• निर्मला जूस सेंटर की मालकिन प्रियंका ने किया मंत्रालय में नाटकीय ड्रामा !

    Reporter: fast headline india
    Published:
    A- A+
    निर्मला जूस सेंटर की मालकिन प्रियंका ने किया मंत्रालय में नाटकीय ड्रामा !

    आरोपी पति को बचाने व पुलिस पर दबाव बनाने का था यह खेल ?

     पुलिस पर हप्ता वसूली का आरोप लगाकर मंत्रालय के छठे मंजिले से लगाई छलांग !

     मंत्रालय के जाली पर अटकने के बाद घायल प्रियंका गुप्ता को उपचार के लिए मुम्बई के सेंट जार्ज अस्पताल में पुलिस ने कराया भर्ती ! 

     मरीन ड्राइव पुलिस के ड्यूटी आफिसर पीएसआई राहुल कदम महिला का बयान लेने के लिए अस्पताल पहुचे !

     पाँच दिन पहले सेंट्रल पुलिस ने जूस सेंटर के मालिक पवन गुप्ता व पत्नी प्रियंका गुप्ता समेत तीन लोगों पुलिस से मारपीट के मामले में किया था गिरफ्तार !

     देखिए शुरू से लेकर अभी तक हुए फिल्मी ड्रामे की पूरी खबर इस न्यूज के जरिये,,,,,,,,,, 

     उल्हासनगर-उल्हासनगर की मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन का सरदर्द बढ़ गया है,सरकारी कार्य मे व्यवधान पैदा करने के आरोप में जमानत पर रिहा हुई महिला ने आज मंत्रालय के छठे मंजील से छलांग लगाकर अपनी जीवन लीला खत्म करने का नाटकीय प्रयास किया।मंत्रालय की 3 री मंजिल पर लगे जाली पर अटक कर घायल हुए महिला को उपचार के लिए सेंट जार्ज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है,मामले की जांच मरीन ड्राइव पुलिस कर रही है।                                  गौर तलब हो कि बीते 9 तारिख की रात 1.30 बजे जब एसीपी टेले का स्काट जब सिविल ड्रेस में निर्मला जूस सेंटर पर कार्यवाही को अंजाम देने पहुचा,तब दुकान मालिक पवन उर्फ अजीत प्यारेलाल गुप्ता,उसकी पत्नी प्रियंका गुप्ता व सहयोगी गीता आंवले ने पुलिस स्काट पर 20 हजार रुपये हप्ता मांगने का आरोप लगाकर सिविल ड्रेस के पुलिस कर्मियों पर नौकरों के साथ मिलकर हमला बोल दिया।एसीपी स्काट कर्मियों ने इसकी सूचना तत्काल मध्यवर्ती पुलिस को दी तब मौके पर स्थानीय पुलिस की टीम पहुचकर पवन गुप्ता, प्रियंका गुप्ता, गीता आंवले तथा नौकरों को गिरफ्तार करना चाहा तो इन्होंने और तमाशा खड़ा करते हुए पुलिस नाइक अवचिंदे पर हमला करते हुए पुलिस की गाड़ी का कांच तोड़ दिया था महिला पुलिस कर्मी व अन्य पुलिस कर्मियों की मदद से पवन गुप्ता व प्रियंका गुप्ता को पुलिस मध्यवर्ती पुलिस स्टेशन ले गयी और सहायक पुलिस उपनिरीक्षक जानू पादिर की शिकायत पर पवन गुप्ता,प्रियंका गुप्ता,गीता आंवले पर पुलिस ने 353,332,342,427,504,34 के तहत मामला  दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया था।बताया जाता है कि पवन गुप्ता पर हत्या का प्रयास,मारपीट जैसे कई अपराधिक मामले विभिन्न पुलिस स्टेशन में दर्ज है और यह नया मामला दर्ज होने के बाद स्थानीय पुलिस पवन गुप्ता को तड़ीपार करने का प्रोसीजर कर रही थी। पुलिस के साथ मारपीट करने के आरोप में पवन गुप्ता अभी भी अधारवाड़ी जेल में है जब कि पत्नी प्रियंका हाल ही में जमानत पर रिहा हुई है,पति को पुलिस की कार्यवाही से बचाने के लिए प्रियंका गुप्ता आज दोपहर मंत्रालय पहुच गयी और स्थानीय पुलिस पर आरोप लगाते हुए मंत्रालय के 6 ठे मंजिले से छलांग लगाकर आत्महत्या करने का असफल प्रयास किया और 3 रे मंजिले पर लगी नेट जाली पर आ गिरी।मंत्रालय में मौजूद पुलिस कर्मियों ने घायल प्रियंका गुप्ता को हिरासत में लेकर उसे मुम्बई के सेंट जार्ज हॉस्पिटल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया।मरीन ड्राइव पुलिस के उपनिरीक्षक राहुल कदम मामले की जांच कर रहे है।
  • No Comment to " निर्मला जूस सेंटर की मालकिन प्रियंका ने किया मंत्रालय में नाटकीय ड्रामा ! "