• मनपा के बगीचे में भूमाफिया के द्वारा काटे गए चार पेंड ! दर्ज हुआ एफआईआर ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    मनपा के बगीचे में भूमाफिया के द्वारा काटे गए चार पेंड ! 

    करोड़ो रूपये के भूखंड पर कब्जा करने के लिए भूमाफिया ने गुंडों के द्वारा किया गया यह कारनामा ! 

    वार्ड आफिसर ने पहले प्लान कर दिया है रद्द ! 

    वार्ड ऑफिसर जाधव ने दर्ज कराया भूमाफिया पर एफआईआर ? 

    भाजपा के नगरसेवकों ने पहले ही किया लिखित पत्र देकर शिकायत !

    करोड़ो के भूखण्ड के श्रीखंड खाने में जुटी हुई शहर की कुछ नामी गिरामी हस्तियां ?

     उल्हासनगर - उल्हासनगर महानगरपालिका मुख्यालय के सामने बाबा सेवादास दरबार के बगल में महानगर पालिका का एक छोटा सा बगीचा है बुधवार को उसी बगीचे पर एक भूमाफिया के द्वारा गुंडों के द्वारा कब्जा करने का काम किया जा रहा था उन्ही गुंडों ने बगीचे में लगी कुर्सीयो व चार पेड़ काट डालने का मामला सामने आया है .पत्रकारों के द्वारा जब यह मामला मनपा के अवैध बांधकाम विभाग के उपायुक्त सोंडे के सामने लाया गया तो उन्होंने तुरंत पत्रकारों के साथ बगीचे पर पहुचे तबतक भूमाफिया के सभी गुंडे वहा से भाग गए थे, उन्होंने एक नम्बर वार्ड आफिसर जाधव व गणेश शिंपी को तुरंत पंचनामा बनाकर सामान जप्त व सेंट्रल पुलिस स्टेशन मामला दर्ज करवाने का आदेश वार्ड आफिसर को दिया है !
     मनपा विभाग के सूत्रों से जो जानकारी सामने आई है उसके द्वारा लडाकू सिरोटा नामक व्यक्ती ने सिटीएस नंबर ३०३२९, बॅरेक नंबर ७८४ सामने की महानगरपालिका के बगीचे पर महानगर पालिका प्रशासन के द्वारा रिस्क बेस प्लान पास करवा लिया था . जब उसने इस बगीचे में काम शुरू किया तो इस मामले का भांडा फूटा और स्थानीय जन प्रतिनिधि ने इस मामले का विरोध शुरू किया बता दे कि भूमाफिया2 के गुंडों ने आज चार पेड़ काट डाले बगीचे रखी कुर्सियो को तोड़ डाला यह सभी कुछ साल पहले ही मनपा प्रशासन की से हुए शुशोभीकरण के दरम्यान लगाए गए थे. परंतु अचानक शुरू हुए काम पर बांधकाम करने की प्रक्रिया सुरू होते ही भाजपा की पूर्व महापौर मिना आयलानी व नगरसेविका गीता साधनानी इन्होंने आयुक्त सुधाकर देशमुख इनके पास लिखित शिकायत देकर महानगरपालिका से यह मांग किया कि लडाकू सिरोटा इन्होंने फर्जी कागज पत्र बनाकर महानगरपालिका को फंसाया है. इस लिए इस प्लान को रद्द करके उसके विरुद्ध कानून के हिसाब से मामला दर्ज करने की मांग किया था .उसके बाद महानगरपालिका ने संबंधीत विभागा को कहा कि रिस्क बेस प्लान को रद्द करके इस विषय मे उपविभागीय अधिकारी उनको पत्रव्यवहार करके पूरी जानकारी लेकर आगे की कार्यवाई करो. जब बुधवार को पत्रकारों ने देखा कि बगीचे में भूमाफिया के द्वारा कुछ गुंडों को बैठाकर पेड़ काटने और कुर्सियों को तोड़कर फेंका जा रहा है तो सभी पत्रकारों ने इस मामले की जानकारी उपायुक्त मदन सोंडे इनको दिया गया उन्होंने तुरंत पत्रकारों को साथ लेकर बगीचे का जायजा लेने पहुचे तब सभी गुंडे वहा से फरार हो गए थे उन्होंने तुरंत वार्ड आफिसर दत्तात्रय जाधव को आदेश दिया कि यहाँ पर पंचनामा करके सभी सामान को जप्त करो और जिन्होंने ने पेड़ काटे है उसके लिए उनके विरुद्ध एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया. प्रभाग अधिकारी दत्तात्रय जाधव व गणेश शिंपी इन्होंने बांधकाम करने के लिए लाए गए रेती व खड़ी को जप्त किया और भूमाफिया के खिलाफ मामला दर्ज कराने की कार्यवाही शुरू किया है, वही इस विषय पर जब मनपा आयुक्त सुधाकर शिंदे से बात किया तो उन्होंने कहा कि हमने पहले ही कार्यवाई करने का आदेश दे दिया है इसका प्लान रद्द कर दिया है और जिसके नाम पर प्लान है और जो इस प्लान का आर्किटेक्ट है दोनो के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने को संबंधित विभाग आदेश दिया, पेड़ काटने वालो पर जाधव के द्वारा एफआईआर दर्ज किया जा रहा है जो भी इस तरीके का काम करते है उन्हें बख्सा नही जाएगा, वही इस विषय पर शिवसेना के विरोधी पक्ष नेता धनजय बोडारे ने अपना विरोध जताया और कठोर कार्यवाही की मांग किया है,यहाँ सवाल यह है कि मनपा प्रशासन मुख्यालय के सामने जब मनपा का बगीचा सुरक्षित नही है तो बाकी क्या ?
  • No Comment to " मनपा के बगीचे में भूमाफिया के द्वारा काटे गए चार पेंड ! दर्ज हुआ एफआईआर ? "