• टीओके के मास्टर स्टोक ने भाजपा को सत्ता से किया आउट, शिवसेना महापौर तो आरपीआई का बना उप महापौर !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    टीओके के मास्टर स्टोक ने भाजपा को सत्ता से किया आउट, शिवसेना महापौर तो आरपीआई का बना उप महापौर ! 

    भाजपा के पूर्व मंत्री ने इस हार पर क्या कहा सुनिये उनकी जुबानी,,,,,,

     टीओके अध्यक्ष कालानी क्या दिया उनको जवाब और शिवसेना के सांसद शिंदे व गोपाल लांडगे ने क्या कहा ! 

    बागी नगरसेवकों के पद रद्द करने के लिए क्या बनाई भाजपा ने रणनीति ? 

    किसने कहा इस नए समीकरण के जरिए उल्हासनगर होगा भाजपा मुक्त ! 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर में शुक्रवार को हुए महापौर-उपमहापौर चुनाव में भाजपा की सत्ता को शिवसेना,टीओके,राकपा,आरपीआई व कांग्रेस ने उल्हासनगर महानगर पालिका से उखाड़ फेंकने में व्यापक सफलता पाई है।राज्य में बन रही शिवसेना,राकांपा,कांग्रेस, की महाशिवआघाड़ी का यह झटका उल्हासनगर में देखने को मिला है।अहम बात यह है कि भाजपा के स्वीकृत नगरसेवक प्रदीप रामचंदानी व मनोज लासी ने चुनावी प्रक्रिया में तरह-तरह का व्यवधान पैदा कर चुनावी प्रक्रिया रोकने की पुरजोर कोशिश की थी।परन्तु जिल्हाधिकारी व चुनाव निवडणूक अधिकारी के चेतवानी के बाद सभी भाजपा नगरसेवकों के मंसूबे पर पानी फिर गया। और शिवसेना की लीलाबाई आसान महापौर चुनी गई तो उप महापौर आरपीआई के भगवान भालेराव चुने गए है ! 
    बता दे कि विधानसभा में की गई गद्दारी के बाद टीओके प्रमुख ओमी कालानी ने मनपा से भाजपा की सत्ता उखाड़ फेंकने का निर्णय बदला स्वरूप में लिया।टीओके कि पंचम कालानी,रेखा ठाकुर,डिम्प्पल ठाकुर,शुभांगनी निकम,दीपा पंजाबी,लक्ष्मी सिंह,छाया चक्रवर्ती,सविता तोरने (रगड़े),जयश्री पाटिल,आशा बिराडे,कविता गायकवाड़,ऐसे 11 नगरसेविकाओ ने खुलकर शिवसेना की महापौर प्रत्यासी लीलाबाई आसान,व उपमहापौर भगवान भालेराव को मतदान किया। महापौर चुनाव के लिए जादुई मैजिक फिगर 39 चाहिए था परन्तु यह पार कर गया।शिवसेना,टीओके,आरपीआई व राकांपा के कुल  43 वोट आसान को मिला जब कि उपमहापौर भगवान भालेराव को 44 वोट मिला।             जब कि भाजपा,साईपक्ष के महापौर प्रत्यासी जीवन इदनानी को 35 वोट मिला जब कि उपमहापौर के प्रत्यासी विजय उर्फ विजू पाटिल को 34 वोट मिले क्योंकि कविता बागुल ने अपना वोट भगवान भालेराव को दिया। नगरसेवक व नगरसेविकाओ ने अपना हाथ उठाकर महापौर व उपमहापौर चुनाव की प्रक्रिया में अपना मतदान किया।महापौर-उपमहापौर चुनाव में भारी उठा पटक के संकेत पुलिस को मिल चुके थे इसलिए चुनाव में पक्ष विपक्ष के नगरसेवकों व उनके समर्थकों के बीच कोई अप्रिय घटना घटित न हो इसलिए व्यापक सुरक्षा व्यवस्था तैनात की गयी थी।इस चुनाव में शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के आदेश पर कल्याण जिला प्रमुख गोपाल लांडगे,उपजिला प्रमुख चंदकान्त बोडारे, धनंजय बोडारे,बिट्टू सिंह सोहता को सत्ता स्थापित करने की कमान सौंपी गई थी।जब कि टीओके की तरफ से ओमी कालानी के साथ सुमीत चक्रवर्ती,संतोष पांडेय,कमलेश निकम ने बागडोर संभाल रखा था।                
  • No Comment to " टीओके के मास्टर स्टोक ने भाजपा को सत्ता से किया आउट, शिवसेना महापौर तो आरपीआई का बना उप महापौर ! "