• उल्हासनगर में गणेश पंडालों को परमिशन के नामपर किया जा रहा है परेशान !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    उल्हासनगर में गणेश पंडालों को परमिशन के नामपर किया जा रहा है परेशान ! 

    मनपा के द्वारा हुई कुछ गणेश पंडालों पर कार्यवाई से शिवसेना आई हरकत में ! 

    सोमवार को डीसीपी व मनपा आयुक्त से शिवसेना शहर प्रमुख चौधरी करेंगे मुलाकात !

     20 से 25 सालों से मना रहे गणेश उत्सव के पंडालों को भी परमिशन देने में मनपा व ट्रैफिक विभाग के द्वारा आनाकानी ! 

    दूसरे हिन्दू संगठनों की चुप्पी पर भी खड़े हुआ सवाल ? 
     फाईल फोटो

    उल्हासनगर-उल्हासनगर शहर के सभी गणेश पंडालों को परमिशन के नाम पर परेशान का मामला सामने आया है,20 से 25 सालों से लगाये जा रहे गणेश पंडालों को भी परमिशन के नाम पर उठापठक कराया जा रहा है, इन्ही सारी शिकायतों को देखते हुए शिवसेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी अपने सहयोगियों के साथ मनपा आयुक्त व जोन 4 के डीसीपी से मुलाकात करने वाले है !
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर शहर में हर साल की तरह इस साल भी लोग गणेश पंडाल लगाने के लिए ऑनलाइन परमिशन के फार्म भरे है उन लोगो को परमिशन देने के बजाय उन्हें धक्के खिलाया जा रहा है कभी मनपा के विभागों द्वारा तो कभी ट्रेफिक पुलिस विभाग के जरिये कोई भी कारण बताकर परमिशन देने में आनाकानी करते दिखाई दे रहे है,मनपा प्रशासन के द्वारा दो तीन दिनों में कुछ गणेश पंडालों पर कार्यवाई भी किया है,इस बात की जानकारी जब शिवसेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी को मिला उन्होंने तुरंत ट्रैफिक विभाग की एसीपी से मुलाकात किया और टैफिक विभाग के द्वारा परमिशन में हो रही देरी को लेकर चर्चा किया और आगे ऐसा न हो इसका ध्यान देने की मांग किया है इसी विषय को लेकर चौधरी अपने शिवसैनिकों के साथ सोमवार को मनपा आयुक्त व जोन 4 के डीसीपी से मुलाकात कर गणेश पंडालों के परमिशन हो रही देरी पर बात करेंगे, यदि प्रशासन ने समय पर हमारे गणेश पंडालों की समस्या को दूर नही किया गया तो शिवसेना इस मुद्दे पर आंदोलन करने से भी पीछे नही रहेगी,इस बार जिस तरह से यह मामला देखने में आ रहा है वह कहि न कही जानबूझकर हिन्दू के त्यौहारो को मनाने वाले लोगो परेशान करने की कोशिश तो नही ऐसा सवाल खड़ा होना स्वाभाविक है ! मनपा प्रशासन के द्वारा पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से गणेश पंडालों पर कार्यवाई किया गया उसको देखने बात यह लगता है कि इस परेशानी के पीछे की मानसिकता कही कोई सोची समझी रणनीति का हिस्सा तो नही है, इस विषय पर हिन्दू संगठनों की आगे की भूमिका क्या होगी वह भी देखने वाली बात होगी, वही गणेश पंडाल लगाने वालों बताया कि हम पिछले 20 से 25 सालों गणेश पंडाल लगाकर भगवान गणेश की पूजा करते आ रहे परंतु इस साल परमिशन के नाम पर जिस तरह से परेशान किया जा रहा है वह पहले देखने को नही मिला जब हमारा पंडाल हमेशा वही पर लगता है फिर इस बार उसमें नया क्या है जो परमिशन के नाम पर इतना ड्रामा किया जा रहा है ऐसा सवाल गणेश पंडाल लगाने वालों के द्वारा उठाया जा रहा है, वही इस विषय पर जब शिवसेना शहर प्रमुख राजेन्द्र चौधरी से बात किया गया तो उन्होंने साफ शब्दों कहा कि पूरे शहर में 12 महीने ट्रेफिक की समस्या रहती है परन्तु जब गणेश पूजा के पंडाल लगाने की बात आती है तब इन्हें कानून की याद आता है,मेरा सवाल है कि जो रोड़ के किनारों पर अतिक्रमण करके कानून को ठेंगा दिखाकर गाड़ी पार्क करके धंधा करते है उन पर ये लोग कार्यवाई क्यो नही करते कही इसके पीछे कोई सेटिंग तो नही है अगर नही है इनपर कार्यवाई क्यो नही करते इनको पूरी ट्रैफिक समस्या गणेश पंडालों के जरिये क्यो दिखाई देता है, नियम और कानून सब पर समान लागू होना चाहिए सोमवार को इस विषय पर डीसीपी व मनपा आयुक्त से मुलाकात करने वाले है उसमें गणेश पंडाल के परमिशन व रोड के खड्डों के विषय पर चर्चा होगी और आगे किसी गणेश पंडाल को परेशानी नही होगी ऐसा आसा करते है,अगर आगे ऐसा फिर हुआ तो शिवसेना उसका अपने स्टाइल में जवाब देगा !
  • No Comment to " उल्हासनगर में गणेश पंडालों को परमिशन के नामपर किया जा रहा है परेशान ! "