• 6 सालों से नही मिला न्याय, न्याय पाने के लिए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के सामने करेंगे आमरण उपोषण ?

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    6 सालों से नही मिला न्याय, न्याय पाने के लिए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के सामने करेंगे आमरण उपोषण ? 

    मारामारी के मामले फरार आरोपियों पकड़ने पुलिस रही है अबतक असफल !

     आरोपियों से भयभीत परिवार वालो ने न्याय पाने के लिए आमरण उपोषण दिया संकेत ! 

    क्या कहना इस पूरे मामले पर सुनिये उनकी जुबानी,,,,,

    उल्हासनगर- उल्हासनगर पुलिस स्टेशन की हद में रहने वाले यमगर परिवार पर बारह लोगों की टोली ने धारदार अधियार से लैस गुंडों ने हमला किया इस हमले में पांच लोग घायल हुए थे.पुलिस ने इस मामले में आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया था.परन्तु उसी मामले में अभीतक चार आरोपी फरार है पुलिस 6 सालों में अभीतक आरोपियों ढुढ पाने असफल रही है इसमें कही न कही पुलिस की लापरवाही दिख रही है फरार आरोपियों की वजह से यमगर परिवार भयभीत है इसी विषय को लेकर यह फैमली उल्हासनगर पुलिस.उप.आयुक्त कार्यालय के सामने आमरण उपोषण करने का संकेत देते हुए लिखित पत्र पुलिस प्रशासन को दिया है .  
    गौरतलब हो कि उल्हासनगर शहर के कैम्प नं.एक के शिवरोड परिसर के पुजा ज्वेलर्स के पीछे यमगर परिवार रहता है. 6 साल पहले 20 जनवरी की शाम को साडे 7 बजे के करीब बारह लोगो की टोली ने अज्ञात कारणों के चलते हाथ में लाठी, डंडे,चाकु व धारदार हथियार लेकर  यमगर परिवार पर उनके रहते घर में घुसकर हमला किया उस समय घर पर विकलांग सुरेश अप्पा यमगर, सुभद्रा राम यमगर, मनीषा सुरेश यमगर व बच्चे सिध्दार्थ, व रेवण यमगर ये सभी लोग बुरी तरह उस हमले में घायल हुए.इस मामले में उल्हासनगर पुलिस स्टेशन में बारह लोगो के विरुद्ध एफआईआर दर्ज हुआ उसमें से पुलिस ने आठ लोगो को गिरफ्तार किया परन्तु चार आरोपी फरार ही रहे और उनकी फरारी को 6 साल बीत गए पुलिस आजतक उनको पकड़ने असफल रही है.अब उन्ही फरार चार आरोपियों की वजह से यमगर परिवार को उनकी जान का धोका निर्माण होने का डर है, इस लिए इन चार फरार आरोपियों जल्द पुलिस ढुढ कर गिरफ्तार करने की मांग किया है, पिछले 6 सालों से इस विषय में कई बार लिखित पत्र देकर शिकायत स्थानिक पुलिस स्टेशन, पुलिस उपायुक्त कार्यालय, सहाय्यक पुलिस आयुक्त कार्यालय इतना ही नही मंत्रालय में भी देकर न्याय मांगा.परन्तु अभीतक यमगर परिवार को न्याय नही मिला इस लिए उन्होंने अब न्याय पाने के लिए इस बार जो लिखित पत्र दिया है उसमें परिवार ने मांग किया कि पुलिस प्रशासन ने जल्द न्याय दे और फरार आरोपियों को ढुढ कर उनको गिरफ्तार करे पुलिस ऐसा नही कर पाती है तो राम यमगर ने लिखा है कि 30 दिसम्बर 2019 को पुलिस उपआयुक्त प्रमोेद शेवाले के कार्यालय के सामने वह आमरण उपोषण करेगे ऐसा उन्होंने अपने लिखित पत्र में लिखकर एक संकेत दिया है. अगर इसके बाद भी न्याय नही मिला तो हम आत्मधन करने से भी पीछे नही हटेंगे ऐसा संकेत देते राम यमगर व उनके बड़े विकलांग भाई सुरेश यमगर इन्होंने कहा है.
  • 2 comments to ''6 सालों से नही मिला न्याय, न्याय पाने के लिए पुलिस उपायुक्त कार्यालय के सामने करेंगे आमरण उपोषण ? "

    ADD COMMENT
    1. आभि आमरण उपोषण नहे आभि अत्म दहन

      ReplyDelete
    2. आणि आमरण उपोषण नहे आभि अत्म दहन

      ReplyDelete