम से दिक्कत है तो मनपा में अपनी शिकायत दे अगर मनपा प्रशासन के अधिकारी यह काम का बंद करेगे, अगर वो काम बंद किया तो हम इसके लिए कोर्ट जाने की भी तैयारी है अगर गलत काम है तो मनपा आयुक्त पहले पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों पर कार्यवाई करे फिर काम बंद करे , वही जब मनपा के पीडब्ल्यूडी के उप अभियंता संदीप जाधव से बात किया गया तो उनका कहना था कि रोड खराब था पानी की पाइप लाइन के लिए रोड खोदा गया था जिससे रोड ज्यादा खराब थी और यह मार्केट का रोड़ है तो इस लिए पेवर ब्लाक लगाने का निर्णय लिया गया ताकि काम जल्दी हो और ब्यापारियों को कोई तकलीफ़ नही हो,इसके बाद मनपा उपायुक्त मुख्यालय संतोष देहरकर से इस मामले पे बात किया गया तो उन्होंने कहा कि अगर पेवर ब्लॉक का काम सीमेंट रोड पर किया जा रहा है यह तो गलत है,और काम की जानकारी लेकर काम तुरंत रोकने का आदेश देता हूं, इसके बाद मनपा आयुक्त सुधाकर देेेशमुुुख से बात किया गया तो उन्होंने कहा कि काम रोकने का आदेश दिया गया है और इस काम की जांच करके कार्यवाई करने की बात आयुक्त ने कही है, इसके बाद कल देखना होगा कि काम चालू रहता है या बंद ! बहरहाल इस काम में बड़ा घोटाला भी हुआ है किसने किया किसकी मिली भगत से यह काम पास हुआ वह टी जांच में सामने आएगा ऐसे यह सवाल उठता जब मनपा प्रशासन के पास गटर के ठक्कन व शौचालय के टूटे हुए दरवाजे बनाने के लिए पैसे नही है तो फिर 45 लाख रुपये अच्छे खासे सीमेंट रोड पर खर्च करके क्या दिखाना चाहती मनपा प्रशासन ? 

      

  • No Comment to " मनपा पीडब्ल्यूडी विभाग का नायाब कारनामा, अच्छे सीमेंट रोड़ पर लगवा रहे है पेवर ब्लॉक ! "